सीहोर (मध्यप्रदेश) की खबर 16 सितंबर - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

सोमवार, 16 सितंबर 2019

सीहोर (मध्यप्रदेश) की खबर 16 सितंबर

तहसील कार्यालय सीहोर में बड़ा हंगामा  जनता के साथ जनता के लिए प्रदर्शन  करने पहुंचे जननेता गौरव सन्नी महाजन
प्रशासन ने तहसील कार्यालय के बंद किए गेट  जमीन पर बैठकर जनता ने लगाए नाथ सरकार के खिलाफ जोरदार नारे
sehore news
सीहोर। सैकड़ों महिलाओं किसानों मजदूरों एवं शहरी नागरिकों ने भाजपा नेता गौरव सन्नी महाजन के नेतृत्व में तहसील चौराहा पर कांग्रेस की नाथ सरकार की जनविरोधी नीतियों और वादा खिलाफी के विरोध में जबरदस्त धरना प्रदर्शन किया। जनता के साथ जनता के लिए प्रदर्शन करने पहुंचे जननेता गौरव सन्नी महाजन और जनता जनार्धन को प्रशासन ने तानाशाही दिखते हुए तहसील कार्यालय कें बाहर हीं रोक दिया।  प्रशासन ने तहसील कार्यालय के गेट बंद कर जनता का भारी अपमान किया। भाजपा नेता महाजन से ज्ञापन लेने पहुंची तहसीलदार को ज्ञापन देने से महाजन ने जनता की मांग पर इंकार कर दिया। महाजन ने ज्ञापन एसडीएम को हीं देने के लिए कहा। मौके पर काफी देर तक एसडीएम नहीं पहुंचे जिस के विरोध में गेट के सामने जमीन पर हीं जनता के साथ बैठकर महाजन ने फिर से धरना दिया। इस दौरान प्रदेश की नाथ सरकार के खिलाफ जनता ने जमकर नारेबाजी कर विरोध जताया। इस दौरान तहसील कार्यालय के बाहर और अंदर भारी पुलिस बल तैनात रहा।  महाजन ने कहा की नाथ सरकार ने बेराजगारों को रोजगार भत्ता देने का वादा किया था किसी भी बेराजगार को भत्ता नहीं दिया जा रहा है भाजपा सरकार के द्वारा शुरू की गई जनकल्याणीकारी योजनाओं बंद कर दिया गया है। कांग्रेस की नाथ सरकार किसानों गरीबों और मजदूरों बिजली उपभोक्ताओं बाढ़ पीडि़तों के साथ अन्याय कर रहीं है। अतिवृष्टी से किसानों की सोयाबीन की फसल खराब हो चुकी है। सरकार ने अबतक पूर्ण सर्वे नहीं किया है सर्वे में पात्र किसानों को भी छोड़ दिया गया है इसी प्रकार शहरी और ग्रामीण बाढ़ पीडि़तों को भी मुआवजा राशि का वितरण नहीं किया है बिजली उपभोक्ताओं भारी भरकम बिजली के बिल दिए जा रहे है।  विद्युत वितरण कंपनी के द्वारा जिले में लगातार मनमानी की जा रहीं ग्रामीण क्षेत्रों की बिजली काटी जा रहीं हे जिस कारण ग्रामीणों को अंधेरे में जीवन यापन करना पढ़ रहा है प्रदेश की कांग्रेस सरकार ने अबतक अपना वचन नहीं निभाया है किसानों के दो लाख रूपये के लोन माफ नहीं किए गए है । भाजपा नेता महाजन ने राज्यपाल के नाम डिप्टी कलेक्टर रवि वर्मा को ज्ञापन देकर किसानों को प्रति हैक्टेयर ४० हजार रूपए मुआवजा दिया जाए। किसानों को बोनस दिया जाए। बाढ़ पीडि़त  शहर और ग्रामीण क्षेत्र के व्यापारी दुकानदार मजदूरों गरीबों को पर्याप्त राहत राशि देने। भारी बारिश से किसानों की फसल नष्ट होने पर मुआवजा देने। बिजली बिल हॉफ करने के वचन को पूरा किया जाए। भाजपा नेता महाजन ने कहा की प्रदेश सरकार अगर उक्त मांगे नहीं मानती है तो अब जनता के साथ उग्र आंदोलन किया जाएगा। 

