सीहोर (मध्यप्रदेश) की खबर 22 मई - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

बुधवार, 22 मई 2019

सीहोर (मध्यप्रदेश) की खबर 22 मई

कलेक्टर ने पत्रकारों को बताए मतगणना स्थल के संबंध में निर्वाचन आयोग के दिशा निर्देश

sehore news
कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी श्री गणेश शंकर मिश्रा की अध्यक्षता में लोकसभा निर्वाचन 2019 के दौरान 23 मई को होने वाली मतगणना के लिये जिले के पत्रकारों की बैठक आयोजित की गई। बैठक में कलेक्टर ने उपस्थित प्रिंट व इलेक्ट्रानिक मीडिया के पत्रकारों को बताया कि मतगणना कक्ष के भीतर मोबाईल फोन ले जाना वर्जित है, किंतु मतगणना स्थल पर बनाये गये मीडिया कक्ष में मोबाइल फोन का प्रयोग किया जा सकेगा। जिला प्रशासन द्वारा पत्रकारों के लिये मीडिया कक्ष में टीवी व ईमेल की सुविधा भी उपलब्ध कराई जाएगी। पत्रकारों को 5-5 की संख्या में एसकोर्ट अधिकारी के द्वारा मतगणना कक्ष तक ले जाया जाएगा।  पुलिस अधीक्षक श्री शशीन्द्र चौहान ने उपस्थित मीडिया बंधुओं से कहा कि चुनाव आयोग द्वारा दी गई गाइड लाईन के अनुरुप मतगणना स्थल पर आने वाले प्रत्येक व्यक्ति को तलाशी दिए बगैर प्रवेश नहीं मिलेगा। इसके लिए हमें आपके सहयोग की अपेक्षा करते हैं। कलेक्टर ने जिले में हुये शांतिपूर्ण मतदान के लिये पत्रकारों का आभार व्यक्त किया। बैठक में पुलिस अधीक्षक श्री शशीन्द्र चौहान, अपर कलेक्टर श्री वी.के.चतुर्वेदी एवं उप जिला निर्वाचन अधिकारी मेहताब सिंह गुर्जर भी उपस्थित थे।


मतगणना हेतु तैयारियां पूर्ण-कलेक्टर ने किया निरीक्षण

sehore news
लोकसभा निर्वाचन 2019 की मतगणना के लिये शासकीय महिला पॉलिटेक्निक महाविद्यालय में निर्वाचन आयोग द्वारा निर्धारित मापदंड एवं निर्देशानुसार पूरी कर ली गई हैं।  बुधवार को कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी श्री गणेश शंकर मिश्रा ने पुलिस अधीक्षक श्री शशीन्द्र चौहान के साथ मतगणना स्थल का निरीक्षण कर व्यवस्थाएं देखीं। कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी श्री गणेश शंकर मिश्रा ने सीहोर, आष्टा, इछावर और बुदनी विधानसभाओं की मतगणना हेतु की गई समुचित व्यवस्थाओं का जायजा लिया साथ ही मीडिया हेतु तैयार किये गये कक्ष का भी अवलोकन किया। मतगणना हेतु ड्यूटी पर लगाये गये कर्मचारियों एवं पुलिसकर्मियों को 23 मई को दिये गये समय अनुसार मतगणना स्थल पर पहुंचकर अपने कर्तव्यों का पालन करना है। निरीक्षण के दौरान अपर कलेक्टर श्री विनोद कुमार चतुर्वेदी, उप जिला निर्वाचन अधिकारी श्री मेहताब सिंह गुर्जर, सभी अनुविभागीय अधिकारी उपस्थित थे।

