दिल्ली पर धुंध का साया, वायु प्रदुषण ‘गंभीर’ स्तर पर - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

बुधवार, 30 अक्तूबर 2019

दिल्ली पर धुंध का साया, वायु प्रदुषण ‘गंभीर’ स्तर पर

pollution-delhi
नयी दिल्ली, 30 अक्टूबर, दिल्ली पर धुंध का साया लगातार जारी है और बुधवार को भी राष्ट्रीय राजधानी में प्रदूषण का स्तर ‘गंभीर’ श्रेणी में रहा।  केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड (सीपीसीबी) के अनुसार, सुबह 11 बजे वायु गुणवत्ता सूचकांक (एक्यूआई) 416 था। सीपीसीबी के अनुसार, मंगलवार को एक्यूआई 414 था, जो सोमवार के एक्यूआई 397 से खराब था। एक्यूआई अगर 0-50 के बीच है तो उसे ‘अच्छा’ माना जाता है, 51-100 के बीच ‘संतोषजनक’, 101-200 के बीच ‘सामान्य’, 201-300 के बीच ‘खराब’, 301-400 के बीच ‘बहुत खराब’ और 401-500 ‘गंभीर’ माना जाता है। अगर एक्यूआई 500 से ऊपर है तो उसे ‘गंभीर और आपातकालीन’ श्रेणी में माना जाता है। एक्यूआई पांच मुख्य प्रदूषकों को ध्यान में रखता है- 10 माइक्रोमीटर (पीएम10) से कम व्यास वाले पदार्थ, पीएम2.5, ओजोन (ओ3), नाइट्रोजन डाइऑक्साइड (एनओ2) और कार्बन मोनोऑक्साइड (सीओ)। एक्यूआई मूल्य जितना अधिक होगा, वायु प्रदूषण का स्तर उतना ही अधिक होगा और स्वास्थ्य की चिंता भी उतनी ही बढ़ जाएगी।

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...