सीहोर (मध्यप्रदेश) की खबर 11 जुलाई - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

गुरुवार, 11 जुलाई 2019

सीहोर (मध्यप्रदेश) की खबर 11 जुलाई

अंतरराष्ट्रीय हिन्दू परिषद ने केंद्र सरकार की दोगली नीति का किया विरोध 
विरोध रैली निकालकर राष्ट्रपति के नाम कलेक्टर को दिया ज्ञापन 
sehore news
सीहोर। अंतरराष्ट्रीय हिन्दू परिषद ने केंद्र सरकार की दोगली नीति के खिलाफ कड़ा विरोध दर्ज कराया है। परिषद के सैकड़ों कार्यकर्ताओं ने प्रांत अध्यक्ष अतुल राठौर काका के नेतृत्व में टाउन हाल परिसर से कलेक्ट्रेट तक आक्रोश रैली निकाली। कार्यकर्ताओं ने राष्ट्रपति के नाम का ज्ञापन डिप्टी कलेक्टर रवि वर्मा को सौपा। अंतरराष्ट्रीय हिन्दू परिषद के प्रांत अध्यक्ष अतुल राठौर ने बताया की केंद्र सरकार के द्वारा हिन्दू समाज की उपेक्षा की जा रहीं है। विशेष वर्ग को सरकार के द्वारा देश भर में लाभ पहुंचाया जा रहा है केंद्र सरकार के द्वारा वोट बैंक की राजनीति की जा रहीं है इस से संपूर्ण हिन्दू समाज ठगा महसूस कर रहा है। केंद्र सरकार के द्वारा मुस्लिम तुष्टीकरण के कारण देश भर में हिन्दू मठ मंदिरों पर वर्ग विशेष के द्वारा आक्रमण कर क्षति पहुंचाई जा रहीं है। हिंसा के माध्यम से हिन्दू समाज में भय का माहौल पैदा किया जा रहा है जबकी चुनाव के समय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सबका विकास सब का साथ का नारा दिया था लेकिन अब हिन्दू समाज की उपेक्षा की जा रही है। केंद्र सरकार के द्वारा देश के इस्लामीकरण में बढ़ावा दिया जा रहा है।  ज्ञापन देने वालों में शंकर ठाकुर, ज्ञान सिंह मेवाड़ा, प्रकाश परमार, मनीष मेवाड़ा, पृथ्वी सिंह मेवाड़ा, तरूण राठौर, अनौखीदादा, मनोज आर्य, बंटी राठौर, नवीन आर्य, पम्मी मेवाड़ा, मदन मेवाड़ा, राहुल मेवाड़ा, प्रवेश राठौर, मुरली नामदेव, प्रशांत राठौर, बलराज परमार, नवीन राठौर, अवदेश राठौर, दीपक, राहुल राठौर,मोहन राठौर जितेंद्र पहलवान, गोलू बैरागी , सतीष चौरसिया, कृष्णा सिसोदिया आदि सहित बड़ी संख्या में कार्यकर्तागण मौजूद रहे। 

सीहोर के नागरिकों से बंद हो फंदा टोल पर वसूली, नियम मानने को तैयार नहीं है टोल प्रबंधक 
टोल नाके से  शहर की दूरी मात्र १२ किलोमीटर  
सीहोर। नियम विरूध फंदा टोल टेक्स पर सीहेार के नागरिकों से वसूली की जा रहीं है। टोल टैक्स नियम में २० किलोमीटर के दायरे में रहने वाले नागरिको के वाहनों से टेक्स की वसूली नहीं की जा सकती है। कांग्रेस किसान एवं खेत मजदूर विभाग के प्रदेश उपाध्यक्ष केके गुप्ता ने कलेक्टर अजय गुप्ता को इस मामले से अवगत कराया है। बावजूद इस के फंदा टोल टेक्स के प्रबंधक इस नियम को मानने और किसी की सुनने को तैयार नहीं है।  प्रदेशा उपाध्यक्ष श्री गुप्ता ने बताया की फंदा टोल नाके से सीहेार शहर की दूरी मात्र १२ किलोमीटर है इस के बाद भी शहर के चार पहिया वाहन चालकों को खजूरी या भोपाल जाते वक्त फंदा टोल पर टैंक्स चुकाना पड़ता है। सीहेार निवासी कई लोगो की घरेलू जमीन और कार्यालय स्थल फंदा टोल कोरिडोर के आसपास मौजूद है कई दुकानदारों आमजनों को वाहनों से भोपाल आना जाना पड़ता हे। श्री गुप्ता ने प्रशासन से फंदा टोल टैक्स पर सीहेार के वाहन चालकों पर लगाया जाने वाला टैक्स बंद कराने और कोरिडोर पर सीहेार से जाने वाले वाहनों के लिए अलग साईड से रास्ता बन बाने की मांग जनहित में की है। 

