सोनिया से मिले कमलनाथ, सिंघार मामले को अनुशासन समिति के पास भेजा गया - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

रविवार, 8 सितंबर 2019

सोनिया से मिले कमलनाथ, सिंघार मामले को अनुशासन समिति के पास भेजा गया

kamalnath-meet-sonia
नयी दिल्ली, सात सितंबर, मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह और वन मंत्री उमंग सिंघार के बीच चल रहे विवाद की पृष्ठभूमि में राज्य के मुख्यमंत्री कमलनाथ ने शनिवार को कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी से मुलाकात की। मुलाकात के बाद उन्होंने बताया कि सिंघार का विषय एके एंटनी की अध्यक्षता वाली अनुशासन समिति को भेज गया है। कमलनाथ ने सोनिया से उनके आवास पर मुलाकात की। इसके बाद कमलनाथ ने संवाददाताओं से कहा कि मुलाकात अच्छी रही। उन्होंने बताया कि इस दौरान मध्यप्रदेश प्रदेश के मामलों पर चर्चा हुई। दिग्विजय-सिंघार विवाद के बारे में पूछे जाने पर उन्होंने कहा कि कांग्रेस अध्यक्ष ने यह विषय पार्टी की अनुशासन समिति के पास भेज दिया है और आगे समिति इस बारे में फैसला करेगी। उधर, कांग्रेस के मध्य प्रदेश प्रभारी दीपक बाबरिया ने शुक्रवार शाम पार्टी अध्यक्ष सोनिया गांधी से मुलाकात कर अपनी रिपोर्ट सौंपी थी। सोनिया से मुलाकात के बाद बाबरिया ने कहा था कि राज्य में पार्टी से जुड़े हालिया घटनाक्रमों और पार्टी की स्थिति को लेकर उन्होंने कांग्रेस अध्यक्ष को अपनी रिपोर्ट दी है। उन्होंने यह भी कहा कि अनुशासनहीनता बर्दाश्त नहीं की जाएगी। बाबरिया ने कहा कि वरिष्ठ नेताओं का सम्मान होना चाहिए। दरअसल, बाबरिया की सोनिया से मुलाकात उमंग सिंघार और दिग्विजय सिंह के बीच बयानबाजी की पृष्ठभूमि में हुई है। सिंघार ने हाल ही में दिग्विजय पर ब्लैकमेलर, ट्रांसफर-पोस्टिंग करवाने और रेत खनन जैसे गंभीर आरोप लगाए थे। साथ ही उन्होंने कहा था कि दिग्विजय सिंह मिलने आएंगे तो वह उन्हें कड़वी चाय पिलाएंगे। इसके बाद दिग्विजय सिंह ने कहा था कि कांग्रेस के नेता अनुशासन में रहें। भाजपा को कोई मौका न दें। सिंघार की कड़वी चाय पिलाने के जवाब में दिग्विजय ने सिर्फ इतना ही कहा कि ‘ मुझे डायबिटीज नहीं है और मैं मीठी चाय पीता हूं।’ दूसरी तरफ, राज्य की प्रदेश इकाई का नया अध्यक्ष नियुक्त करने की भी अटकलें हैं। फिलहाल मुख्यमंत्री कमलनाथ मध्य प्रदेश कांग्रेस के अध्यक्ष हैं। माना जा रहा है कि कमलनाथ ने इस विषय पर भी सोनिया से चर्चा की है।

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...