मोदी सबसे बड़े झूठे प्रधानमंत्री : सिद्धू - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

मंगलवार, 16 अप्रैल 2019

मोदी सबसे बड़े झूठे प्रधानमंत्री : सिद्धू

modi-is-the-biggest-liar-prime-minister-says-sidhu
अहमदाबाद 16 अप्रैल, नरेंद्र मोदी पर उन्हीं के गृह राज्य में तीखा हमला करते हुए कांग्रेस नेता नवजोत सिंह सिद्धू ने मंगलवार को कहा कि गुजरात की भूमि महात्मा गांधी का जन्मस्थान है। इसी भूमि ने ‘सबसे बड़ा झूठा’ प्रधानमंत्री भी दिया है।वलसाड लोकसभा सीट से कांग्रेस के उम्मीदवार जीतू चौधरी के पक्ष में डांग जिले में एक चुनावी सभा में सिद्धू ने कहा कि प्रधानमंत्री सिर्फ अमीर लोगों के लिए काम करते हैं। पंजाब सरकार में मंत्री सिद्धू ने कहा, ‘‘मैं हैरत में हूं कि (गुजरात की) भूमि ने हमें महात्मा गांधी दिया और इसी ने एक ऐसा प्रधानमंत्री दिया है जो सबसे बड़ा झूठा है।’’ उन्होंने मोदी को ‘झूठा नंबर 1’ और ‘फेकू नंबर 1’ बताया।

कांग्रेस ने कहा कि प्रधानमंत्री सिर्फ अमीरों का प्रतिनिधित्व करते हैं न कि गरीबों का। उन्होंने कहा, ‘‘ मोदीजी आप सिर्फ एक प्रतिशत गरीब लोगों के प्रधानमंत्री हैं। आप गरीब नागरिकों के प्रधानमंत्री नहीं हैं। आप इन स्थानीय लोगों से अपनी जमीन खाली करने और कहीं और जाने को कह रहे हैं। इस क्षेत्र में करीब 80 फीसदी स्थानीय लोग अन्य राज्यों में मजदूर के तौर पर काम करते हैं।’’ सिद्धू ने कहा कि कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी सत्ता में आते ही गुजरात के किसानों का कर्ज फौरन माफ कर देंगे।उन्होंने मोदी पर हर साल दो करोड़ नौकरियां सृजित करने के वादे को पूरा नहीं करने का आरोप लगाया।


पंजाब के मंत्री ने कहा, ‘‘ आपने (2014 के चुनाव प्रचार के दौरान) हर साल दो करोड़ नौकरियों का वादा किया था। आपके कार्यकाल में सिर्फ आठ लाख लोगों को नौकरियां मिलीं। चीन की जीडीपी छह प्रतिशत है और उसने पांच साल में 70 लाख नौकरियां दी। भारत की जीडीपी आठ फीसदी है और हम सिर्फ आठ लाख नौकरियां पैदा कर पाए।’’ उन्होंने यह भी दावा किया कि सरकारी एचएएल, बीएसएनएल और एमटीएनएल अपने कर्मचारियों की छंटनी कर रहे हैं।

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...