आशाओं ने की नियमितीकरण,अतिरिक्त वेतन देने की मांग  सीएम, स्वास्थ्य मंत्री, संचालक स्वास्थ्य मिशन के नाम ज्ञापन                   

sehore news
सीहोर। आशा ऊषा एवं आशा सहयोगिनी एकता यूनियन के प्रतिनिधि मंडल ने मुख्यमंत्री स्वास्थ्य मंत्री एवं संचालक स्वास्थ्य मिशन के नाम सरकारी डिप्टी कलेक्टर वरूण अवस्थी के नाम सोमवार को कलेक्ट्रेट पहुंचकर ज्ञापन दिया। आशा ऊषा और आशा सहयोगिनी ने कर्मचारी घोषित करने एवं अतिरिक्त वेतन देने की मांग की। स्वास्थ्य मिशन एवं स्वास्थ्य सेवाओं में सबसे सक्रिय रूप से काम करने वाली आशा उषा एवं सहयोगी वर्षो की सेवा और कई मॉड्यूल के प्रशिक्षण के साथ प्रदेश में मातृ मृत्यु एवं शिशु मृत्यु को रोकने बीमारियों की रोकथाम एवं स्वास्थ्य संबंधी सभी योजनाओं व अभियानों को आम जनता के लिए बखूबी निभा रही हैं ग्रामीण एवं शहरी क्षेत्रों में आम जनता के बीच शासकीय चिकित्सा व्यवस्था एवं स्वास्थ्य विभाग की सर्वमान्य प्रतिनिधि एवं सेतु के रूप में आशा काम कर रही हैं लेकिन दुर्भाग्यपूर्ण स्थिति यह है कि शासन आशा उषा एवं सहयोगी को कर्मचारी या श्रमिक का दर्जा न्यूनतम वेतन एवं काम के दौरान मृत्यु या दुर्घटना मृत्यु की दशा में परिवार को कुछ भी नहीं दे रही है।  भारतीय श्रम सम्मेलन के 45 वे सत्र में सर्व सम्मत प्रस्ताव पारित कर आशाओं सहित योजना कर्मियों को श्रमिक का दर्जा न्यूनतम वेतन एवं सामाजिक सुरक्षा योजनाओं का लाभ देने का निर्णय लिया है जबकि अन्य प्रदेशों में केरल, हरियाणा में 6000 आंध्र प्रदेश में 10,000 सहित कई राज्यों में आशाओं को अतिरिक्त नियमित वेतन सरकार दे रही है लेकिन मध्य प्रदेश सरकार आशा उषा सहयोगी को अपनी ओर से कुछ भी नहीं दे रही है जो कुछ भी थोड़ा बहुत मिलता है उसमें भी काफी काट छांट की जाती है।  कई जगह पर दो दो तीन तीन चार चार महीने से आशाओं को भुगतान नहीं किया गया है।  आशा ऊषा एवं आशा सहयोगिनी एकता यूनियन प्रतिनिधि मंडल में शामिल सुखबती वर्मा, शकुन धुर्वे, आशा हरियाले, वसु  राजमणि, संतोषी कटारिया, सुनील ककोडिया, सुनीता राठौर, भारती राठौर, सरिता विश्वकर्मा, अनीता राठौर, रजनी राठौर, रानी राठौर, भारती कुशवाहा, ममता राठौर, पदमा राठौर ने सभी रुके हुई राशि का तत्काल भुगतान किया करने,  राज्य सरकार अपने वचन को पूरा करने, सरकारी कर्मचारी का दर्जा देकर न्यूनतम वेतन दिए जाने सहित अन्य मांगे की है। 

