विदिशा (मध्यप्रदेश) की खबर 29 अप्रैल - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

सोमवार, 29 अप्रैल 2019

विदिशा (मध्यप्रदेश) की खबर 29 अप्रैल

शहर की निचली वस्तियों में भी समान रूप से विकास कार्य होना चाहिए-भार्गव 

vidisha news
विदिशाः वार्ड भ्रमण के क्रम में विधायक शशांक भार्गव कांग्रेस नेताओं के साथ आज बंटी नगर, आमवाली कालोनी, हस्नाबाद बस्ती व इंद्रप्रस्थ कालोनी में पहुॅचे। इस दौरान इस क्षेत्र के रहवासियों के द्वार-द्वार पहुॅचकर विधायक भार्गव ने नागरिकों की मूलभूत समस्याओं के संबंध में चर्चा की। इस दौरान बंटीनगर, आम वाली कालोनी, हस्नाबाद बस्ती के नागरिकों ने बताया कि उनके मोहल्ले में सडक, नाली, नल कनेक्शन व विधुत पोल आदि किसी भी प्रकार की बुनियादी सुविधा नहीं है। इंद्रप्रस्थ कालोनी के नागरिकों ने बताया कि ये कालोनी सभी शासकीय अनुमतियाॅ प्राप्त सबसे पुरानी कालोनी है लेकिन 18 वर्षो का समय बीत जाने के बाद भी कालोनी में सडक निर्माण नही हुआ है।  विधायक भार्गव ने शीघ्र ही समस्याओं के निराकरण का भरोसा दिलाया व नगर पालिका प्रशासन से मांग की है कि शहर की निचली वस्तियों में भी समान रूप से विकास कार्य होना चाहिए ऐसा नहीं होने से ये इलाके शहर के विकास के मुकाबले काफी पीछे रह जाएंगे।  वार्ड भ्रमण के दौरान वरिष्ठ कांग्रेस नेता रवि कपूर, आदेश जैन, अजय कटारे, पार्षद ब्रजेन्द्र वर्मा, भूपेन्द्र रघुवंशी, डाॅ. शैलेन्द्र कटारिया, नरेन्द्र राजपूत, संतोष गौड, गोविंद राजपूत, रामबाबू दांगी, लालू लोधी, ओ.पी. सोनी, बंटी सक्सैना, रामस्वरूप शर्मा, डालचंद साहू, देवेन्द्र शर्मा, गोविंद भार्गव, मनोज साहू, माधौसिंह अहिरवार पोटी, बाबूपाल, मनोज कुशवाह, राजकुमार डीडोत, लक्ष्मण लोधी, घनश्याम यादव, राजकुमार लोधी, खुमान लोधी सहित कई कार्यकर्ता व वार्डवासी मौजूद रहे।  इसी क्रम में आज दिनांक 30 अप्रैल को विधायक भार्गव रामेश्वरम होस्टल पीतलमील चैराहा से एकत्रित होकर सुभाष नगर में संपर्क करेंगे।  

रायलसिटी के नागरिकों ने विधायक भार्गव का आभार जताया। 

विदिशाः विधायक शशांक भार्गव विगत 25 अप्रैल को वार्ड 26 रायलसिटी कालोनी के रहवासियों की समस्याऐं जानने पहुॅचे थे। इस दौरान कांग्रेस नेता अजय कटारे, रवि साहू व कालोनी वासियों ने विधायक जी को अवगत कराया था कि कालोनी के दोनो ओर के मुख्य द्वार की सडक पर डामरीकरण नहीं किया गया है। शीघ्र ही इन दोनों सडको पर डामरीकरण करवाया जाए। विधायक भार्गव ने इस संबंध में नगर पालिका प्रशासन को पत्र लिखकर अवगत कराया जिससे इन सडकों पर डामरीकरण का कार्य पूर्ण हो सका। समस्या के त्वरित समाधान के लिए रायलसिटी कालोनी के राजेन्द्र साहू, रवि शर्मा, शशांक राजावत मयंक शर्मा, अजय श्रीवास्तव, एस.के. चैबे, अविनाश व समस्त कालोनी वासियों ने विधायक शशांक भार्गव का आभार जताया है।

