धनबाद : मध्याह्न भोजन की शिकायत पर छात्र की पिटाई, स्कूल में हंगामा - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

शुक्रवार, 13 सितंबर 2019

धनबाद : मध्याह्न भोजन की शिकायत पर छात्र की पिटाई, स्कूल में हंगामा

student-beaten-mdm-complaint-dhanbad
धनबाद/ निरसा : उत्क्रमित मध्य विद्यालय पलारपुर में आठवीं कक्षा के छात्र आकाश नाग को मध्याह्न भोजन में गड़बड़ी की शिकायत करना महंगा पड़ा। प्रधानाध्यापक निताई चंद्र रविदास ने आकाश को कमरे में बंद करके पीट दिया। इतना ही नहीं, विद्यालय के पारा शिक्षक विद्युत वरण सायरा ने आठवीं की बोर्ड परीक्षा में सम्मिलित नहीं करने की धमकी भी दे दी। जब यह जानकारी अभिभावक को हुई वह पंचायत के मुखिया विश्वरूप मंडल साथ शुक्रवार को विद्यालय पहुंचे और परिसर में हंगामा किया। उनके साथ अन्य बच्चों के अभिभावक भी थे। बाद में अभिभावकों, पंचायत प्रतिनिधियों एवं ग्रामीणों की बैठक हुई। बैठक में निर्णय लिया गया कि उपायुक्त, डीएसई, बीईईओ और बीडीओ को पत्र देकर प्रधानाध्यापक निताई चंद्र रविदास को विद्यालय से हटाने की मांग की जाएगी। यदि प्रधानाध्यापक को विद्यालय से नहीं हटाया गया तो बच्चे विद्यालय में पढ़ने के नहीं जाएंगे। इधर प्रधानाध्यापक का कहना है कि सभी आरोप बेबुनियाद है। उन्होंने बच्चे को गलती करने पर डांटा था, उसकी पिटाई नहीं की थी। मुखिया विश्वरूप मंडल, पंचायत समिति सदस्य टिकू राय एवं ग्रामीणों ने बताया कि भालाईट गांव का छात्र आकाश नाग एवं तताई नाग ने ऑडिट टीम से शिकायत की थी कि प्रधानाध्यापक का कहना है कि जिस दिन बिस्कुट दिया जाएगा, उस दिन बच्चों को चावल नहीं दिया जाएगा। जब ऑडिट टीम ने प्रधानाध्यापक से पूछताछ की तो वह नाराज हो गए। बीते बुधवार को आकाश को प्रार्थना के बाद अलग कमरे में ले गए और वहां बुरी तरह उसकी पिटाई की तथा तताई नाग को धमकाया कि इस तरह की शिकायत करने पर तुम दोनों की खैर नहीं। पारा शिक्षक विद्युत वरण सायरा में दोनों को धमकाया कि तुम दोनों को आठवीं बोर्ड की परीक्षा में सम्मिलित नहीं होने दिया जाएगा। सूचना पाकर बीईईओ ने सीआरपी मिहिर कुमार चौधरी को जानकारी लेने विद्यालय भेजा। ग्रामीणों ने कहा कि बच्चों की गलत उपस्थिति दिखाकर विद्यालय में राशन की चोरी की जाती है। भोजन की गुणवत्ता भी ठीक नहीं रहती। इसकी शिकायत पहले भी बीईईओ से की गई थी। परंतु कोई कार्रवाई नहीं हुई। बैठक में उप मुखिया ए राय, वार्ड सदस्य सुमित राय, ग्रामीण जया नाग, बेबी नाग, सचिन माजी, बबलू भागती, विमल मल्लिक, अजय पटवार इत्यादि मौजूद थे।

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...