यूरोपीय सांसदों की कश्मीर यात्रा पर कांग्रेस का विरोध - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

मंगलवार, 29 अक्तूबर 2019

यूरोपीय सांसदों की कश्मीर यात्रा पर कांग्रेस का विरोध

congress-oppose-delegates-kashmir-visit
नयी दिल्ली 28 अक्टूबर, कांग्रेस ने यूरोपीय सांसदों की कश्मीर यात्रा का कड़ा विरोध जताते हुए इसे भारतीय संसद और सांसदों के विशेष अधिकारों का हनन बताया है।कांग्रेस के वरिष्ठ नेता राहुल गांधी ने सोमवार को कहा कि भारतीय सांसदों की कश्मीर यात्रा पर उन्हें हिरासत में ले लिया गया और श्रीनगर से वापस भेज दिया गया, वही यूरोपीय सांसदों के लिए सरकार लाल कालीन बिछा रही है। उन्होंने कहा कि कहीं कुछ बहुत गलत हो रहा है।इससे पहले कांग्रेस के वरिष्ठ नेता आनंद शर्मा ने एक बयान में कहा कि यूरोपीय सांसद कश्मीर जा रहे हैं। उन्हें पूरी जानकारी से अवगत कराया जा रहा है। यह है भारतीय संसद की संप्रभुता के खिलाफ है और भारतीय सांसदों के विशेष अधिकारों का हनन है।उन्होंने कहा कि भारत के विपक्षी दलों के नेताओं को कश्मीर में सामाजिक संगठनों और व्यक्तियों से नहीं मिलने दिया गया. यूरोपीय सांसदों को कश्मीर ले जाना, सरकार की नीतियों में विरोधाभास दिखाता है। उन्होंने कहा कि कश्मीर भारत का अंदरूनी मामला है, यह इस धारणा के भी खिलाफ है। उन्होंने सवाल किया कि क्या यह नया भारतीय राष्ट्रवाद है।कांग्रेस के मीडिया प्रभारी रणदीप सिंह सुरजेवाला ने एक ट्वीट में कहा,“जम्मू-कश्मीर हमारा, फिर यूरोपियन यूनियन वाले कैसे पधारे? हमारा मामला,हम देखेंगे! पर मोदीजी ने यूरोपियन यूनियन को कश्मीर में पंच क्यों बनाया?दूसरे देशों के सांसदों को कश्मीर जाने की अनुमति है, हमारे सांसदों को क्यों नहीं? यह मोदी सरकार का फर्ज़ी राष्ट्रवाद व संसद का अपमान है!”

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...