झाबुआ (मध्यप्रदेश) की खबर 25 मई - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

शनिवार, 25 मई 2019

झाबुआ (मध्यप्रदेश) की खबर 25 मई

षिक्षा, स्वास्थ्य एवं पलायन की समस्या के निराकरण के लिये सबसे ज्यादा दिया जावेगा ध्यान- सांसद गुमानसिंह डामोर
सकल व्यापारी संघ ने किया सांसद श्री डामोर का आत्मीय स्वागत

jhabua news
झाबुआ । इस अंचल के समग्र विकास के साथ हीद तीन बिन्दुओं पर झाबुआ आलीराजपुर जेसे आदिवासी अंचल में गंभीरता से ध्यान देकर जन जन की समस्याओं को निराकृत करना मेरा प्रथम नैतिक दायित्व रहेगा । स्वास्थ्य, शिक्षा एवं पलायन इस आदिवासी अंचल की मुख्य समस्या है । गा्रमीण जनता को स्वास्थ्य सेवायें जो वर्तमान में उपलब्ध हो रही है वह नाकाफी है, विभिन्न जांचों एवं निदान के लिये यहां के गरीब लोगों को गुजरात, एवं प्रदेश के अन्य बडे नगरों में जाना मजबुरी है। मेरा प्रयास रहेगा कि यहां स्वास्थ्य के मामले में तमाम सुविधायें मिल सकें इसके लिये मेरे प्रयासों में कोई कमी नही रहेगी । शिक्षा के क्षेत्र में भी इस आदिवासी अंचल में और अधिक ध्यान देना मेरा प्राथमिकता रहेगी। हर गा्रम में प्रतिभाशाली बच्चों की कोई कमी नही है किन्तु उन्हे उचित मार्ग दर्शन एवं शिक्षा नही मिल पाने के कारण वे आगे पढाई नही कर पाते है , ग्रामीण क्षेत्रों में स्कूली शिक्षा मानक स्तर की मिले इसके लिये  भी मै ऐसे प्रयास करना चाहता हूं कि आने वालें दिनों में शिक्षा के क्षेत्र में यह अंचल पीछे नही रहे और यहां के प्रतिभाशाली बच्चों को आगे बढने का मौका मिले । वही तीसरी समस्या पलायन की है जो नासूर की तरह यहां व्याप्त है । मेरा प्रायास रहेगा कि इस आदिवासी अंचल में ऐसे उद्योगों की स्थापना हो तािा यहां के मजदूर गा्रमीण भाई बहिनों को काम की तलाश में अन्यत्र नही जाना पडे । यह बात शुक्रवार को प्रातः भाजपा लोकसभा कार्यालय पर सकल व्यापारी संघ द्वारा आयोजित नव निर्वाचित सांसद गुमानसिंह डामोर के स्वागत समारोह के अवसर पर उपस्थित व्यापारियों को संबोधित करते हुए कहीं । इस अवसर पर श्रीमती सूरज डामोर, जिला भाजपा अध्यक्ष ओम प्रकाश शर्मा विशेष रूप से उपस्थित थे। भाजपा जिला मीडिया प्रभारी राजेन्द्र सोनी ने बताया कि सकल व्यापारी संघ की और से  संगठन के अध्यक्ष नीरजसिंह राठौर की अगुवाई में कमलेश पटेल, पंकज मोगरा, हरिशचन्द्रशाह लाला, राजेश शाह, अशोक शर्मा, निर्मल अग्रवाल, दीपक माहेश्वरी, संजय शाह, विकास शाह, नुरूद्दीनभाई पिटोलवाला,भूपेन्द्र बाबेल, राजेन्द्र संघवी, सतीश माहेश्वरी, संतोष नाकोडा, अमीत जैन, श्याम सावलानी, प्रांशु शाह, राजनारायणगुप्ता, लोकेश गुप्ता, रविराजसिंह राठौर, राजेश नागर, अब्बास बोहरा, अली असगर बोहरा, श्रीराम चैहान, सुनील चैहान, मनोज बाबेल सहित बडी संख्या में व्यापारीगणो उपस्थित की उपस्थिति मे नव निर्वाचित सांसद का बडी पुष्पमाला से सामुहिक स्वागत किया गया । इस अवसर पर पंकज मोगरा ने स्वागत भाषण देते हुए नव निर्वाचित सांसद श्री गुमानसिंह डामोर से अंचल में रोजगार बढाने के अवसरों के साथ ही उद्योगों की व्यवस्थित स्थापना के बारे में अनुरोध किया । नव निर्वाचित सांसद गुमानसिंह डामोर ने कहा कि  तत्कालीन विधायक बापूसिंह डामोर ने 1980-83 के दौरान राज्य सरकार से पारा क्षेत्र के विकास के लिये तथा कृषि विकास के लिये सिंचाई के साधनों के लिये जो सार्थक प्रयास करके इस अंचल को हरा भरा एवं किसानों की आर्थिक स्थिति को बढाने वाला काम किया उसी तर्जपर झाबुआ के आसपास की पथरिली उबड खाबड जमीन को भी पानी की भरपुर व्यवस्था के लिये संसाधन एवं तालाबों आदि के निर्माण के माध्यम से हरा भरा करने के लिये योजनाबद्ध तरिके से काम करेगें तथा किसानों को उनकी उपज का अधिक से अधिक लाभ मिले और आर्थिक संपन्नता के लिये वे काम करके दिखायेगें । श्री डामोर ने अशिक्षा के चलते कृषि के आधुनिक वैज्ञानिक साधनों के उपयोग नही हो पाने का जिक्र करते हुए कहा कि यहां कृषि उत्पाद  के लिये प्रभावी कार्य करना उनकी प्राथमिकता रहेगी । श्री डामोर ने व्यापारियों को आश्वस्त किया कि वे उनके द्वारा समय समय पर दिये गये सुझावों के अनुसार पूरा सहयोग प्रदान करेगें । उन्होने कहा कि पानी की समस्या के लिये माही या नर्मदा से पानी लानें के प्रयासों को साकार करेगें । मेघनगर में उद्योगों के व्यवस्थित विकास का जिक्र करते हुए कहा कि  यहां पूरी सुविधायें मिल सकें तथा व्यवस्थित उद्योग लगाये जाये इस दिशा में काम करेगें तथा केमिकल उद्योग नही लगे बल्कि जन स्वास्थ्य के साथ ही लोगों को अधिक से अधिक रोजगार मिल सके ऐसे उद्योग स्थापित करानें के लिये कृत संकल्पित है । उन्होने गुजरात के रेगिस्तान कहे जाने वाले भुज क्षेत्र के नरेन्द्र मोदी द्वारा उद्योगों के क्षेत्र में अग्रणी स्थान दिलाने का जिक्र करते हुए उसका अनुसरण यहां भी करने की बात कही । इस अवसर पर श्रीमती सूरज डामोर ने भी अपने विचार व्यक्त करते हुए कहा कि यहां स्वयं सहायता समूहों को सक्रिय करने के लिये प्रयास होगें । भूंज का उदाहरण देते हुए कहा कि वहां स्वयं सहायता समतूह की महिलाओं का 400 करोड का ग्रुप है और वे तेजी से प्रगति पथ पर अग्रसर हुए है ऐसा ही इस आदिवासी अंचल मे किये जाने के प्रयास सांसद के माध्यम से किये जावेगें । इस अवसर पर रतलाम,सहित गा्रमीण अंचलों स आये लोगों ने भी गुमानसिंह डामोर को बधाईया देते हुए पुष्पमालाओं से स्वागत कर मिठाईया खिलाई । अन्त मे आभार प्रदर्शन जिला भाजपाध्यक्ष ओम प्रकाश शर्मा ने किया । नव निर्वाचित सांसद का पूरे लोक सभा क्षेत्र में आत्मीय स्वागत का क्रम प्रारंभ हो चुका है तथा शुक्रवार को वे कालीदेवी, मेघनगर, थांदला, खवासा, पेटलावद, एवं रतलाम में आयोजित स्वागत समारोह में शामील हुए ।