कानून व्यवस्था बनाये रखने के लिए नियुक्त कार्यपालिक मजिस्ट्रेट में संशोधन  

कलेक्‍टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी श्री गणेश शंकर मिश्रा द्वारा लोकसभा निर्वाचन 2019 के लिए विधानसभा निर्वाचन क्षेत्र क्रमांक 156-बुदनी, 157-आष्टा, 158-इछावर एवं 159 सीहोर में हुए निर्वाचन की मतगणना 23 मई को शासकीय महिला पॉलीटेक्निक महाविद्यालय में कानून व्यवस्था को दृष्टिगत रखते हुए श्यामपुर तहसीलदार श्री मोतीलाल अहिरवार को कार्यपालिक मजिस्ट्रेट नियुक्त किया गया था। जिला निर्वाचन अधिकारी द्वारा आदेश में आंशिक संशोधन करते हुए श्री अहिरवार के स्थान पर नायब तहसीलदार सीहोर सुश्री सुमिता कुमारी की ड्यूटी कार्यपालिक दण्डाधिकारी गणना क्षेत्र परिसर द्वितीय गेट (अधिकारीगण एवं मतगणना कर्मी हेतु) पर लगाई गई है। नियुक्त किये गए अधिकारी 23 मई को प्रात: 6 बजे से मतगणना प्रक्रिया समाप्ति तक मतगणना प्रक्रिया के दौरान सौंपे गए दायित्वों का निर्वहन पूर्ण तत्परता एवं जिम्मेदारी से करेंगे एवं कानून व्यवस्था सुनिश्चत करते हुए शांति व्यवस्था बनाये रखेंगे।

आज रहेगा शुष्क दिवस

लोकसभा निर्वाचन 2019 के दौरान होने वाली मतगणना को दृष्टिगत रखते हुए कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी श्री गणेश शंकर मिश्रा द्वारा जिले में 23 मई 2019 को सम्पूर्ण दिवस के लिए शुष्क दिवस घोषित किया गया है। इस अवधि में जिले में संचालित समस्त देशी एवं विदेशी मदिरा दुकानों से मदिरा का विक्रय पूर्णतः प्रतिबंधित रहेगा।

वैध मतों का छठा हिस्सा नहीं मिलने पर होगी जमानत राशि जप्त 

भारत निर्वाचन आयोग के निर्देशानुसार चुनाव लड़ रहे ऐसे सभी उम्मीदवारों की निक्षेप राशि या सुरक्षा निधि जप्त की जाएगी जिन्हें अपने निर्वाचन क्षेत्र में कुल डाले गये वैध मतों के छठवें हिस्से से कम या बराबर मत प्राप्त होंगे। आयोग के निर्देशों के मुताबिक कुल वैध मतों के 16.66 प्रतिशत अथवा छठवें हिस्से से कम या बराबर मत मिलने पर उम्मीदवार द्वारा नाम निर्देशन पत्र के साथ जमा की गई निक्षेप राशि जप्त कर ली जायेगी। इस राशि को उसे वापस नहीं किया जायेगा। उल्लेखनीय है कि निर्वाचन आयोग के मुताबिक लोकसभा चुनाव लड़ने के लिए सामान्य वर्ग के उम्मीदवारों को 25 हजार रूपए और अनुसूचित वर्ग के प्रत्याशियों को 12 हजार 500 रूपए की सुरक्षा निधि नामजदगी का पर्चा दाखिल करते वक्त जमा करानी होती है।

सम्पूर्ण मतगणना प्रक्रिया की होगी निगरानी 

लोकसभा निर्वाचन के अन्तर्गत आज 23 मई को होने वाली मतगणना की सम्पूर्ण प्रक्रिया की वीडियोग्राफी कराई जायेगी। वही सम्पूर्ण मतगणना परिसर सीसीटीवी कैमरों की निगरानी में रहेगा। जिससे प्रत्येक गतिविधि स्वतः ही रिकार्ड होती रहेगी।  आयोग के अनुसार मतगणना हाल में कार्यालयीन रिकार्डिंग के अलावा पूरी प्रक्रिया के दौरान किसी और प्रकार का कैमरा या वीडियो वर्जित रहेगा। पत्रकार या मीडिया द्वारा किसी प्रकार का कैमरा स्टेंड मतगणना हाल में लगाने की अनुमति नहीं होगी। भारत निर्वाचन आयोग द्वारा अधिकृत पास जिन्हें दिया जायेगा, केवल वही व्यक्ति हाथ का कैमरा रख सकेंगे। इसके अलावा वीडियो लेते समय किसी भी स्थिति में ईवीएम में वास्तविक मतों की फोटो कंधे या हाथ में लिए कैमरे द्वारा लेना वर्जित रहेगा। वह स्थान तक जहाँ कैमरा घूमता है, उस स्थान को सहायक रिटर्निंग ऑफिसर द्वारा पहले से बताया जाएगा। उनके द्वारा इस सीमा को निशान बनाकर या निर्देश के लिए रस्सी आदि से चिन्हित किया जाएगा। सम्पूर्ण मतगणना प्रक्रिया की कराई गई वीडियोग्राफी की सीडी डीईओ (जिला निर्वाचन अधिकारी) द्वारा सुरक्षित रखी जायेगी।

