जमुई : बैंक के कर्ज से परेशान दुकानदार ने पत्नी व बच्चे के साथ जान दे दिया - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

गुरुवार, 19 सितंबर 2019

जमुई : बैंक के कर्ज से परेशान दुकानदार ने पत्नी व बच्चे के साथ जान दे दिया

family-commit-suicide-for-bank-loan
जमुई (आर्यावर्त संवाददाता)  जिले के बरहट थाना क्षेत्र अंतर्गत तेतरिया गांव में मंगलवार की रात कर्ज में डूबे एक ही परिवार के तीन लोगों ने आत्महत्या कर ली। आत्महत्या करने वालों में दुकानदार मुकेश साव उम्र 32वर्ष उसकी पत्नी कौशल्या देवी उम्र 27 वर्ष और पुत्री अनुराधा 8 वर्ष शामिल है। आत्महत्या की घटना से इलाके में सनसनी फैल गई है। घटना की सूचना पर पहुंची पुलिस को मौके से एक चिट्ठी मिली है। जिसमें बैंक से लिए गए लोन का नोटिस आने के बाद से परेशान रहने का जिक्र है। मां- पिता के साथ सोई अन्य तीन पुत्रियों में विनीता, राधिका और ज्योति जब सुबह देखी तो पापा और मम्मी के साथ बहन अनुराधा मृत पड़ी है।खैरमा ग्रामीण बैंक से अपने छोटे दुकान के लिए कर्ज लेने से परेशान युवक परिवार सहित जीवन की इहलीला खत्म करने का निर्णय लेने पर आखिरकार क्यों मजबूर हो गया।समाज मे खाने कमाने वाला एवं अन्य हर कोई यह जानना चाह रहा है कि कौन इतना परेशान कर रहा था कि आखिरकार दुकानदार  युवक को परिवार सहित जान देने के लिए इतनी बड़ी घटना करनी पड़ी। जमुई एसडीपीओ रामपुकार सिंह ने मौके पर बताया कि प्रथमद्रष्टया ग्रामीणों ने घर का बन्द दरवाजा तोड़ा तो मुकेश साव का शव घर के अंदर कमरे में पंखे से लटका मिला है जबकि पत्नी व पुत्री का शव बिस्तर पर पड़ा मिला है। तीन और बच्चियों को जान से मारने का प्रयास किया गया वो फिलहाल तीनों बच्ची खतरे से बाहर सुरक्षित है। इस घटना की पूर्ण रूप से जांच के लिए एफएसएल की टीम भागलपुर से आ रही है जो सभी बिंदुओ पर बारीकी से जांच करेगी।

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...