चुनावी कार्यो में चूक ना हो का विशेष ध्यान दें-कलेक्टर

vidisha news
कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी श्री कौशलेन्द्र विक्रम सिंह ने आज विभिन्न विभागों में लंबित आवेदनों की समीक्षा बैठक के दौरान निर्वाचन कार्यो को सम्पन्न कराने हेतु नियुक्त नोडल अधिकारियों से कहा कि निर्वाचन कार्यो में अब किसी भी प्रकार की चूक ना हो का विशेष ध्यान रखा जाए। उन्होंने कहा कि जिन अधिकारियों को जो-जो जबावदेंही सौपी गई है उसका क्रियान्वयन निर्वाचन आयोग की गाइड लाइन अथवा एसओपी के अनुरूप ही करें। पृथक से कोई भी शार्टकट मैथर्ड ना अपनाएं।  कलेक्टर श्री सिंह ने कहा कि लोकसभा निर्वाचन 2019 के दौरान जिले की विधानसभाओं के लिए नियुक्त एआरओ (एसडीएम) के द्वारा विशेष ध्यान बरता जाए। उन्होंने कहा कि निर्वाचन कार्यो के दौरान यदि कही कोई त्रुटि परलिक्षित होती है तो आयोग सीधा एआरओ पर कार्यवाही करेगा।  कलेक्टर श्री ंिसंह ने स्ट्रांगरूमों का स्वंय एआरओ निरीक्षण कर आयोग की गाइड लाइन अनुसार स्ट्रांगरूम में तमाम प्रबंध पूर्व में ही सुनिश्चित किए जाएं के निर्देश देते हुए उन्होंने सीसी कैमरे, फायर सेफ्टी उपकरण नियत स्थलों पर निर्धारित संख्या में रख जाएं और इस बात का भी विशेष ध्यान रखा जाए कि आवश्यकता पड़ने पर संधारित फायर सेफ्टी का संचालन करने वाले बेहतर प्रशिक्षित हो। यदि किसी विधानसभा क्षेत्र में अप्रशिक्षित व्यक्ति तैनात है तो पहले उन्होंने प्रशिक्षित किया जाए तदोपरांत उक्त जबावदेंही सौंपी जाएं।  कलेक्टर श्री सिंह ने कहा कि मतदान दलों का द्वितीय रेण्डमाइजेशन के आयोग के पे्रक्षकों के समक्ष किया जा चुका है। रेण्डमाइजेशन में मुख्य रूप से जिन मूल बातों का ध्यान रखा गया है को रेखांकित करते हुए उन्होंने कहा कि मतदान दल कर्मचारी के कार्य स्थापना एवं निवास की विधानसभाओं को छोड़कर अनियंत्रित विधानसभा मंें मतदान सम्पन्न कराने का दायित्व सौंपा गया है। ऐसे सभी मतदान दलों को ईडीसी जारी की जाएगी। जिस पर एआरओ के साइन होंगे। उन्होंने द्वितीय प्रशिक्षण जो एक मई से चार मई तक आयोजित होना है। विधानसभा स्तर पर आयोजित होने वाले उक्त प्रशिक्षण में चिन्हित मतदान दलों को ईडीसी जारी करने का कार्य शत प्रतिशत किया जाए।  कलेक्टर श्री सिंह ने कहा कि मतदान दलों को निर्वाचन सामग्री का वितरण जिन स्थलों पर 11 मई को किया जाएगा कि सूचनाएं जारी की जा चुकी है। उन्होंने कहा कि मतदान दल प्रातः दस बजे तक निर्वाचन सामग्री प्राप्त कर अपने मतदान केन्द्र की ओर रवाना हो जाएं के पुख्ता प्रबंध सुनिश्चित करने के निर्देश एआरओ को दिए गए है।  कलेक्टर श्री सिंह ने कहा कि कोई भी सेक्टर आफीसर मतदान सामग्री प्राप्ति के उपरांत अतिरिक्त ईव्हीएम, व्हीव्हीपैट लेकर अपने घर अथवा होटलों में नही ठहरेंगे। निर्वाचन कार्यो में उपयोग किए जाने वाले वाहनों में जीपीआरएस सिस्टम क्रियान्वित किया जाएगा। प्रत्येक सेक्टर आफीसर को दो-दो अतिरिक्त मशीने प्रदाय की जाएगी ताकि कही ईव्हीएम मंे गड़बड़ी होती है तो अविलम्ब बदलने की कार्यवाही आयोग के दिशा निर्देशो अनुरूप की जा सकें। कलेक्टर श्री सिंह ने मतदान के पूर्व माॅकपोल को अतिमहत्वपूर्ण बताते हुए कहा कि माॅकपोल की जानकारी सभी सेक्टर आफीसरों को संकलित कर प्रेषित करनी होगी। प्रत्येक सेक्टर आफीसर के साथ एक-एक मास्टर टेªनर्स भी मौजूद रहेगे ताकि ईव्हीएम में होने वाली गड़बड़ी को अविलम्ब दूर किया जा सकें।  स्वीप के नोडल अधिकारी एवं जिला पंचायत सीईओ आईएएस श्री मयंक अग्रवाल ने सभी एसडीएम से कहा कि एमसीसी के तहत प्रकरण दर्ज किए गए है किन्तु उन पर कार्यवाही नही की गई है। ऐसी जानकारियां आयोग के पोर्टल पर प्रदर्शित हो रही है अतः शीघ्र कार्यवाही कर जानकारियां अंकित करें। इसी प्रकार उन्होंने ग्रामीण एवं शहरी क्षेत्रों के मतदाताओं को ईव्हीएम एवं व्हीव्हीपैट की कार्यप्रणाली से आयोजित किए जा रहे प्रदर्शन कार्यक्रमों की जानकारियां शीघ्र जिला पंचायत को भी भेजने के निर्देश दिए है।  बैठक में बताया गया कि जिला मुख्यालय की सिंगल विण्डो से हेलीकाप्टर उतरने की अनुमति आधे घंटे में तथा जिला स्तर पर अभ्यर्थी के वाहन की अनुमति एक घंटे की अवधि में निर्धारित प्रारूप में आवेदन व दस्तावेंज प्राप्त होने के उपरांत प्रदाय की जाएगी।  मीडिया क्षेत्र में विज्ञापनो के प्रसारण हेतु आरओ स्तर की एमसीएमसी से पूर्व में अनुमति प्राप्त करना अनिवार्य होगा। विदिशा जिला एवं विधानसभा स्तर की एमसीएमसी का दायित्व पैड न्यूज पर निगरानी रखने का होगा। सभी प्रकार की अनुमतियां आरओ स्तर की एमसीएमसी से ही प्राप्त करनी होगी। कलेक्टर द्वारा उपार्जन कार्यो के अलावा विभिन्न विभागों में लंबित आवेदनों की भी समीक्षा उनके द्वारा की गई खासकर सीएम हेल्पलाइन के लंबित आवेदनों पर शीघ्र कार्यवाही करने के निर्देश उन्होंने संबंधि विभागोे के अधिकारियों को दिए है।  नवीन कलेक्टेªट के सभाकक्ष में सम्पन्न हुई उक्त बैठक में सहायक कलेक्टर श्री विवेक कुमार, अपर कलेक्टर श्री वृदांवन ंिसंह, उप जिला निर्वाचन अधिकारी श्री लोकेन्द्र सरल के अलावा समस्त एसडीएम, विभिन्न विभागों के अधिकारी एवं डिप्टी कलेक्टर द्वय श्रीमती आरती यादव, श्री बिजेन्द्र सिंह यादव मौजूद थे। 