मप्र शिक्षक कांग्रेस ने डीईओ से की भेंट

sehore news
सीहोर। गुरुवार को मध्यप्रदेश शिक्षक कांग्रेस के तत्वाधान में नवनियुक्त जिला शिक्षा अधिकारी एसपी सिंह बिसेन से भेंट कर एक ज्ञापन सौंपा गया। इस संबंध में मध्यप्रदेश शिक्षक कांग्रेस के जिलाध्यक्ष मुकेश निमोदिया ने शिक्षकों की समस्याओं से अवगत कराया गया। ग्रीष्मकालीन अवकाश एवं बीएलओ के द्वारा जो कार्य किया गया है। उसका अर्जित अवकाश संरक्षित किया जावें। इस संबंध में अधिकारी महोदय द्वारा लिपिक से चर्चा कर संकुल प्राचार्यों को निर्देशित किया। वहीं इस मौके पर अन्य समस्याओं को लेकर चर्चा की गई। इस दौरान नवनियुक्त जिला शिक्षा अधिकारी का मप्र शिक्षक कांग्रेस की ओर से स्वागत और सम्मान भी किया गया। कार्यक्रम के दौरान जेपी शर्मा, कैलाश राठौर, आरके बांगरे, नीना दुबे,  आरडी सोलंकी, अरुण व्यास, भैरव सिंह शाक्य, राजेन्द्र देशमुख, आरके शर्मा, पीके शर्मा, गणेश शर्मा, पीसी कौशल, राजमल वर्मा, दरयाव मालवीय, सरोज मालाकार, अखिलेश गंगवार, निर्मल निगोदिया आदि शामिल थे। 

विसंगतियों को किया जाए दूर
इसके अलावा इस मौके पर पूर्व जिला शिक्षा अधिकारी द्वारा हाई स्कूल/ हायर सेकेन्डरी के शिक्षकों की सूची अतिशेष से संबंधित सूची जारी की गई थी। जिसमें कई विसंगतियां थी। उनको संशोधन के पश्चात नई सूची जारी करने की मांग प्रमुख रूप से जिला शिक्षा अधिकारी श्री बिसेन से की गई। 

विश्व जनसंख्या दिवस पर परिवार विकास मेले का हुआ आयोजन, निबंध एवं भाषण प्रतियोगिता के प्रतिभागियों को बांटे गए पुरस्कार