मोदी की सरकार बनने एवं भाजपा प्रत्याषी के विजयी होने पर भाजपा पदाधिकारी-कार्यकर्ताओं ने शहर के वार्ड क्र. 12 में की जमकर आतिष्बाजी

jhabua news
झाबुआ। देष में एक बार फिर नरेन्द्र मोदी की सरकार बनने एवं रतलाम-झाबुआ-आलीराजपुर संसदीय क्षेत्र से भाजपा प्रत्याषी गुमानसिंह डामोर के विजयी होने पर भाजपा नगर मंडल के नेतृत्व में शहर के वार्ड क्र. 12, गोपाल काॅलोनी में 23 मई, गुरूवार की शाम जमकर आतिष्बाजी कर खुषियां मनाई गई। 23 मई गुरूवार को लोकसभा चुनाव की मतगणना के दिन जैसे-जैसे पूरे देष में भाजपा के पक्ष में परिणाम आते गए, वैसे-वैसे पूरे देष में भाजपा पदाधिकारी एवं कार्यकर्ताओं में जष्न और खुषी का माहौल छाने लगा। इसी क्रम में देष में मोदी की सरकार बनने एवं रतलाम संसदीय सीट पर भाजपा प्रत्याषी गुमानसिंह डामोर के विजयी घोषित होने की सूचना मिलने पर गुरूवार शाम वार्ड क्र. 12 गोपाल काॅलोनी में भाजपा नगर मंडल उपाध्यक्ष अंकुर पाठक के साथ सचिन वाणी, देवांष शर्मा, दिनेष परमार, राष्मिीक मोड़िया, अजय बैरागी, राजेष कोहली, चीनू आदि युवाओं ने एक-दूसरे को गले मिलकर एवं आतिष्बाजी कर जमकर खुषियां मनाई। इस दौरान हर-हर मोदी, घर-घर मोदी, मोदी है तो मुमकिन है एवं भाजपा पार्टी जिंदाबाद के नारे लगाते हुए जीत का सिंबोल दिखाया

देश के प्रधानमंत्री देषवासियों के विष्वास पर खरे उतरे
इस अवसर पर भाजपा नगर मंडल उपाध्यक्ष अंकुर पाठक ने कहा कि हमारे देष के यषस्वी एवं ओजस्वी प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की एक बार फिर देष में ऐसी सुनामी चली कि पूरे देष में भाजपा को सर्वाधिक सीटे प्राप्त हुई है। नरेन्द्र मोदी राष्ट्रहित की बाते करते है, इसलिए देषवासियों ने उन पर एवं भाजपा पर भरोसा किया है। मोदीजी ने यह साबित कर दिया है उनके लिए कुछ भी नामुमकिन नहीं है। सभी देषवासी नरेन्द्र मोदी की एक बार फिर सरकार बनने एवं संसदीय क्षेत्रवासी संसदीय क्षेत्र में कमल का फूल खिलने से अत्यधिक प्रसन्नचित है।

मोदी टी-स्टाॅल लगाकर बाबेल चैराहावासियों ने लोगों को पिलाई मोदी चाय, मोदी-मोदी के लगाए नारे

jhabua news
झाबुआ। 23 मई, गुरूवार को लोकसभा चुनाव के परिणााम देष में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के पक्ष में आने एवं संसदीय क्षेत्र से भाजपा प्रत्याषी के विजयी होने के उपलक्ष में शहर के मध्य बाबेल चैराहा पर चैराहावासियों द्वारा जमकर खुषियां मनाते हुए चैराहे पर मोदी टी-स्टाॅल लगाया गया, जहां लोगों को मोदी चाय पिलाई। साथ ही इस दौरान मोदी के समुधर गीत बजाकर ‘‘मोदी है तो मुमकिन है’’ के जमकर नारे लगाए। बाबेल चैराहे पर सुबह 10 बजे से बाबेल चैराहे के रहवासियों में लोकेन्द्र बाबेल, विनोद कटकानी, सुनिल कटकानी, प्रेमप्रकाष कोठारी, मनोज कटकानी, कैलाचन्द्र श्रीमाल, हेमेन्द्र बाबेल, अनूप सोनी, हरिष शाह लालाभाई, विजय कटकानी, अषोक कटकानी, अनिल कटकानी, कैलाष कटारिया, विकास कटारिया, प्रदीप कटकानी, शुभम कटकानी, जितेन्द्र मालवीय बुई भाई, कु. भूमिका माहेष्वरी, सलोनी कटकानी, सीमा गांधी, दीपमाला कटकानी, दीपिका सोनी, सोना कटकानी, सोनल बाबेल आदि ने मोदी टी स्टाॅल लगाकर देष के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की एक बार फिर जीत एवं संसदीय क्षेत्र में भाजपा प्रत्याषी गुमानसिंह डामोर के विजयी होने पर राह चलते लोगों को चाय पिलाई गई।