मतगणना स्थल पर अधिकृत व्यक्ति ही प्रवेश पा सकेंगे

भारत निर्वाचन आयोग के निर्देश पर मतगणना हाल में अंदर केवल अधिकृत व्यक्ति को ही प्रवेश दिया जाएगा, इनमें गणना पर्यवेक्षक और गणना सहायक, निर्वाचन आयोग द्वारा अधिकृत व्यक्ति, निर्वाचन के संबंध कर्त्तव्यारूढ़ लोकसेवक एवं उम्मीदवार तथा उनके निर्वाचन और गणना अभिकर्ता शामिल रहेंगे। मतगणना प्रारंभ होने के पूर्व यह भी देख लेने को कहा गया है कि अधिकृत व्यक्तियों के अलावा अन्य कोई व्यक्ति हाल में उपस्थित न हो। आयोग ने यह भी ध्यान रखने को कहा है कि निर्वाचन के संबंध में कर्त्तव्यारूढ़ लोकसेवक के अंतर्गत सामान्य रूप से पुलिस अधिकारी नहीं आते हैं, ऐसे अधिकारियों को चाहे वे वर्दी में हो, या सादे वस्त्रों में, सामान्यत नियमानुसार काउंटिंग हाल के अंदर आने की अनुमति नहीं दी जाएगी जब तक कि कानून और व्यवस्था बनाए रखने या किसी भी प्रकार के अन्य प्रयोजन से अंदर बुलाने को कहा जाए।  इसी तरह केन्द्र अथवा राज्यों के मंत्री, राज्य मंत्री और उपमंत्री भी इस श्रेणी नहीं आते। वे काउंटिंग हाल में केवल अभ्यर्थी के रूप में आ सकते हैं। आयोग के निर्देशानुसार उनकी नियुक्ति निर्वाचन या गणना अभिकर्ताओं के रूप में नहीं की जा सकती, क्योंकि वे गनमेन की सुरक्षा में होते हैं। इसलिए उन्हें काउंटिंग हाल में प्रवेश नहीं दिया जा सकेगा। आयोग ने उक्त ब्यौरे के अनुसार व्यक्तियों के प्रवेश को कड़ाई से विनियमित करने कहा है। आयोग के अनुसार किसी भी परिस्थिति में गणना के स्थान में अनाधिकृत व्यक्ति प्रवेश की अनुमति नहीं दी जायेगी।

24 मई को कलेक्टर द्वारा किया जाएगा मेधावी विद्यार्थियों का सम्मान 

जिला शिक्षा अधिकारी श्री एस.पी.त्रिपाठी ने जानकारी देते हुए बताया कि स्कूल शिक्षा विभाग द्वारा माध्यमिक शिक्षा मंडल मध्यप्रदेश द्वारा आयोजित हाईस्कूल एवं हायर सेकेण्ड्री परीक्षा 2019 में जिले के विभिन्न शासकीय एवं अशासकीय विद्यालयों के छात्र एवं छात्राओं ने राज्य एवं जिला स्तर पर प्रवीण्य सूची में स्थान प्राप्त किया है। 24 मई 2019 को प्रात:11:30 बजे जिला पंचायत सभाकक्ष में सम्मान समारोह कार्यक्रम का आयोजन किया जाएगा। कार्यक्रम के दौरान राज्य एवं जिला स्तर पर जिले का नाम रोशन कर प्रवीण्य सूची में स्थान प्राप्त करने वाले छात्र एवं छात्राओं का सम्मान कलेक्टर श्री गणेश शंकर मिश्रा द्वारा ट्राफी, प्रमाण पत्र एवं नगद राशि प्रदान कर किया जाएगा। कार्यक्रम में मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत श्री अरुण कुमार विश्वकर्मा, विभिन्न संस्थाओं के प्राचार्य एवं पालक भी उपस्थित रहेंगे।

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...