विदिशा (मध्यप्रदेश) की खबर 10 मई - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

शुक्रवार, 10 मई 2019

विदिशा (मध्यप्रदेश) की खबर 10 मई

जिले के 1321 मतदान केन्द्रों पर पौने दस लाख से अधिक मतदाता मतदान करेंगे 

vidisha map
लोकसभा निर्वाचन 2019 के दरम्यिान विदिशा जिले के नौ लाख 85 हजार 865 मतदाता 1321 मतदान केन्द्रों पर मतदान तिथि 12 मई को मतदान करेंगे।  जिला निर्वाचन कार्यालय से प्राप्त जानकारी के अनुसार लोकसभा निर्वाचन क्षेत्र 05 सागर में विदिशा जिले की तीन विधानसभाएं क्रमशः कुरवाई, सिरोंज एवं शमशाबाद शामिल है। उक्त तीनों विधानसभाओं के कुल 585122 मतदाता 792 मतदान केन्द्रों पर अपने मतो का प्रयोग करेंगे। कुल मतदाताओं में पुरूष 311438 तथा महिला मतदाताओं की संख्या 273679 तथा अन्य पांच शामिल है। संसदीय क्षेत्र 18 विदिशा-रायसेन के अंतर्गत जिले की दो विधानसभा क्रमशः 144 विदिशा एवं 145 बासौदा शामिल है। उक्त संसदीय क्षेत्र के लिए उल्लेखित दोनो विधानसभाओं के कुल 400735 मतदाता अपने मतो का प्रयोग 529 मतदान केन्द्रों पर करेंगे। कुल मतदाताओें में पुरूष 210594, महिला मतदाता 190141 तथा अन्य छह शामिल है। 

तहसीलवार मतदान केन्द्रो की जानकारी
संसदीय क्षेत्र क्रमांक 18 विदिशा-रायसेन के अंतर्गत आने वाली विधानसभा क्षेत्र क्रमांक 144 विदिशा में कुल 273 मतदान केन्द्र है। तहसीलवार मतदान केन्द्र तदानुसार गुलाबगंज में 56 तथा विदिशा तहसील में 217 मतदान केन्द्र शामिल है। विधानसभा क्षेत्र क्रमांक 145 बासौदा में कुल 256 मतदान केन्द्र है तहसीलवार तदानुसार त्योंदा में 63, ग्यारसपुर में 65 और बासौदा तहसील में 128 मतदान केन्द्र है।  संसदीय क्षेत्र क्रमांक 05 सागर में विदिशा जिले की तीन विधानसभाएं शामिल है तदानुसार विधानसभा क्षेत्र क्रमांक 144 कुरवाई (अजा) में कुल 291 मतदान केन्द्र है। कुरवाई विधानसभा क्षेत्र में सम्मिलित तहसीलवार मतदान केन्द्रों की जानकारी तदानुसार पठारी में 42, बासौदा तहसील के 68, सिरोंज तहसील के 74 मतदान केन्द्र तथा कुरवाई तहसील के 107 मतदान केन्द्र शामिल है। विधानसभा क्षेत्र क्रमांक 147 सिरोंज में कुल 249 मतदान केन्द्र है जिसमें लटेरी तहसील के 116 व सिरोंज तहसील के 133 मतदान केन्द्र शामिल है। विधानसभा क्षेत्र क्रमांक 148 शमशाबाद में कुल 252 मतदान केन्द्र है। तहसीलवार मतदान केन्द्रो की जानकारी इस प्रकार से है। शमशाबाद के 94, नटेरन में 75 तथा विदिशा तहसील के 83 मतदान केन्द्र शामिल है। 

विदिशा-रायसेन संसदीय क्षेत्र मे 2327 मतदान केंद्रो पर 17 लाख 30 हजार 26 मतदाता मतदान करेंगे 

