दुमका : राष्ट्रीय मानवाधिकार एवं अपराध नियंत्रण ब्यूरो के तत्वावधान में राष्ट्रीय सेमिनार का आयोजन - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

रविवार, 28 अप्रैल 2019

दुमका : राष्ट्रीय मानवाधिकार एवं अपराध नियंत्रण ब्यूरो के तत्वावधान में राष्ट्रीय सेमिनार का आयोजन

seminar-nhrc-dumka
दुमका (अमरेन्द्र सुमन) राष्ट्रीय मानवाधिकार एवं अपराध नियंत्रण ब्यूरो के तत्वावधान में दिन रविवार को अग्रसेन भवन, दुमका में एक राष्ट्रीय सेमिनार का आयोजन किया गया। इस एक  दिवसीय राष्ट्रीय सेमिनार में बतौर मुख्य अतिथि एनएचआरसीसीबी  के राष्ट्रीय अध्यक्ष रणधीर कुमार ने कहा कि छोटी-छोटी  कोशिशें यूँही संगठित हो जाये तो उन चार करोड़ वंचित बच्चों तक शिक्षा पहुंचाई जा सकेगी।  राष्ट्रीय उपाध्यक्ष बंटी प्रसाद साहू ने जनजागरण के प्रयासों को  मजबूत  करने के लिए कानूनी लड़ाई लड़ने की बात कही।  प्रदेश अध्यक्ष अमित कुमार पटवारी ने कहा कि हाईकोर्ट में अपील कर पूरे राज्य में इस अधिनियम का पालन हो, ब्यूरो हमारा यह आश्वस्त करेगा।  सेमिनार में  प्रमण्डलीय अध्यक्ष  मनोज कुमार सिंह, जिलाध्यक्ष  नीरज कुमार नाग, प्रांतीय कानूनी सलाहकार  आर.एन. पाण्डेय,  जिला महासचिव देव नंदन, जिला सचिव सूरज केशरी, जिला प्रवक्ता अंजनी शरण, जिला सलाहकार आशीष आनंद, मिथिलेश कुमार व  अन्य जिला स्तरीय सदस्य व शहर के गणमान्य अतिथिगण,   अभिभावकगण उपस्थित थे।  बिहार व उड़ीसा के  एनएचआरसीसीबी पदाधिकारी व सदस्यगण उपस्थित थे। कार्यक्रम में अमिता रक्षित, मनोज कुमार घोष, रिंकू मोदी, नीलम मोर, सुशील सिंघानिया, मानव वर्मा, संजय चौधरी, एवं शहर के कई गणमान्य मौजूद थे। कार्यक्रम का संचालन अंजनी शरण ने किया ।  उन्होंने  कहा कि निजी विद्यालय संविधान के नियमों  में सुराख ढूंढकर व  धार्मिक संस्थान के आड़े शिक्षा को व्यापार बनाये हुए है।  सेमिनार में मुख्य रूप से शिक्षा का अधिकार अधिनियम 2009 पर चर्चा- परिचर्चा की गई। शिक्षा के व्यवसायीकरण व शिक्षण संस्थानों की मनमानी के ऊपर भी चर्चा की गई। कार्यक्रम के पश्चात् एनएचआरसीसीबी के अधिकारीगण एवं सदस्यगणों के बीच एक छोटी-सी परिचर्चा भी रखी गई, जिसमें मानवाधिकार के निमित्त अन्य सभी अधिकारों पर चर्चा की गई एन एच आर सी सी बी के मीडिया प्रभारी अंकुर कुमार ने उपरोक्त की जानकारी दी।

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...