सीहोर (मध्यप्रदेश) की खबर 05 सितंबर - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

गुरुवार, 5 सितंबर 2019

सीहोर (मध्यप्रदेश) की खबर 05 सितंबर

गुरु होते हैं त्रिलोक में सर्वश्रेष्ठ -  पवार                 

sehore news
सीहोर। शिक्षक दिवस पर गुरुवार को गल्ला मंडी स्थित ब्राइट कैरियर स्कूल में कार्यक्रम आयोजित किया गया। कार्यक्रम में  छात्र छात्राओं ने गुरुजनों को मंगल तिलक कर आशीर्वाद प्राप्त किया। भारत माता एवं डॉक्टर सर्वपल्ली राधाकृष्णन के चित्र पर माल्यार्पण कर कार्यक्रम का  शुभारंभ किया। प्रधानाचार्य धर्मेंद्र पवार ने कहा कि गुरु त्रिलोक में सर्वश्रेष्ठ होते हैं क्योंकि बिना गुरु के ज्ञान की कल्पना नहीं की जा सकती है। वेद शास्त्रों में अनेक प्रसंग ऐसे हैं जिससे हमें गुरु की महत्ता के बारे में पता चलता है। कार्यक्रम में सुमन पांडे, सीमा प्रजापति, सविता लोहिया, सपना सूर्यवंशी, अमृता पंवार, नीलम राव, अंजूराव, शिवानी प्रजापति, सवा अली, आशा भील आदि मौजूद रहे। 

महाराणा प्रताप युवा संगठन ने किया किया शिक्षिकों का सम्मान 

sehore news
सीहोर। महाराणा प्रताप युवा संगठन ने शिक्षक सम्मान समारोह मां शारदा गार्डन में आयोजित किया। कार्यक्रम का शुभारंभ संगठन के राष्ट्र अध्यक्ष ज्ञानसिह बाघेला, प्रदेश कार्यकारी अध्यक्ष लखन सिंह राजपूत युवा भारत पतंजलि जिला प्रभारी धर्मेंद्र जाट ने महाराणा प्रताप और पूर्व राष्ठ्रपति सर्वपल्ली कृष्णायन के चित्र के समक्ष दीप प्रज्जवलित कर किया। कार्यक्रम में शिक्षिका अंजू राजपूत,नरेंद्र राजपूत का शाल श्रीफल से सम्मान किया। कार्यक्रम में वाघेला ने कहा कि शिक्षक ही  राष्ट्र का निर्माण करता है। कुम्हार मिट्टी से मटका बना देता है इसी तरह एक गुणवान शिक्षक भी एक युक्ति से साधारण  व्यक्ति को महापुरुष बना देता है। प्रदेश कार्यकारी अध्यक्ष श्री जाट ने कहा की जीवन में शिक्षक बहुत ही जरूरी है शिक्षक ही ईश्वर से मिलन कराता है गुरु ही भगवान के रूप में हैं इसलिए श्रद्धा से गुरु के वचनों का पालन करना चाहिए। कार्यक्रम में राजेश राजपूत,लक्ष्मण सिंह सिसोदिया, दयाराम राजपूत, माखन सिंह सिसोदिया, सुरेश राजपूत, बन्टू राजपूत, चांदवड प्रकाश राजपूत, प्रेम नारायण राजपूत, कृपाल राजपूत, प्रचार प्रसार प्रमुख उपस्थित थे। 

जिला चिकित्सालय में प्रसव के बाद नवविवाहिता की मृत्यु के मामले में कलेक्टर ने दिए मजिस्ट्रियल जांच के आदेश