लोक सभा निर्वाचन 2019 के दरमियां सांसद क्षेत्र क्रमांक 18 विदिशा के अंतर्गत आने वाले आठो विधानसभा क्षेत्रों के  कुल 2327 मतदान केंद्रो पर  कुल  17 लाख 30 हजार 26 मतदाता अपने मतो का प्रयोग करेगें।  जिसमें पुरुष 9लाख  13 हजार 578 तथा महिला मतदाताओं की कुल संख्या आठ लाख 1 6 हजार 403 शामिल है । इसके अलावा 45 अन्य मतदाता भी संसद क्षेत्र की मतदाता सूची में शामिल है। संसदीय क्षेत्र अंतर्गत सर्वाधिक मतदान केंद्र विधानसभा क्षेत्र क्रमांक 156 बुधनी में 344 है जबकि सबसे कम मतदान केंद्र विधानसभा क्षेत्र क्रमांक 158 इछावर मे 270 है। मतदाताओं की संख्या के मामले में सर्वाधिक पुरुष मतदाता बुधनी विधानसभा क्षेत्र में 130524 जबकि महिला मतदाताओं की सर्वाधिक संख्या विधानसभा क्षेत्र बुधनी में ही एक लाख 19 हजार 191 है। सांची विधानसभा क्षेत्र में सर्वाधिक अन्य 13 मतदाता हैं । विदिशा संसदीय क्षेत्र के अंतर्गत सम्मलित आठों विधानसभाओं के मतदान केंद्रो और मतदाताओं की संख्या इस प्रकार से है।  विधानसभा क्षेत्र क्रमांक 141 भोजपुर मैं मतदान केंद्रों की कुल  संख्या 299 तथा कुल मतदाताओं की संख्या दो लाख 28 हजार 691 है । यहां पुरुष मतदाताओं की संख्या एक लाख 22 हजार 570 तथा महिला मतदाताओं की संख्या एक लाख छह हजार 105 जबकि 09 अन्य मतदाता शामिल है। विधानसभा क्षेत्र 142 सांची मे मतदान केंद्रों की कुल 326 है । मतदाताओं की कुल संख्या दो लाख 36 हजार 525 है। जिसमे पुरुष एक लाख 26 हजार 417 एवं महिला मतदाता एक लाख दस हजार  95  जबकि 13 अन्य मतदाता है। विधानसभा क्षेत्र क्रमांक 143 सिलवानी में मतदान केंद्र 273 पर  एक लाख 99 हजार  702 मतदाता मतदान करेगे जिसमे पुरूष एक लाख 6 हजार  393 महिला मतदाता 93 हजार 309 यहा अन्य मतदाताओं की संख्या निरंक है। विधानसभा क्षेत्र क्रमांक 144 विदिशा  मे कुल मतदान केंद्र  273 और मतदाताओं की संख्या  दो लाख सात हजार 468 है। यहां  पुरुषों की संख्या एक लाख आठ हजार 286 तथा महिला मतदाता 99 हजार 178 जबकि 4 अन्य भी शामिल है।  विधानसभा क्षेत्र क्रमांक  145  बासौदा में  मतदान केंद्रों की कुल संख्या 256 और मतदाताओं की संख्या एक लाख 93 हजार 273 है। जिसमे पुरूष  एक लाख दो हजार 308 तथा महिला मतदाता 90 हजार 963 तथा अन्य दो शामिल है। विधानसभा क्षेत्र क्रमांक 156 बुधनी मे कुल 344 मतदान केन्द्रो   पर  2 लाख 49 हजार 722 मतदाता मतदान करेंगे जिसमें  पुरुष एक लाख 30 हजार 524 तथा  महिला मतदाता  एक लाख 19  हजार 191 तथा अन्य सात शामिल है। विधानसभा क्षेत्र क्रमांक 158 इछावर मे 270 मतदान केंद्रों पर दो लाख चार हजार 42  मतदाता मतदान करेगे। जिसमे पुरूष एक लाख 6 हजार 930 तथा महिला मतदाताओं की संख्या 97 हजार 109 एवं तीन अन्य शामिल है। विधानसभा क्षेत्र क्रमांक 173 खातेगांव के  कुल 286 मतदान केंद्रों पर दो लाख 10 हजार 603 मतदाता मतदान करेंगे जिसमें पुरुष एक लाख  दस हजार 143  एवं  महिला मतदाता 1 लाख 453 एवं अन्य 7 शामिल है। क्रमांक 

मतदान के एक दिन पहले समाचार पत्रों में प्रकाशित कराये जाने वाले विज्ञापनों का भी कराना होगा पूर्व प्रमाणन

