बिहार विधानसभा उपचुनाव में भाजपा-जदयू की करारी हार स्वागतयोग्य: माले - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

गुरुवार, 24 अक्तूबर 2019

बिहार विधानसभा उपचुनाव में भाजपा-जदयू की करारी हार स्वागतयोग्य: माले

दरौंदा सीट पर माले का प्रदर्शन सम्मानजनक.
cpi-ml-welcome-bjp-jdu-defeat
पटना (आर्यावर्त संवाददाता) 24 अक्टूबर 2019, भाकपा-माले राज्य सचिव कुणाल ने बिहार विधानसभा उपचुनाव में भाजपा-जदयू गठबंधन की करारी हार का स्वागत किया है. विधानसभा के लिए पांच सीटों पर हो रहे चुनाव में यह गठबंधन सभी सीटों पर चुनाव हार गई है जबकि चार सीटें उन्हीं के कब्जे में थी. उन्होंने कहा कि चुनाव परिणाम दिखलाता है कि भाजपा-जदयू के खिलाफ बिहार की जनता का मूड बनने लगा है और अगले वर्ष होने वाले विधानसभा चुनाव में बिहार की जनता निर्णायक सबक सिखाएगी. लोकसभा चुनाव में भारी जीत के बाद जनता के हित में काम करने की बजाए एनडीए गठबंधन लगातार उलटा काम करने में लगी है. संविधान व लोकतंत्र पर लगातार हमले किए जा रहे हैं. देश आज भयानक आर्थिक मंदी के दौर से गुजर रहा है. बेरोजगारों की फौज बढ़ रही है. धारा 370 की समाप्ति के बाद दसियों हजार बिहार के मजदूर बेकार हो गए हैं. आज पूरे बिहार में अपराध का ग्राफ चरम पर है. बाढ़ व जलजमाव से पूरा बिहार पिछले दिनों त्रस्त रहा. यहां तक कि राजधानी पटना में भी भारी जलजमाव रहा. जबकि विगत 15 वर्षों से बिहार में भाजपा-जदयू की ही सरकार कमोबेश रही है. विधानसभा उपचुनाव में इस गठबंधन के खिलाफ जनता के आक्रोश का प्रकटीकरण हुआ है. भाकपा-माले ने सिवान जिले के दरौंदा सीट पर अपना एक उम्मीदवार खड़ा किया था, जिन्हें सम्मानजनक वोट हासिल हुआ. इसके लिए भाकपा-माले दरौंदा के मतदाताओं का धन्यवाद ज्ञापन करती है.

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...