पूर्णिया : चाइल्डलाइन के सदस्यों ने मुफस्सिल थाना में की बैठक, पुलिसबल को किया जागरूक - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

रविवार, 19 मई 2019

पूर्णिया : चाइल्डलाइन के सदस्यों ने मुफस्सिल थाना में की बैठक, पुलिसबल को किया जागरूक

childline-meeting-purnia
पूर्णिया (आर्यावर्त संवाददाता) : चाइल्ड लाइन द्वारा एक बैठक मुफस्सिल थाना प्रांगण में आयोजित की गई। जिसकी अध्यक्षता मुफस्सिल थानाध्यक्ष मदन कुमार ने की। बैठक में थाना के सभी चौकीदार ने भाग लिया। चाइल्ड लाइन के मयूरेश गौरव, अजीत कुमार ने बैठक का आगाज करते हुए कहा 0 से 18 साल तक के बच्चे से संबंधित कोई भी समस्या नजर आने पर चाइल्डलाइन के टॉल फ्री नंबर 1098 पर सूचित करें जैसे भूला भटका बच्चा, घर से भागा बच्चा, लावारिस हालत में पड़ा हुआ बच्चा, अनाथ बच्चे सबसे ज्यादा बाल विवाह, बालश्रम और बच्चे व बच्चियों का शोषण हो रहा है। इसके लिए कहीं न कहीं  सभी चौकीदारों को भी जागरूक होना होगा। इसके लिए आपलोगों के पास सबसे आसान तरीका यह है कि अगर इस प्रकार की कोई घटना या फिर मुसीबत में अगर कोई बच्चा या बच्ची दिखे तो आप सूचना चाइल्ड लाइन पूर्णिया को दें। ताकि समय रहते हुए चाइल्ड लाइन के सदस्य मौके पर पहुंच कर उस बच्चे की मदद कर सके। उन्होंने बिहार सरकार द्वारा चलाई जा रही परवरिश योजना के बारे में भी बैठक में मौजूद चौकीदारों को जानकारी दी। कहा कि अगर किसी के माता पिता का देहांत हो गया है और वह अपने किसी रिश्तेदार के यहां रह कर पढ़ाई कर रहा है तो ऐसे बच्चों को बिहार सरकार द्वारा हर माह एक हजार रूपए प्रतिमाह देगी। ताकि बच्चा अपनी पढ़ाई जारी रख सके। ऐसे बहुत सारी योजनाओं की जानकारी जो बच्चों के लिए केंद्र सरकार और राज्य सरकार द्वारा चलाई जा रही है की जानकारी दी गई। बैठक की अध्यक्षता कर रहे थानाध्यक्ष मदन कुमार ने भी सभी चौकीदारों को संबोधित करते हुए कहा कि हमलोग ज्यादा से ज्यादा फोन कर बच्चों से संबंधित मामलों की जानकारी चाइल्ड लाइन को दें। ताकि मुसीबत में फंसे बच्चों की मदद हो सके। बैठक में चाइल्ड लाइन के मयुरेश गौरव, अजीत कुमार के अलावे दर्जनों की संख्या में चौकीदार उपस्थित थे।

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...