भारत निर्वाचन आयोग ने चुनाव के मौके पर विद्वेषपूर्ण अथवा भ्रामक राजनैतिक विज्ञापनों के प्रकाशन एवं प्रसारण पर रोक लगाने के उद्देश्य से समाचार पत्रों अथवा प्रिंट मीडिया में भी मतदान के एक दिन पूर्व और मतदान के दिन प्रकाशित कराये जाने वाले राजनैतिक विज्ञापनों का राज्य स्तरीय अथवा जिला स्तरीय मीडिया प्रमाणन समिति से पूर्व प्रमाणन कराना अनिवार्य कर दिया है। इस बारे में निर्वाचन आयोग द्वारा निर्देश जारी कर दिये गये हैं। निर्वाचन आयोग द्वारा जारी निर्देश के मुताबिक कोई भी राजनैतिक दल या उम्मीदवार अथवा अन्य कोई संगठन या व्यक्ति प्रदेश में लोकसभा चुनाव के लिए होने वाले मतदान के दिन तथा उसके एक दिन पहले वाले दिन कोई भी विज्ञापन मीडिया प्रमाणन समिति से बिना पूर्व प्रमाणन कराये प्रकाशित नहीं करा सकेगा। अर्थात ऐसे विज्ञापनों का समाचार पत्रों अथवा प्रिंट मीडिया में प्रकाशन कराने के पूर्व राज्य अथवा जिला स्तरीय मीडिया प्रमाणन समिति से प्रमाणन कराना अनिर्वाय होगा। निर्वाचन आयोग ने यह निर्देश पूर्व में सामने आये उन मामलों के संदर्भ में जारी किये हैं, जहां अंतिम चरण में भ्रामक, भड़काउ या आक्रामक स्वरूप के विज्ञापन प्रकाशित कराकर चुनावी प्रक्रिया को दूषित करने के प्रयास किये गये थे। आयोग के मुताबिक चुनाव के अंतिम दौर में ऐसे भ्रमित करने वाले विज्ञापनों के प्रकाशन के बाद इनसे प्रभावित दल अथवा प्रत्याशी के पास किसी भी प्रकार की सफाई अथवा खण्डन का अवसर नहीं होता।  आयोग के अनुसार ऐसी स्थिति में स्वतंत्र और निष्पक्ष निर्वाचन के लिए विज्ञापनों का पूर्व प्रमाणन जरूरी है। 