sehore news
विश्व जनसंख्या दिवस पर ट्रामा सेंटर स्थित मातृ-शिशु स्वास्थ्य केन्द्र परिसर  में परिवार विकास मेले का आयोजन किया गया। इस अवसर पर नवदंपत्ति सम्मेलन आयोजन कर नई पहल किट का वितरण किया गया। साथ ही जनसंख्या स्थिरता विषय पर आयोजित निबंध एवं भाषण प्रतियोगिता के उत्कृष्ट प्रतिभागियों को  ट्राफी एवं प्रशस्ति पत्र प्रदान किए गए।  परिवार विकास  मेले के अवसर पर प्रेरणा कार्नर का के माध्यम से अस्थायी साधनों एवं परिवार कल्याण सेवाओं की प्रदर्शनी भी आयोजित की गई थी वहीं नवदंपत्ति सहित सभी उपस्थिति को परिवार कल्याण कार्यक्रम की प्रचार-प्रसार सामग्री का वितरण किया गया। समारोह को मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. प्रभाकर तिवारी, जिला परिवार कल्याण अधिकारी डॉ. आनंद शर्मा, प्रभारी सिविल सर्जन डॉ.आर.के.वर्मा, क्लींटन फाउंडेशन जिला समन्वयक सुश्री संध्या चैकीकर, शिक्षक प्रतीभा यादव, छात्रा कुमारी कशीश दुबे तथा कुमारी खुशी खरे ने संबोधित किया। कार्यक्रम का संचालन जिला आईईसी सलाहकार श्री शैलेश कुमार द्वारा तथा आभार विशेषज्ञ चिकित्सक डॉ. नीतिन पटेल, द्वारा किया गया। उत्कृष्ट छात्रों को मिला पुरस्कार-विभाग द्वारा जनसंख्या नियंत्रण पर निबंध एवं भाषण प्रतियोगिता का आयोजन किया गया था। निबंध में प्रथम स्थान शास.उत्कृष्ट उच्चतर माध्यमिक विद्यालय के छात्र प्रियांशु सल्लाम, द्वित्तीय दी आक्सफोर्ड स्कूल  की छात्रा कुमारी प्रियांशी भावलपुरी, तृतीय केन्द्रीय विद्यालय की छात्रा कुमारी ईशा खरे को प्रदान किया गया वही प्रोत्साहन पुरस्कार कुमारी तनु राठौर शासकीय कस्तूरबा कन्या उच्चतर माध्यमिक विद्यालय की कुमारी अंकिता यादव शासकीय हाईस्कूल ग्वालटोली तथा कुमारी स्वाती राठौर एमएलबी को प्रदान किया गया। भाषण में प्रथम स्थान कु.कशीश दुबे नूतन हायर सेकेण्डरी, द्वित्तीय अम्बर शर्मा शास.उत्कृष्ट उच्चतर माध्यमिक विद्यालय, तृत्तीय कु.खुशी खरे केन्द्रीय विद्यालय को प्रदान किया गया। प्रोत्साहन पुरस्कार कु.गायत्री शास.हाईस्कूल ग्वालटोली,कु.शिवानी कस्तूरबा कन्या उच्च.मा.विद्या.,कु.निकीता मेवाड़ा दी आक्सफोर्ड स्कूल को प्रदान किया गया। नव दंपत्तियों को दी गई नई पहल किट-नव दंपत्ति सम्मेलन में नव विवाहित जोडों को नई पहल किट का वितरण किया गया। श्रीमती नीतू, आरती, श्रैया, अंकिता, फातमा, हीना, शीला, नाएला, नाहीद, कहकशा, रेशमा, रचना, ललिता, ककाजल तथा गौरी मुजेबिल को नई पहल किट वितरित की गई। नई पहल किट में एक बैग, आईना, कंघी, प्रेगेनेन्सी टेस्ट किट, सेनेटरी नेपकिन, रूमाल, नेपकिन, बिंदिया, परिवार कल्याण के अस्थायी साधन पर परिवार नियोजन से संबंधित साहित्य किट में प्रदान गया। नई पहल किट वितरण में डीएसएम श्रीमती विंध्यावासिनी कुशवाहा एवं सीहोर शहर की आशा कार्यकर्ताओं की महत्वपूर्ण भूमिका रही।

माहर्षि वाल्मिकी प्रोत्साहन योजना अन्तर्गत होंगे ऑनलाइन आवेदन

जनजातीय कार्य विभाग जिला संयोजक ने जानकारी देते हुए बताया कि जेईई, क्लेट, एम्स, नीट की वर्ष 2019 की परीक्षा के माध्यम से आईआईटी, एनआईटी, विधि संस्थानों में चयनित होकर उत्कृष्ट संबंधित संस्थान में प्रवेश लेने वाले अनुसूचित जाति के विद्यार्थियों को महर्षि वाल्मिकी प्रोत्साहन योजना वर्ष 2019-20 में प्रोत्साहन राशि आवेदन पत्र आमंत्रित किए गए हैं। प्रवेश की पात्रता परीक्षा उत्तीर्ण होने की सूचना एवं संस्था में प्रवेश लेने की प्रमाणित जानकारी के साथ आवेदन प्रस्तुत करना होगा। आवेदक मप्र का मूल निवासी अनुसूचित जाति वर्ग का सदस्य हो। महर्षि वाल्मिकी प्रोत्साहन योजना की विस्तृत जानकारी विभागीय एससी डवलपर्स पोर्टल पर देखी जा सकती हैं। विभागीय पोर्टल के सूचना पटल पर उपलब्ध लिंक को

सोयाबीन फसल हेतु कृषकों को लिए समसामयिक सलाह

जिले में सोयाबीन बोने वाले कृषकों के लिए किसान कल्याण तथा कृषि विभाग द्वारा समसामयिक सलाह दी गई है। जिसमें सोयाबीन बोनी करते समय किसान भाई प्रमाणित बीज, बीज उपचार दवा, थामरस एवं कार्बोक्सिन 3 ग्राम/ किलोग्राम तथा जैविक बीज उपचार ट्रायकोडर्मा 10 ग्राम/ किलोग्राम की दर से बीजोपचार कर बोनी करें। जहां खेतों में जलभराव की स्थिति है, वहॉ जल निकास का उचित प्रबंध करें। मक्का फसल  के साथ  अरहर, मूंग, उडद आदि की अंतरवर्तीय फसलें लें। साथ ही जहां मक्का फसल बुवाई हो चुकी है वहां पर फाल आर्मी वार्म कीट के प्रकोप की संभावना रहती है इससे बचने के लिए कीटनाशक दवाई का उचित मात्रा में छिडकाव करें।