जिला चिकित्सालय सीहोर में नवविवाहिता की प्रसव के बाद मृत्यु हो जाने के मामले को गंभीरता से लेते हुए कलेक्टर श्री अजय गुप्ता ने डिप्टी कलेक्टर श्री वरुण अवस्थी को घटना की मजिस्ट्रियल जांच के आदेश दिए हैं। कलेक्टर श्री गुप्ता ने श्री अवस्थी को आदेशित किया है कि मामले की संपूर्ण जांच कर एक माह में प्रतिवेदन प्रस्तुत करें। जांच के मुख्य बिन्दु जैसे घटना किन परिस्थितियों में हुई और घटना के क्या कारण रहे, क्या इस घटना को घटित होने से रोका जा सकता था, इस घटना के लिए कौन-कौन उत्तरदायी हैं, ऐसी घटना की पुररावृत्ति न हो इसके लिए सुझाव दें सहित अन्य बिन्दु पर विस्तृत प्रतिवेदन प्रस्तुत करने के निर्देश दिए।

जिले में अब तक 1148.6 मि.मी. औसत वर्षा

 जिले में आज 05 सितंबर, 2019 की प्रात:8 बजे समाप्त पिछले चौबीस घन्टों में 24.4 मिलीमीटर औसत वर्षा दर्ज की गई है। इसे मिलाकर 1 जून से अभी तक जिले में 1148.6 मि.मी औसत बारिश रिकार्ड की जा चुकी है जबकि गत वर्ष इस अवधि में 836.9  मिलीमीटर औसत वर्षा आंकी गई थी। अधीक्षक, भू-अभिलेख से मिली जानकारी के अनुसार पिछले चौबीस घन्टों में  सीहोर में 53.2, श्यामपुर में 33, आष्टा में 16, जावर में 22, इछावर में 32, नसरुल्लागंज में 11, बुधनी में 17, रेहटी में 11 मिलीमीटर बारिश दर्ज की गई है। आंकड़ों के मुताबिक जिले में अभी तक सीहोर में 1435.8, श्यामपुर में 1122, आष्टा में 1190, जावर में 748.9, इछावर में 1109, नसरूल्लागंज में 10.3, बुधनी में 1111 तथा रेहटी में 1169.1 मिलीमीटर वर्षा रिकार्ड की गई है। इस अवधि में गत वर्ष सीहोर में 1185, श्यामपुर में 863, आष्टा में 788, जावर में 662.3, इछावर में 851, नसरूल्लागंज में 552.2, बुधनी में 854 तथा रेहटी में 940 मिमी वर्षा रिकार्ड की गई थी।