मतदान केन्द्रो पर आधारभूत सुविधाएं उपलब्ध  

कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी श्री कौशलेन्द्र विक्रम सिंह ने बताया कि विदिशा जिले की पांचो विधानसभाओं में लोकसभा निर्वाचन 2019 के लिए मतदान केन्द्रो पर आधारभूत सुविधाएं की शत प्रतिशत पूर्ति कराई जा चुकी है।   प्रत्येक मतदान केन्द्र पर जो-जो मूलभूत सुविधाएं उपलब्ध कराई गई उनमें मानक स्तर का रैम्प, पेयजल हेतु पानी के मटके/कंटेनर एवं एक अस्थायी कर्मी जो डिस्पोजल ग्लासांे मे पानी पिलाने का कार्य करेगा। फर्नीचर की व्यवस्था अंतर्गत प्रत्येक मतदान केन्द्र पर पर्याप्त टेबिल कुसी एवं बैंच की। मेडीकल किट, गर्मी के मौसम को देखते हुए हर मतदान केन्द्रो पर मेडीकल किट संधारित की जाएगी। जिसमें आवश्यक दवाईयां होगी। इसके अलावा मेडीकलकर्मी एएनएम, एमपीडब्ल्यू, आशा कार्यकर्ता, आंगनबाडी कार्यकर्ता, स्वास्थ्य रक्षक इनमंें से कोई एक तैनात रहेगा। विद्युत व्यवस्था के अंतर्गत मतदान बूथ पर हेलोजन लेम्प या दो सौ वाॅट का बल्व उपयोग ना करें। मतदाता सहायता बीएलओ सहयोग से मतदान केन्द्र के उचित स्थल पर सहायता केन्द्र स्थापित किए जाएगा। उचित सायनेज मतदान केन्द्र पर रेम्प, शौचालय, पेयजल, केन्द्र मार्ग एवं सहायता केन्द्र के सायनेज उचित दृष्टिगोचर स्थलों पर लगाए जाएंगे। पुरूष एवं महिलाओं के लिए पृथक-पृथक शौचालय स्थापित किए जाएंेगे यदि किसी केन्द्र पर एक ही पक्का शौचालय है तो उसे महिलाओं के लिए चिन्हित किया जाएगा और पुरूषो के लिए अस्थायी शौचालय बनाया जाएगा। छाया व्यवस्था के अंतर्गत प्रत्येक मतदान केन्द्र पर छाया के लिए 15 वाय 15 का अस्थायी टेन्ट लगाया जाएगा। जिसमें महिलाएं,वृद्वजन पीडब्ल्यूडी मतदाताओं को सुगमता मिलेगी। मतदान केन्द्र सहायक के रूप में चुनावी पाठशाला के कर्मियों के अलावा एनसीसी, स्काउट, एनएसएस आदि के वालेन्टियर्स का सहयोग लिया गया है। धात्री माताआंे के बच्चो को मतदान केन्द्र पर मतदान के दौरान सहायता हेतु आंगनबाडी सहायिका अथवा अन्य किसी महिला को अधिकृत किया जाएगा। असक्षम मतदाताओं के लिए परिवहन व्यवस्था तहत पीडब्ल्यूडी, वृद्वजन, अशक्त मतदाताओं को मतदान दिवस पर मतदान केन्द्र तक लाने-ले-जाने के लिए परिवहन की व्यवस्था की जाएगी। इसके लिए आयोग के निर्देशानुसार प्रायवेट वाहनो का उपयोग किया जाएगा। मतदाता पंक्ति की व्यवस्था के संबंध में बताया गया कि प्रत्येक मतदान केन्द्र पर तीन पंक्तियां यथा पुरूष मतदाता, महिला मतदाता एवं पीडब्ल्यूडी/वृद्वजन मतदाता के लिए पृथक-पृथक पंक्ति लगाई जाएगी। मतदान के दौरान दो महिलाओं के मतदान पश्चात् एक पुरूष मतदाता क्रमशः मतदान प्रक्रिया अनुसार करेंगे तथा दिव्यांग/वृद्वजन मतदाताओं को मतदान में प्राथमिकता दी जाएगी।

निर्वाचन कर्तव्यों के दौरान मृत/घायल कर्मचारी के परिजनों को  अनुग्रह राशि बढ़ी हुई दरो अनुसार मिलेगी

लोकसभा निर्वाचन 2019 के दौरान जिन अधिकारियों, कर्मचारियों के लिए निर्वाचन कर्तव्यों के सम्पादन हेतु जबावदेंही आदेश प्रदाय किए गए है। निर्वाचन अवधि के दौरान यदि किसी अधिकारी, कर्मचारी की मृत्यु होती है अथवा किसी दुर्घटना में घायल होते है तो उनके परिजनों को अनुग्रह राशि बढ़ी हुई दरो के अनुसार प्रदाय की जाएगी।  अपर मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी के द्वारा ततसंबंध में जारी आदेश का हवाला देते हुए उप जिला निर्वाचन अधिकारी श्री लोेकेन्द्र सरल ने बताया कि निर्वाचन कार्यो के दौरान यदि किसी अधिकारी, कर्मचारी की आकस्मिक मृत्यु हो जाती है मृतक के परिजन को 15 लाख रूपए की राशि का भुगतान किया जाएगा। इसी प्रकार यदि कोई अधिकारी, कर्मचारी निर्वाचन कर्तव्यों के दौरान दुर्घटना में विकलांग होने, आंखो से नही दिखने सहित इत्यादि होने पर साढे सात लाख रूपए अनुग्रह राशि प्रदाय की जाएगी। 