एलआईसी में मनाया जाएगा हिंदी पखवाड़ा अधिकारी कर्मचारी करेंगे हिन्दी में सारे काम  हिंदी में बोलना एवं कार्य करना गौरव की बात है : श्रीवास्तव
      
sehore news
सीहेार। भारतीय जीवन बीमा निगम में सोमवार को हिंदी पखवाड़े का शुभारंभ किया गया। अधिकारियों कर्मचारियों एवं अभिकर्ता साथियों द्वारा दीप प्रज्ज्वलन कर पखवाड़े का शुभारंभ किया गया। हिन्दी पखबाड़ा के दौरान भारतीय जीवन बीमा निगम में अधिकारी कर्मचारी हिन्दी में काम करेंगे। कार्यक्रम में सर्वप्रथम देवी सरस्वती की पूजा अर्चना की गई। भारत सरकार के गृह मंत्री,भारतीय जीवन बीमा निगम अध्यक्ष और क्षेत्रीय प्रबंधक के संदेशों का वाचन किया गया।   शाखा प्रबंधक स्वर्ण प्रकाश श्रीवास्तव ने हिंदी के महत्व पर प्रकाश डालते हुए कहा के 14 सितंबर 1949 को आज ही के दिन हिंदी को विधिक रुप से भारत की राजभाषा घोषित किया गया था हिंदी हमारी मातृ भाषा है हिंदी में बोलना एवं कार्य करना गौरव की बात है हम अपने निगम में हिंदी को प्रोत्साहित करने के लिए पूरे पखवाड़े में हिंदी के विभिन्न प्रतियोगिताएं आयोजित की जाएंगी जिसमें हिंदी व्यवहारिक ज्ञान प्रतियोगिता हिंदी निबंध प्रतियोगिता एवं हिंदी प्रश्नोत्तरी शामिल है शाखा प्रबंधक ने सभी कर्मचारियों अधिकारियों एवं अभिकर्ता साथियों को अपने सारे काम हिंदी में करने की सलाह दी और हिंदी को बढ़ावा देने के लिए अपना सर्वोत्तम योगदान देने की अपील की कार्यक्रम में प्रमुख में  विजय कुमार, राकेश राठौर, सुरेंद्र सिंह यादव, विक्रांत अन्वेकर, रवि कांत कुमरे, शांति बेक, अनिल,  प्रेम नारायण परमार, योगेंद्र दुबे, हेमलता वशिष्ठ, अशोक जायसवाल, सुभाष विश्वकर्मा, रश्मि राही, शारदा रायकवार, अभिलाष नामदेव, तिर्की जी, आशीष यादव, शिवांग नेमा, केसी पहाड,़े सुरेश कुमार यादव, राम नारायण कैलासिया, नवाब खान, रूमाना कुरेशी, सुनील शर्मा, राजेंद्र, गणेश प्रसाद, मोहनलाल परमार, उमेश कुशवाहा, बालमुकुंद मिश्रा, बहादुर पौडवाल, लक्ष्मी नारायण मौजूद थे । 

समय सीमा बैठक सम्पन्न

sehore news
सोमवार को कलेक्टर श्री अजय गुप्ता की अध्यक्षता में समय सीमा बैठक संपन्न हुई। बैठक में कलेक्टर ने सभी विभाग प्रमुखों को निर्देशित किया कि सीएम हेल्प लाईन के लंबित प्रकरणों का जल्दी निराकरण किया जाए। बैठक में मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत श्री अरुण कुमार विश्चकर्मा, अपर कलेक्टर श्री विनोद कुमार चतुर्वेदी सहित संबंधित अधिकारी उपस्थित थे। कलेक्टर ने सभी अनुविभागीय अधिकारियों एवं तहसीलदरों को निर्देशित किया कि अतिवर्षा के कारण दुकानों, मकानों को हुए नुकसान का सर्वे कराकर जल्दी ही प्रकरण प्रस्तुत करें। कच्चा मकान गिरने पर आप तक जानकारी आती है तो तत्परता से कार्यवाही करें। ग्रामीण क्षेत्रों का सर्वे कर रिपोर्ट तैयार करें। सभी एसडीएम एवं तहसीलदार को ग्रामीण विकास की योजनाओं पर ध्यान देने को कहा। स्कूल की बिल्डिंग सहित अन्य भवनों की समीक्षा की जाए तथा आंगनवाड़ी, स्कूलों में भीतर कक्ष, बाउंड्रीबाल, ग्राम में शमशान आदि का भी निरीक्षण किया जाए। कलेक्टर ने सभी राजस्व अधिकारियों को निर्देश दिए कि भारी वर्षा से सोयाबीन की फसल को हुए नुकसान का भी सर्वे करें। यदि फसल को 50 प्रतिशत से ज्यादा नुकसान हुआ है तो सर्वे के आधार पर किसानों से फार्म भरवा लें। कर्मचारियों एवं ग्रामीणों की इस संबंध में बैठक भी आयोजित की जाए। कलेक्टर ने अनुविभागीय अधिकारी आष्टा को निर्देश दिए कि है कि बाढ़ जैसी स्थिति निर्मित होने पर सुरक्षा के इंतजाम किए जाएं। पुल-पुलियों पर चेतावनी बोर्ड लगवा दिए जाए एवं एक चौकीदार ऐसी जगहों पर नियुक्त किया जाए जहां दुर्घटना की संभावना हो। मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी को निर्देशित किया है मौसमी बीमारियों के संबंध में लोगों को जागरुक किया जाए।   सलकनपुर मेले को लेकर कलेक्टर ने संबंधित अधिकारियों को चेतावनी देते हुए कहा कि मेले में प्वाईंटों, मंदिर आदि स्थानों पर कानून व्यवस्था बनाए रखने के लिए तैनात कर्मचारियों में रात के समय कोई भी सोता हुआ पाया गया तो वैधानिक कार्यवाही की जाएगी। सभी अपनी ड्यूटी गंभीरता पूर्वक करेंगे।