ठंडा पानी भी पिलाया
साथ ही भीषण गर्मी में राहत के लिए पानी की वाॅटर केन रखकर सभी को पानी की पिलाया गया। यह स्टाॅल शाम 6.30 बजे तक यहां लगा रहा। इस दौरान आयोजक रहवासियों में जर्बदस्त उत्साह देखने को मिला। उन्होंने ‘मोदी-मोदी’ के नारे लगाकर जीत का सिंबोल भी दिखाया।

2 जून को भारत को विष्व गुरू बनाने हेतु पूरे देष में होगा गायत्री यज्ञ का आयोजन, झाबुआ जिले में घरों में यज्ञ करवाने हेतु इनसे करे संपर्क

jhabua news
झाबुआ। अखिल विष्व गायत्री परिवार शातिंकुज हरिद्वार के तत्वावधान में आगामी 2 जून को पं. श्री राम शर्मा आचार्यजी के महाप्रयाण दिवस पर पूरे देष में एक साथ एक समय पर गायत्री यज्ञ का आयोजन होगा। इसी के तहत झाबुआ जिले में भी गायत्री यज्ञ का आयोजन किया जाना है। जिसकी तैयारियां गायत्री शक्तिपीठ काॅलेज मार्ग झाबुआ एवं उससे जुड़े के समस्त गायत्री परिजन भाई-बहनों द्वारा जोर-षोर से की जा रहीं है। यह जानकारी देते हुए गायत्री परिवार नारी जागरण अभियान की जिला संयोजिका श्रीमती नलिनी बैरागी ने बताया कि गायत्री परिवार शांतिकुंज हरिद्वार के निर्देषों के अनुरूप देष को सषक्त एवं विष्व गुरू बनाने की ओर अग्रसर करने एवं मनुष्यांें में देवतत्व की भावना स्थापित करने हेतु गृहे-गृहे, ग्राम-ग्राम 2 जून को यह आयोजन पूरे देष में एक साथ एक समय पर सुबह 8 से दोपहर 12.30 बजे के बीच संपन्न होगा। श्री बैरागी ने आगे बताया कि इसी कड़ी झाबुआ जिले में भी यह यज्ञ 1100 से अधिक घरों मे करवायाएं जाने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है।

सत््त दिया जा रहा प्रषिक्षण एवं चला रहा बैठकों का दौर
इस वृहद स्तर पर होने वाले आयोजन हेतु काॅलेज मार्ग झाबुआ स्थित गायत्री शक्तिपीठ पर प्रतिदिन सुबह एवं शाम, दो समय जिलेभर से आने वाले गायत्री परिवार के महिला-पुरूषों एवं युवाओं को प्रषिक्षण दिया जा रहा है। प्रषिक्षण गायत्री परिवार के जिला समन्वयक पं. घनष्याम बैरागी दे रहे है। उनके द्वारा प्रषिक्षण में गायत्री यज्ञ करने की विधि सिखाने के साथ इनके महत्व की भी जानकारी दी जा रहंी है। इसके अतिरिक्त पूरे जिले में गायत्री परिवारजनों की उक्त आयोजन को लेकर बैठके भी सत्त चल रहीं है।

पंजीयन के लिए इनके करे संपर्क
शहर सहित आसपास के क्षेत्रों में जो साधक अपने घर में 2 जून को यज्ञ करवाना चाहता है, वह गायत्री परिवार नारी जागरण अभियान की जिला संयोजिका श्रीमती नलिनी बैरागी से उनके मोबाईल नंबर- 94251-01214 पर संपर्क कर पंजीयन करवाने के साथ ही गायत्री शक्तिपीठ काॅलेज मार्ग झाबुआ पर आकर भी अपना लिखवा सकता है। श्री बैरागी के अनुसार यह यज्ञ कोई भी साधक, चाहे किसी धर्म, संप्रदाय का हो, यदि अपने घर पर यज्ञ करवाने का इच्छुक हो तो, वह अपना नाम लिखवाकर गायत्री यज्ञ करवा सकता है।

मालवा के श्री संघांे ने राजनगर पहुंचकर आचार्यद्वय की कुशलक्षेम पूछकर लिया आशीर्वाद, 19 मुमुक्षुओं की भव्य दीक्षा का आयोजन संपन्न

jhabua news
झाबुअ। मालवा क्षेत्र के झाबुआ, मेघनगर ,थांदला, पेटलावद, झकनावदा, राजगढ़, रतलाम, कुक्षी, टांडा नागदा जंक्शन, जावरा, रिंगनोद, मोहनखेड़ा म्यूजियम, रायपुरिया, आलोट, बदनावर सहित कई श्री संघो ने सुधर्मा स्वामी की सुविहित परंपरा के आत्मस्थ युगपुरुष श्री सौधर्म ब्रम्हतपोगछिय राजेन्द्र सूरीष्वरजी मसा के षष्ठम पट्टधर पूण्य सम्राट जयंतसेनसूरिजी मसा समुदायवर्ती गच्छाधिपति आचार्य श्री नित्यसेन सूरीष्वरजी मसा एवं भांडवपुर तीर्थ प्रेरक आचार्य श्री जयरत्न सूरीष्वरजी मसा की पावन निश्रा में राजनगर आत्मोद्धार भाग-3 में 19 आत्मार्थियों का आत्मोद्धारक आयोजन में पहुंचकर आचार्यद्वय मुनि मंडल एवं साध्वी मंडल की कुशलक्षेम पूछी एवं आशीर्वाद लिया। उक्त आयोजन के पूर्व 22 मई को अखिल भारतीय श्री राजेन्द्र जैन नवयुवक परिषद की राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक आयोजित की गइर्। जिसमें परिषद परिवार द्वारा संचालित की गतिविधियों एवं आगामी आयोजन पर होने वाली गतिविधियों पर परिषद के राष्ट्रीय पदाधिकारियों ने प्रकाश डाला। साथ ही आचार्य श्रीजी के समक्ष बैठ कर संचालित आयोजन एवं आगामी पूज्यश्री के पिपलोदा भव्य चातुर्मास के प्रवेश को लेकर चर्चा की गई।