जिले के 9004 दिव्यांग मतदाताओं को सुविधाएं मुहैया कराई जाएगी

लोकसभा निर्वाचन 2019 के दरम्यिान निर्वाचन आयोग की मंशा के अनुरूप जिले के सभी दिव्यांग मतदाताओं को आवश्यक सुविधाएं मुहैया कराए जाने के पुख्ता प्रबंध सुनिश्चित किए गए है। प्रत्येक मतदान केन्द्र पर रेम्प बनाए गए है। दिव्यांग मतदाता बिना लाइन में लगे सीधे मतदान में मत दें सकेंगे।  निर्वाचन आयोग द्वारा दिव्यांगजनों के लिए सुगम्य पोर्टल में जारी सुविधाओं का अक्षरशः क्रियान्वयन करने के निर्देश संबंधितों को समीक्षा बैठक के दौरान दिए गए है। सुगम्य पोर्टल में प्रविष्टियों के तहत दिव्यांग, निःशक्त, गर्भवती, धात्री महिलाएं एवं वरिष्ठ नागरिक मतदाताओं को मतदान हेतु सुविधा प्रदान करने के लिए 17 अपै्रल से प्रविष्टियां प्रारंभ हो चुकी है। जिले में अब तक 9004 दिव्यांग मतदाताओं के द्वारा प्रविष्टियां दाखिल की गई है।  संसदीय निर्वाचन क्षेत्र 05 सागर के अंतर्गत विदिशा जिले की तीन विधानसभाएं शामिल है तदानुसार कुरवाई विधानसभा क्षेत्र के 2082, सिरोंज के 1523 तथा शमशाबाद के 2044 दिव्यांग मतदाता मतदान प्रक्रिया में शामिल होंगे। जबकि संसदीय निर्वाचन क्षेत्र क्रमांक 18 विदिशा के अंतर्गत विदिशा विधानसभा के 612 तथा बासौदा विधानसभा क्षेत्र के 2743 दिव्यांग मतदाताओं को मतदान हेतु दर्ज सुविधाओं की पूर्ति की जाएगी। 

