पूर्णिया : दुष्कर्म के आरोपियों की गिरफ्तारी नहीं होने पर ग्रामीणों ने किया हंगामा - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

गुरुवार, 2 मई 2019

पूर्णिया : दुष्कर्म के आरोपियों की गिरफ्तारी नहीं होने पर ग्रामीणों ने किया हंगामा

- महिलाओं के साथ अभद्र व्यवहार व अश्लील गाली देने का पुलिस पर लगाया आरोप
women-protest-rapist-arrest
पूर्णिया (आर्यावर्त संवाददाता) : मरंगा थाना क्षेत्र के हरदा, ठाड़ा गांव में विगत 18 अप्रैल को एक नाबालिग लड़की की दुष्कर्म के बाद हुई हत्या के विरोध में मृतक लड़की के माता, पिता, परिजन व गांव के सैंकड़ों महिला, पुरूष व स्कूली छात्राओं ने गुरूवार को आरएन साह चौक और एसपी कार्यालय के सामने घेराव व विरोध प्रदर्शन किया। इस दौरान उन्होंने पुलिस प्रशासन के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। आरएन साह चौक पर सुबह 10:30 बजे से लेकर 12 बजे तक लोगों ने सड़क को चारों तरफ से घेर लिया। जिससे यातायात परिचालन करीब डेढ़ घंटा तक बाधित हो गया। महिला और स्कूली छात्राओं ने पुलिस प्रशासन के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। करीब डेढ़ घंटे तक आरएन साह चौक पर लोगों की आवाजाही ठप रही। काफी हंगामा होने के बाद डीएसपी विवेकानंद सिंह पुलिस बल के साथ पहुंचे और लोगों को समझाने बुझाने की कोशिश की लेकिन प्रदर्शनकारी नहीं माने। स्थिति बिगड़ता देख डीएसपी ने लोगों को एसपी कार्यालय में जाने को कहा। जब विरोध प्रदर्शन कर रहे लोग एसपी कार्यालय गए तो वहां एसपी तो नहीं थे लेकिन डीएसपी और अन्य पुलिस पदाधिकारियों ने लोगों को समझाने बुझाने की कोशिश की। इसके बाद भी लोग नहीं माने और दोषियों को गिरफ्तार करने की मांग पर अड़े रहे। करीब आधे घंटे बाद एसपी विशाल शर्मा के कार्यालय पहुंचते ही पुलिस ने ग्रामीणों काे कार्यालय के सामने से खदेड़ दिया। देखते ही देखते काफी संख्या में महिला व पुरूष पुलिस बल को तैनात कर दिया गया। विरोध प्रदर्शन कर रहे दो लोगों को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया लेकिन कुछ देर बाद उन्हें छोड़ दिया। वहीं पुलिस बल ने लोगों की भीड़ को हटाने के क्रम में हल्का बल का भी प्रयोग किया। जिसमें एक कक्षा आठ की छात्रा दिव्या भारती चोटिल हो गई। बाद में एसपी ने मृतक के माता पिता व परिजनों को अपने कक्ष में बुलाकर दो दिन के अंदर इस संबंध में कोई ठोस निर्णय लेने का आश्वासन दिया। जिसके बाद ग्रामीणों का गुस्सा शांत हुआ और वे वापस लौटे। मृतका की मां अनिता देवी ने बताया कि घटना के दिन लोकसभा का चुनाव था और वो वोट डाल कर घर लौटी थी। तभी उनकी नाबालिग बेटी सानु प्रिया सुबह नौ बजे शौच करने के लिए घर के पास मक्का के खेत में गई थी। बताया कि काफी देर तक घर नहीं लौटने पर खोजने मक्का के खेत में गई तो वह मृत अवस्था में पड़ी थी। पीड़िता ने बताया कि किसी ने सानु प्रिया के साथ दुष्कर्म के बाद हत्या कर दी। इस संबंध में मरंगा थाना में दो नामजद व अन्य अज्ञात लोगों के ऊपर मामला दर्ज कराया है। मामला दर्ज कराने के 15 दिन बाद भी पुलिस दोषियों को पकड़ने में नाकाम साबित हो रही है। अनिता ने बताया कि सानु मैट्रिक की परीक्षा पास कर इंटर में नाम लिखाने की तैयारी में थी। बताया कि उनकी बेटी तो नहीं रही लेकिन पुलिस दोषियों को पकड़ने और कार्रवाई करने में नाकाम साबित हो रही है। न्याय पाने के लिए थाना का चक्कर लगा रही है लेकिन पुलिस हर बार मामले को टाल देती है। 

...ग्रामीणों ने पुलिस द्वारा नाबालिग लड़की को पीटने और महिलाओं को अश्लील गाली देने व अभद्र व्यवहार करने का लगाया आरोप :
पीड़िता दिव्या भारती ने बताया कि जब वह अपने परिजन और ग्रामीण के साथ न्याय मांगने के लिए आवाज उठा रही थी तो पुलिस ने उसके पीठ पर डंडा से मार कर चोटिल कर दिया। पुलिस के इस तरह के व्यवहार से बेटियां सुरक्षित नहीं है। बेटी जब न्याय मांगने जाती हैं तो उसे पीटा जाता है। वहीं मृतका सानु के पिता निर्मल कुमार मेहता, सानु की बड़ी बहन लवली कुमारी व दर्जनों ग्रामीणों ने बताया कि वे लोग शांतिपूर्वक विरोध प्रदर्शन कर रहे थे। पुलिस ने बहला फुसला कर अपने कार्यालय में बुला लिया और फिर महिला व स्कूली छात्राओं को अश्लील गाली दी और अभद्र व्यवहार किया। पीड़ित ने बताया कि पुलिस को आम नागरिक व महिलाओं के साथ इस तरह का व्यवहार कदापि नहीं करना चाहिए। ग्रामीणों ने बताया कि पुलिस द्वारा इस तरह गाली गलौज और अभद्र व्यवहार करने के विरोध में डीआईजी कार्यालय में पुलिस के खिलाफ शिकायत दर्ज कराई है।

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...