मधुबनी : सात निश्चय के तहत विभिन्न योजनाओं के क्रियान्व्यन की DM ने की समीक्षा - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

शुक्रवार, 17 मई 2019

मधुबनी : सात निश्चय के तहत विभिन्न योजनाओं के क्रियान्व्यन की DM ने की समीक्षा

dm-inspation-meeting-madhubani
मधुबनी (आर्यावर्त संवाददाता)  श्री शीर्षत कपिल अशोक, जिला पदाधिकारी, मधुबनी की अध्यक्षता में शुक्रवार को स्थानीय डी0आर0डी0ए0 सभागार, मधुबनी में सात निश्चय योजनाओं के क्रियान्वयन एवं प्रगति की समीक्षा की गयी।  इस अवसर पर उप-विकास आयुक्त, मधुबनी, श्री अजय कुमार सिंह, जिला पंचायती राज पदाधिकारी, मधुबनी, श्री अवधेश कुमार आनंद, जिला परिवहन पदाधिकारी, मधुबनी, श्री सुशील कुमार समेत सभी प्रखंड विकास पदाधिकारी, कनीय अभियंता एवं पर्यवेक्षक उपस्थित थे। बैठक में जिला पदाधिकारी, मधुबनी के द्वारा लोहिया स्वच्छ बिहार अभियान के तहत शौचालय निर्माण तथा उसके भुगतान की धीमी प्रगति को देख नाराजगी व्यक्त की गयी। तथा 10 दिनों के अंदर अधूरे पड़े शौचालय का निर्माण कराने एवं लंबित भुगतान करने का निदेश दिया गया। इसके साथ ही नल-जल योजना के तहत विभिन्न पंचायतों में अधूरे कार्य को शीघ्र पूर्ण करने का भी निदेश दिया गया। राशि की उपलब्धता के बावजूद भी कार्य नहीं शुरू कराने वाले वार्ड क्रियान्वयन समिति पर भी कार्रवाई हेतु चिन्हित करने का निदेश दिया गया। वैसे संवेदक जिनके द्वारा लंबे समय से अपने कार्यो को लंबित रखा गया है, या कार्य कराना छोड़ दिया है, उन पर भी कार्रवाई करने का निदेश दिया गया। तत्पश्चात जिला पदाधिकारी, मधुबनी के द्वारा नली-गली, प्रधानमंत्री आवास योजना आदि के प्रगति की भी समीक्षा की गयी। उन्होंने सभी प्रखंड विकास पदाधिकारियों से मुख्यमंत्री ग्रामीण परिवहन योजना में लाभुकों का चयन कर भुगतान करने एवं नये लाभुकों को चिन्हित कर उन्हें शीघ्र लाभान्वित करने का निदेश दिया गया। सभी प्रखंड विकास पदाधिकारियों को प्रखंडवार खराब पड़े चापाकलों को चिन्हित कर सूची उपलब्ध कराने का निदेश दिया गया। ताकि शीघ्र लोक स्वास्थ्य अभियंत्रण विभाग के माध्यम से खराब पड़े चापाकलों का मरम्मति कराया जा सकें। सभी पदाधिकारियों से नल-जल योजना के तहत उपयोग हेतु विद्युत लोड की समस्या के संबंध में प्रतिवेदन देने का निदेश दिया गया। जिससे कि शीघ्र विद्युत विभाग से विद्युत आपूर्ति शुरू करायी जा सके।

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...