निर्वाचन सामग्री वापसी के मापदण्डों से अवगत हुए

लोकसभा निर्वाचन 2019 के दरम्यिान मतदान के उपरांत उपयोग में लाई गई निर्वाचन सामग्री को एसएटीआई में बनाए गए स्ट्रांगरूमों में जमा कराई जाएगी। आयोग द्वारा निर्वाचन सामग्री वापसी के लिए क्या-क्या मापदण्ड तय किए गए है से भलीभांति अवगत कराने के उद्वेश्य से आज एक दिवसीय प्रशिक्षण कार्यक्रम एसएटीआई के नाथू सभाकक्ष क्रमांक एक-दो एवं स्मार्ट क्लास रूप प्रथम तल पर एक साथ प्रशिक्षण आयोजित किया गया था।  अपर कलेक्टर एवं मतदान दल गठन प्रकोष्ठ के नोडल अधिकारी श्री वृदांवन सिंह ने विधानसभावार निर्वाचन सामग्री वापसी में लगाए गए अधिकारियों, कर्मचारियों के लिए आहूत प्रशिक्षण को सम्बोधित करते हुए कहा कि मतदान दल के सभी सदस्य सबसे पहले मधुरभाषी हो वे धैर्यता से दूसरो की बाते सुने और उस पर अमल करें। मतदान के उपरांत जैसे-जैसे मतदान दलों के सदस्य निर्वाचन सामग्री जमा कराने आते है तो उनकी यही मंशा रहती है कि शीघ्रतिशीघ्र सामग्री जमा कर अपने घर की ओर रवाना हो सकें।   निर्वाचन सामग्री प्राप्त करने वाले सभी अधिकारी, कर्मचारी भी नम्र स्वभाव से जाने जाएं। आयोग ने पहली बार निर्वाचन सामग्री वापसी के लिए पृथक से एक-एक पैकेट प्रत्येक मतदान केन्द्र के लिए प्रदाय किया जाएगा। उक्त पैकेट में निर्वाचन संबंधी कौन-कौन सी सामग्री रखी जानी है से विस्तारपूर्वक अवगत कराया गया।  मास्टर टेªनर्स श्री मणी मोहन मेहता ने प्रशिक्षणार्थियों को मतदान सामग्री प्राप्त करने का पूरा लेआउट बताया। उन्होंने प्रशिक्षणार्थियों से कहा कि छह महत्वपूर्ण दस्तावेंजों की जांच के बाद पीठासीन अधिकारी शेष सामग्री जमा करेंगे। इस बार व्हीव्हीपैट से बैटरी निकालकर व्हीव्हीपैट का जमा करना है साथ में तीन प्रमाण पत्र भी इस आश्य के तीन प्रतियों में जमा करने होंगे। ईव्हीएम, व्हीव्हीपैट के साथ-साथ सीयूबीयू को जमा करने हेतु आयोग द्वारा जारी मापदण्डों से भी अवगत कराया गया।  निर्वाचन सामग्री जमा कराने के लिए आयोग द्वारा चैकलिस्ट निर्धारित की गई है जिसके अनुरूप सामग्री को जमा किया जाएगा। अतः मतदान केन्द्र से मतदान उपरांत रवाना होते समय मतदान दलों के अधिकारी चैक लिस्ट के अनुसार सामग्री जमाएं ताकि स्ट्रांगरूम में सामग्री जमा कराने में सहूलियत हो सकें।  उक्त प्रशिक्षण में दो सौ मतदान दलों को निर्वाचन सामग्री वापिस करने से प्रशिक्षित किया गया है। प्रशिक्षण के दौरान एसडीएम श्री प्रवीण प्रजापति के अलावा व्यवस्थापक श्री विनोद चैधरी मौजूद थे। आज एसएटीआई में सम्पन्न हुए प्रशिक्षण में जिले की पांचो विधानसभाओं के मतदान दलों को प्रशिक्षित किया गया है। 