2490 प्रकरणों में 4653 व्यक्ति बाउण्डओवर

लोकसभा निर्वाचन-2019 को जिले में सुव्यवस्थित रूप से सम्पन्न कराने के उद्वेश्य से आपराधिक पृष्ठभूमि के व्यक्तियों को विभिन्न धाराओं के तहत बाउण्डओवर करने का कार्य जिले में जारी है। अब तक विभिन्न धाराओं के तहत कुल 2490 प्रकरणों में 4653 व्यक्तियों को बाउण्डओवर करने की कार्यवाही की गई है।  उप जिला निर्वाचन अधिकारी श्री लोकेन्द्र सरल के द्वारा उपलब्ध कराई गई जानकारी के अनुसार धारा 107,116 के तहत कुल 1913 प्रकरणों में 4101 व्यक्तियों को धारा 110 अंतर्गत 328 प्रकरणों में 328 व्यक्तियों को तथा धारा 151 के तहत 179 प्रकरण में 208 व्यक्तियों को बाउण्डओवर करने की कार्यवाही की गई है जबकि जिला बदर के 70 प्रकरणों में 16 व्यक्तियों में से आठ को बाउण्डओवर किया है।

मतदानकर्मियों के लिए 582 वाहनो का उपयोग

विदिशा जिले की पांचो विधानसभाओं में लोकसभा निर्वाचन 2019 हेतु मतदान 12 मई को होगा। जिले की पंाचो विधानसभाओं के कुल 1321 मतदान केन्द्रों तक पहुंचने तथा मतदान केन्द्रो से मतदानकर्मियों को निर्वाचन सामग्र्री स्ट्रांग रूमों में जमा कराने के लिए कुल 236 रूटचार्ट पर 582 वाहनो का उपयोग किया जाएगा। जबकि रिजर्व में 28 वाहनों को रखा गया है। कुल वाहनों में जीप 132, बस 276 मतदान दलो के आवागमन हेतु निर्धारित की गई है इसके अलावा सेक्टर अधिकारियों के लिए 138 जीप तथा प्रेक्षकों के लिए 09 वाहन, स्थैतिक निगरानी दलो के लिए 06 वाहन तथा फ्लाईंग स्काड दल के लिए 16 जीप के अलावा वीडियो निगरानी दलो के लिए 05 जीप उपलब्ध कराई जाएगी।  उप जिला निर्वाचन अधिकारी श्री लोकेन्द्र सरल ने बताया कि संसदीय निर्वाचन क्षेत्र 05 सागर के अंतर्गत विदिशा जिले की तीन विधानसभाएं क्रमशः 146 कुरवाई में कुल 291 मतदान केन्द्रों को 46 रूटचार्ट में विभक्त किया गया है। इन रूटो के लिए कुल 97 वाहनों का उपयोग किया जाएगा। इसी प्रकार विधानसभा क्षेत्र क्रमांक 147 सिरोंज के 249 मतदान केन्द्रों को 43 रूट में विभक्त किया गया है उपरोक्त मतदान केन्द्रो तक आवागमन के लिए 113 वाहनों का उपयोग किया जाएगा। जबकि विधानसभा क्षेत्र क्रमांक 148 शमशाबाद के 252 मतदान केन्द्रों के लिए हेतु 42 रूटों पर 95 वाहनों का उपयोग किया जाएगा।  लोकसभा निर्वाचन क्षेत्र क्रमंाक 18 विदिशा के अंतर्गत जिले की दो विधानसभाएं क्रमशः विधानसभा क्षेत्र क्रमांक 144 विदिशा में कुल 273 मतदान केन्द्रों के लिए 65 वाहन रूटचार्ट निर्धारित किए गए है उक्त रूटचार्ट पर 168 वाहनों का उपयोग किया जाएगा। विधानसभा क्षेत्र क्रमांक 145 बासौदा के 256 मतदान केन्द्रों को 40 रूट में विभक्त किया गया है इन रूटों के मतदान दलो के आवागमन तथा सेक्टर अधिकारी, प्रेक्षक, स्थैतिक निगरानी दलो, फ्लाईंग स्काड एवं वीडियो निगरानी दलों को वाहन उपलब्ध कराए जाएंगे। बासौदा विधानसभा के लिए कुल 112 वाहन मुहैया कराए जाएंगे।