प्रायवेट स्कूलों के प्राचार्यों एवं मैजिक संचालकों की बैठक आज

कलेक्टर श्री अजय गुप्ता के निर्देशानुसार जिले में स्कूल बच्चों का सुरक्षित परिवहन करने के लिए जिले में संचालित प्रायवेट स्कूलों के प्राचार्यों एवं मैजिक संचालकों की बैठक 12 जुलाई को जिला पंचायत सभाकक्ष में आयोजित की जाएगी। बैठक में जिले के समस्त प्रायवेट स्कूल प्राचार्य एवं मैजिक संचालक उपस्थित होना सुनिश्चत करें।  

प्रदेश के प्राइवेट कॉलेज के बी.डी.एस. विद्यार्थियों की फीस शासन देगा

मुख्यमंत्री मेधावी विद्यार्थी योजना में प्रदेश में स्थित प्रायवेट डेंटल कॉलेज में वर्ष 2017-18 में बी.डी.एस. पाठ्यक्रम में प्रवेशित विद्यार्थियों की पाठ्यक्रम पूरा होने तक देय फीस राज्य शासन देगा। तकनीकी शिक्षा, कौशल विकास एवं रोजगार विभाग द्वारा इस संबंध में संशोधित आदेश जारी कर किया गया। आदेश में स्पष्ट किया गया है कि उन विद्यार्थियों को ही पाठ्यक्रम पूर्ण होने पर देय शुल्क शासन वहन करेगा, जिन्होंने प्रवेश के समय इस योजना का लाभ प्राप्त किया हो।

चिकित्सकों एवं अस्पताल संचालकों को आवश्यक निर्देश जारी

मध्यप्रदेश नर्सिग होम एक्ट तथा संचालनालय के निर्देशों के अनुसार बिना सक्षम अधिकारी की अनुमति/पंजीयन के प्रायवेट प्रेक्टिस न करें न ही अस्तपताल संचालित करें। पैथॉलाजी लेब भी ऐसे चिकित्सक द्वारा संचालित की जायेगी जो एम डी होगें। निरीक्षण के दौरान शासन के नियमों/निर्देशों का उल्लंघन पाये जाने पर संबंधित चिकित्सक/अस्पताल संचालक के विरूद्ध अनुशासनात्मक कार्यवाही की जायेगी, इसके लिए वे स्वयं उत्तरदायी होगें। साथ ही निजी चिकित्सकों/अस्पताल संचालकों से भी कहा है कि वे एक्ट के अंतर्गत पंजीयन की एक प्रति मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी कार्यालय में अविलंब प्रस्तुत करें।

रोजगार की जानकारी के लिए Jobs in MP पोर्टल

प्रदेश के युवाओं को एमएसएमई इकाईयों में रोजगार के अवसरों की जानकारी के लिये तथा vacancy होने पर आवेदन की सुविधा के लिये एमएसएमई  (jobsinmp.mpmsme.gov.in) विभाग द्वारा पोर्टल तैयार किया गया है। इस पोर्टल का उद्देश्य रोजगार के इच्छुक युवाओं एवं रोजगार प्रदान करने वाली औद्योगिक इकाईयों के मध्य संवाद स्थापित करना है, ताकि युवाओं को रोजगार के अधिक से अधिक अवसर प्राप्त हो सकें। पोर्टल पर शिक्षित बेरोजगार युवा निर्धारित प्रपत्र अनुसार स्वयं का विवरण दर्ज करते हुए पंजीकरण कर सकते हैं, ताकि पोर्टल के माध्यम से उनके विवरण का अवलोकन जॉब प्रदाता औद्योगिक इकाईयॉ कर सकें। ऐसे शिक्षित बेरोजगार युवा, जो रोजगार के इच्छुक हैं, वे इस पोर्टल पर स्वयं का विवरण दर्ज करते हुए पंजीकरण करायें। साथ ही औद्योगिक इकाईयों से भी यह अपेक्षा है, कि वे अपनी आवश्यकता के अनुरूप रोजगार प्रदान करने बाबत अपना पंजीयन करायें, ताकि पोर्टल के माध्यम से शिक्षित बेरोजगारों को रोजगार प्राप्त हो सके।

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...