झाबुआ (मध्यप्रदेश) की खबर 11 जुलाई - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

गुरुवार, 11 जुलाई 2019

झाबुआ (मध्यप्रदेश) की खबर 11 जुलाई

कमलनाथ सरकार का बजट समाज को राहत देने के साथ ही सबके विकास का द्योतक
कांग्रेस पार्टी ने प्रदेष सरकार के बजट को कल्याणकारी बताया
झाबुआ। विधानसभा में बुधवार को कमलनाथ सरकार के 2019-20 के प्रस्तुत बजट को  पूर्व केन्द्रीय मंत्री एवं पूर्व सांसद कांतिलाल भूरिया, जिला कांग्रेस अध्यक्ष निर्मल मेहता,विधायक सुश्री कलावती भूरिया, मुकेश पटेल, वालसिंह मेडा, वीरसिंह भूरिया, युवा कांग्रेस जिला अध्यक्ष डा. विक्रांत मेहता, बबलू अग्निहौत्री, गौरव सक्सेना, हर्षभट्ट, आचार्य नामदेव, साबिर फिटवेल, हेमचंद डामोर, शंकर भूरिया, बंटू अग्निहौत्री एवं रिंकू रूनवाल ने प्रदेश की कल्याणकारी सरकार का जनता के प्रति किये गये वादों को पूरा करने वाला बताते है वित्त मंत्री तरूण भानोत को इसके लिये बधाई दी है । कांग्रेस नेताओं ने कहा है कि प्रदेश सरकार के इस बजट में कोई नया कर नहीं लगाया गया है जिससे जनता की जेब पर प्रभाव नहीं पड़ेगा। वित्तमंत्री ने कहा बजट में प्रदेश के अजा वर्ग के लिये 22 करोड़ रुपए का प्रावधान किया गया है। 3 नए मेडिकल कॉलेज खोले जाएंगे। हज कमेटी और वक्फ बोर्ड के लिए अनुदान बढ़ाया गया है।  सरकार राइट टू वाटर स्कीम ला रही है। योजनाओं के लिए पैसे की कमी नहीं होने देंगे। दतिया, रीवा और उज्जैन में हवाई सेवा शुरू की जाएगी। सामाजिक सुरक्षा पेंशन दोगुनी करने की तैयारी इस बजट में की गई है। प्रदेश की 40 नदियों को पुनर्जीवित करने के लिए योजना शुरू की जाएगी। कांग्रेस नेताओं ने  बजट की प्रसंशा करते हुए कहा कि गौ-वंश के लिए 20 रुपए प्रतिदिन का प्रावधान किया गया है मछली पालन के लिये 2018 से इस बार 16 प्रतिशत ज्यादा बजट का प्रावधान है। डॉक्टरों के खाली पद भरे जाएंगे। कम्यूनिटी हेल्थ ऑफिसर और एएनएम के खाली पद भरे जाएंगे। भोपाल, ग्वालियर और इंदौर में बर्न यूनिट बनाई जाएगी। जिला कांग्रेस अध्यक्ष के अनुसार वित्तमंत्री ने ऐलान किया ग्वालियर में डेयरी कॉलेज और फूड प्रोसेसिंग कॉलेज खोला जाएगा। 100 यूनिट बिजली का बिल होगा 100 रुपए। 3 नए सरकारी महाविद्यालय शुरू किए जाएंगे। ग्रामीण क्षेत्रों के हाट बाजारों में एटीएम व्यवस्था शुरू करने के लिए पायलेट प्रोजेक्ट शुरू किया जा रहा है। भोपाल में आधुनिक लाइब्रेरी खोली जाएगी। इंटरनेशनल लेवल के फुटबॉल और स्विमिंग पूल बनाए जाएंगे। स्कूली शिक्षा विभाग के लिए 24 हजार 472 करोड़ रुपए का प्रावधान है। मजदूरों के लिए नया सवेरा योजना लाई जाएगी”। सरकार राइट टू वाटर स्कीम ला रही है ।अजजा वर्ग के लिए 33 हजार करोड़ का प्रावधान रखा गया है  वही अजा के लिए 22 हजार करोड़ का प्रावधान। स्कूल शिक्षा विभाग के लिए 24 हजार 472 करोड़ का प्रावधान रखा गया है । बजट को प्रदेश की जनता के हित का बताते हुए कांग्रेस नेताओं ने कहा कि सरकार नई एमएसएमई यूनिट शुरू कर रही है, इसके लिए 17 हजार लोगों को ट्रेनिंग शुरू कर दी गई है। उन्नत खेती के लिए सरकार किसानों को ट्रेनिंग देगी। हमने किसानों के बिजली बिल माफ कर दिए हैं। किसानों की कर्जमाफी के लिए हम प्रतिबद्ध हैं। किसानों के लिए कृषण बंधु योजना लागू की जाएगी। फूड प्रोसेसिंग पर सरकार का स्पेशल फोकस है। बागवानी और प्रसंस्करण के लिए 400 करोड़ का प्रावधान है। महिलाओं के लिए ई-रिक्शा योजना शुरू की जाएगी। किसानों के लिए कृषक बंधु योजना शुरू करेंगे युवा, किसान, महिलाओं को आत्मनिर्भर करना लक्ष्य तय किया है।रोजगार गारंटी योजना के तहत ‘युवा स्वाभिमान योजना’ शुरू की जावेगी । 17 हजार युवाओं को दी जा रही है ट्रेनिंग’दी जारही है । 30 लाख किसानों के कर्जो को माफ किया गया है । पूर्व केन्द्रीय मंत्री एवं सांसद कांतिलाल भूरिया ने पूर्व भाजपा सरकार पर आरोप लगाते हुए कहा कि पिछली सरकार ने कहा था कि हमने तो उन्हें खजाना खाली करके दे गए हैं, लेकिन इस बीच कलनाथ सरकार नेे राजस्व के नए स्त्रोतों को तलाशा। हर वर्ग को बजट में कुछ न कुछ देने की कोशिश की है। युवा, किसान और महिलाओं को आत्मनिर्भर बनाना कांग्रेस का लक्ष्य है। केंद्र सरकार ने मध्यप्रदेश के साथ विश्वासघात किया है, । काग्रेस ने बजट का स्वागत करते हुए कहा है कि कांग्रेस ने अपने वचनपत्र में जो जो वादे जनता से किये थे उसका आभास इस बजट में दिखाई दे रहा है। बजट जनकल्याणकारी होकर महंगाई से लोगों को राहत देने वाला है ।

मुख्यमंत्री कमलनाथ के निर्देषानुसार छिंदवाड़ा की तर्ज पर झाबुआ उपचुनाव लड़ेगी कांग्रेस, झाबुआ विधानसभा के बुथ प्रभारियों की बैठक का हुआ आयोजन

झाबुआ। जिला कांग्रेस कार्यालय पर ब्लाॅक कांग्रेस कमेटी झाबुआ द्वारा संभवतः आगामी नवंबर माह में होने वाले झाबुआ विधासनभा के उपचुनाव की तैयारियों के क्रम में विधानसभा क्षेत्र झाबुआ के समस्त बुथ प्रभारियों की भव्य बैठक का आयोजन किया गया। जिसमें विधानसभा क्षेत्र के 356 बुथों के लिए रणनीति तैयार की गई। उल्लेखनीय है गत 26 जून को मुख्यमंत्री कमलनाथ द्वारा झाबुआ विधानसभा उप-चुनाव की रूपरेखा के लिए कांग्रेसजनों को भोपाल आमंत्रित किया था। जहां उन्होंने झाबुआ विधानसभा के उपचुनाव को छिंदवाड़ा की तज्र पर लड़ने के गुर एवं टिप्स कांग्रेसजनों को दिए थे। इसी परिपे्रेक्ष्य में 9 जुलाई, मंगलवार को झाबुआ विधानसभा क्षेत्र के समस्त बुथ प्रभारियों की बैठक लेकर उन्हें क्षेत्र में लामंबद होकर कार्य करने हेतु प्रोत्साहित किया गया।

