दरभंगा : सी एम लॉ कॉलेज दरभंगा द्वारा राष्ट्रीय के सेमिनार का आयोजन - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

मंगलवार, 9 जुलाई 2019

दरभंगा : सी एम लॉ कॉलेज दरभंगा द्वारा राष्ट्रीय के सेमिनार का आयोजन

national-seminar-cm-law-college-darbhanga
दरभंगा (आर्यावर्त संवाददाता) आज दिनांक 9 जुलाई को सुभाष चन्द्र बोस लीगल एड सोसाइटी सी एम लॉ कॉलेज दरभंगा द्वारा राष्ट्रीय स्तर के सेमिनार का आयोजन किया गया । सेमिनार का विषय साइबर क्राइम एवं साइबर लॉ रखा गया था ।जिसे तीन सत्रों में आयोजित किया गया ।पहला सत्र उदघाटन सत्र की: अध्यक्षता प्रिंसिपल डॉ बदरे आलम खान , कीनोट्स संबोधन डॉ सुबीर कुमार एसिस्टेंट प्रोफेसर नेशनल लॉ यूनिवर्सिटी रांची ,मुख्य अतिथि डॉ अनिल कुमार झा डीन एल० एन० एम० यू, गेस्ट ऑफ ऑनर डेनियल ग्राफ, एवं वसंचालन विकास झा द्वारा किया गया। दूसरे सत्र : टेक्निकल सत्र की अध्यक्षता डेनियल ग्राफ ,रेपोटियर डॉ रमाशंकर एवं संचालन सुमन कुमार द्वारा किया गया । तीसरे सत्र :वेलिडिक्टरी सत्र के अध्यक्ष प्रिंसिपल डॉ बदरे आलम खान, मुख्य अतिथि मैथ्यू ग्राफ ,स्वागत संबोधन पी के नीरज द्वारा एवं धन्यवाद ज्ञापन मो० नुरुल्लाह द्वारा किया गया।मुख्य वक्ता डॉ सुबीर कुमार ने साइबर क्राइम  को रोकने के लिए सख्त कानून एवं जन जागरूकता पर बल दिया वहीं डिजिटल सेशन के मुख्य वक्ता मैथ्यू ग्राफ ने डिजिटल लिटरेसी बढ़ाने के लिए कानून के छात्रों को आगे आने को कहा। डीन डॉ अनिल कुमार झा ने छात्रों से साइबर क्राइम के प्रति कानून को समाज एवं व्यक्ति तक प्रसार करने पर जोर दिया वहीं प्रिंसिपल डॉ बदरे आलम खान ने साइबर क्राइम रोकने में कानून के छात्रों को जनहित के लिए  सरल मेथड ढूंढने और उन्हें न्याय दिलाने के लिए इसे एक चुनौती और मिशन के रूप में लेकर आगे बढ़ने की बात की ।सेमिनार में छात्रों की उपस्थिति सराहनीय रही।मुख्यव वक्ता डॉ सुबीर कुमार ने लॉ के उपयोग से साइबर क्राइम को रोकने के संदर्भ में अहम माना।आई टी ऐक्ट के बेहतर उपयोग और उसके लिए ओरिजिनेटर अड्रेसी और मीडिएटर को मुख्य  समझने को कहा। डिजिटल ऐक्सपर्ट मैथ्यू ग्राफ ने लॉ स्टूडेंट्स को वर्ल्ड क्लास एप्रोच विकसित करने का  सुझाव दिया। डॉ अनिल कुमार झा डीन ने शिक्षा के महत्व पर अधिक फोकस करने का सुझाव दिया।

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...