अब्बास मस्तान ने बॉलीवुड में फिल्म मेकिंग की बनाई एक अलग शैली : गौरांग दोषी - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

गुरुवार, 24 अक्तूबर 2019

अब्बास मस्तान ने बॉलीवुड में फिल्म मेकिंग की बनाई एक अलग शैली : गौरांग दोषी

abbas-mastan-identity-gaurang-doshi
हम इंडियंस इन डेंजर में साज़िश का स्तर बढ़ाना चाहते हैं: अब्बास मस्तान गौरांग दोषी के साथ काम करने पर बॉलीवुड निर्माता गौरांग दोशी ने हाल ही में एक साथ कई प्रोजेक्ट की घोषणा की है. इसमें से एक प्रोजेक्ट वे निर्देशक जोड़ी अब्बास-मस्तान के साथ कर रहे है, जिसे ले कर वे खासे उत्साहित हैं, क्योंकि प्रोजेक्ट का प्री-प्रोड्क्शन वर्क अच्छी तरह से चल रहा है. दुबई में अबू धाबी के शाही परिवार के साथ मिल कर इसकी घोषणा की गई थी और अब पटकथा के साथ-साथ स्क्रिप्ट का काम प्रगति पर है. अब्बास मस्तान ने कहा, “हमने हमेशा से बॉलीवुड में फिल्म बनाने के तरीकों को बदलने में यकीन किया है. इसीलिए, हमने इंडियंस इन डेंजर के साथ एक नया तरीका प्लान किया है. स्क्रिप्ट बहुत दिलचस्प है. इस बार हम साज़िश के स्तर को कई पायदान ऊपर ले जाना चाहते हैं. इसमें वो एक्स-फैक्टर है जो हमारी फिल्मों के लिए जाना जाता है और हम दर्शकों को वह और अधिक देना चाहते हैं." गौरांग दोषी ने कहा, “अब्बास मस्तान ने फिल्म निर्माण की एक ऐसी शैली विकसित की है, जो अपने समय के किसी भी अन्य निर्देशक से बहुत अलग है. वे अपने प्लॉट में लगातार इतने ट्विस्ट लाते है, जिससे पूरी फिल्म दर्शकों को अपनी सीट से बान्ध कर रखती है. एक निर्माता के रूप में मेरे लिए ये बहुत रोमांचक है.” अब्बास मस्तान के अलावा, अनीस बज़्मी और नीरज पाठक के साथ गौरांग दोषी के दो अन्य प्रोजेक्ट हैं. वॉर ने दर्शकों को दिखाया कि देश एक्शन-थ्रिलर में कितनी दिलचस्पी रखता है. गौरांग दोशी ने अपनी उत्कृष्ट फिल्मों, जैसे आंखें, दीवार: लेटस ब्रिंग आवर हीरोज होम और बवंडर के साथ अपनी प्रतिभा साबित की है. अपने काम के लिए उन्होंने चार लिम्का बुक रिकॉर्ड जीते है. उन्हें अपने पिता स्वर्गीय श्री विनोद दोशी से कम उम्र में फिल्म निर्माण की कला विरासत में मिली, जिन्होंने दर्शकों को वीआर पिक्चर्स के बैनर तले सच्चा झूठा, नास्तिक, दिल, बेटा समेत कई हिट फिल्में दीं. अब गौरांग का लक्ष्य अपने नए बैनर गौरांग दोशी प्रोडक्शंस के तहत अधिक से अधिक अपरंपरागत कंटेंट वितरित करना है.

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...