कांग्रेस पार्टी जिसे भी बनाए उम्मीद्वार, उसका करे प्रचार
इस अवसर पर पूर्व विधायक जेवियर मेड़ा ने संबोधित करते हुए कहा कि यह उपचुनाव मप्र सरकार को ऊर्जा देगा। जिसके फलस्वरूप हमे अपने क्षेत्र और फलियो-मजरों में कांग्रेस सरकार की जनहितैषी योजनाओं से सभी को अवगत करवाना है। वहीं हमे उपचुनाव में कांग्रेस पार्टी, जिसे भी अपना उम्मीद्वार बनाएं, सभी को एकजुट होकर पार्टी के प्रति निष्ठापूर्वक कार्य कर कांग्रेसी उम्मीद्वार को प्रचंड बहुमतों से विजयी बनाना ही अपना लक्ष्य रखना होगा।

बुथों को करना होगा मजबूत
ब्लाॅक कांग्रेस अध्यक्ष हेमचंद डामोर ने कहा कि हमे अपने क्षेत्र के बुथों को मजबूत करना है वहीं 17 बुथों पर कांग्रेस प्रेषक, समन्वयक, प्रभारी एवं अध्यक्ष-उपाध्यक्ष नियुक्त करना है। वहीं प्रत्येक बुथ पर 3 सदस्य समन्वयक को जवाबदारी देकर उन्हें पूरे उत्साह के साथ कार्य करना है। इस हेतु शीघ्र ही प्रदेष कांग्रेस कमेटी के प्रषिक्षकों द्वारा समस्त 356 बुथों के प्रभारियों को प्रषिक्षित भी किया जाएगा।

इन्होंने भी किया संबोधित
बैठक को जिला पंचायत सदस्य रूपसिंह डामोर, जनपद पंचायत अध्यक्ष पति शंकरसिंह भूरिया, सुरेन्द्र गरवाल, आदिवासी विकास परिषद् जिलाध्यक्ष विजय भाबर, कल्याणपुरा प्रभारी ठा. रविन्द्रसिंह, जसवंतसिंह नायक, जिला कांग्रेस प्रवक्ता साबिर फिटवेल आदि ने भी संबोधित करते हुए बुथ प्रभारियों को झाबुआ विधानसभा उपचुनाव जितने हेतु आवष्यक टिप्स दिए।

ये थे उपस्थित
इस अवसर पर झाबुआ, रानापुर, कुंदनपुर, पिटोल, बोरी क्षेत्र के बुथ प्रभारियों के साथ दिलीप भूरिया, गुलाबसिंह, अमरसिंह, पेमा भाबोर, पंडाजी, रेसु मेड़ा, पार्षद हेमेन्द्र बबलू कटारा, अब्दुल शेख, मालू डोडियार, राजेष डामोर, पप्पू ताहेड़ सहित सैकडों कार्यकर्ता उपस्थित थे।

स्वच्छता सर्वेक्षण लीग-2020 के तहत कचरा संग्रहण एवं पृथक्कीकरण अभियान के समापन पर शहर में निकाली गई जागरूकता रैली, ‘मेरा कचरा-मेरी जिम्मेदारी का दिया संदेष’

झाबुआ। नगरपालिका परिषद् झाबुआ द्वारा स्वच्छता सर्वेक्षण लीग-2020 के तहत कचरा संग्रहण एवं प्रृथक्कीकरण अभियान 26 जून से 10 जुलाई तक चलाया गया। अंतिम दिन समापन पर शहर में जागरूकता रैली निकाली गई। जिसके माध्यम से शहरवासियों को ‘मेरा-कचरा, मेरी जिम्मेदारी’ का संदेष दिया गया। यह रैली नगरपालिका सीएमओ एलएस डोडिया के निर्देष पर नपा के सेनेट्री प्रभारी कमलेष जायसवाल एवं सहायक स्वच्छता निरीक्षक कमलेष जायसवाल के नेतृत्व में सफाई कर्मचारियों द्वारा निकाली गई। जिसमें आगे बेनर लेकर स्वच्छता संबध्ंाी नारे लगाते हुए सफाई कर्मी चले। नपा सीएमओ श्री डोडिया एवं सेनेट्री प्रभारी श्री जायसवाल ने बताा कि रैली के माध्यम से लोगों से अनुरोध किया गया कि ‘अपने घरों से निकलने वाला कचरे को गीला एवं सूखा कचरा अलग-अलग कचरा वाहन में डिब्बे में डाले। साथ ही नालियों एवं सड़कों पर कचरा ना फैंके, डिस्पोजल एवं प्लास्टिक थैलियों का उपयोग ना करे, प्लास्टिक पर सरकार द्वारा बेन लगाया गया है। यह रैली शहर के प्रमुख मार्गों से होते हुए पुनः समापन नगरपालिका कार्यालय परिसर में ही हुआ।

झाबुआ के वार्ड क्र. 5 में आंगनवाड़ी केंद्र पर पार्षद की मौजूदगी में किया गया मुख्यमंत्री श्रमिक पंजीयन योजना के कार्डों का अपग्रेषन, आंगनवाड़ी कंेद्र में पार्षद की ओर से प्रदान किया पंखा

झाबुआ। नगरपालिका कार्यालय झाबुआ द्वारा इन दिनों संपूर्ण शहर में मप्र की पूर्व सरकार द्वारा संचालित की गई मुख्यमंत्री श्रमिक पंजीयन योजना के कार्डों का अपग्रेषन कार्य करवाया जा रहा है। इस हेतु शहर के 18 वार्डों में अलग-अलग कर्मचारियों की नियुक्ति कर उन्हें योजना के हितग्राहियों के पंजीयन कार्ड के रिन्यूअल करने की जवाबदारी सौंपी गई है। इसी क्रम में शहर के वार्ड क्र. 5 में भी यह कार्य 9 जुलाइ्र्र, मंगलवार से प्रारंभ हुआ है। इस वार्ड में योजना के करीब 90 हितग्राही है, जिनके कार्ड का अपग्रेषन कार्य यहां नपा की ओर से तैनात की गई महिला कर्मचारी कर रहीं हे। यह कार्य वार्ड क्र. 5 में आंगनवाड़ी केंद्र पर वार्ड पार्षद नरेन्द्र संघवी के नेतृत्व में हुआ। जिसमें वार्ड के सभी ऐसे पंजीयन कार्ड धारकों को सूचना देकर आंगनवाड़ी केंद्र बुलवाकर उनसे समग्र आईडी, राषन कार्ड, आधार कार्ड आदि के माध्यम से अपग्रेषन करने की प्रक्रिया महिला कर्मचारी ने पूरी की। प्रथम दिन ही 60 कार्डधारकों के पंजीयन कार्ड का अंपग्रेषन कार्य महिला कम्र्रचारी द्वारा पार्षद श्री संघवी के विषेष प्रयासों से पूर्ण कर लिया गया। इस कार्य में सहयोग लक्ष्मीबाई मित्र मंडल की कार्यकर्ता चेतना चैहान, विजय चैहान, मुकेष संघवी, संजय छाजेड़, राणाजी कटकानी आदि ने प्रदान किया। साथ ही इस अवसर पर वार्ड क्र. 1 के पार्षद पपीष पानेरी भी विषेष रूप से उपस्थित रहे, उन्होंने इस कार्य की सराहना की।