जिला स्तरीय शिक्षक दिवस सम्मान समारोह संपन्न

sehore news
डॉ. सर्वपल्ली राधाकृष्णन के जन्म दिवस के उपलक्ष्य में जिला स्तरीय शिक्षक सम्मान समारोह का आयोजन शासकीय उत्कृष्ट उमावि सीहोर में आयोजित किया गया। कार्यक्रम में मुख्य अतिथि जिला पंचायत अध्यक्ष श्रीमती उर्मिला मरेठा, शिक्षा समिति जिला पंचायत अध्यक्ष श्री मोहन सिंह, विशेष अतिथि अपर कलेक्टर श्री विनोद चतुर्वेदी, जिला शिक्षा अधिकारी श्री एस.पी.एस.बिसेन, जिला परियोजना समन्वयक श्री अनिल श्रीवास्तव, श्री आर.के. बांगरे, श्री आर आर उइके, श्री आलोक शर्मा एवं श्री एच.एस. निमजे उपस्थित थे। कार्यक्रम में सर्वप्रथम अतिथियों द्वारा मां सरस्वती की प्रतिमा के समझ दीप प्रज्जवलित कर कार्यक्रम का शुभारंभ किया तत्पश्चात उत्कृष्ट विद्यालय की छात्राओं के दल द्वारा सरस्वती वंदना प्रस्तुत की गई। इस अवसर पर श्रीमती उर्मिला मरेठा ने अपने उद्बोधन में गुरूओं की महिमा पर प्रकाश डाला। श्री चेयरमेन ने विद्यार्थी जीवन के अनुभवों को साझा करते हुए गुरू को धन्यवाद दिया जिनकी प्रेरणा से सदैव प्रगति के पथ पर अग्रसर हुए साथही श्री विनोद चतुर्वेदी ने भी शिक्षक दिवस के अवसर पर अपने विचार से सभी को अवगत कराते हुए गुरू की महत्ता प्रतिपादित की। कार्यक्रम मे शिक्षा विभाग में अपने अनुकरणीय योगदान देने वाले सेवानिवृत शिक्षकों को अतिथियों द्वारा शाल व श्रीफल देकर सम्मानित किया गया तथा शिक्षा के क्षेत्र में उत्कृष्ट कार्य करने वाले सीहोर जिले के दक्षता उन्ययन में वाल आफ फेम हेतु चुने गये 16 संस्था के प्रधानाध्यापकों एवं  शिक्षकों को राज्य शिक्षा केन्द्र द्वारा चुने गये संस्थाओं को प्रशस्ति पत्र एव गोल्ड चेम्पियन शिप प्राप्त करने पर सम्मानित किया गया। कार्यक्रम में शिक्षा के क्षे़त्र में उत्कृष्ट कार्य करने वाले संस्था के शिक्षकों को प्रशस्ति पत्र प्रदान किये गये। कार्यक्रम में हाईस्कूल एवं हायर सेकेण्ड्री की राज्य स्तरीय प्रावीण्य सूची एवं जिला स्तरीय प्रावीण्य सूची में स्थान प्राप्त करने वाले छात्र एवं छात्राओं के संस्था प्राचार्यो को ट्राफी देकर सम्मानित किया गया। इस अवसर पर श्री शैलेन्द्र चंदेल, श्री संजय सिंह श्री जादौन, श्री दिलीप राठौर, श्री टी पन्ना, श्री अंशुल शर्मा, श्री संजय सक्सेना, श्री हेमंत मालवीय, श्री मनोज मालवीय, श्री विनोद सैनी, श्री भागीरथ, श्री उमराव, श्री सुरेश, श्री रामेश्वर, श्री राकेश अग्रवाल आदि उपस्थित थे। कार्यक्रम का संचालन श्री माधव सिंह यादव एवं श्री अंकुर शर्मा ने किया।

लोक अदालत के माध्यम से प्रकरणों का निपटारा

jhabua news
राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण जबलपुर द्वारा दिये गये निर्देशानुसार जिला एवं सत्र न्यायाधीश / अध्यक्ष जिला विधिक सेवा प्राधिकरण श्री राजवर्धन गुप्ता के मार्गदर्शन में 14 सितंबर को आयोजित होने वाली नेशनल लोक अदालत में राजीनामा योग्य अधिक से अधिक प्रकरणों का निराकरण हो सके इस संबंध में गुरुवार को अभिभाषक संघ कक्ष में बैठक आयोजित की गई।  बैठक में विशेष न्यायाधीश श्री अफसर जावेद खान, सुश्री अनीता वाजपेयी प्रथम अपर जिला न्यायाधीश, अपर जिला न्यायाधीश / सचिव श्री शैलेन्द्र कुमार नागौत्रा जिला विधिक सेवा प्राधिकरण, तृतीय अपर जिला न्यायाधीश श्रीमती स्मृतासिंह ठाकुर, श्री शिवलाल केवट मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट व अन्य न्यायाधीशगण उपस्थित थे। नेशनल लोक अदालत को सफल बनाने हेतु जिला न्यायाधीश द्वारा समस्त अधिवक्तागण को बताया गया कि लोक अदालत के माध्यम से प्रकरण समाप्त होता है तो प्रकरण में न किसी की जीत होती है न किसी की हार। नेशनल लोक अदालत में राजीनामा योग्य प्रकरणों का अधिक समस्त से अधिक संख्या में निराकरण करवाये जाने के प्रति अधिवक्तागण जिला सीहोर ने सहमति व्यक्त की।