निर्वाचन सामग्री वितरण स्थल

विदिशा जिले की पांचो विधानसभाओं में लोकसभा निर्वाचन 2019 हेतु मतदान 12 मई को होगा। जिले की पंाचो विधानसभाओं के लिए नियुक्त होने वाले मतदान दलों के लिए निर्वाचन सामग्री का वितरण 11 मई 2019 की प्रातः नौ बजे तक कर मतदान दल नियत मतदान केन्द्रों की ओर रवाना होगे। कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी श्री कौशलेन्द्र विक्रम सिंह ने बताया कि लोकसभा निर्वाचन क्षेत्र 18 विदिशा-रायसेन के अंतर्गत जिले की विधानसभा क्षेत्र 144 विदिशा के मतदान दलों को निर्वाचन सामग्री का वितरण एसएटीआई काॅलेज विदिशा से जबकि विधानसभा क्षेत्र क्रमांक 145 बासौदा के मतदान दलों को निर्वाचन सामग्री शासकीय संजय गांधी स्मृति महाविद्यालय गंजबासौदा से प्रदाय किया जाएगा।  लोकसभा निर्वाचन क्षेत्र 05 सागर के अंतर्गत विदिशा जिले की तीन विधानसभाएं शामिल है इन विधानसभाओं के नियुक्त मतदान दलों को निर्वाचन सामग्री का वितरण जिन स्थलों से किया जाएगा कि जानकारी इस प्रकार से है। विधानसभा क्षेत्र क्रमांक 146 कुरवाई के मतदान दलों को शासकीय उत्कृष्ट विद्यालय कुरवाई से, विधानसभा क्षेत्र क्रमांक 147 सिरोंज के मतदान दलो को पाॅलिटेक्निक काॅलेज लटेरी रोड़ सिरोंज से जबकि विधानसभा क्षेत्र क्रमांक 148 शमशाबाद के मतदान दलों को निर्वाचन सामग्री का वितरण एसएटीआई काॅलेज विदिशा से 11 मई को प्रदाय किया जाएगा। 

मतदान उपरांत सामग्री वापसी का प्लान

कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी श्री कौशलेन्द्र विक्रम सिंह ने बताया कि विदिशा जिले की पांचो विधानसभाओं में मतदान तिथि 12 मई को मतदान उपरांत मतदान दल निर्वाचन सामग्री को एसएटीआई काॅलेज विदिशा में बनाए गए स्ट्रांग रूमों में जमा कराएंगे। ज्ञातव्य हो कि लोकसभा निर्वाचन क्षेत्र 18 विदिशा-रायसेन के अंतर्गत आने वाली विधानसभा क्षेत्र क्रमांक 144 विदिशा, 145 बासौदा के अलावा संसदीय क्षेत्र 05 सागर के अंतर्गत विदिशा जिले की तीन विधानसभाएं शामिल है तदानुसार 146 कुरवाई, 147 सिरोंज एवं 148 शमशाबाद के मतदान केन्द्रो पर उपयोग में लाई गई निर्वाचन सामग्री मतदान तिथि/समय उपरांत एसएटीआई काॅलेज विदिशा में जमा कराई जाएगी। 

बिना लाइन में लगे वोट डाल सकेंगे दिव्यांग मतदाता

लोकसभा चुनाव-2019 में अधिक से अधिक दिव्यांग मतदाता अपने मताधिकार का उपयोग कर सकें इसके लिए निर्वाचन आयोग के निर्देशानुसार जिले में विशेष व्यवस्थायें की जा रही हैं। दिव्यांग मतदाताओं के लिए प्रत्येक मतदान केन्द्र में जहां रैम्प बनाये गये हैं, वहीं मतदान केन्द्रों पर व्हीलचेयर अथवा ट्राइसाइकिल की उपलब्धता सुनिश्चित की जा रही है। प्रत्येक मतदान केन्द्र पर दिव्यांग मतदाताओं की सहायता के लिए स्थानीय स्वयंसेवी युवाओं को दिव्यांग मित्र नियुक्त किया जायेगा।   कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी श्री कौशलेन्द्र विक्रम सिंह ने बताया कि दिव्यांग मतदाताओं को मतदान में किसी तरह की असुविधा न हो इसके लिए उन्हें विशेष छूट देते हुए तीन पहिया वाहन सीधे मतदान कक्ष तक जाने की अनुमति दी जायेगी। दिव्यांग मतदाताओं को बिना कतार में लगे सीधे मतदान करने की अनुमति भी होगी। मतदान केन्द्रों पर तैनात किये जा रहे मतदान कर्मियों को भी मतदान में दिव्यांगों की सहायता के निर्देश दिये गये हैं। ऐसे मतदाता जिनके पास दिव्यांग मतदाता वाली पर्ची होगी उसे मतदान कक्ष तक ले जाने के निर्देश मतदान कर्मियों को दिये गये हैं। इसी प्रकार ऐसे मतदान केन्द्रों जहां दिव्यांग मतदाताओं की संख्या अधिक है वहां दिव्यांग मतदाताओं को मतदान केन्द्र तक आने-जाने के लिए वाहन सुविधा भी उपलब्ध कराई जायेगी। दिव्यांग मतदाताओं के अलावा निर्वाचन आयोग के निर्देशानुसार बुजुर्ग मतदाताओं और गर्भवती मतदाताओं के लिए भी विशेष व्यवस्थायें की गई हैं। ऐसे मतदाता भी बिना लाइन में लगे सीधे मतदान कर सकेंगे। 