लोकसभा निर्वाचन हेतु स्टार प्रचारकों के वाहन अनुमति के संबंध में निर्देश

लोकसभा निर्वाचन 2019 के दरम्यिान स्टार प्रचारकों के वाहनो की अनुमति के संबंध में आयोग द्वारा दिशा निर्देश जारी किए गए है। निर्धारित प्रारूप में आवेदन राज्य एवं जिला स्तर पर प्राप्त किए जाएंगे।  स्टार प्रचारकों की सूची एवं प्रचार हेतु वाहनो की अनुमति के लिए आयोग द्वारा जो दिशा निर्देश जारी किए गए है तदानुसार राज्य स्तर पर स्टार प्रचारकों को वाहनो की अनुमति मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी कार्यालय भोपाल से हल्के गुलाबी रंग के पेपर में दी जाएगी।  राज्य स्तर पर मान्यता प्राप्त राजनैतिक दलों के पदाधिकारियों को वाहन अनुमति राज्य निर्वाचन कार्यालय से पीले रंग के पेपर में प्रदाय की जाएगी। जबकि रिटर्निंग आफीसर के स्तर से अभ्यर्थियों हेतु वाहन अनुमति हल्के नीले रंग के पेपर में तथा जिला स्तर पर राजनैतिक दलो के पदाधिकारियों को वाहन अनुमति जिलो द्वारा हल्के हरे रंग के पेपर में दी जाएगी। अभ्यर्थियों के अभिकर्ताओं के लिए वाहन अनुमति जिलो द्वारा सफेद रंग के पेपर में प्रदाय की जाएगी। 

मतदान और मतदान के एक दिन पहले समाचार पत्रों में प्रकाशित
कराये जाने वाले विज्ञापनों का भी कराना होगा पूर्व प्रमाणन 
भारत निर्वाचन आयोग ने एन चुनाव के मौके पर विद्वेषपूर्ण अथवा भ्रामक राजनैतिक विज्ञापनों के प्रकाशन एवं प्रसारण पर रोक लगाने के उद्देश्य से समाचार पत्रों यथा प्रिंट मीडिया में भी मतदान के एक दिन पूर्व और मतदान के दिन प्रकाशित कराये जाने वाले राजनैतिक विज्ञापनों का आरओ स्तर की जिला स्तरीय मीडिया प्रमाणन समिति से पूर्व प्रमाणन कराना अनिवार्य कर दिया है। इस बारे में निर्वाचन आयोग द्वारा निर्देश जारी कर दिये गये हैं। निर्वाचन आयोग द्वारा जारी निर्देश के मुताबिक कोई भी राजनैतिक दल या उम्मीदवार अथवा अन्य कोई संगठन या व्यक्ति प्रदेश में लोकसभा चुनाव के लिए होने वाले मतदान के दिन तथा उसके एक दिन पहले वाले दिन कोई भी विज्ञापन मीडिया प्रमाणन समिति से बिना पूर्व प्रमाणन कराये प्रकाशित नहीं करा सकेगा। अर्थात ऐसे विज्ञापनों का समाचार पत्रों यथा प्रिंट मीडिया में प्रकाशन कराने के पूर्व राज्य अथवा जिला स्तरीय मीडिया प्रमाणन समिति से प्रमाणन कराना अनिर्वाय होगा।  निर्वाचन आयोग ने यह निर्देश पूर्व में सामने आये उन मामलों के संदर्भ में जारी किये हैं, जहां अंतिम चरण में भ्रामक, भड़काउ या आक्रामक स्वरूप के विज्ञापन प्रकाशित कराकर चुनावी प्रक्रिया को दूषित करने के प्रयास किये गये थे। आयोग के मुताबिक चुनाव के अंतिम दौर में ऐसे भ्रमित करने वाले विज्ञापनों के प्रकाशन के बाद इनसे प्रभावित दल अथवा प्रत्याशी के पास किसी भी प्रकार की सफाई अथवा खण्डन का अवसर नहीं होता।  आयोग के अनुसार ऐसी स्थिति में स्वतंत्र और निष्पक्ष निर्वाचन के लिए विज्ञापनों का पूर्व प्रमाणन जरूरी है। आयोग ने राज्य के मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी एवं सभी जिलों के जिला निर्वाचन अधिकारियों को इस निर्देश से राजनैतिक दलों के पदाधिकारियों, उम्मीदवारों तथा सभी समाचार पत्रों एवं प्रिंट मीडिया संस्थानों को अवगत कराने कहा है। निर्वाचन आयोग ने राज्य तथा जिला स्तरीय मीडिया प्रमाणन समितियों को विज्ञापनों के प्रमाणन हेतु प्राप्त आवेदनों का शीघ्र निराकरण करने के निर्देश भी दिये हैं। 

