पूर्णिया : 14 वर्षीय नाबालिग का शव बांस की झाड़ी में बरामद - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

मंगलवार, 9 जुलाई 2019

पूर्णिया : 14 वर्षीय नाबालिग का शव बांस की झाड़ी में बरामद

teen-body-found-purnia
पूर्णिया (आर्यावर्त संवाददाता) : मुफस्सिल थाना क्षेत्र के डिमिया छतरजान पंचायत अंतर्गत मटिया गांव के वार्ड 13 में मंगलवार की अहले सुबह एक 14 वर्षीय नाबालिग लड़की की हत्या कर शव को गांव के बगल के बांस झाड़ी में फेंकने का मामला प्रकाश में आया है। वहीं इस घटना को लेकर गांव के लोग काफी भयभीत हैं। जैसे ही मामले की जानकारी ग्रामीणों को मिली सैकड़ों की संख्या में ग्रामीण घटनास्थल पर शव को देखने के लिए उमड़ पड़े। ग्रामीणों ने शव की पहचान मटिया गांव निवासी अब्दुल सलाम की 14 वर्षीय पुत्री मिनारा खातून के रूप में की। मौके पर मौजूद ग्रामीणों ने घटना की जानकारी मुफस्सिल पुलिस व स्थानीय जनप्रतिनिधियों को दी। वहीं ग्रामीणों ने आरोप लगाया कि थाना में जानकारी देने के बावजूद भी मुफस्सिल पुलिस 3 घंटे लेट से पहुंची। प्राप्त जानकारी के अनुसार मृतका 10 वीं वर्ग की छात्रा थी। वह चांदी रजीगंज उच्च विद्यालय में पढ़ाई करती थी। आठ भाई बहन में वह चौथे स्थान पर थी। रविवार की रात्रि करीब 8 बजे से वह घर से गायब थी। जिसकी खोजबीन उसके परिजन दो दिनों से कर रहे थे। शव को देखने से प्रथम दृष्टया ऐसा लग रहा था लड़की गर्भावस्था में थी जिस कारण गला मरोड़ कर उसकी हत्या कर बांस की झाड़ी में फेंक दिया है। इस संदर्भ में ग्रामीणों ने बताया कि सुबह एक महिला बांस झाड़ी में गई तो देखा कि एक लड़की का शव पड़ा है। जिसकी जानकारी हल्ला कर गांव के अन्य लोगों को दी। मौके पर मौजूद लोगों ने शव की पहचान कर परिजनों को बुलाया। वहीं मृतका के भाई मो रकीब ने बताया कि रविवार की रात्रि करीब 8 बजे मेरी बहन घर में पढ़ाई कर रही थी उसी दौरान बिजली चली गई। जिसके बाद वह अपने चाची के घर चली गई। हमलोग सोचे कुछ देर में आ जाएगी, नहीं आने पर हमलोगों ने खोजबीन शुरू कर दी। लेकिन उसका कोई पता नहीं चला। जिसके बाद मंगलवार की सुबह पता चला कि उसका शव बांस झाड़ी में पड़ा हुआ है। वहीं मृतका के पिता अब्दुल सलाम ने अपने ही भाई के पुत्र पर हत्या की आशंका जताई है। उन्होंने बताया कि मेरी पुत्री शांत स्वभाव की लड़की थी। वह किसी से ज्यादा बातचीत नहीं करती थी। घटना की जानकारी के बाद 10:20 बजे मुफस्सिल थानाध्यक्ष मदन कुमार अपने दल बल के साथ घटनास्थल पर पहुंचकर मामले की जांच में जुट गए। मृतका के बारे में परिजनों से विस्तृत जानकारी भी ली एवं शव को कब्जे में ले पोस्टमार्टम के लिए सदर अस्पताल भेज दिया।

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...