आंगनवाड़ी केंद्र को पंखा किया भेंट
जब आंगनवाड़ी केंद्र में पंजीयन कार्डों का अपग्रेषन कार्य चल रहा था, तभी मौजूदा लोगों के गर्मी और उमस से पसीने छूट रहे थे। जिस पर वार्ड पार्षद श्री संघवी ने इस संबंध में आंगनवाड़ी कार्यकर्ता रीमती कोठारी से चर्चा कर जाना कि क्या केंद्र के कमरे में पंखा नहीं लगा है, इस पर कार्यकर्ता श्रीमती कोठारी ने बताया कि पंखा नहीं होने से केंद्र में आने वाले बच्चों सहित स्वयं उन्हें एवं सहायिका को भी गर्मी के कारण काफी परेषानी आती है। इस संबंध में उन्होंने पूर्व में महिला एवं बाल विकास को अवगत करवाया था। यह समस्या जानने के बाद पार्षद नरेन्द्र संघवी ने तत्काल आंगनवाड़ी केंद्र की अपनी ओर से पंखा भेंट किया, ताकि केंद्र में आने वाले बच्चों और उनके अभिभावकों तथा यहां अपनी सराहनीय सेवाएं देने वाली स्वयं कार्यकर्ता एवं सहायिका को भी गर्मी से निजात मिल सके।

जैन सोष्यल ग्रुप ‘मैत्री’ ने मनाया स्र्पोट्स-डे, विभिन्न गेम्स रखकर विजेताओं को प्रदान किए पुरस्कार

झाबुआ। जैन सोष्यल ग्रुप ‘मैत्री’ झाबुआ द्वारा गत दिनों शहर के एक निजी गार्डन में स्पोर्टस-डे मनाया गया। इस अवसर पर सुबह 9 बजे से विभिन्न प्रतियोगिताओं का यहां आयोजन किया गया। सभी प्रतियोगिताओं और खेलों में ‘मैत्री’ से जुड़े सभी पदाििधकारी और सदस्यों ने उत्साह के साथ भाग लिया। बाद विजेताओं को पुरस्कार भी प्रदान किए गए। विभिन्न खेलों हेतु चार टीमों का विभाजन किया गया। जिसमें सभी दंपति सदस्य सम्मिलित हुए। ब्लू बोल्डर्स का कप्तान संदीप श्रद्धा जैन, रेड राॅक्सटर्स के कप्तान अंकुष निषा भंडारी, येलो योकर्स के कप्तान समकित प्राची भंडारी एवं व्हाईट हाऊस आॅफ स्टार्स के कप्तान मयंक सोनम जैन को बनाकर उनके बीच खेल करवाए गएं। जोन कार्डिनेटर नीरज गादिया ने बताया कि पूरे दिन कार्यक्रम रखा गया। जिसमें दोपहर एवं शाम को भोजन के साथ दिन का नाष्ता भी सभी ने किया। जिसकी व्यवस्था के प्रभारी दीपक चैधरी एवं दिनेष रूनवाल थे। ‘मैत्री’ के फाउंडर प्रेसिडेंट मनोज बाबेल ने बताया कि इस दौरान क्रिकेट, दोजबाल, खो-खो, ट्रेसर हंट और कई सरप्राईज गेम्स रखे गए।

रेड राॅक्सटर्स टीम को प्रदान की गई ट्राफी
‘मैत्री’ अध्यक्ष जय भंडारी ने बताया कि गेम्स को आर्गेनाइ्र्रजर ‘मैत्री’ के सचिव मनीष कांठेड़ एवं पीआरओ श्रीमती श्रुति सकलेचा ने बखूबी किया। हर गेम्स के विनर को 500 रू. का गिफट वाऊचर अर्पित श्रुति सकलेचा की ओर से प्रदान किया गया। विजेता टीम रेड राॅक्सटर्स ट्राफी से सम्मानित हुई। इस दौरान बच्चों ने भी गेम्स का खूब लुत्फ उठाया। संपूर्ण आयोजन को सफल बनाने में सराहनीय सहयोग रवि राठौर, अंकित रूनवाल, पराग रूनवाल, मयंक रूनवाल, पंकज कोठारी आदि की रहा। अंत में आभार सचिव मनीष कांठेड ने माना।

आज थांदला में बैकर्स समिति की बैठक आयोजित कर ऋण सबंधी प्रकरणो पर विचार किया गया
        
झाबुआ । आज 10 जुलाई को जनपद पंचायत कार्यालय, थांदला मे विकास खण्ड स्तरीय बैकर्स समति की बैठक आयोजित की गई बैठक में वार्षिक साख योजना 2019-20 में प्रगति, षासकीय योजनाओ बैंक ऋण की वसूली, फसल बीमा खरीफ 2018-19 बीमित किसानो की संख्या/बीमित राषि, प्रत्येक ग्राम पंचायत में बीसी की नियुक्ति, आधार सीडिग अद्यतन स्थिति की समीक्षा की गई। आर सेटी द्वारा पे्रषित ऋण आवेदन पत्र तथा प्रषिक्षण हेतु भेजे गए आवेदको की प्रगति, प्रधानमंत्री मुद्रा योजना स्टेड अप इण्डिया की समीक्षा भी की गई एवं आवष्यक निर्देष दिये गये। बैठक में एलडीएम श्री नरेन्द्र गोठवाल, महाप्रबंध उद्योग श्री विरेन्द्र इष्किया सहित जनपद स्तरीय अधिकारी एवं समिति के सदस्य उपस्थित थे। वित्तीय वर्ष 2019-20 की विकास खण्ड स्तरीय बैकर्स समिति की तिमाही बैठक विकास खण्डवार 17 जुलाई तक आयोजित की जाएगी। इसके लिए कार्यक्रम निर्धारित किया गया है। एलडीएम श्री नरेन्द्र गोठवाल ने बताया कि निर्धारित कार्यक्रम के अनुसारं 11 जुलाई गुरूवार को जनपद पंचायत कार्यालय, मेघनगर में, 12 जुलाई षुक्रवार को जनपद पंचायत कार्यालय, रामा में, 16 जुलाई मंगलवार को जनपद पंचायत कार्यालय, रानापुर में, 17 जुलाई को जनपद पंचायत कार्यालय, झाबुआ,षिक्षा विभाग कार्यालय के पास समिति की बैठक सायं 4ः30 बजे से आयोजित की जाएगी।

