बेगुसराय : गिरिराज के मंच पर शेल्टर होम कांड आरोपी मंजू वर्मा - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

गुरुवार, 4 अप्रैल 2019

बेगुसराय : गिरिराज के मंच पर शेल्टर होम कांड आरोपी मंजू वर्मा

manju-verma-on-giriraj-stage
अरुण कुमार (आर्यावर्त) मुज़फ्फरपुर शेल्टर होम कांड में आरोपी मंजू वर्मा के साथ मंच शेयर करने मामले में केन्द्रीय मंत्री गिरिराज सिंह फंस गये हैं। उनकी तस्वीरें वायरल हो गई है साथ ही सोशल मीडिया पर भी उनके मंजू वर्मा के साथ दिखाई देने के बाद खूब खिंचाई हो रही है। दरअसल गिरिराज सिंह शनिवार को बेगूसराय में एक सभा को संबोधित कर रहे थे और उनके पीछे जमानत पर रिहा हुई पूर्व मंत्री मंजू वर्मा बैठी खूब हंस रही हैं।कानून को ठेंगा दिखाते हुए गिरिराज सिंह को भी इसकी कोई परवाह नहीं है। मंजू वर्मा कुछ समय पहले तक बेगूसराय जेल में ही बंद थी।अब वह उसी इलाके में एनडीए प्रत्याशी गिरिराज सिंह के प्रचार में जोर शोर से लग चुकी है।ऐसे में गिरिराज की पार्टी बीजेपी के ही समर्थकों ने भी मंजू वर्मा के साथ प्रचार को सही नहीं मान रहे और गिरिराज और बीजेपी को ऐसे लोगों ने बचने की सलाह सोशल मीडिया पर दे रहे है।पहली बार गिरिराज सिंह मुज़फ्फरपुर शेल्टर होम के किसी एक्यूज के साथ दिखाई दिये है।लोगों का कहना है कि चुनाव जीतने के लिए कुछ भी करेगा यह तो नेताओं की आदत बन चुकी है।गिरिराज भी कुछ ऐसा ही कर रहे है। आपकों बता दे कि मंजू वर्मा के पति का नाम इस मामले में उछला गया था।यही नहीं मंजू वर्मा के घर पर इस मामले में सीबीआई की टीम ने रेड भी किया था जिसके बाद उनके घर से गोलियां बरामद हुई थी।इस मामले में वे काफी समय से जेल में ही बंद थी। इस कांड में 34 लड़कियों के साथ सेक्सुअल हरासमेंट की पुष्टि हुई है। इसमें 31मई18को11लोगों के खिलाफ एफआईआर दर्ज हुई थी,जिसमें ब्रजेश ठाकुर भी शामिल था।गौरतलब है कि अप्रैल 18 में टाटा इंस्टीच्यूट आफ सोशल साइंसेज, मुम्बई ने 110 शेल्टर होम पर एक रिसर्च​ रिपोर्टस जारी किया था जिसमें लड़कियों के साथ दुष्कर्म की बात सामने आई थी।इस खुलासे के बाद बिहार की राजनीति में भूचाल आ गया था। जांच सीबीआई को गई जिसकी मॉनिटरिंग सुप्रीम कोर्ट कर रहा था।

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...