राजीव को सोनिया और राजनीतिक दिग्गजों ने दी श्रद्धांजलि, राहुल-प्रियंका ने पिता की शिक्षा याद की - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

मंगलवार, 20 अगस्त 2019

राजीव को सोनिया और राजनीतिक दिग्गजों ने दी श्रद्धांजलि, राहुल-प्रियंका ने पिता की शिक्षा याद की

tribute-to-rajiv-gandhi-on-his-birthday
नयी दिल्ली, 20 अगस्त, पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी की 75वीं जयंती पर मंगलवार को पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी, पूर्व उप राष्ट्रपति हामिद अंसारी, कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी, पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह, कांग्रेस नेता राहुल गांधी और कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने उन्हें श्रद्धांजलि दी। राहुल गांधी और प्रियंका ने अपने पिता को याद करते हुए कहा कि राजीव गांधी की दूरदर्शी नीतियों से भारत के निर्माण में मदद मिली। मुखर्जी, सोनिया, अंसारी, मनमोहन, राहुल, प्रियंका और कांग्रेस के कई अन्य वरिष्ठ नेताओं ने राजीव गांधी की समाधि पर पहुंचकर उन्हें श्रद्धांजलि अर्पित की। मनमोहन सिंह ने यहां एक कार्यक्रम में राजीव गांधी के योगदान को याद करते हुए कहा, ‘‘ राजीव गांधी वह व्यक्ति थे जिन्होंने प्रगतिशील, आधुनिक और वैज्ञानिक दृष्टिकोण के साथ देश को एक नयी सहस्राब्दी में ले जाने के लिए दिशा तय की। उन्होंने संचार और सूचना प्रौद्योगिकी, लोकतंत्र को जमीनी स्तर पर मजबूत बनाने, मिजोरम में दशकों से चली आ रहे उग्रवाद को खत्म करने, चीन के साथ नए सिरे से संवाद की शुरुआत करने, प्रौद्योगिकी मिशन की शुरुआत करने से लेकर कई क्षेत्रों में बड़े प्रयास किए।’’ उन्होंने कहा, ‘‘ ये उपलब्धियां राजीव गांधी के दृष्टिकोण और प्रयासों का सीधा परिणाम हैं तथा इनसे हमें विकास के लिए आगे कदम उठाने का मजबूत आधार मिला। यह हमारा प्रयास होगा कि उनके द्वारा शुरू किए गए कार्यों को आगे ले जाएं।’’ 

राहुल ने अपने पिता को याद करते हुए ट्वीट किया, 'आज हम राजीव गांधी जी की 75वीं जयंती मना रहे हैं जो एक देशभक्त और दूरदर्शी व्यक्ति थे तथा जिनकी दूरदर्शी नीतियों ने भारत के निर्माण में मदद की।' उन्होंने कहा, 'मेरे लिए वह एक बहुत प्यार करने वाले पिता थे जिन्होंने मुझे सिखाया कि कभी किसी से नफरत मत करो, माफ करो और सभी इंसानों से प्यार करो।' प्रियंका ने कहा, 'अपने पिता से मैंने सीखा कि लोगों की बातों को कैसे सुना जाए और उनके लिए अपने दिल में जगह बनाई जाए, चाहे वो हमसे कितने भी विपरीत हों।' कांग्रेस के कई अन्य वरिष्ठ नेताओं ने भी राजीव गांधी के योगदान और उपलब्धियों को याद किया। सोनिया और राहुल गांधी ने राजीव गांधी की स्मृति में एक प्रदर्शनी का उद्घाटन भी किया जिसमें बतौर प्रधानमंत्री उनके योगदान और उपलब्धियों को दर्शाया गया है। राजीव गांधी की जयंती के मौके पर मंगलवार को भारतीय युवा कांग्रेस ने देश भर में रक्तदान शिविरों का आयोजन किया जिसमें संगठन के पदाधिकारियों और कार्यकर्ताओं ने रक्तदान किया। एनएसयूआई ने राजीव गांधी की जयंती पर पौधे लगाए। राजीव गांधी की 75वीं जयंती के मौके पर इस सप्ताह कांग्रेस पूरे देश में विभिन्न कार्यक्रमों का आयोजन कर रही है जिनमें बतौर प्रधानमंत्री राजीव गांधी के योगदान और उपलब्धियों का उल्लेख किया जाएगा। अक्टूबर, 1984 से दिसंबर 1989 तक देश के प्रधानमंत्री रहे राजीव गांधी का जन्म 20 अगस्त, 1944 को हुआ था। वह 40 की आयु में देश के सबसे कम उम्र के प्रधानमंत्री बने थे।

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...