मधुबनी : राष्ट्रीय पोषण माह के अंतर्गत पोषण सेमिनार कार्यक्रम का आयोजन - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

गुरुवार, 12 सितंबर 2019

मधुबनी : राष्ट्रीय पोषण माह के अंतर्गत पोषण सेमिनार कार्यक्रम का आयोजन

---जिला पदाधिकारी, मधुबनी के द्वारा दीप प्रज्वलित कर कार्यक्रम का किया गया शुभारंभ
seminar-for-rashtriy-poshan-madhubani
मधुबनी (आर्यावर्त संवाददाता:  राष्ट्रीय पोषण माह के अंतर्गत गुरूवार को स्थानीय नगर भवन, मधुबनी में पोषण सेमिनार कार्यक्रम का आयोजन किया गया। कार्यक्रम का दीप प्रज्वलित कर उदघाटन जिला पदाधिकारी, मधुबनी, श्री शीर्षत कपिल अशोक के द्वारा किया गया। कार्यक्रम का मंच संचालन श्री नागेन्द्र यादव, राज्य पुरस्कार से पुरस्कृत शिक्षक के द्वारा किया गया। इस अवसर पर श्री सुनील कुमार सिंह,अनुमंडल पदाधिकारी, सदर मधुबनी, श्री मिथिलेश झा, सिविल सर्जन, मधुबनी, डाॅ0 राजेश्वर प्रसाद,वरीय उप-समाहत्र्ता, मधुबनी, डाॅ0 रश्मि वर्मा, जिला प्रोग्राम पदाधिकारी,(आई0सी0डी0एस0), मधुबनी, जिला परिषद सदस्य श्रीमती विक्रमशीला देवी, श्री महादेव सहनी, मो0 जहांगीर अली समेत सभी बाल विकास परियोजना पदाधिकारी, महिला पर्यवेक्षिका तथा विभिन्न प्रखंडों की आंगनवाड़ी सेविकाएं उपस्थित थीं। कार्यक्रम के शुभारंभ के पश्चात जिला पदाधिकारी, मधुबनी के नेतृत्व में भारत सरकार के निदेश के आलोक में सभी उपस्थित गणमान्य लोगों को मधुबनी जिले तथा पूरे देश से कुपोषण समाप्त करने हेतु शपथ दिलाया गया।  जिला पदाधिकारी, मधुबनी द्वारा बच्चों एवं महिलाओं में पाई जाने वाली कुपोषण एवं एनीमिया से होने वाले हानि एवं उसके बचाव के बारे में विस्तारपूर्वक जानकारी दी गयी। साथ ही उपस्थित जन समूह एवं पदाधिकारियों से मधुबनी जिला को कुपोषण मुक्त करने में अपनी सहभागिता सुनिश्चित करने का अनुरोध किया। जिला प्रोग्राम पदाधिकारी(आई0सी0डी0एस), मधुबनी, डाॅ रश्मि वर्मा के द्वारा पोषण माह के दौरान जिला स्तर से आंगनवाड़ी केन्द्र स्तर तक की जाने वाली गतिविधियों का विस्तार से चर्चा करते हुए सभी प्रतिभागियों से कार्यक्रम को सफल बनाने एवं राज्य स्तर पर मधुबनी जिला को प्रथम स्थान प्राप्त कराने में सहयोग करने का अनुरोध किया गया। कार्यक्रम के दौरान इप्टा(मधुबनी) के कलाकारों द्वारा स्वच्छता एवं कुपोषण आधारित नुक्कड़ नाटक पेश किया गया। जिसे उपस्थित लोगों द्वारा तालियां बजाकर प्रोत्साहित किया गया।

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...