माकपोल के बाद होगा वास्तविक मतदान

लोकसभा निर्वाचन 2019 के लिए विदिशा जिले में मतदान 12 मई को होगा। निर्वाचन आयोग द्वारा मतदान का समय प्रातः सात बजें से शाम छह बजे तक का नियत किया गया है। मतदान प्रक्रिया में इलेक्ट्रानिक वोटिंग मशीनों व्हीव्हीपैट का उपयोग किया जाएगा।  कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी श्री कौशलेन्द्र विक्रम सिंह ने समस्त मतदान दलों के अधिकारियों को निर्देश दिए है कि वास्तविक मतदान प्रारंभ होने से पहले माकपोल यानी दिखावटी मतदान कराया जाना अनिवार्य है। इस संबंध में जिला निर्वाचन अधिकारी ने बताया कि मतदान दल के सदस्य मतदान प्रारंभ होने से एक घण्टा पूर्व माकपोल कराएंगे। माकपोल कराने के समय की सूचना मतदान के पूर्व सभी मतदान एजेण्टों को दे दी गई है। एजेण्टों की उपस्थिति में ही माकपोल कराया जाएगा। यदि एजेण्ट निर्धारित समय पर उपस्थित नही होते हैं तो भी माकपोल की कार्यवाही की जाएगी और माॅकपोल सम्पन्न होने की सूचनाएं सेक्टर आफीसर अपने-अपने कार्यक्षेत्रों के मतदान केन्द्रों से प्राप्त कर जिला निर्वाचन कार्यालय को प्रेषित करेंगे। 

मतदान के लिए पहचान हेतु 12 दस्तावेज मान्य

भारत निर्वाचन आयोग द्वारा लोकसभा निर्वाचन में मतदान केन्द्र पर पहचान के लिये 12 दस्तावेजों का निर्धारण किया गया है। मतदाता को अपनी मतदाता पर्ची के साथ इन निर्धारित दस्तावेजों में से कोई एक दस्तावेज मतदान केन्द्र पर पहचान के रूप में ले जाना अनिवार्य है।   कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी ने बताया कि आयोग द्वारा मतदाता पहचान पत्र, पासपोर्ट, ड्रायविंग लायसेंस, केन्द्र, राज्य, सार्वजनिक उपक्रम और पब्लिक लिमिटेड कंपनियों द्वारा जारी सर्विस पहचान पत्र, फोटो सहित बैंकध्डाक घर द्वारा जारी पासबुक, पैन कार्ड, श्रम मंत्रालय की योजना के अंतर्गत स्मार्ट कार्ड और स्वास्थ्य बीमा स्मार्ट कार्ड, मनरेगा जॉब कार्ड, फोटो सहित पेंशन दस्तावेज, सांसद, विधायक और विधान परिषद सदस्यों को जारी सरकारी पहचान पत्र और आधार कार्ड को मतदाता की पहचान के लिये निर्धारित किया गया है।

निर्वाचन वाहनों में जीपीएस सिस्टम क्रियान्वित 

भारत निर्वाचन आयोग द्वारा लोकसभा निर्वाचन 2019 के दरम्यिान मतदान दिवस अर्थात मतदान दलों को मतदान केन्द्रों तक पहुंचाने के उपयोग में लाए जाने वाले वाहनों के साथ-साथ मानिटरिंग करने वाले अधिकारियों को प्रदाय किए जाने वाले वाहनों में जीपीएस व्हीकल टेªकिंग सिस्टम संधारित किया गया है।

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...