नुक्कड़ नाटक से मतदाता जागरूक

vidisha news
नगर पालिका विदिशा बस स्टैंड पर आयोजित मतदाता जागरूकता अभियान के द्वारा लोगों को बताया गया कि मतदान करना क्यों जरूरी है मतदान हमारा हक है हम भारत के नागरिक है मतदान हमारी जिम्मेदारी है अगर हम मतदान नहीं करते हैं तो हमें किसी भी प्रकार से सरकार से यह उम्मीद नहीं रखनी है कि विकास नहीं हुआ क्योंकि विकास हमारे जागने से होगा क्योंकि जब हम सब जागरूक नहीं होंगे तब तक इस देश का विकास नहीं हो सकता इस बारे में लोगों को नुक्कड़ नाटक के माध्यम से जानकारी दी और कहा कि 12 मई को अपना मतदान अवश्य करे नुक्कड़ नाटक की टीम ने कहा कि अगर हमें देश में विकास चाहिए तो हमें अधिक से अधिक मतदान करना होगा जिसमें काफी सारे पुरुष और महिला एवं दिव्यांग उपस्थित थे एवं उन्होंने  कहा की जो युवा 18 साल के हो चुके हैं वह भी अपना मतदान अवश्य करने जाएं और अपनी मनपसंद  पार्टी की  सरकार बनाएं  और जो दिव्यांग पुरुष और महिलाएं मतदान करने नहीं जा सकते उनके लिए भी निर्वाचन आयोग ने बहुत ही अच्छी व्यवस्था कर रखी है व्हीलचेयर वगैरह आदि अपने वार्ड क्रमांक के बूथ पर उपस्थित है तो कृपया कर अधिक से अधिक मतदान करें और अपने मताधिकार का प्रयोग करें और साथ ही सभी को शपथ दिलाई कि हम पूरी ईमानदारी से अपना मतदान करेंगे 

लू से बचाव के उपाय

बढ़ती गर्मी के मद्देनजर लू से बचाव के लिये लोक स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग द्वारा आम नागरिकों को धूप व गर्मी से बचने की सलाह दी गई है।  लोगों को घर के अन्दर हवादार, ठंडे स्थान पर रहने के लिए कहा गया है। यदि बाहर कार्य करना अति आवश्यक हो तो बाहरी गतिविधियाँ सुबह व शाम के समय में ही करें। इसी प्रकार अत्याधिक शारीरिक श्रम वाली गतिविधियाँ दिन के अधिकतम तापमान वाले घंटों में नहीं करने और सफेद व हल्के रंग के पतले वस्त्रों का उपयोग करने की सलाह दी गई है। इसी प्रकार सिर को कसे कपड़े या टोपी से ढकने, जूते-चप्पल तथा नजर के काले चश्मे का प्रयोग करने, धूप में जाने से पहले भोजन व पर्याप्त पानी लेने की भी सलाह दी गई है। अधिक से अधिक पेय पदार्थों, नॉन अल्कोहॉलिक जैसे नींबू पानी, लस्सी, छाछ, जलजीरा, आम पना, दही, नारियल पानी आदि का सेवन करना चाहिए। शिशुओं तथा बच्चों, 65 वर्ष से अधिक आयु के महिला-पुरूषो को घर के अन्दर रखे। बंद गाड़ी के अन्दर का तापमान बाहर से अधिक होता है। कभी भी किसी को बंद, पार्किग में रखी गाड़ी में अकेला नहीं छोड़े। बहुत अधिक भीड़,गर्म घुटन भरे कमरों, रेल, बस आदि की यात्रा गर्मी के मौसम में अत्यावश्यक होने पर ही करें। एडवाइजरी में बताया गया है कि किसी व्यक्ति को लू लगने के लक्षण दिखाई देते हैं, तो उसे तत्काल ठण्डे स्थान पर रखें। पानी, छाछ व अन्य तरल प्रदार्थों को पर्याप्त मात्रा में पिलाये। यदि आराम नहीं लगे तो तुरन्त निकट के शासकीय या निजी चिकित्सालय में उपचार करवाये।

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...