मुमुक्षुआंे को प्रदान की दीक्षा
आचार्यद्वय द्वारा संपूर्ण विधि-विधान से दीक्षार्थी भाई-बहनों को रजोहरण प्रदान किया गया। तत्पश्चात समस्त दीक्षार्थी रजोहरण प्रदान होने पर मंच पर खुशी से झूमने लगे। तत्पश्चात कई महत्त्वपूर्ण चढ़ावे बोले गए। जिसमे समस्त गुजरात, थराद, मुंबई ,सूरत, अहमदाबाद के लाभार्थियों ने बढ़-चढ़ कर चढ़ावे लिए। जिसके बाद समस्त क्रियाओं के पश्चात आचार्यद्वय द्वारा नूतन दीक्षार्थीयों का सांसारिक नाम बदल कर संयमी नामकरण किया गया। जिसमें श्री विशेष कुमार से संयमी नाम मुनिश्री जंबुसेन विजयजी मसा, श्री संयमकुमारजी से संयमी नाम सुधर्मसेन विजयजी मसा, कुमारी मिली का संयमी नाम साध्वीश्री मोर्यनिधि श्रीजी मसा, कु. .निराली का संयमी नाम साध्वीश्री नित्यश्रुत प्रिया श्रीजी मसा, कु.सिल्की बहन से संयमी नाम साध्वीश्री श्रुतान्शप्रियाश्रीजी मसा, कु.निशी बहन से संयमी नाम साध्वीश्री निर्मलप्रिया श्रीजी म.सा., कु.नियति बहन का संयमी नाम साध्वीश्री वन्दननिधि श्रीजी म.सा. कु.रोशनी से संयमी नाम साध्वीश्री वज्ररेखा श्रीजी मसा, कु.. रिंकल बेन से संयमी नाम साध्वीश्री धर्मरेखा श्रीजी मसा, कु. मीना बेन से संयमी नाम साध्वीश्री महावीर निधि श्रीजी म.सा. ,कु.प् ूजा बहन से संयमी नाम साध्वी श्री प्रभुप्रियाश्रीजी मसा, कु.रिद्धि से संयमी नाम साध्वीश्री रैवत निधिश्रीजी म.सा.,कु. क्रीना बहन से संयमी नाम साध्वीश्री क्षमानिधि श्रीजी म.सा.,कु.आंगी बहन का संयमी नाम साध्वीश्री आर्यनिधिश्रीजी म.सा.,कु.मित्तल बेन से संयमी नाम साध्वीश्री मृदुनिधिश्रीजी म.सा., कु. .पूजा बेन से संयमी नाम साध्वीश्री पश््र्वप्रिया श्रीजी मसा, कु.मोक्षाली बेन से संयमी नाम साध्वीश्री ऋषभनिधि श्रीजी मसा, कु. वैरागी बेन से संयमी नाम साध्वीश्री पुंडरीक निधिश्रीजी मसा, कु. जिनल बेन का संयमी नाम साध्वीश्री केवलदीप निधिश्रीजी म.सा. नाम रखा गया। अब इन मुमुक्षुओं की पहचान इन संयमी नामांे से होगी। इस पर नामकरण के बाद पूरा परिसर जय-जयकार जय-जयकार पुण्य सम्राट की जय-जयकार एवं आचार्यद्वय की जयकारों से गूंज उठा। साथ ही उपस्थितजनों ने नूतन दीक्षार्थी अमर रहे के गगन भेदी नारे लगाए।

इनकी रहीं विषेष सहभागिता
इस अवसर पर परिषद् से राष्ट्रीय अध्यक्ष रमेशभाई धरु मुंबई ,वागजी भाई, अशोक श्रीमाल इंदौर, ब्रजेश बोहरा नागदा जंक्शन, मनीष कुमट झकनावदा, राहुल रांका आलोट, कमलेश मांडोत आलोट, रजत कावड़िया मेघनगर, बाबूलाल मामा राजगढ़, मोनू जैन पारा , पेलेस मोरखिया अहमदाबाद उपस्थित थे। उक्त आयोजन में गुजरात के थराद, सूरत, अहमदाबाद सहित कई श्रीसंघो की महत्वपूर्ण भूमिका रही। इस पर आचार्यद्वय ने समस्त श्रीसंघो की खूब-खूब अनुमोदना की एवं साथ ही आशीर्वाद दिया।

निःशुल्क नेत्र परीक्षण एवं आॅपरेषन षिविर 26 मई, रविवार को 

झाबुआ। वर्ष 1991 से सेवा में कार्यरत अंर्तराष्ट्रीय स्तर के शोध एवं प्रषिक्षण कंेद्र दृष्टि नेत्रालय दाहोद द्वारा स्व. शारदाबेन शाह की स्मृति में दिव्या इलेक्ट्रªानिक्स झाबुआ के संजय शाह एवं परिवार की ओर से निःषुल्क नेत्र परीक्षण एवं आॅपरेषन षिविर का आयोजन 26 मई, रविवार को शहर के मध्य राजवाड़ा चैक पर श्री सत्यनारायण मंदिर के समीप किया जाएगा। यह जानकारी देते हुए षिविर के आयोजक आसरा पारमार्थिक ट्रस्ट के संस्थापक अध्यक्ष राजेष नागर ने बताया कि षिविर का समय सुबह 10 से दोपहर 2 बजे तक रखा गया है। षिविर में दृष्टि नेत्रालय दाहोद के चिकित्सक एवं समस्त टीम अपनी सेवाएं देंगी। इस दौरान समस्त प्रकार की आंखों से संबंधित बिमारियों की जांच एवं उपचार निःषुल्क किया जाएगा। मोतियाबिंद का आॅपरेषन लेंस प्रत्यारोपण के साथ निःषुल्क होगा। मोतियाबिंद के रोगियों को आॅपरेषन हेतु दाहोद चिकित्सालय ले जाने हेतु वाहन सुविधा एवं आवास-भोजन की व्यवस्था भी चिकित्सालय प्रबंधन की ओर से निःषुल्क की जाएगी। षिविर में आंखों की जांच पश्चात् निःषुल्क दवाईयों का वितरण भी षिविर स्थल पर ही होगा।

