संगीत कार्यशाला सह संगीत प्रदर्शन का आयोजन - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

रविवार, 25 अगस्त 2019

संगीत कार्यशाला सह संगीत प्रदर्शन का आयोजन

एक अच्छी तरह से प्रशिक्षित संगीतकार किसी भी क्षेत्र में आसानी से शास्त्रीय या बॉलीवुड प्रदर्शन कर सकता है - आदित्य नारायण
music-workshop
न्यू जर्सी / कोलकाता / उज्जैन: कल पंडित प्रणव कुमार बिस्वास और पंडित आदित्य नारायण बनर्जी द्वारा एक अच्छी संगीत कार्यशाला सह संगीत प्रदर्शन किया गया था। फेम बॉलीवुड जगह संगीत कार्यशाला का आयोजन करता है।जयेश मेहता और Vibrnz.com द्वारा आयोजित....  णब जी ने दर्शकों को एक शास्त्रीय रचना सिखाई और फिर उन्होंने राग यमन में कुछ शास्त्रीय रचनाएँ गाईं।प्रणब कुमार की आवाज़ इतनी खूबसूरती से समृद्ध है कि वह भारतीय संगीत के किसी भी क्षेत्र को संवार सकते हैं। प्रणब जी ने ठुमरी, भजन, गजल और बॉलीवुड गीतों को अपने कुछ बॉलीवुड फिल्म गीतों सहित विभिन्न रागों में गाया। आदित्य नारायण जी अपने विषय में इतने निपुण हैं कि ऐसा लगता है कि वे संगीत के उस क्षेत्र के विशेषज्ञ हैं। तबले पर आदित्य जी की उंगलियां गाती हैं।  उन्होंने प्रणब कुमार जी को बहुत अच्छा सहयोग दिया। आयोजकों द्वारा यह एक अच्छी पहल थी।  वैसे यह एक अच्छी प्रस्तुति थी और पंडित रतन मोहन शर्मा और आदित्य नारायण बनर्जी की पहली पकड़ की तरह ही यह बहुत समृद्ध थी।

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...