जिले में अब तक 1561.6 मि.मी. औसत वर्षा

जिले में आज 16 सितंबर, 2019 की प्रात:8 बजे समाप्त पिछले चौबीस घन्टों में 6.2 मिलीमीटर औसत वर्षा दर्ज की गई है। इसे मिलाकर 1 जून से अभी तक जिले में 1561.6 मि.मी औसत बारिश रिकार्ड की जा चुकी है जबकि गत वर्ष इस अवधि में 855  मिलीमीटर औसत वर्षा आंकी गई थी। अधीक्षक, भू-अभिलेख से मिली जानकारी के अनुसार पिछले चौबीस घन्टों में  सीहोर में 1.3, आष्टा में 7, जावर में 24, इछावर में 4, नसरुल्लागंज में 4, बुधनी में 4, रेहटी में 5.4 मिलीमीटर बारिश दर्ज की गई है। आंकड़ों के मुताबिक जिले में अभी तक सीहोर में 1845.5, श्यामपुर में 1422, आष्टा में 1543, जावर में 1164.9, इछावर में 1560, नसरूल्लागंज में 1809, बुधनी में 1460 तथा रेहटी में 1688.2 मिलीमीटर वर्षा रिकार्ड की गई है। इस अवधि में गत वर्ष सीहोर में 1203.2, श्यामपुर में 901, आष्टा में 804, जावर में 665.3, इछावर में 880, नसरूल्लागंज में 565.2, बुधनी में 865 तथा रेहटी में 956 मिमी वर्षा रिकार्ड की गई थी।

अपर कलेक्टर श्री चतुर्वेदी को कलेक्टर ने बनाया सलकनपुर मेला अधिकारी
भूतड़ी अमावस्या एवं नवरात्रि मेले को लेकर कलेक्टर ने दिए निर्देश
28 सितंबर को भूतड़ी अमावस्या/सर्वपितृमोक्ष अमावस्या एवं 29 सितंबर से नवरात्रि पर्व प्रारंभ होगा। भूतड़ी अमावस्या के एक दिन पूर्व 27 सितंबर से ही श्रद्धालु नर्मदा तटीय घाटों पर बड़ी संख्या में उपस्थित होकर पूजा-अर्चना एवं स्नान करने पहुंचने लगते हैं। नवरात्रि पर्व पर 10 दिवसीय मेला मां विजासन धाम मंदिर सलकनपुर पर आयोजित होगा। कलेक्टर श्री अजय गुप्ता द्वारा मेला एवं नवरात्रि पर्व को लेकर समस्त व्यवस्थाएं पुलिस प्रशासन एवं विभागीय अधिकारियों से समन्वय कर कराने तथा मां विजासन धाम मंदिर सलकनपुर में आयोजित होने वाले 10 दिवसीय मेले के आयोजन तथा कानून व्यवस्था बनाए रखने के लिए अपर जिला दण्डाधिकारी श्री विनोद कुमार चतुर्वेदी को मेला अधिकारी सलकनपुर एवं डिप्टी कलेक्टर श्री वरुण अवस्थी को सहायक मेला अधिकारी नियुक्त किया गया है। मेला अधिकारी एवं सहायक मेला अधिकारी इस अवधि में सलकनुपर में उपस्थित रहकर मेले से संबंधित समस्त आवश्यक कार्यवाही एवं नर्मदा तटीय घाटों पर सुरक्षा की दृष्टि से सभी आवश्यक व्यवस्थाएं संबंधित विभागों से समन्वय कर करना सुनिश्चत करेंगे। मेले के दौरान शांति एवं कानून व्यवस्था बनाये रखने के लिए मेला अधिकारी एवं सहायक मेला अधिकारी उत्तरदायी रहेंगे।