प्रियांषु को राष्ट्रीय बाल स्वास्थ्य कार्यक्रम ने दी सुन्दर मुस्कान प्रियांषु का चेहरा दिखने लगा सलोना

jhabua news
झाबुआ । जन्मजात विकृति से ग्रसित बच्चो का यदि समय पर उपचार कर विकृति को सुधार दिया जाये तो बडे होने तक बच्चो की विकृति एकदम ठीक हो सकती है और वे भी प्राकृतिक तौर पर सुंदर दिखाई देने लगते है। ऐसे माता-पिता जिनके पास पैसा होता है वे तो अपने बच्चो का इलाज करवा लेते है लेकिन निर्धन माता-पिता के लिए यह संभव नही होता हैं, ऐसे मे षासन के राष्ट्रीय बाल स्वास्थ्य कार्यक्रम ने कई निर्धन परिवार के बच्चो को मुस्कान लौटाई है। झाबुआ जिले के ग्राम खवासा ब्लाक थांदला की प्रियांषु पिता जितेन्द्र चैहान उम्र 1 वर्ष के होठ जन्म से ही कटे हुए थे, जिससे उसकी सुन्दर मुस्कान का आनंद लेने से माता-पिता वंचित थे। उसका इलाज करवाना भी उनके लिए संभव नही था। ऐसे मे आरबीएसके की टीम प्रियांषु के घर पहंुची और प्रियांषु के कटे-फटे होठ का आॅपरेषन करवाने की सलाह दी। प्रियांषु के माता पिता ने बताया कि आरबीएसके टीम के सदस्य उनके घर नही आते, तो षायद वे अपनी पुत्री की सुन्दर मुस्कान का आनंद नही ले पाते। षासन की राष्ट्रीय बाल स्वास्थ्य योजानांतर्गत स्माइल ट्रेन योजना अंतर्गत प्रियांषु का आॅपरेषन इन्दौर के निजी अस्पताल मे करवाया गया, वो भी बिल्कुल निःषुल्क।अब प्रियाषु का चेहरा सलोना दिखने लगा है। प्रियांषु के माता-पिता के आवागमन व्यय का भुगतान भी षासन द्वारा किया गया। प्रियांषु के पिता जितेन्द्र ने बताया कि षासन की यह योजना गरीब परिवार के बच्चो के लिए वरदान हैं।

दो दिवसीय प्रषिक्षण 15 जुलाई से
         
झाबुआ । मोबाईल स्त्रोत सलाहकारों के लिए 15 जुलाई से दो दिवसीय प्रषिक्षण भोपाल में आयोजित किया जा रहा है। इस संबंध में राज्य षिक्षा केंद्र की संचालक आईरीन सिंथिया जेपी ने सभी जिला परियोजना समन्वयकों को पत्र लिखा है। राज्य षिक्षा केंद्र के साथ अनुबंधित स्वंयसेवी संस्था डाईट सेवर्स के द्वारा समस्त जिलों के दो-दो मोबाईल स्त्रोत सलाहकारों के लिए दो दिवसीय प्रषिक्षण डेजी कसोर्टियम के साथ मिलकर आयोजित किया जा रहा है। यह प्रषिक्षण 15 जुलाई से प्रारंभ होकर 16 जुलाई तक चलेगा।

फाॅल आर्मीवर्म (स्पोडोपटेरा फ्यूजेरियम) कीट प्रकोप को करे नियंत्रित
         
झाबुआ । उपसंचालक कृषि श्री त्रिवेदी ने बताया कि फाॅल आर्मीवर्म कीट का प्रकोप मक्का, ज्वार इत्यादि फसलों में होने की आशंका है। इस हानिकारक कीट के प्रकोप के संबंध में किसानो को जागरूक व सजग रहने की आवश्यकता है। फाल आर्मीवर्म बहुभक्षी कीट है जो कि 80 से अधिक प्रकार की फसलों पर क्षति करता है, परंतु मक्का सबसे पसंदीदा फसल है। भारत में पहली बार कर्नाटक राज्य में जुलाई 2018 में इसका प्रकोप देखा गया। इस कीट का प्रकोप आंध्रप्रदेश, तमिलनाडु, उड़ीसा, गुजरात एवं बिहार राज्य में पाया जाता है। झाबुआ जिला गुजरात राज्य के सीमावर्ती होने के कारण झाबुआ जिले में भी फाल आर्मीवर्म कीट का प्रकोप होने की प्रबल संभावना है। यह कीट इतना खतरनाक क्यों- इस कीट के पतंगें हवा के बहाव के साथ एक रात में करीब 100 किलोमीटर तक प्रवास कर सकते है। इसकी प्रजनन क्षमता भी बहुत अधिक है। मादा अपने जीवन काल में करीब 1 से 2 हजार अंडे दे सकती है। यह कीट झुंड में आक्रमण कर पूरी फसल को कुछ ही समय में नष्ट करने की क्षमता रखता है। कीट प्रबंधन: समन्वित कीट नियंत्रण विधियों को अपनाकर ही इस कीट की रोकथाम एवं नियंत्रण किया जा सकता है। किसान फसल की सुरक्षा हेतु फाल आर्मीवर्म कीट की रोकथाम हेतु मक्का बीज को बोनी से पहले सायनट्रेनिलीप्राॅल 19.8 प्रतिशत $ थायोमिथाॅक्जाम 19.8 प्रतिशत का 4 मिली. प्रति किलो बीज की दर से उपचाररित कर बौनी करें। ग्रीष्मकालीन गहरी जुताई करके शंखी अवस्था को नष्ट करें। समय पर बुआई करें। देरी से बोई गई फसल पर कीट प्रकोप अधिक होता है। मक्का के साथ अरहर ,मूंग, उड़द आदि को अन्तवर्ती फसल के रूप में लें। संतुलित उर्वरकों का अनुशंसित मात्रा में प्रयोंग करें। हाथों से अंड गुच्छो एवं इल्लियो को नष्ट करें। फ्युजीपरडा फिरोमोन प्रपंच 15 प्रति हेक्ट. का उपयोग करे। टी आकार की खूटिया लगाये 30-40 प्रति हेक्ट.। अनुशंसित पौध अंतरण पर बुआई करें। ग्रसित फसल की पोंगली में लकड़ी का बुरादा, राख एवं बारीक रेत डाले। जिन क्षेत्रों में खरीफ की फसल ली जाती है, उन क्षेत्रों में ग्रीष्मकालीन मक्का की फसल ना लें प्रकोप की प्रारंभिक अवस्था में नीम तेल 10000 पी.पी.एम. या एन.एस.के.ई. 5 प्रतिशत का एक    लीटर प्रति हेक्टर छिडकाव करें। जैविक कीटनाशक जैसे बिवेरिया बेसियान, मेटारायजियम एनीसोपोली या बैसिलस थुरिन्जेन्सिस (बी.टी.) या एन.पी वाइरस 1 लीटर प्रति हेक्टर की दर से छिड़काव करें। सिन्थेटिक कीटनाशकों में थायोडीकार्प 75 डब्लू पी 1 किलोग्राम या फ्लूबैन्डामाइट 480 एस.सी. 150 मिली. या क्लोरेन्टनीलीप्रोली 18.5 एस.सी. 150 मिली. या इमामेक्टीन बैन्जोएट 5 एस.जी. का 200 ग्राम या स्पीनोसेड 45 एस.सी. का 200 मिली./हेक्टेयर उपयोग करें। कीटनाशकों का उपयोग बदल बदल कर करना चाहिए। जहरीला चुग्गा का प्रयोग करें इसके लिये 10 कि.ग्रा. धान के चोकर में 2 कि.ग्रा. गुड़ तथा 2-3 लीटर पानी में 100 ग्राम थायोडिकार्प मिलाकर पौधों की  पोंगली में डाले।

