प्रधानमंत्री मोदी ने भाजपा की महिला सांसदों से मुलाकात की - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

शुक्रवार, 12 जुलाई 2019

प्रधानमंत्री मोदी ने भाजपा की महिला सांसदों से मुलाकात की

pm-meet-women-bjp-mp
नयी दिल्ली, 12 जुलाई , प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने अपने आवास पर भाजपा की महिला सांसदों के साथ शुक्रवार को सुबह नाश्ते पर मुलाकात की और उन्हें नई जिम्मेदारियां लेने तथा अपने क्षेत्र में कुपोषण की समस्या सहित नए क्षेत्रों में काम करने का सुझाव दिया। प्रधानमंत्री मोदी ने पार्टी की महिला सांसदों से अपना परिचय देने को कहा । उन्होंने कहा कि सबको एक-दूसरे के बारे में पता होना चाहिए । बैठक में शामिल एक सांसद ने बताया कि प्रधानमंत्री ने उनसे कहा कि राजनीति सिर्फ अपने बारे में नहीं, बल्कि दूसरों के लिए होती है । मोदी ने कहा कि महिला सांसदों को नई जिम्मेदारियां लेनी चाहिए और उन्हें नए क्षेत्रों में काम करना चाहिए । बच्चों के कुपोषण का जिक्र करते हुए उन्होंने कहा कि महिला सांसद ऐसे क्षेत्रों में बच्चों को पौष्टिक भोजन देने की दिशा में काम कर सकती हैं जहां कुपोषण की समस्या है । उन्होंने गुजरात में हुए एक प्रयोग का जिक्र किया जब एक स्वस्थ और हष्ट-पुष्ट बच्चे की तस्वीर माताओं को अपने मोबाइल पर डालने को कहा जाता था जिसे देख कर अन्य महिलाओं को अपने बच्चे को भी तंदुरुस्त रखने की प्रेरणा मिलती हो ।  प्रधानमंत्री से मुलाकात के कार्यक्रम में पार्टी के सांसदों को सात समूहों में बांटा गया है और यह पांचवें समूह के साथ उनकी बैठक थी। नवनिर्वाचित 17वीं लोकसभा में कुल 78 महिला सांसद हैं। स्वतंत्रता के बाद लोकसभा में महिला सांसदों की यह सर्वाधिक संख्या है। इनमें से 41 महिला सांसद भाजपा से हैं। भाजपा के एक नेता ने बताया कि मोदी के साथ संसद के दोनों सदनों के भाजपा सांसदों की मुलाकात का कार्यक्रम इस उद्देश्य से बनाया गया है ताकि उन्हें प्रधानमंत्री के साथ सीधे संवाद का मौका मिल सके । इस तरह की मुलाकात उन्हें प्रधानमंत्री के साथ चर्चा करने का अवसर प्रदान करती है ताकि उनका विभिन्न विषयों पर मार्गदर्शन हो सके, खासतौर पर संसद से जुड़े विषयों के बारे में ।  एक महिला सांसद ने बताया कि यह अनौपचारिक मुलाकात थी और इस दौरान उन्होंने (प्रधानमंत्री ने) हमसे बात की ।  इस मुलाकात के दौरान गृह मंत्री एवं भाजपा अध्यक्ष अमित शाह और संसदीय कार्य मंत्री प्रह्लाद जोशी भी मौजूद थे ।  गौरतलब है कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने 16वीं लोकसभा के दौरान भी विभिन्न राज्यों के पार्टी सांसदों से मुलाकात की थी और उनसे सरकार के एजेंडे के बारे में चर्चा की थी ।  इससे पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने युवा सांसदों से अपने घर पर नाश्ते पर मुलाकात की थी। प्रधानमंत्री ने युवा सांसदों से पूछा था कि राजनीति के अलावा आप क्या-क्या काम करते हैं? इसके अलावा बाकी कामों में क्या रुचि है? प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा था कि राजनीति के अलावा जो काम आप करते हैं, समाज में वह उभर कर सामने आना चाहिए। लोगों को उनकी जानकारी होनी चाहिए ।  पिछले दिनों भाजपा संसदीय दल की बैठक में प्रधानमंत्री मोदी ने 2 अक्टूबर (गांधी जयंती) से लेकर 31 अक्टूबर (सरदार पटेल जयंती) तक सभी सांसदों को अपने-अपने क्षेत्र में 150 किलोमीटर पदयात्रा निकालने का निर्देश दिया था ।

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...