गांधी का अहिंसा का दर्शन दुनिया में एक विवेकपूर्ण सलाह बना हुआ है - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

रविवार, 29 सितंबर 2019

गांधी का अहिंसा का दर्शन दुनिया में एक विवेकपूर्ण सलाह बना हुआ है

gandhi-non-violence-inspired-siyan-loong
सिंगापुर, 28 सितंबर, सिंगापुर के प्रधानमंत्री ली सियन लूंग ने कहा है कि महात्मा गांधी का अहिंसा का दर्शन दुनिया में एक विवेकपूर्ण सलाह बना हुआ है जहां मतभेद बहुत बढ़े-चढ़े रूप में सामने आते हैं और लोग जल्दी नाराज हो जाते हैं। सिंगापुर पिछले साल से गांधी का 150 वीं जयंती वर्ष मना रहा है। तब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जून मे क्लफोर्ड पीयर में महात्मा गांधी की पट्टिका का अनावरण किया था।  ली जब इस हफ्ते संयुक्त राष्ट्र में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मिले तब उन्होंने महात्मा गांधी को श्रद्धांजलि दी। सिंगापुर के प्रधानमंत्री ने कहा कि राष्ट्रीय नायक का अहिंसा का दर्शन दुनिया में एक विवेकपूर्ण सलाह बना हुआ है जहां मतभेद बहुत बढ़-चढ़कर सामने आते हैं और लोग जल्दी नाराज हो जाते हैं। उन्होंने न्यूयार्क में महात्मा गांधी को श्रद्धांजलि देते हुए कहा, ‘‘ यदि हम गांधी के संदेशों को अपने हृदय से जोड़ते हैं तब हमें मतभेदों को शांतिपूर्ण तरीके से सुलझाने का प्रयास करनी चाहिए, अन्य के विचारों को समझना चाहिए और न तो भावनाएं भड़कानी चाहिए और न ही रूख सख्त करना चाहिए।’’  उन्होंने कहा, ‘‘ ऐसा करते हुए हम एक दूसरे के प्रति परस्पर समझ, सहिष्णुता एवं सम्मान पैदा करना चाहिए।’’  ली ने गांधी मेमोरियल हॉल का उल्लेख किया जिसे तब स्थानीय भारतीयों ने 100000 सिंगापुरी डॉलर जुटाकर बनाया था। वहां एक कांस्य प्रतिमा है जिसे 25 अप्रैल, 1953 को व्यापारी शेठ जी उत्तराम ने दान में दिया था। अन्यत्र ग्लोबल इंडियन इंटरनेशनल स्कूल में महात्मा गांधी की तीन आवक्ष प्रतिमा और एक पूर्ण प्रतिमा है।

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...