पूर्व में भी षिविर का सफल आयोजन हो चुका
ज्ञातव्य रहे कि आसरा पारमार्थिक ट्रस्ट द्वारा इससे पूर्व स्व. पांचुलालजी देषलहराजी की स्मृति में अतिषय देषलहरा परिवार द्वारा विगत 16 अप्रेल को भी षिविर का सफल आयोजन झाबुआ में किया जा चुका है, जिसमें मोतियाबिंद के 5 मरीज आने पर उन्हें चिकित्सालय प्रबंधन की ओर आॅपरेषन संबंधी समस्त सुविधाएं निःषुल्क प्रदान की गई थी एवं उनका सफल आॅपरेषन होनेे से अब वह राहत महसूस कर रहे हे।

षिविर में पंजीयन हेतु इनसे कर संपर्क
26 मई को होने वाले निःषुल्क नेत्र परीक्षण एवं आॅपरेषन षिविर का लाभ लेने हेतु शहर एवं आसपास के क्षेत्रों के आंखों के रोगो संबंधी मरीज पंजीयन हेतु आसरा पारमार्थिक ट्रस्ट के संस्थापक अध्यक्ष राजेष नागर से उनके मोबाईल नंबर 94251-02276, संस्थापक सचिव नीरजसिंह राठौर से मोेबाईल नंबर 94251-02371, सेवा प्रकल्प परामर्षदाता सुधीरसिंह कुषवाह से मोबाईल नंबर-94259-70774, अध्यक्ष रविराजसिंह राठौर से मोबाईल नंबर 89894-52654, सुनिल चैहान से मोबाईल नंबर 94250-33541 एवं संजय शाह (दिव्या इलेक्ट्रानिक्स) से मोबाईल नंबर - 94259-25924 पर संपर्क कर करवाया जा सकता है।

षिविर का अधिकाधिक लाभ लेने की अपील
आसरा पारमार्थिक ट्रस्ट के मेनेजिंग ट्रस्टी यषवंत भंडारी, कोषाध्यक्ष पं. द्विजेन्द्र व्यास, वरिष्ठ सदस्यों में अषोक शर्मा, इंदरसेन संघवी, राजकुमार पाटीदार, नवटर सोनी, लक्ष्मीकांत सोनी, मीडिया प्रभारी दौलत गोलानी, अतिषय देषलहरा, महिलाओं में आजीवन अध्यक्ष श्रीमती वंदना व्यास, सुषीला भट्ट, लीना नागर, आषा त्रिवेदी, चंचला सोनी, सीमा चैहान, पवित्रा भावसार, मंजुला देराश्री, रूक्मणी वर्मा आदि ने शहर एवं आसपास के क्षेत्रों के समस्तजनों से षिविर का अधिकाधिक लाभ लेकर इसे सफल बनाने का आव्हान किया है।

सम्पूर्ण निर्वाचन प्रक्रिया निर्विघ्न सम्पन्न कराने पर प्रषासन ने प्रकट किया आभार

झाबुआ । कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी श्री प्रबल सिपाहा ने लोकसभा निर्वाचन की सम्पूर्ण प्रक्रिया निर्विघ्न एवं शांतिपूर्ण ढंग से सम्पन्न कराने के लिये जिले के समस्त अभ्यर्थियों, राजनैतिक दलों के पदााधिकारियों एवं सदस्यों, मीडिया प्रतिनिधियों, नागरिकों तथा जिला एवं पुलिस प्रषासन के अधिकारियों एवं कर्मचारियों के प्रति आभार प्रकट किया है। लोकसभा निर्वाचन की चुनावी प्रक्रिया के दौरान भारत निर्वाचन आयोग के प्रावधानों को लागू कराने हेतु अभ्यर्थियों एवं राजनैतिक दलों के लोगांे द्वारा दिये गये सक्रिय सहयोग के कारण झाबुआ जिले में सम्पूर्ण निर्वाचन प्रक्रिया निष्पक्ष एवं शांतिपूर्ण ढंग से सम्पन्न हो गई। पुलिस एवं जिला प्रषासन से जुडे़ सभी विभागांे के अधिकारियों एवं कर्मचारियों सहित केन्द्रीय कर्मचारियों द्वारा निर्वाचन प्रक्रिया में सौंपे गये दायित्वों का समय पर शत-प्रतिषत निर्वहन करने के लिये दिये गये सहयोग के प्रति आभार प्रकट किया है। जिला निर्वाचन अधिकारी ने जिले के मीडिया प्रतिनिधियों के प्रति आभार व्यक्त करते हुये कहा कि मीडिया के सक्रिय सहयोग के चलते जिले में लोकसभा निर्वाचन प्रक्रिया शांतिपूर्ण तरीके से सम्पन्न कराने में मदद मिली। मीडिया द्वारा समर्पित भाव से निर्वाचन प्रक्रिया के प्रचार-प्रसार में अपेक्षित सहयोग दिया गया है।

पेंशन के लिये डिजीटल जीवन प्रमाण पत्र/पुनर्विवाह नहीं होने संबंधी प्रमाण पत्र जमा करने की सलाह