नेषनल लोक अदालत हेतु 12 खण्डपीठों का गठन
       
झाबुआ ।  श्री अषोक कुमार तिवारी, जिला एवं सत्र न्यायाधीष/अध्यक्ष जिला विधिक सेवा प्राधिकरण, झाबुआ के मार्गदर्षन में दिनांक 13 जुलाई 2019 (षनिवार) को नेषनल लोक अदालत का आयोजन किया जायेगा। उक्त लोक अदालत हेतु झाबुआ न्यायालय में 07 खण्डपीठ एवं तहसील थांदला में 02 तथा तहसील पेटलावद में 03 खण्डपीठ इस प्रकार कुल 12 खण्डपीठों का गठन किया गया है। नेषनल लोक अदालत में समझौता योग्य आपराधिक प्रकरण, दिवानी प्रकरण, निगोषिएबल इंस्टूªमेंट एक्ट की धारा 138 के प्रकरण, मनी रिकवरी प्रकरण, एम.ए.सी.टी. (मोटर दुर्घटना दावा अधिकरण) के मामले, श्रम विवाद प्रकरण, विद्युत एवं जलकर बिल संबंधी प्रकरण (राजीनामा योग्य), वैवाहिक प्रकरण, भूमि अधिग्रहण के प्रकरण, राजस्व के प्रकरण (जिला न्यायालय में लंबित) संबंधी आदि प्रकरणों का निराकरण आपसी सुलह समझौते के माध्यम से किया जायेगा। एवं प्रीलिटिगेशन प्रकरणों के रूप में समझौता योग्य आपराधिक प्रकरण, दिवानी प्रकरण, निगोषिएबल इंस्टूªमेंट एक्ट की धारा 138 के प्रकरण, मनी रिकवरी प्रकरण, श्रम विवाद प्रकरण, विद्युत एवं जलकर बिल संबंधी प्रकरण (राजीनामा योग्य), भरण-पोषण प्रकरणों का निराकरण आपसी सुलह एवं समझौते के माध्यम से किया जावेगा। अतः प्रकरणों के पक्षकारों से अपील है कि दिनांक 13 जुलाई 2019 की नेषनल लोक अदालत में अपने प्रकरणों का निराकरण करवाकर लोक अदालत का लाभ लेवें।

खरीफ मौसम की फसलों पर कीटव्याधियांे के प्रकोप पर नियंत्रण रखने की दृष्टि से जिला स्तरीय डायगोस्टिक टीम का भ्रमण

झाबुआ । जिले में खरीफ मौसम की फसलों का कुल लक्षित रकबा 187660 हेक्टयर होकर 163666 हेक्टयर में बुवाई कार्य सम्पन्न हो चुका है। जिसमें मुख्य रूप से मक्का फसल की 57250 हेक्टयर तथा सोयाबीन 53915 हेक्टयर में बुवाई शामिल होकर फसलों की अवधि लगभग 15-20 दिन की होकर फसलें अच्छी स्थिति में है। खरीफ फसलों में कीटव्याधि के प्रकोप के नियंत्रण एवं समसायिक सलाह कृषकों को दिये जाने की दृष्टि से जिला स्तरीय डायगोस्टिक टीम जिसमें कृषि विज्ञान केन्द्र झाबुआ के वैज्ञानिक डाॅ. महेन्द्र सिंह जादौन,सहायक संचालक कृषि एस.एस. रावत, सहायक भूमि संरक्षण अधिकारी, श्री एल.एस.चारेल एवं मैदानी अमला शामिल है। डायग्नोस्टिक टीम द्वारा दिनांक 08.07.2019 को विकासखण्ड रानापुर के ग्राम सारसवाट का भ्रमण किया गया। ग्राम सारसवाट के कृषक श्री झेतुसिंह-गुलाबसिंह द्वारा बताया गया है कि सोयाबीन फसल में कहीं-कहीं कामलिया कीट का प्रकोप दिखाई दे रहा है। साथ ही ग्राम छापरखाण्डा के कृषक श्री थानसिंह-नानभू, रतनसिंह-मानसिंह,सूवरसिंह-मानसिंह,पेमा-रतनीया,भदू-मानसिंह,सोभान-पातलिया एवं कालू-पातलिया के खेतों में सोयाबीन,मक्का,कपास फसलों का अवलोकन करने पर प्रारंभिक अवस्था में आंषिक रूप से कामलिया कीट का प्रकोप देखा गया है। विकासखण्ड रामा के ग्राम मरगारूण्डी के कृषक श्री लक्ष्मण-कालू, कुवरसिंह - तीरू, कलम - दरू, मन्नू - नहू, मुकेष - अमरसिंह, वेलजी - मानसिंह, सागर - हकरू एवं कलसिंह - बिजीया के खेतों में मक्का, सोयाबीन की फसलों का अवलोकन किया। फसल अवलोकन के दौरान कामलिया कीट की प्रारंभिक अवस्था आंषिक रूप से देखी गई। साथ ही ग्राम बोचका के कृषक श्री गुच्चा-दलजी, भूरसिंह-बुच्चा, भुदरू-सुकिया, खेमचन्द-पागला एवं मेतु-रामचन्द के खेतो में मक्का, कपास फसलों में कामलिया कीट का आंषिक प्रकोप देखा गया। कृषि वैज्ञानिक डाँ. जादौन द्वारा बताया गया है कि कामलिया कीट के नियंत्रण हेतु रासायनिक पौध संरक्षण औषधि क्यूनाॅलफाॅस 25 प्रतिषत ई.सी. 40-50 मिली लीटर प्रति स्प्रेयर पंप के मान से उचित घोल बनाकर छिड़काव करने की सलाह दी गई। डायग्नोस्टिक टीम द्वारा कृषकों को कामलिया कीट के नियंत्रण हेतु सुझाव दिये गये कि खेत फसल का नियमित निरीक्षण करे। खेत फसल के साथ-साथ खेत के मेंड को साफ-सुथरा रखें। मुख्य फसल के किनारे पर गार्ड फसल के रूप में मूंगफली की एक कतार लगाये। कामलिया कीट का प्रकोप होने पर रासायनिक पौध संरक्षण औषधि क्यूनाॅलफाॅस 25 प्रतिषत ई.सी. का उचित घोल बनाकर छिड़काव करें। छिड़काव हेतु तैयार घोल में 10 से 15 ग्राम डिटरजेन्ट पाउडर मिला कर छिड़काव करें।

वैज्ञानिक सलाहकार समिति की बैठक 11 जुलाई को
         
झाबुआ । कृषि विज्ञान केन्द्र झाबुआ की वैज्ञानिक सलाहकार समिति की बैठक का आयोजन 11 जुलाई 2019 को दोपहर 02ः00 बजे से कृषि विज्ञान केन्द्र सभागृह मे किया जाएगा। बैठक में वर्ष 2018-19 रबी मौसम में केन्द्र द्वारा किये गये कार्यो की समिति द्वारा समीक्षा की जावेगी एवं आगामी वर्ष 2019-20 खरीफ मौसम मे केन्द्र द्वारा किये जाने वाले कार्यो की प्रस्तावित कार्ययोजना प्रस्तुत की जाएगी।  बैठक में कलेक्टर झाबुआ, अधिष्ठाता कृषि महाविद्यायल इन्दौर एवं संयुक्त संचालक विस्तार राविसिंकृविवि, ग्वालियर, आॅचलिक समन्वयक , भारतीय कृषि अनुसंधान परिषद जोन-9, जबलपुर के प्रतिनिधि सहित जिले के कृषि से संबंधित सभी विभाग प्रमुख, स्वय सेवी संस्थाओ के नामित व्यक्ति एवं कृषक प्रतिनिधि भाग लेगे।