दिव्यांग छात्र छात्रवृत्ति हेतु कर सकते हैं ऑनलाइन आवेदन

दिव्यांग सशक्तिकरण विभाग, द्वारा राष्ट्रीय छात्रवृत्ति scholarships.gov.in पर शैक्षणिक सत्र 2019-20 के लिए प्री-मैट्रिक, पोस्ट मैट्रिक एवं टॉप क्लास छात्रवृत्ति हेतु दिव्यांग विद्यार्थियों से ऑनलाइन आवेदन करने हेतु पंजीयन कार्य शुरू है। प्री-मैट्रिक छात्रवृत्ति हेतु ऑनलाइन आवेदन की अंतिम तिथि 15 अक्टूबर और संस्था द्वारा ऑनलाइन सत्यापन की अंतिम तिथि 31 अक्टूबर है। इसी प्रकार पोस्ट मैट्रिक और टॉप क्लास छात्रवृत्ति के लिए ऑनलाइन आवेदन की अंतिम तिथि 31 अक्टूबर तथा संस्था द्वारा ऑनलाइन सत्यापन की अंतिम तिथि 15 नवंबर निर्धारित है। योजना के अंतर्गत पात्र दिव्यांग विद्यार्थी, राष्ट्रीय छात्रवृत्ति पोर्टल पर ऑनलाइन पंजीयन कर, छात्रवृत्ति हेतु आवेदन कर सकते हैं। छात्रवृत्ति योजनाओं की विस्तृत जानकारी और मार्गदर्शिका भारत सरकार, दिव्यांगजन सशक्तिकरण विभाग की वेबसाइट एवं राष्ट्रीय छात्रवृत्ति पोर्टल पर उपलब्ध है।

सिविल सेवा प्रोत्साहन योजना 

मध्यप्रदेश लोक सेवा आयोग और संघ लोक सेवा आयोग की सिविल सेवा परीक्षा के विभिन्न चरणों में सफल अनुसूचित जनजाति वर्ग के अभ्यर्थियों के लिये प्रोत्साहन योजना चलाई जा रही है। संघ लोक सेवा आयोग की अखिल भारतीय सिविल सेवा परीक्षा में अभ्यर्थी को प्रारंभिक परीक्षा में उत्तीर्ण होने पर 40 हजार, मुख्य परीक्षा उत्तीर्ण होने पर 60 हजार एवं साक्षात्कार के बाद सफल होने पर 50 हजार रुपये प्रोत्साहन राशि दिये जाने का प्रावधान है। आय सीमा का किसी भी तरह का बंधन नहीं है। मध्यप्रदेश लोक सेवा आयोग की सिविल सेवा परीक्षा में विभिन्न स्तरों पर सफल जनजातीय अभ्यर्थियों को भी प्रोत्साहन राशि उपलब्ध कराई जा रही है। प्रारंभिक परीक्षा में उत्तीर्ण होने पर 20 हजार, मुख्य परीक्षा में उत्तीर्ण होने पर 30 हजार रुपये और साक्षात्कार के बाद सफल होने पर 25 हजार रुपये की राशि दी जा रही है।

मुख्यमंत्री आर्थिक कल्याण योजना से बेरोजगार युवाओं को स्वरोजगार

अनुसूचित जाति वर्ग के बेरोजगार युवक-युवतियां को मुख्यमंत्री आर्थिक कल्याण योजना के तहत स्वरोजगार स्थापना के लिए बैंकों के माध्यम से 50 हजार रूपए तक का ऋण उपलब्ध कराया जा रहा है। इस योजना के तहत मध्यप्रदेश शासन द्वारा योजना लागत की स्वीकृत इकाई पर 50 प्रतिशत या अधिकतम 15 हजार रूपए तक का अनुदान दिया जाता है। मुख्यमंत्री आर्थिक कल्याण योजना का लाभ लेने के लिए अनुसूचित जाति वर्ग के आवेदक की आयु 18 से 55 वर्ष के मध्य होना चाहिए तथा जिले का मूल निवासी होना चाहिए।

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...