झाबुआ । भारत सरकार के श्रम एवं रोजगार मंत्रालय की अधिसूचना के अनुसार कर्मचारी भविष्य निधि पेंशनरों को प्रत्येक वर्ष नवंबर माह के दौरान जीवन प्रमाण पत्र प्रोग्राम के माध्यम से डिजीटल जीवन प्रमाण पत्र/पुनर्विवाह नहीं होने संबंधी प्रमाण पत्र जमा किया जाना अनिवार्य है। जिन पेंशनरों द्वारा निर्धारित समय सीमा में डिजीटल जीवन प्रमाण पत्र/पुनर्विवाह नहीं होने संबंधी प्रमाण पत्र जमा नहीं किये गये है उनकी पेंशन रोक दी गई है। ऐसे पेंशनरों को क्षेत्रीय भविष्य निधि आयुक्त जबलपुर श्री मोहम्मद अशरफ कामिल द्वारा सलाह दी गई है कि वे तत्काल डिजीटल जीवन प्रमाण पत्र/पुनर्विवाह नहीं होने संबंधी प्रमाण पत्र जमा करायें। उन्होंने बताया कि पेंशनरों के लिये अपनी पेंशन संवितरण बैंक शाखा या कॉमन सर्विस सेंटर या जबलपुर स्थित भविष्य निधि कार्यालय या संबंधित जिला कार्यालय में डिजीटल जीवन प्रमाण पत्र अधिकृत कराये जाने की व्यवस्था कराई गई है। इन स्थानों में संपर्क करते समय पेंशनर अपना पी.पी.ओ. नंबर, पेंशन ली जाने वाली बैंक खाता पासबुक, आधार कार्ड और मोबाईल साथ ले जाये जिससे उनकी पेंशन निरंतर जारी की जा सके।

बाढ़, अति-वृष्टि से निपटने जिला स्तर पर बनायें एक्शन प्लान प्रमुख सचिव राजस्व के कलेक्टर्स को निर्देश

झाबुआ । राज्य शासन ने सभी संभागायुक्त और कलेक्टर को बाढ़ एवं अति-वृष्टि की स्थिति से निपटने के लिये बचाव और राहत कार्य के लिये जिला स्तर पर एक्शन प्लान बनाने के निर्देश दिये हैं। निर्देशों में बाढ़ की आशंका वाले जिलों में जिला स्तर पर 15 जून या मानसून की वर्षा प्रारंभ होते ही कन्ट्रोल रूम बनाने और आवश्यक होने पर तहसील स्तर पर भी कन्ट्रोल रूम बनाने को कहा गया है। प्रभारी अधिकारी बाढ़ संबंधी जानकारी से राहत आयुक्त सहित अन्य अधिकारियों को अपडेट रखने, बाढ़ की संभावना होने पर कन्ट्रोल रूम के 24 घंटे कार्य करने और राज्य स्तरीय कन्ट्रोल रूम के साथ सेना के सब-एरिया कमाण्डर भोपाल को भी तत्काल सूचित करने का निर्देश भी दिये गये है।

बाढ़ोन्मुख क्षेत्रों में निगरानी की विशेष व्यवस्था
जिन क्षेत्रों में अक्सर बाढ़ आती है, वहाँ निगरानी के लिये विशेष व्यवस्थाएँ करने, आवश्यकता पड़ने पर लोगों को सुरक्षित स्थानों पर पहुँचाने, ठहराने आदि के लिये स्थानों की पहचान के साथ सम्पूर्ण योजना तैयार करने को कहा गया है। बाढ़ संभावित क्षेत्रों के लोगों को पंचायत, नगरपालिका, स्थानीय स्वयंसेवी संस्था आदि के सहयोग से बचाव की जानकारी का प्रशिक्षण भी दिया जायेगा।

बाढ़ बचाव उपकरणों को करायें दुरूस्त
जिला कलेक्टरों से बाढ़ बचाव के उपकरणों, नावों की मरम्मत और उपलब्ध संसाधनों और प्रशिक्षित गोताखोर आदि को सूचीबद्ध करने, आसपास के जिलों में उपलब्ध सामग्री की सूची बनाने और बाढ़ की स्थिति बनने पर अपने जिले के साथ पड़ोसी जिले से बचाव उपकरण और प्रशिक्षित जवानों की टुकड़ी मँगवाकर बचाव और राहत कार्य तुरंत शुरू करने को कहा गया है। साथ ही जिले में उपलब्ध बोट्स और मोटर बोट्स की जानकारी तुरंत राहत आयुक्त कार्यालय भेजने के निर्देश दिये गये हैं। प्रशिक्षित बोट चालक, गोताखोर और प्रशिक्षित जवानों की उपलब्धता सुनिश्चित करने के लिये कहा गया है। बाढ़ की स्थिति में पुलिस बल एवं होमगार्ड की मदद लेने के बावजूद स्थिति बिगड़ने की स्थिति के समय में संभागायुक्त से विचार-विमर्श कर सेना की मदद हासिल करने और सेना की निकटस्थ छावनी के अधिकारियों से वर्षा ऋतु के दौरान निरंतर सम्पर्क में रहने की भी हिदायत दी गई है।

स्थानीय लोगों को सचेत करें
प्रमुख सचिव राजस्व ने कहा है कि बाढ़ की स्थिति बनने पर दूरदर्शन, आकाशवाणी और अन्य जन-संचार माध्यमों से स्थानीय लोगों को सचेत करते रहें। जिन जिलों में बड़ी नदी और नाले बहते हैं, उनके जल-स्तर पर लगातार नजर रखने और उसके खतरे के निशान पर पहुँचने की संभावना पर फौरन राज्य स्तरीय कन्ट्रोल रूम के साथ निचले जिलों को लगातार सूचना देने की व्यवस्था करने और अति-वर्षा की स्थिति में जलाशयों के जल-स्तर पर सतत् निगाह रखने के निर्देश दिये गये हैं। पूर्ण भराव होने पर जलाशयों से नियंत्रित रूप से जल-निकासी और जल भराव वाले क्षेत्रों में अग्रिम सूचना भिजवायी जायेगी।

दुर्गम क्षेत्रों में खाद्य सामग्री का पर्याप्त भंडारण सुनिश्चित करें
ऐसे दुर्गम स्थल जहाँ वर्षा ऋतु में पहुँचना मुश्किल होता है, वहाँ पर्याप्त मात्रा में खाद्य सामग्री, जीवन रक्षक दवाओं आदि का पर्याप्त भंडारण और बाढ़ के पानी से घिर जाने वाले क्षेत्रों में पेयजल आपूर्ति सुनिश्चित करने के लिये वहाँ उपलब्ध पेयजल स्त्रोतों को चिन्हांकित कर कार्य-योजना बनाने के लिये कहा गया है।