आज सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र /सिविल अस्पताल पेदलावद में रक्तदान षिविर आयोजित किया गया

झाबुआ । आज 10 जुलाई को सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र पेटलावद में रक्तदान षिविर का आयोजन किया गया। रक्तदान षिविर में 20 युनिट खून एकत्र किया गया। इस दौरान बीएमओ डाॅ. उर्मिला चोयल बीपीएम पृष्वीपाल चुंडावत बीसीएम कमलेष अमिलियार एवं अन्य चिकित्सक उपस्थित थे।

नगरीय प्रषासन विभाग की वीसी 11 जुलाई को
         
झाबुआ । नगरीय प्रषासन विभाग की वीडियों कांफ्रेंसिंग 11 जुलाई को षाम 4 बजे से आयोजित होगी। वीसी में प्रतिदिन पेयजल व्यवस्था, मुख्यमंत्री युवा स्वाभिमान योजना, स्वच्छ सर्वेक्षण 2020, सीएम हेल्पलाईन, प्रधानमंत्री आवास योजना, विधानसभा लंबित प्रष्न सहित अन्य बिंदुओं पर चर्चा की जाएगी। वीसी के संबंध में नगरीय प्रषासन एवं विकास विभाग के अपर आयुक्त श्री पंकज जैन ने सभी जिलों के परियोजना अधिकारी एवं नगरीय निकायों के सीएमओ को पत्र लिखकर अवगत कराया है।

विश्व जनसंख्या माह 11 जुलाई से मनाया जायेगा
         
झाबुआ । जनसंख्या को नियंत्रण करने के मकसद से विश्व जनसंख्या दिवस 11 जुलाई को मनाया जायेगा। उसके बाद जनसंख्या माह पूरे एक माह 11 जुलाई से 11 अगस्त 2019 तक जनसंख्या स्थिरता माह के रूप में मनाया जायेगा।
मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डाॅ. बारिया ने बताया कि पूरे माह मनाये जाने वाले जनसंख्या स्थिरता के उद्देश्यों को लेकर सभी विकासखण्ड मुख्यालयों पर परिवार विकास मेले लगाये जायेंगे। इन मेलों में स्थानीय लोगों के अलावा जनप्रतिनिधियों एवं सामाजिक संगठनों, समाज सेवियों, की उपस्थिति भी सुनिश्चित की जायेगी। जनसंख्या माह में 11 जुलाई से 11 अगस्त तक जनसंख्या के नियंत्रण करने उपायों के प्रति जनता को जागरूक करने के लिये सभी परिवार नियोजन के साधनों की पूर्ण उपलब्धता रहेगी।

कलेक्टर महीने में दो बार एक ब्लॉक और गाँव में जाकर सुलझाएं समस्याएं
मुख्यमंत्री श्री कमल नाथ ने जनाधिकार कार्यक्रम में दिये निर्देश
झाबुआ । मुख्यमंत्री श्री कमल नाथ ने कहा है कि जनहित के काम में लापरवाही बरतने वाले अधिकारियों-कर्मचारियों के खिलाफ की गई कार्यवाही को प्रचारित करें, ताकि आम लोगों को पता चले और अन्य लापरवाह अधिकारियों को भी सबक मिले। मुख्यमंत्री ने कहा कि मौजूदा व्यवस्था में प्राप्त शिकायतों और समस्याओं का समाधान शत-प्रतिशत होना चाहिए। मुख्यमंत्री ने यह बात मंत्रालय में वीडियो कांन्फ्रेसिंग के माध्यम से जनाधिकार कार्यक्रम में कलेक्टरों को संबोधित करते हुए कही। उन्होंने 10 जिलों के 12 लोगों की समस्याओं का समाधान किया। उन्होंने हितग्राहियों से पूछा कि शिकायत दर्ज कराने से लेकर समाधान मिलने तक कितना समय लगा और किन-किन जगह विलंब हुआ। उन्होंने कलेक्टरों से कहा कि शिकायतें आने पर ही निराकरण करने की संस्कृति को समाप्त करें। जिलों के सेवा प्रदाय तंत्र को ऐसा चुस्त दुरूस्त रखें कि शिकायतों की संख्या निरंतर कम होती जाए। उन्होंने कहा कि समय पर समाधान न करने वालों की जिम्मेदारी तय हो और उन पर की जाने वाली कार्यवाई की बुकलेट बनाई जाए ताकि लोगों को अपने दायित्व का भान हो सके। मुख्यमंत्री श्री नाथ ने आपकी सरकार-आपके द्वार कार्यक्रम के संबंध में कलेक्टरों से चर्चा करते हुए कहा कि वे महीने में दो बार किसी एक ब्लाक और गाँव में जाकर लोगों की समस्याएँ सुनने और तत्काल निराकरण योग्य समस्याओं का स्थल पर ही निराकरण करें। उन्होंने कलेक्टरों को प्रत्येक माह राज्य मुख्यालय को रिपोर्ट देने के निर्देश दिए ।

खाद-बीज की कोई कमी नहीं
मुख्यमंत्री श्री नाथ ने जिलों में खाद-बीज की उपलब्धता के संबंध में पूछा, तो कलेक्टरों ने बताया कि खाद-बीज की कोई कमी नहीं है। उन्होंने कई मुद्दों पर कलेक्टरों से बात की और निर्देश दिये। स्कूल चलें हम अभियान के अंतर्गत दाखिला मिले बच्चों के संबंध में श्री नाथ ने कहा कि यह देखना होगा कि दाखिला लिये बच्चे किसी भी कारण से स्कूल नहीं छोडें।
मुख्यमंत्री ने औद्योगिक निवेश के संबंध में कहा कि वे जिलों में सहयोगी की भूमिका में निवेशकों का साथ दें, उनकी मदद करें। कौशल विकास केन्द्रों के संबंध में मुख्यमंत्री ने कहा कि यह आकलन करें कि प्रशिक्षण के बाद रोजगार मिलने और स्वरोजगार स्थापित करने में कितनी सफलता मिली। सिर्फ कौशल प्रशिक्षण देना पर्याप्त नहीं है। कानून-व्यवस्था के संबंध में उन्होंने कहा कि आपसी समन्वय एवं सावधान रहने से कानून-व्यवस्था पर बेहतर नियंत्रण हो सकेगा।

संस्कृति विभाग द्वारा संस्थाओं से 14 अगस्त तक आवेदन आमंत्रित
        
झाबुआ । प्रदेश में कला, साहित्य और संस्कृति के क्षेत्र में उत्कृष्ट कार्य कर रही पंजीकृत संस्थाओं से वर्ष 2019-20 में अनुदान प्राप्त करने के लिए 14 अगस्त तक आवेदन  आमंत्रित किए गए हैं। आवेदन-पत्र निर्धारित प्रपत्र में आयुक्त संस्कृति संचालनालय के कार्यालय में जमा करवाए जा सकेंगे। विस्तृत विवरण और नियमावली की जानकारी संचालनालय की वेबसाइट ूूू.बनसजनतमउच.पद से प्राप्त की जा सकती है।

