पूर्णिया : सात वर्षों से बदहाल है श्रीनगर से गढ़िया बलुआ जाने वाली ईंट सोलिंग सड़क - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

बुधवार, 10 जुलाई 2019

पूर्णिया : सात वर्षों से बदहाल है श्रीनगर से गढ़िया बलुआ जाने वाली ईंट सोलिंग सड़क

brick-road-purnia
श्रीनगर (आर्यावर्त संवाददाता) : प्रखंड क्षेत्र अंतर्गत पंचायत गढ़िया बलुआ स्थित वार्ड नंबर 11 की यह बदहाल सड़क की तस्वीर है। जहां पर हल्की बारिश होने से ईंट सोलिंग सड़कों पर जलजमाव होना आम बात है। जिससे आए दिन राहगीरों को काफी परेशानियों का सामना करना पड़ता है। ग्रामीणों ने बताया कि अभी तो बरसात का मौसम शुरू ही हुआ है कि यह हाल होने लगा है। बदहाल ईंट सोलिंग सड़कों पर साइकिल मोटरसाइकिल तो दूर पांव पैदल चलना भी लोगों को मुश्किल लग रहा है। वहीं स्थानीय ग्रामीण प्रभु कुमार ने बताया कि स्थानीय जनप्रतिनिधियों की उदासीन रवैये से आज तक यह जर्जर ईंट सोलिंग सड़क की मरम्मती नहीं हो पाई है। जिससे ग्रामीणों में आक्रोष व्याप्त है। इसी गांव के दुकानदार विनोद कुमार बताते हैं कि ग्रामीणों ने कई बार विधायक व सांसद को भी आवेदन देकर जानकारी दी लेकिन फिर भी इस समस्या पर ध्यान आकृष्ट नहीं हो पाया है। यह ईंट सोलिंग सड़क तकरीबन 7 वर्षों से इसी हाल में जर्जर है जिसे कोई देखने वाला नहीं है। जब चुनाव नजदीक आता है तो आश्वासन मिलता है कि सभी सड़कों का निर्माण कार्य पूरा कर लिया जाएगा। ग्रामीणो ने कहा कि चुनाव के दिन आने पर उम्मीदवार बड़े बड़े वायदे करके चले जाते हैं पर, एक भी काम धरातल पर नहीं होता है। इस मौके पर समाजसेवी सचिन मेहता उर्फ बमबम ने कहा कि यह स्थिति बहुत ही खराब है। अभी तो बारिश का मौसम शुरू हुआ है कि गांव के लोगों को शहर या फिर गांव से बाहर जाने के लिए कीचड़मय और जर्जर ईंट सोलिंग से गुजरना पड़ता है। उन्होंने बताया कि यह सड़क पर चलना किसी खतरे से कम नहीं है। इस सड़क से दो पंचायत के लोग आवागमन करते हैं। उन्होंने कहा कि ऐसी बदतर सड़कों पर चलने से दुर्घटना की आशंका बनी रहती है। ग्रामीणों ने जिलाधिकारी से इस जर्जर सड़क निर्माण की मांग की है।

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...