धान एवं मोटे अनाज की समर्थन मूल्य पर खरीदी शुरु

खाद्य, नागरिक आपूर्ति एवं उपभोक्ता संरक्षण विभाग द्वारा खरीफ विपणन वर्ष-2019-20 समर्थन मूल्य पर धान एवं मोटे अनाज (ज्वार, बाजरा) खरीदने के लिए किसान पंजीयन की प्रक्रिया का निर्धारण किया गया है। खरीफ विपणन 2019-20 में समर्थन मूल्य में एफएक्यू गुणवत्ता की कृषि उपजों का उपार्जन किया जाना है। धान कामन का न्यूनतम समर्थन मूल्य 1815, धान ग्रेड-ए 1835, ज्वार 2550 एवं बाजरा 2000 रूपए प्रति क्विंटल का दाम तय किया गया है। किसानों को समर्थन मूल्य पर उपार्जन हेतु अपना धान एवं मोटे अनाज (ज्वार, बाजरा) का पंजीयन 16 सितंबर से 16 अक्टूबर तक कराने की तिथि निर्धारित की गई है। किसान उपार्जन केंद्रों पर प्रातः 8 बजे से सायंकाल 8 बजे तक शासकीय कार्य दिवस में पंजीयन करा सकते हैं। यह पंजीयन भू-स्वामियों को एमपी किसान एप, ई-उपार्जन मोबाइल एप, पब्लिक डोमेन में ई-उपार्जन पोर्टल पर एवं विगत वर्ष के खरीफ उपार्जन केंद्रों पर कराया जा सकता है। किसानों को अपनी उपज विक्रय के समय उपार्जन केंद्र पर किसान पंजीयन पर्ची के प्रिंटआउट के साथ आधार कार्ड की प्रति, बैंक पास बुक की प्रति, समग्र सदस्य आईडी की प्रति (न होने की दशा में पेन कार्ड की प्रति), वन अधिकार पट्टाधारी को पट्टे की प्रति, सिकमीदार किसानों को सिकमी अनुबंध की प्रति उपार्जन कार्य के अंतर्गत लानी होगी।

मलेरिया रोग प्रतिरोधक होम्योपैथिक दवा का वितरण 18 व 25 सितम्बर को

आयुष विभाग मध्यप्रदेश भोपाल द्वारा मलेरिया रोग नियंत्रण अभियान वर्ष 2019 को संचालित किया जा रहा है। इसी क्रम में द्वितीय चरण 18 सितम्बर एवं 25 सितम्बर को मलेरिया रोग प्रतिरोधक होम्योपैथिक दवा मलेरिया ऑफ-200 का वितरण व सेवन प्रशिक्षक्षित आशा व आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं एवं आयुष कर्मचारियों के माध्यम से घर-घर जाकर कराया जायेगा।

तहसीलदार आर.एल.बागरी को सौंपा रेहटी तहसील का पदभार

कलेक्टर श्री अजय गुप्ता द्वारा प्रशासनिक कार्यसुविधा की दृष्टि से जिले में स्थानांतरित होकर आए तहसीलदार आर.एल.बागरी को आगामी आदेश तक रेहटी तहसीलदार के पद पर पदस्थ किया गया है एवं तहसीलदार बुदनी श्री अजय प्रताप पटेल तहसीलदार रेहटी अतिरिक्त प्रभार मुक्त कर दिया गया है। यह आदेश तत्काल प्रभावशील है।

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...