मधुबनी : सदर अस्पताल चिकित्सा व्यवस्था एवं अन्य बिंदुओं पर विस्तृत जांच हेतु टीम का गठन - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

सोमवार, 20 मई 2019

मधुबनी : सदर अस्पताल चिकित्सा व्यवस्था एवं अन्य बिंदुओं पर विस्तृत जांच हेतु टीम का गठन

sadar-hospitar-inspaction-madhubani
मधुबनी (आर्यावर्त संवाददाता) : सदर अस्पताल, मधुबनी में चिकित्सकों/कर्मियों को नियमित रूप से अपने कत्र्तव्य पर उपस्थित नहीं रहने, उपस्थित रहने के बावजूद रोगी का समुचित व्यवस्था नहीं रहने, उपस्कर की कमी आदि के कारण परिजनों/लोगों द्वारा आक्रोशपूर्ण धरना-प्रदर्शन, तालाबंदी आदि की सूचनाएं मिल रही है। यह अत्यंत ही चिंताजनक स्थिति का द्योतक है। इससे जिला प्रशासन एवं स्वास्थ्य प्रबंधन के प्रति लोगों में अविश्वास पैदा हो रहा है। जिसे देखते हुए जिला पदाधिकारी, मधुबनी के द्वारा सदर अस्पताल, मधुबनी में उपलब्ध करायी जा रही चिकित्सा व्यवस्था एवं अन्य बिंदुओं पर विस्तृत जांच हेतु एक जांच टीम का गठित की गयी है। जांच टीम में मो0 रजीक, जिला भू-अर्जन पदाधिकारी, मधुबनी, श्री सुनील कुमार, अनुमंडलीय लोक शिकायत निवारण पदाधिकारी, मधुबनी, श्रीमती रेणु कुमारी, अनुमंडलीय लोक शिकायत निवारण पदाधिकारी, मधुबनी है।   गठित जांच टीम को जिला पदाधिकारी, मधुबनी के द्वारा निदेश दिया गया है कि दो दिनों के अंदर सदर अस्पताल, मधुबनी में उपलब्ध करायी जा रही चिकित्सा व्यवस्था के संदर्भ में विस्तृत जांच/कार्य-कलाप की समीक्षा कर अपना प्रतिवेदन स्पष्ट मंतव्य के साथ समर्पित करना सुनिश्चित करेंगे।  जिला पदाधिकारी, मधुबनी के द्वारा जांच टीम को चिकित्सकों/कर्मियों की उपस्थिति, इमरजेंसी वार्ड/ओ0पी0डी0 में चिकित्सा व्यवस्था, दवा/एम्बुलेंस की उपलब्धता एवं उसका वितरण व्यवस्था, प्रसव कक्ष की व्यवस्था/सर्जरी द्वारा प्रसव की स्थिति, बच्चों की मृत्यु/उसका कारण, एस0एन0सी0यू0 का रख-रखाव/उपस्कर/ए0सी0/आधारभूत संरचना की उपलब्धता की स्थिति, अस्पताल के विभिन्न वार्डो में साफ-सफाई की स्थिति, सफाई एजेंसी का क्रिया-कलाप तथा नशामुक्ति केन्द्र में चिकित्सा व्यवस्था की जांच करने हेतु निदेश दिया गया है।

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...