चिकित्सकों एवं अस्पताल संचालकों को आवश्यक निर्देश जारी
         
झाबुआ । मध्यप्रदेश नर्सिग होम एक्ट तथा संचालनालय स्वास्थ्य सेवाएं मध्यप्रदेश भोपाल के द्वारा चिकित्सको एवं अस्पताल संचालको को आवययक निर्देष जारी किये गये है। निर्देशों के अनुसार बिना सक्षम अधिकारी की अनुमति/पंजीयन के प्रायवेट प्रेक्टिस न करें न ही अस्तपताल संचालित करें। पैथॉलाजी लेब भी ऐसे चिकित्सक द्वारा संचालित की जायेगी जो एमडी होगें। निरीक्षण के दौरान शासन के नियमों/निर्देशों का उल्लंघन पाये जाने पर संबंधित चिकित्सक/अस्पताल संचालक के विरूद्ध अनुशासनात्मक कार्यवाही की जायेगी, इसके लिए वे स्वयं उत्तरदायी होगें। साथ ही निजी चिकित्सकों/अस्पताल संचालकों से भी कहा है कि वे एक्ट के अंतर्गत पंजीयन की एक प्रति मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी कार्यालय में अविलंब प्रस्तुत करें।

अतिशेष शिक्षक आॅनलाईन आवेदन कर सकेंगे 12 जुलाई तक
    
झाबुआ । स्कूल शिक्षा विभाग द्वारा विभागीय एजूकेशन पोर्टल पर राज्य स्तर से शा.माध्यमिक विद्यालयों एवं प्राथमिक विद्यालयों में अतिशेष शिक्षकों की शालावार सूची जारी कर दी गई है। सूची देखने हेतु पासवर्ड की आवश्यकता नहीं होगी। शिक्षक एजुकेशन पोर्टल पर सूची के अनुसार अतिशेष शिक्षक यूजर आई.डी. एवं पासवर्ड के माध्यम से आॅनलाईन स्थानांतरण हेतु आवेदन 12 जुलाई 2019 तक दर्ज कर सकते है।

स्वरोजगार योजनाओं अंतर्गत ऑनलाइन आवेदन प्रक्रिया प्रारंभ
        
झाबुआ । सूक्ष्म, लघु और मध्यम उद्योग विभाग द्वारा शिक्षित बेराजगार युवाओं के लिये संचालित योजनाओं मुख्यमंत्री स्वरोजगार योजना, मुख्यमंत्री युवा उद्यमी योजना,मुख्यमंत्री कृषक उद्यमी योजना हेतु आवेदन पत्र एमपी ऑनलाइन कियोस्क के माध्यम से प्राप्त किये जाते हैं। इसके लिये आवेदन किसी भी एमपी ऑनलाइन कियोस्क के माध्यम से किया जा सकता है। हितग्राही, जो ऋण लेने के इच्छुक हैं, वह एमपी ऑनलाइन कियोस्क के माध्यम से विभाग द्वारा संचालित योजनाओं- मुख्यमंत्री स्वरोजगार योजना, मुख्यमंत्री युवा उद्यमी योजना और मुख्यमंत्री कृषक योजना, हेतु आवेदन कर ऋण प्राप्त कर सकतें हैं। महाप्रबंधक उद्योग श्री विरेन्द्र इष्किया ने बताया कि इसी प्रकार प्रधानमंत्री स्वरोजगार सृजन कार्यक्रम अंतर्गत ऋण प्राप्त करने हेतु ीजजचेरूध्धअपबवदसपदमण्हवअण्पद पर स्वयं के द्वारा आवेदन किया जा सकता है। स्वरोजगार योजनाओं संबंधी जानकारी हेतु जिला व्यापार एवं उद्योग केन्द्र कार्यालय में संपर्क करें।

जल षक्ति अभियान एवं वृक्षारोपण एवं विष्व जनसंख्या दिवस के पूर्व प्रचार प्रसार कर जन जागरूकता लाई गयी

झाबुआ । विगत 9 जुलाई 2019 को फील्ड आउटरीज ब्यूरो झाबुआ द्वारा ग्राम पंचायत करडावद बडी विकासखण्ड झाबुआ में जल षक्ति अभियान,वृक्षारोपण एवं विष्व जनसंख्या दिवस के पूर्व प्रचार प्रसार कर जन जागरूकता लाई गयी। हिन्दू वाल्मीकि दल झाबुआ के द्वारा नुक्कड नाटक का आयोजन कर नाटक के माध्यम से संम्पूर्ण जानकारी ग्रामीणो को दी गई।

मिर्च,टमाटर,बैगन,प्याज का पौधारोपण करने के लिए किसानो को दी गई सलाह
           
झाबुआ । कृषि विज्ञान केन्द्र झाबुआ द्वारा किसानो को सलाह दी गई है कि आगामी पांच दिनो के लिये जिले मे आसमान मे मध्यम से घने बादल रहने ,तापमान सामान्य रहने व वर्षा 32.0 मि.मि. होने की संभावना है। ऐसे किसान जिनकी बुवाई नही हो पाई है,वे षीघ्रता से बुवाई करे। षीघ्र/मध्यम अवघि की जातियो/फसलो के बीज की व्यवस्था करे। नया बगीचा लगाने हेतु उचित दूरी पर तैयार गड्ढे को गोबर की खाद/वर्मी कंपोष्ट-मिट्टी ़वालू के मिश्रण से भरे। टमाटर ,भिण्डी ,बैगन, पालक, ग्वारफली, कद्दूवर्गीय सब्जियो एवं हरी मिर्च की समय पर तुडाई कर ग्रेडिग कर बाजार मे बेचे। खेत तैयार कर मिर्च,टमाटर,बैगन,प्याज का पौधारोपण करे।

जवाहर नवोदय विद्यालय झाबुआ-1 में कक्षा-6वीं के लिए प्रवेष हेतु आॅनलाईन आवेदन प्रारंभ

झाबुआ । प्राचार्य नवोदय विद्यालय श्री अब्दुल हमीद ने बताया कि जवाहर नवोदय विद्यालय झाबुआ-1 में कक्षा 6वीं के लिए प्रवेष हेतु जवाहर नवोदय विद्यालय चयन परीक्षा 2020 के माध्यम से आॅनलाइन आवेदन पत्र 01 जुलाई से 15 सितम्बर 2019 तक आमंत्रित किए जा रहे है। इसकी संभावित चयन परीक्षा तिथि 11.01.2020 दिन षनिवार है। आवेदन के लिए अभ्यर्थी की जन्मतिथि 01.05.2007-30.04.2011 के मध्य (दिनो तिथियो षामिल) होनी चाहिए। इसके लिए आप नवोदय विद्यालय समिति की वेबसाइट ूूूण्दंअवकंलंण्हवअण्पद एवं जवाहर नवोदय विद्यालय झाबुआ-1 की वेबसाइट ूूूण्रदअरींइनं1ण्वतह पर जाकर आॅनलाईन आवेदन कर सकते हैं। अभ्यर्थी को कक्षा 3,4 एवं 5 (सत्र 2019-20) में झाबुआ जिले के इस विद्यालय की सीमा में आने वाले विकास खण्डो रामा, रानापुर, और झाबुआ के किसी सरकारी अथवा गैर सरकारी मान्यता प्राप्त विद्यालय में लगातार अध्ययनरत होना आवष्यक है।

