बिहार : भारी जलजमाव का मार झेल रहे पटना पर अभिनेता यश कुमार ने जताया दुख - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

मंगलवार, 1 अक्तूबर 2019

बिहार : भारी जलजमाव का मार झेल रहे पटना पर अभिनेता यश कुमार ने जताया दुख

कहा – बिहार की सरकार को मुंबई सरकार से वाटर मैनेजमेंट की लेनी चाहिए सीख
acter-yash-sad-for-patna
बिहार की राजधानी पटना के डूबने से दुखी भोजपुरी फिल्‍म अभिनेता यश कुमार ने आज वीडियो मैसेज भेज कर अपना दुख जाहिर किया। उन्‍होंने कहा कि इस विकट हालात में धैर्य बनाये रखने की जरूरत है। वहीं, सरकार युद्ध स्‍तर पर राहत व बचाव कार्य में लगे। उन्‍होंने कहा कि मुझे ये देखकर दुख हो रहा है कि पटना डूब चुका है। हर घर में पानी है। अस्‍पतालों में पानी है। लोगों को खाना नहीं मिल रहा है। मुंबई में 50 गुना बारिश होती है। अगर इतनी बारिश यूपी बिहार में हो जाये तो नामोनिशान मिट जायेगा। मुबई की सरकार को वाटर मैनेजमेंट का सलीका है। वहां की सरकार की ऐसी व्‍यवस्‍था है कि बारिश का पानी आराम से समुद्र में चला जाता है। इससे बिहार की सरकार को सीखना चाहिए। ये काम हमारी पटना की सरकार को करनी चाहिए। उन्‍होंने कहा कि नेता लोग आसानी से कह देते हैं कि प्राकृतिक आपदा है। लेकिन ये प्राकृतिक आपदा नहीं है। प्रकृति का काम है बरसना। ऐसे में सरकार को अपनी सही नीति बनाकर इस समस्‍या का समाधान करना चाहिए। उन्‍होंने कहा कि अगर सारे नाले साफ होते तो आज जलजमाव की ये स्थिति नहीं बनती। ये जलजमाव नहीं होता। सरकार से गुजारिश है कि वे अपनी जिम्‍मेवारियों को निभायें। सरकार की विफलता की वजह से लोगों के घर में पानी भर जाये, ये शर्मनाक है। मैं दुखी हूं वाटर लॉगिंग की मार झेल रहे लोगों के लिए। बारिश हर साल होगी। उससे निपटने के लिए सरकार को काम करना चाहिए।

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...