राज्य-केन्द्र शासन को भेजेंगे बाढ़ हानि की जानकारी
संभागायुक्त और कलेक्टरों से कहा गया है कि बाढ़ से होने वाली हानि की जानकारी नियमित रूप से भारत शासन के गृह मंत्रालय और राज्य स्तरीय कन्ट्रोल रूम को टेलीफोन और फैक्स पर भेजें। राज्य स्तरीय कन्ट्रोल रूम में यह जानकारी प्रमुख सचिव राजस्व, अपर सचिव और उप राहत आयुक्त को भेजी जाए।

नदी, नालों, तालाबों की सफाई
कलेक्टरों से कहा गया है कि जिले के नदी, नालों और तालाबों की सफाई करवाकर पानी की निर्बाध निकासी सुनिश्चित करें। नगरीय क्षेत्रों की निचली बस्तियों को अन्यत्र बसाने की वैकल्पिक व्यवस्था करने, जलमग्न सड़कों और पुलियों पर दुर्घटना रोकने के लिये चेतावनी बोर्ड लगाने के भी निर्देश दिये गये हैं। 

आय एवं सम्पत्ति प्रमाण पत्र जारी करने अनुविभागीय अधिकारी राजस्व व तहसीलदार अधिकृत

झाबुआ । राज्य शासन ने आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग को आय एवं सम्पत्ति का प्रमाण पत्र जारी करने के लिए संबंधित अनुविभागीय अधिकारी राजस्व और तहसीलदार को अधिकृत किया है। सामान्य प्रशासन विभाग द्वारा प्रदेश के सभी जिला कलेक्टर्स को तदाशय के निर्देश प्रदान कर दिए गए हैं। भारत सरकार द्वारा 103वें संविधान संशोधन के माध्यम से भारत सरकार की सेवाओं एवं शिक्षण संस्थाओं में आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग, जो वर्तमान आरक्षण की योजनाओं में नहीं आते हैं, को 10 प्रतिशत आरक्षण देने का प्रावधान किया गया है। इसका लाभ लेने हेतु आय एवं सम्पत्ति का प्रमाण पत्र होना जरूरी है। इसलिए केन्द्रीय सेवाओं व शिक्षण संस्थानों में प्रदेश के आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग को इसका लाभ प्राप्त करने के लिए भारत सरकार द्वारा निर्धारित प्रारूप में आय एवं सम्पत्ति का प्रमाण पत्र संलग्न करना जरूरी है। अनुविभागीय अधिकारी राजस्व व तहसीलदार को निर्देशित किया गया है कि वे आय एवं सम्पत्ति का प्रमाण पत्र समुचित जांच एवं संतुष्टि के बाद ही जारी करें।

जिले की राजस्व सीमा क्षेत्र के खेतो मे नरवाई जलाने हेतु प्रतिबंधित आदेष जारी

झाबुआ । उप संचालक कृषि झाबुआ श्री त्रिवेदी ने बताया कि झाबुआ जिले मे रबी फसल की कटाई के बाद किसान शेष बची फसल अवषेष (नरवाई) को जला देते है, जिससे मिट्टी मे मौजूद पोषक तत्व एवं मित्र कीट खत्म हो जाते है तथा जमीन बंजर होकर पर्यावरण भी प्रदूषित हो रहा है। इस संबंध मे किसानो को खेतो मे नरवाई नही जलाने हेतु विभिन्न माध्यमो से जागरूक किया गया है, किंतु फिर भी खेतो मे नरवाई भूमि के साथ साथ पर्यावरण भी प्रदूषित किया जा रहा है। नरवाई जलाने के कारण प्रदेष मे अग्नि दुर्घटनाये घटित हो रही है तथा संपत्ति की हानि कारित हुई है। ग्रीष्म ऋतु मे बढते हुए जल संकट मे इससे बढोत्तरी तो होती है, साथ ही कानून व्यवस्था के लिये भी विपरीत परिस्थितियां निर्मित होने से उप संचालक कृषि झाबुआ द्वारा इसे रोकने हेतु प्रतिबंधात्मक आदेष पारित करने हेतु लेख किया गया है। अतएव खेतोे मे फसल कटाई उपरांत नरवाई को जलाने पर कार्यवाही हेतु प्रदेष मे फसलो विषेषतः धान, गेहूं की फसल कटाई उपरांत फसल अवषेषो को खेतो मे जलाये जाने को प्रतिबंधित किया जाने व उप संचालक कृषि के प्रतिवेदन से सहमत होते हुए जिले की सीमा मे खेतो मे नरवाई जलाने से अग्नि दुर्घटनाएं घटित होने व आग लगाने से हानिकारक गैसो के उत्सर्जन से पर्यारवरण प्रदूषण, संपत्ति की हानि, आमजन के जान माल को आसन्न खतरा उत्पन्न होने, कानून एवं व्यवस्था के साथ साथ मानव व्यवस्था पर पडने वाले प्रतिकूल प्रभाव की स्थिति को रोकने हेतु इस पर अंकुष लगाये जाने की आवष्यकता को देखते हुए कलेक्टर एवं जिला दंडाधिकारी श्री प्रबल सिपाहा ने जनसामान्य के हित/जानमाल एवं लोक षांति को बनाये रखने हेतु झाबुआ जिले की राजस्व सीमा क्षेत्र के खेतो मे नरवाई जलाने हेतु प्रतिबंधित आदेष जारी किया है। आदेष की सूचना जिला कार्यालय, संबंधित तहसील, संबंधित थाना, नगर पालिका, नगर पंचायत एवं विकासखंड के नोटिस बोर्ड पर चस्पा की गई है। संबंधित थाना प्रभारी अपने क्षेत्र मे इस आदेष का पालन करना सुनिष्चित करेंगे एवं प्रत्येक ग्राम/कस्बा/षहरी क्षेत्र मे लाउड स्पीकर तथा डोंडी पिटवाकर सर्व साधारण को जानकारी हेतु प्रचार प्रसार करायेंगे तथा सार्वजनिक एवं सहज दृष्टि गोचर स्थलो पर चस्पा कर प्रकाषित करेंगे ताकि सर्व साधारण को इसकी जानकारी हो सके।

