पूर्णिया : आईक्यूएसी की बैठक में कॉलेज की विभिन्न समस्याओं पर विचार - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

मंगलवार, 9 जुलाई 2019

पूर्णिया : आईक्यूएसी की बैठक में कॉलेज की विभिन्न समस्याओं पर विचार

iqac-meeting-for-issue
कसबा (आर्यावर्त संवाददाता) : मंगलवार को स्थानीय मुंशीलाल आर्य महाविद्यालय में आईक्यूएसी की बैठक प्राचार्य डॉ मो कमाल की अध्यक्षता में आयोजित हुई। बैठक की शुरुआत में आईक्यूएसी के समन्यवक डॉ राजेश कुमार नियोगी ने नैक के दूसरे चक्र के लिए कुल 25 मुख्य बिंदुआें को बैठक में विस्तारपूर्वक रखा। वहीं बैठक को संबोधित करते हुए प्राचार्य ने कहा कि महाविद्यालय का चाहरदिवारी निर्माण अत्यंत महत्वपूर्ण है। लेकिन महाविद्यालय की जमीन पर हुए अतिक्रमण के कारण चाहरदिवारी निर्माण कार्य में बाधा पहुंच रहा है। बैठक में जानकारी देते हुए प्राचार्य ने कहा कि महाविद्यालय द्वारा अतिक्रमणकारियों को अतिक्रमण हटाने के लिए दो नोटिस दिया गया। बावजूद इसके अभी तक अतिक्रमण नहीं हटा है। डॉ कमाल ने बताया कि अब जिला प्रशासन की मदद से अतिक्रमण हटाया जाएगा। बैठक में महाविद्यालय में बैंक शाखा तथा पोस्ट ऑफिस तथा इग्नू का ब्रांच खोलने पर भी चर्चा हुई। इसके अलावे पीजी की पढ़ाई पुनः शुरू करने की बात बैठक में रखी गई। साथ ही महाविद्यालय में कल्याण छात्रावास की स्थापना की मांग भी छात्र संघ द्वारा बैठक में रखी गई। वहीं महाविद्यालय द्वारा प्राकशित पत्रिका कोसी करलव के नए संस्करण के जल्द प्रकाशन की बात भी बैठक में कही गई। बैठक को संबोधित करते हुए पूर्ववर्ती छात्र संघ अध्यक्ष बमबम साह ने कहा कि जल्द ही पूर्ववर्ती छात्र संघ द्वारा छात्र महासम्मेलन का आयोजन किया जाएगा। वहीं प्रो डॉ राजेश कुमार नियोगी ने कहा कि महाविद्यालय द्वारा जारी मेल पर छात्र छात्राएं अपने अपने शिकायत तथा सुझाव दे सकते हैं। साथ ही सोशल नेटवर्किंग साइट्स जैसे फेसबुक पर महाविद्यालय का पेज बनाया जाएगा। बैठक में डॉ अनिल कुमार, पूर्णिया विश्वविद्यालय शिक्षक संघ अध्यक्ष डॉ मनोज परासर, प्रो वसी अहमद, डॉ अनिल कुमार यादव, प्रो नौसाद आलम, महेंद्र कुमार साह, गणपति साह, छात्र संघ अध्यक्ष किशन राज, विवेक राज ने भी अपने अपने विचार रखे।

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...