मधुबनी : भारी वर्षा एवं संभावित बाढ़ के मद्देनजर मुख्यमंत्री ने दिए आवश्यक निर्देश - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

शनिवार, 28 सितंबर 2019

मधुबनी : भारी वर्षा एवं संभावित बाढ़ के मद्देनजर मुख्यमंत्री ने दिए आवश्यक निर्देश

cm-alert-madhubani-for-rain-and-flood
मधुबनी (आर्यावर्त संवाददाता) : श्री नीतीश कुमार,के द्वारा शनिवार को विडिया कान्फ्रेंसिंग के माध्यम से सभी जिला पदाधिकारी को भारी वर्षापात एवं बाढ़ के मद्देनजर आवश्यक तैयारी करने एवं दिनांक 15 अक्टूबर तक अलर्ट मोड में रहने का निदेश दिया गया।  बैठक में श्री दुर्गानंद झा, अपर समाहर्ता,मधुबनी, श्रीमती रेणु कुमारी, जिला सूचना एवं जनसंपर्क पदाधिकारी,मधुबनी, श्री सूर्यप्रकाश राम, जिला मत्स्य पदाधिकारी,मधुबनी, श्री सोमेश्वर प्रसाद, जिला सांख्यिकी पदाधिकारी,मधुबनी समेत सभी तकनीकी पदाधिकारीगण उपस्थित थे।   विडियो कान्फ्रेंसिंग के माध्यम से जिला पदाधिकारी, मधुबनी को जिले में एन0डी0आर0एफ0/एस0डी0आर0एफ0 की तैनाती,राहत कैंप संचालन, कम्युनिटी किचने हेेतु आवश्यक तैयारी के साथ-साथ क्षेत्रीय पदाधिकारियों/कर्मचारियों को स्थिति पर नजर रखने का निदेश दिया गया। तथा सभी बांधों की जांच प्रत्येक दो घंटे पर करने का निदेश दिया गया।  इसी संदर्भ में जिला पदाधिकारी, मधुबनी के द्वारा जिला स्तरीय सभी पदाधिकारियों को विडियों कान्फ्रेंसिंग में दिये गये निदेशों का अनुपालन करने का निदेश दिया गया। खासकर बाढ़ नियंत्रण प्रमंडल-01 एवं 02 के कार्यपालक अभियंता को 24 घंटे अपने कनीय अभियंता एवं अन्य पदाधिकारियों को बांध की निगरानी कराने का निदेश दिया गया। सभी पदाधिकारियों को आपात स्थिति की सूचना शीघ्र वरीय पदाधिकारी को देने का निदेश दिया गया। सिविल सर्जन, मधुबनी को मोबाईल मेडिकल टीम को तुरंत क्षेत्र में भेजने एवं प्रभावित लोगों तक शीघ्र चिकित्सा सुविधा उपलब्ध कराने का निदेश दिया गया। साथ ही सभी पदाधिकारियों को किसी भी आपात स्थिति से निपटने हेतु सतर्क रहने का निदेश दिया गया। उन्होंने सभी पदाधिकारियों को निदेश दिया कि कोई भी पदाधिकारी स्वयं एवं अपने कनीय पदाधिकारी को इस दौरान अवकाश स्वीकृत नहीं करेंगे विशेष परिस्थिति में अनुमंडल पदाधिकारी की अनुशंसा के आलोक में ही अवकाश स्वीकृत की जायेगी।  दिनांक 28.09.2019(10ः00 बजे पूर्वा0) को कमला जयनगर(वीयर) का वास्तविक जलस्तर 68.00 आर, कमला बलान झंझारपुर(रेल पुल) का 50.50 आर, भूतही बलान एकमा साईफन, लौकही 68.58 सी हुआ है। दिनांक 28.09.2019 को जिले के विभिन्न प्रखंडों में वर्षापात यथा-अंधराठाढ़ी-52.6, बाबूबरही-58.2, बासोपट्टी-47.2, बेनीपट्टी-45.2, बिस्फी-34.2, घोघरडीहा-42.2, हरलाखी-42.6, जयनगर-76.2, झंझारपुर-32.4, कलुआही-18.4, खजौली-23.8, खुटौना-55.2, लदनियां-32.2, लखनौर-44.2, लौकही-24.4, मधेपुर-54.6, मधवापुर-17.6, पंडौल-42.4, फुलपरास-40.2, रहिका-32.4 तथा राजनगर में 42.2 एम0एम0 हुआ है। जिले का औसत वर्षापात-40.9 प्रतिशत है।

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...