शासन ने आदिवासी दिवस 9 अगस्त को सामान्य अवकाश घोषित किया

झाबुआ । राज्य शासन द्वारा 9 अगस्त 2019 शुक्रवार को आदिवासी दिवस पर सामान्य अवकाश घोषित किया गया है। उल्लेखनीय है कि आदिवासी दिवस 9 अगस्त को पूर्व में ऐच्छिक अवकाश घोषित किया गया था, अब शासन द्वारा निर्णय लिया गया है कि उक्त एच्छिक अवकाश के स्थान पर 9 अगस्त को सामान्य अवकाश घोषित किया गया है। 

किसान स्वयं के तैयार बीज की साफ-सफाई कर उसके अंकुरण प्रतिषत की जांच करे
नया बगीचा लगाने हेतु उचित दूरी पर गड्ढे तैयार करे
झाबुआ । कृषि विज्ञान केन्द्र झाबुआ द्वारा किसानो को सलाह दी गई है कि आगामी 5 दिवसों में आसमान मे साफ से छिटपुट बादल रहने, तापमान सामान्य रहने व वर्षा नही होने की संभावना है, इसे देखते हुए खेत मे लगी फसल, सब्जी व पौधो की सिंचाई दोपहर के समय न करे, सिंचाई सुबह, षाम व रात मे करे। कटाई उपरांत खेत से मिट्टी परीक्षण हेतु मिट्टी के नमूने ले। परीक्षण हेतु प्रयोगषाला भेजे, इसके बाद गहरी जुताई कराये। कटाई उपरांत खेत मे बचे अवषेष (नरवाई) को जलाये नही, गहरी जुताई कर मिट्टी मे मिलाएं। ग्रीष्मकालीन मूंग, भिण्डी व कद्दवर्गीय सब्जियों की 7 से 8 दिन के अतंराल से सिंचाई कर अनुसंषित उर्वरक की मात्रा देे। नया बगीचा लगाने हेतु उचित दूरी पर गड्ढे तैयार करे। स्वयं के तैयार बीज की साफ-सफाई कर उसके अंकुरण प्रतिषत की जांच करे।

राष्ट्रीय एवं राज्य स्तरीय प्रतियोगिताओं के पदक विजेता खेलवृत्ति के लिए 31 मई तक कर सकते हैं आवेदन

झाबुआ । खेल एवं युवा कल्याण विभाग द्वारा वर्ष 2019-20 में विगत वित्तीय वर्ष 2018-19 में राज्य एवं राष्ट्रीय स्तर पर पदक विजेता खिलाड़ियों को खेलवृत्ति प्रदान करने के लिए आवेदन आमंत्रित किए गए हैं। ऐसे खिलाड़ी जिन्होंने विगत वित्तीय वर्ष 01 अप्रैल 2018 से 31 मार्च 2019 तक मान्यता प्राप्त राज्य स्तरीय प्रतियोगिताएं, राज्य स्तरीय महिला एवं ग्रामीण खेल प्रतियोगिताओं, राज्य स्तरीय स्कूल गेम्स, विशेष राज्य ग्रामीण एवं महिला खेल प्रतियोगिता तथा खेल संघो द्वारा आयोजित मान्यता प्राप्त राज्य स्तरीय प्रतियोगिता में स्वर्ण, रजत, कांस्य पदक प्राप्त किया हो, वह 31 मई 2019 को शाम 05.30 बजे तक जिला खेल एवं युवा कल्याण अधिकारी कार्यालय झाबुआ में आवेदन जमा कर सकते हैं। खेलवृत्ति हेतु आवेदन करने वाले खिलाड़ी की आयु 01 अप्रैल की स्थिति में 19 वर्ष से अधिक नहीं होनी चाहिए तथा खिलाड़ी मध्यप्रदेश का मूल निवासी होना चाहिए। खेलवृत्ति हेतु आवेदन करने के लिए पूर्व के वित्तीय वर्ष में खिलाड़ी द्वारा अधिकृत राज्य स्तरीय चैम्पियनशिप में पदक प्राप्त करना अनिवार्य है। खेल अकादमी, प्रशिक्षण केन्द्र तथा खेल छात्रावास में निवासरत खिलाड़ियों को खेलवृत्ति की पात्रता नहीं होगी। भारतीय खेल प्राधिकरण साई या अन्य किसी स्त्रोत से खेलवृत्ति प्राप्त कर रहे खिलाड़ी को खेलवृत्ति की पात्रता नहीं होगी। दिव्यांग वर्ग की अधिकृत राज्य स्तरीय चैम्पियनशिप में पदक अर्जित करने वाले खिलाड़ी को खेलवृत्ति की पात्रता होगी। एक खिलाड़ी द्वारा एक से अधिक प्रतियोगिताओं में पदक प्राप्त करने की स्थिति में एक ही खेलवृत्ति दी जाएगी। खेलवृत्ति के लिए आवेदन करते समय आवेदक को सक्षम अधिकारी द्वारा जारी मूल निवासी प्रमाण पत्र की छायाप्रति अनिवार्य रूप से संलग्न करना होगा। इसके साथ ही आवेदक को राज्य स्तरीय प्रतियोगिता में पदक अर्जित के प्रमाण पत्र की अभिप्रमाणित छायाप्रति, जन्म प्रमाण पत्र या 10वीं कक्षा की अंकसूची की अभिप्रमाणित छायाप्रति, आधार कार्ड की छायाप्रति भी संलग्न करना होगा। आवेदक पत्र के साथ बैंक का नाम, स्थान, खाता नम्बर तथा आईएफएससी कोड, खाते का प्रकार, पेन नम्बर, लिंक आधार कार्ड सहित अंकित करना होगा। आवेदक को विगत वर्षो में प्रदाय खेलवृत्ति की सही जानकारी देनी होेगी तथा गलत जानकारी देने पर आवेदन निरस्त किया जाएगा। खेलवृत्ति हेतु आवेदन पत्र कार्यालय जिला खेल एवं युवा कल्याण विभाग जिला खेल परिसर झाबआ से कार्य दिवसों में प्राप्त किए जा सकते हैं। विकासखण्ड स्तर पर विकासखण्डों में पदस्थ समन्वयक तथा विभागीय वेबसाइट ूूूण्केलूउचण्हवअण्पद से भी प्राप्त किए जा सकते हैं।

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...