मानसिक संतुलन खो चुकी हैं ममता : मुकुल रॉय - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

सोमवार, 22 जुलाई 2019

मानसिक संतुलन खो चुकी हैं ममता : मुकुल रॉय

mamta-become-mental-mukul-roy
कोलकाता, 22 जुलाई, भाजपा के वरिष्ठ नेता मुकुल रॉय ने सोमवार को दावा किया कि पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी अपना ‘‘मानसिक संतुलन’’ खो चुकी हैं क्योंकि वह भाजपा नेताओं से काला धन लौटाने की मांग कर रही हैं। इस पर पलटवार करते हुए तृणमूल कांग्रेस ने कहा कि बनर्जी का मानसिक संतुलन सिर्फ उसी वक्त खोया था जब उन्होंने 2012 में रेलमंत्री के तौर पर तत्कालीन तृणमूल सांसद रॉय के नाम की सिफारिश की थी। रॉय ने पत्रकारों से कहा, ‘‘ऐसा प्रतीत होता है कि वह अपना मानसिक संतुलन खो बैठी हैं। वह भाजपा से काला धन लौटाने की मांग कर रही हैं। वह और लोगों को 25 प्रतिशत धन कटौती का भाषण दे रही हैं। लेकिन बाकी 75 प्रतिशत का क्या, जिसे उनके वरिष्ठ नेताओं ने बेईमानी से चुरा लिया? पहले तो उन्हें पैसे लौटाने चाहिए, फिर दूसरों को नसीहत देनी चाहिए।’’  उनका यह बयान बनर्जी की रविवार को उस घोषणा की पृष्ठभूमि में आया है जिसमें उन्होंने कहा था कि पार्टी 26 जुलाई को राज्यव्यापी कार्यक्रम आयोजित करेगी और उज्ज्वला योजना के माध्यम से भाजपा द्वारा कथित रूप से लिये गये काले धन को लौटाने की मांग करेगी।

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...