अपनी सुरक्षा अपने हाथ में है आपकी सतर्कता जरूरी है-प्रिया सिपाहा
असुरक्षा महसूस करे तो 100 पर काॅल करे-एसपी जैनफिल्म भूल एक नसीहत एवं गुड टच बेड टच के माध्यम से बच्चो को दी गई सुरक्षा की जानकारी
jhabua news
झाबुआ । आज 10 जुलाई को कैथोलिक मिषन स्कूल में बच्चो को सुरक्षा सबंधी जानकारी देने के लिए कार्यक्रम आयोजित किया गया। कार्यक्रम मे मुख्य अतिथि श्रीमती प्रिया सिपाहा ने कहा कि अपनी सुरक्षा अपने हाथ में है,आपकी सतर्कता जरूरी है। जब तक आपकी पढाई पुरी ना हो तब तक कोई भी गलत कदम नही उठाए। कार्यक्रम मे श्रीमती सिपाहा ने पाक्सो एक्ट एंव बच्चो से संबंधित अन्य कानूनी प्रावधानो की जानकारी भी बच्चो को दी एवं उन्हे हमेषा सतर्क रहने के लिए कहा। पुलिस अधीक्षक श्री जैन द्वारा छात्र/छात्राओ में जागरूकता के लिए एक षार्ट फिल्म भूल एक नसीहत को दिखाया गया। एसपी जैन ने बताया कि यह फिल्म उन लडकियो के लिए सबक है जो भाग कर षादी करने की भुल कर बैठती है एवं उनके माता पिता के लिए चेतावनी है जो समय रहते बच्चो की समस्या का हल नही करते। समय पर पुलिस को सूचना नही देते एवं उनकी मदद नही लेते। यह उन लडको के लिए भी चेतावनी है जो नाबालिक लडकियो को बहला फुसलाकर भगा ले जाते है। पुलिस अधिक्षक श्री जैन ने कहा कि कोई भी समस्या मंे फस जाए या कही भी असुरक्षा महसूस करे तो 100 पर काॅल करे। आपका काॅल सीधे भोपाल कन्ट्रोल रूम पहुच जाएगा एवं 10 से 15 मिनट में आपके पास पुलिस पहुच जाएगी। इस कार्यक्रम में यातायात सुरक्षा, हैलमेट ना पहनने के नुकसान,लडकियो के साथ छेडखानी, आत्मरक्षा एवं सुरक्षा के उपाय आदि पर भी षार्ट फिल्म दिखाई गयी। कार्यक्रम में छात्र एवं छात्रओ को बालिका सुरक्षा आत्मरक्षा, गुडटच बेड टच, छोडखानी एवं यातायात के नियमों का पालन करने जैसे मुदो कंे बारे में चर्चा की गई। इस अवसर पर जागरूकता दिखाते हुये छात्राओ ने पुलिस अधीक्षक श्री जैन से सवाल भी किये।

मतदाता सूची में नवीन बसाहटों के मतदाताओं के नाम जुडेंगे
           
झाबुआ । राज्य निर्वाचन आयोग द्वारा नगरीय निकायों के आम निर्वाचन 2019 के लिए मतदाता सूची तैयार करने का कार्यक्रम जारी कर दिया गया है। सचिव राज्य निर्वाचन आयोग श्रीमती सुनीता त्रिपाठी ने सभी कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी को निर्देशित किया है कि मतदाता सूची में मतदाताओं का नाम जोडने के लिए विशेष अभियान चलायें। श्रीमती त्रिपाठी ने सामान्य मतदाताओं के नाम जोडने के साथ ही नवीन मतदाताओं, महिला, नवीन बसाहटों, दिव्यांग तथा दूरस्थ एवं बिखरे हुए समूहों के मतदाताओं के नाम जोडने के लिए विशेष कार्य-योजना बनाने को कहा है। उन्होंने कहा कि किसी भी पात्र मतदाता का नाम सूची से न छूटे।

1403 शिक्षक ट्राइबल स्कूलों में प्रतिनियुक्ति पर जायेंगे एन.ओ.सी. जारी

झाबुआ । स्कूल शिक्षा विभाग द्वारा आदिम-जाति कल्याण विभाग की शालाओं में प्रतिनियुक्ति के लिये 1403 प्राथमिक शिक्षक, माध्यमिक शिक्षक एवं उच्चतर माध्यमिक शिक्षकों के अनापत्ति प्रमाण-पत्र जारी किये गये हैं। आदिम-जाति कल्याण विभाग के पोर्टल ूूूण्जतपइंसण्उचण्हवअण्पद पर ऑनलाइन आवेदन करने की सुविधा उपलब्ध कराई गई है। आवेदक डच्ज्।।ै पर ट्रांसफर मॉड्यूल में शिक्षा विभाग से प्रतिनियुक्ति डच्ज्।।ै के विकल्प पर क्लिक करेगा। आवेदक द्वारा यूनिक आई.डी., मोबाइल नम्बर तथा ई-मेल दर्ज करने पर आवेदक के मोबाइल नम्बर तथा ई-मेल पर ओटीपी प्राप्त होगा। आवेदक द्वारा ओटीपी दर्ज करने पर अगली स्क्रीन पर आवेदक की सामान्य जानकारी जैसे नाम, पदनाम, विषय, वर्तमान पद-स्थापना एवं जिला आदि की जानकारी प्रदर्शित होगी। तत्पश्चात् आदिम-जाति कल्याण विभाग की शालाओं की जिलेवार जानकारी प्रदर्शित होगी। आवेदक प्रदर्शित शालाओं में से 5 शालाओं का चयन कर सकेगा। आवेदक को विभागीय शालाओं में प्रतिनियुक्ति के लिये आदेश जारी कर पदस्थ किया जायेगा। जिन शिक्षकों को स्कूल शिक्षा विभाग की अनुमति जारी कर दी गई है, वे तत्काल आदिम-जाति कल्याण विभाग के पोर्टल पर ऑनलाइन आवेदन करें, ताकि उनकी पद-स्थापना आदिम-जाति कल्याण विभाग की शालाओं में की जा सके।

स्नातक¨त्तर प्रथम वर्ष की प्रवेश आवंटन सूची जारी
    
झाबुआ । उच्च शिक्षा विभाग द्वारा आॅनलाइन प्रवेश प्रक्रिया (2019-20) के प्रथम चरण के स्नातक¨त्तर प्रथम वर्ष की प्रवेश आवंटन-सूची जारी कर दी गई है। विद्या्यार्थी मचतंअमेीण्उचवदसपदमण्हवअण्पद पर प्रवेश आवंटन-पत्र प्रिन्ट कर संबंधित महाविद्यायलय में मूल दस्तावेज के साथ मंगलवार 9 जुलाई क¨ उपस्थित ह¨कर शुल्क जमा कर सकते हैं।
सभी विद्यार्थिय¨ं के पास सभी आवश्यक दस्तावेज¨ं के साथ म¨बाइल सेट का ह¨ना अनिवार्य ह¨गा, जिस पर अ¨.टी.पी. से प्रवेश शुल्क लिंक इनिशिएट किया जा सकेगा। सभी महाविद्यालय¨ं के प्राचायर्¨ं क¨, विद्यार्थिय¨ं की सुविधाजनक बैठक व्यवस्था के साथ आवश्यक दस्तावेज एवं अ¨.टी.पी. लिंक की जानकारी, पर्याप्त संख्या में अलग-अलग दस्तावेज सत्यापन एवं लिंक इनिशिएट करने के, लिये काउंटर बनाकर प्रवेश प्रक्रिया सम्पादित करने के, निर्देश दिये गये हैं।

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...