मुठभेड़ के बाद नक्सली शिविर ध्वस्त - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

बुधवार, 10 अप्रैल 2019

मुठभेड़ के बाद नक्सली शिविर ध्वस्त

naxal-camp-demolished-in-an-encounter-in-rajnandgaon
रायपुर 10 अप्रैल, छत्तीसगढ़ के नक्सल प्रभावित राजनांदगांव जिले में मुठभेड़ के बाद सुरक्षाबलों ने नक्सली शिविर को ध्वस्त कर दिया तथा वहां भारी मात्रा में सामान बरामद किया।इस घटना में किसी के भी हताहत होने की सूचना नहीं है। राजनांदगांव जिले के पुलिस अधिकारियों ने बुधवार को भाषा को दूरभाष पर बताया कि जिले के मानपुर थाना क्षेत्र के अंतर्गत महाराष्ट्र सीमा से लगे बुकमरका पहाड़ी में पुलिस दल ने नक्सली शिविर को ध्वस्त कर दिया है। पुलिस अधिकारियों ने बताया कि बुधवार को मानपुर थाना क्षेत्र में एसटीएफ और जिला बल के संयुक्त दल को गस्त में रवाना किया गया था। दल जब बुकमरका की पहाड़ी में था तब नक्सलियों ने पुलिस दल पर गोलीबारी की तथा तीन बारूदी सुरंग में विस्फोट किया। उसके बाद पुलिस दल ने भी जवाबी कार्रवाई शुरू की। उन्होंने बताया कि कुछ देर तक दोनों ओर से गोलीबारी के बाद नक्सली वहां से महाराष्ट्र के गढ़चिरौली सीमा की ओर भाग गए। अधिकारियों ने बताया कि पुलिस दल ने नक्सली शिविर से देशी राकेट लांचर का सेल, एके-47 रायफल के खाली खोखे और भारी मात्रा में दैनिक उपयोग का सामान बरामद किया है। क्षेत्र में नक्सलियों के खिलाफ अभियान जारी है। छत्तीसगढ़ के नक्सल प्रभावित राजनांदगांव सीट के लिए इस महीने की 18 तारीख को मतदान होगा। क्षेत्र में नक्सल प्रभाव को देखते हुए सुरक्षा बलों को सतर्क कर दिया गया है तथा क्षेत्र पुलिस दल लगातार अभियान पर है। राज्य के नक्सल प्रभावित दंतेवाड़ा जिले में मंगलवार को नक्सलियों ने भारतीय जनता पार्टी के विधायक के वाहन को बारूदी सुरंग में विस्फोट कर उड़ा दिया था। इस घटना में विधायक भीमा मंडावी, वाहन चालक और तीन सुरक्षा कर्मियों की मृत्यु हो गई। 

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...