बिहार : राजनीतिक विरोधियों पर हमले और हत्याओं पर भाकपा ने की निंदा - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

बुधवार, 29 मई 2019

बिहार : राजनीतिक विरोधियों पर हमले और हत्याओं पर भाकपा ने की निंदा

cpi-condemn-political-attack
पटना 29 मई 2019।  चुनाव बाद बेगूसराय जिले में राजनीतिक विरोधियों पर हमले और हत्याओं की बढ़ती घटनाओं पर भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी गंभीर चिंता व्यक्त करती है और इन घटनाओं की कड़ी निन्दा करती हैं। पार्टी बिहार के राज्य्पाल से मांग करती है कि वे अविलम्ब हस्तक्षेप कर बेगूसराय की घटनाओं को रोकने के लिए राज्य सरकार पर दबाब दे।  पार्टी के राज्य सचिव सत्यनारायण सिंह ने आज यहाँ एक प्रेस विज्ञप्ति जारी कर कहा है कि लोकसभा चुनाव संपन्न हो जाने के बाद बेगूसराय जिले में हिंसा और आतंक की घटनाएं लगातार बढ़ती जा रही है। मतगणना के दिन ही भारतीय जनता पार्टी के कुछ कार्यकर्ता और समर्थकों ने भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी के बेगूसराय जिला कार्यालय पर दिन दहाड़े हिंसक हमला किया। भाजपा कार्यकर्ताओं और समर्थकों की यह अकेली हिंसक आपराधिक घटना नहीं है। उसके बाद भी पार्टी के कार्यकर्ताओं और समर्थकों पर लगातार हमले हो रहे हैं। हाल ही इस जिले में फागो तांती (रामदीरी,मटिहानी) और पृथ्वीचंद्र चैधरी (वीरपुर बाजार) की हत्या कर दी गयी। ये दोनों भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी के सदस्य थे। उनके अतिरिक्त फेरी कर जीवनयापन करने वाले एक मुस्लिम युवक कासिम को यह कहकर गोली मर दी गयी कि वह पाकिस्तानी है। एक युवक चन्दन कुमार (प्रशांतनगर,बलिया) को गोली मार दी गयी। वह बेगूसराय के अस्पताल में है। जी0डी0 कॉलेज बेगूसराय के कैंपस में एक छात्र मासूम को जबरदस्त पिटायी कर घायल कर दिया गया। ये सारी अपराधिक घटनाये राजनीतिक हंै।  भारतीय जनता पार्टी बेगूसराय जिले में चुनाव जीतने के बाद हिंसाएआतंक और दहशत का माहौल बना रही है। अपने राजनीतिक विरोधियों को सबक सिखाने और उनकी आवाजों को बंद करने के लिए इन अपराधिक घटनाओं को अंजाम दिया जा रहा है। श्री सत्यनारायण सिंह ने कहा है कि भारत में प्रत्येक नागरिक को चुनाव  में अपने पसंद के प्रतिनिधि को वोट देने और चुनने का अधिकार है। किसी खास राजनीतिक दल के द्वारा उसे सिर्फ इसलिए प्रताड़ित नहीं किया जा सकता कि वह उस दल के पसंद के प्रतिनिधि को वोट नहीं देता है। भारतीय जनता पार्टी के उम्मीदवार को वोट नहीं देने का संदेह जिन व्यक्तियों पर होता है उन पर भारतीय जनता पार्टी के कार्यकर्ताओं और समर्थकों द्वारा हमले किये जा रहे हैं और कुछ की हत्या भी की जा रही है। यह नागरिकों के लोकतान्त्रिक अधिकारों पर खुलम खुल्ला हमला है। यानी भारतीय जनता पार्टी के  कार्यकर्ताओं और समर्थकांे की यह आपराधिक करवाई सीधे लोकतंत्र पर हमला है जो अत्यंत निंदनीय और चिंतनीय है। श्री सत्यनारायण सिंह ने कहा है कि बेगूसराय की स्थिति बिगड़ती जा रही है। जिले में आतंक और भय का माहौल बना हुआ है।इस स्थिति को देखते हुए भी जिला प्रशाशन और बिहार सरकार जानबूझकर लापरवाह बनी हुई है। यह और भी ज्यादा चिन्तनीय और निन्दनीय है। श्री सत्यनारायण सिंह ने बिहार के राज्यपाल महामहिम लालजी टंडन से आग्रह किया है कि वे अविलम्ब स्वयं हस्तक्षेप कर बेगूसराय जिले की स्थिति को और ज्यादा बिगड़ने से बचावें। 

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...