विदिशा (मध्यप्रदेश) की खबर 02 अक्टूबर - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

बुधवार, 2 अक्तूबर 2019

विदिशा (मध्यप्रदेश) की खबर 02 अक्टूबर

गांधी जयंती पर विभिन्न स्थलों पर कार्यक्रम आयोजित हुए 

vidisha news
महात्मा गांधी जी की 150 वीं जयंती के उपलक्ष्य में दो अक्टूबर को जिले में विभिन्न स्थलों पर विविध कार्यक्रमों का आयोजन हुआ। जिसमें विधायक श्री शशांक भार्गव के अलावा अन्य जनप्रतिनिधिगणों ने सहभागिता निभाई। दो अक्टूबर की प्रातः नीमताल पर महात्मा गांधी जी की मूर्ति पर माल्यार्पण करने के उपरांत जागरूकता रैली का आयोजन किया गया था जो नीमताल से होते हुए शासकीय उत्कृष्ट विद्यालय में सम्पन्न हुई। रैल को विधायक श्री शशांक भार्गव, प्रभारी कलेक्टर श्री मयंक अग्रवाल ने हरी झंडी दिखाकर रवाना ही नही किया वरन् रैली में सहभागिता निभाई है। शासकीय उत्कृष्ट विद्यालय में जागरूकता रैली के समापन कार्यक्रम में विधायक श्री भार्गव ने कहा कि महात्मा गांधी जी ने भारत को आजादी दिलाने में जो योगदान असहयोग सूत्रपात से किया है। उनके बताए गए मार्ग पर हम सब चलकर उन्हें सच्ची श्रद्वांजलि अर्पित करें।  प्रभारी कलेक्टर श्री मयंक अग्रवाल ने कहा कि महात्मा गांधी जी ने जो भी समाज को नए-नए सिद्वांतो से मुखातिब किया है उनका अपने जीवन में अनुसरण करने के उपरांत समाज को देने की कोशिश की है। कार्यक्रम को जिला शिक्षा अधिकारी ने भी सम्बोधित किया। आयोजन स्थल पर स्वच्छता की शपथ दिलाई गई वही शैक्षणिक संस्थाओं को गीला और सूखा कचरा संग्रहित करने हेतु डस्टबिन प्रदाय किए गए। 

गाँधी जी का जीवन दर्शन मानव कल्याण के लिए प्रेरणादायी

राष्ट्रपिता महात्मा गाँधी की 150वीं जयंती दो अक्टूबर को गांधी जी क जीवनदर्शन पर संगोष्ठी का आयोजन एसएटीआई के स्मार्ट क्लास रूम में किया गया था। विधायक श्री शशांक भार्गव ने कहा कि गांधीजी का जीवन दर्शन बहुमार्गदर्शी है। हम उनके जीवन से प्रेरणा लेकर अपने जीवन में सुधार ला सकते है। संगोष्ठी के मुख्यवक्ता संस्कृति विभाग के निर्देशक श्री धु्रव शुक्ला ने कहा कि गांधीजी का जीवन मानव कल्याण के लिए प्रेरणा देने का कार्य कर रहा है। भारत को आजादी दिलाने में उनके योगदान को भुलाया नही जा सकता है। उन्होंने सामाजिक सरोकार और विकास के लिए एकजुटता की ओर संकेत देते हुए कहा कि किसी भी समाज और देश का पुर्नरोत्थान के लिए एकीकरण होना जरूरी है। श्री शुक्ला ने महात्मा गांधी के जीवन से जुडे विभिन्न प्रसंगो का सदोउदाहरण प्रस्तुत किया।  समाजसेवी श्री शैलेन्द्र कटारिया ने महात्मा गांधी जी के द्वारा छेडे गए विभिन्न आंदोलनों पर संक्षिप्त प्रासंगिक प्रकाश डालते हुए आधुनिक युग में उनकी उपयोगिता को नकारा नही जा सकता। कार्यक्रम को प्रभारी कलेक्टर श्री मयंक अग्रवाल, जिला शिक्षा अधिकारी श्री एसपी त्रिपाठी ने भी सम्बोधित किया। समाजसेवी श्री गोविन्द देवलिया ने मुख्यवक्ता श्री धु्रव शुक्ला के जीवन परिचय की जानकारी प्रस्तुत की। आयोजन स्थल पर वायोवृद्व एडवोकेट श्री रामनारायण वर्मा जी का शाल, श्रीफल से अतिथियों द्वारा सम्मान किया गया। कार्यक्रम स्थल पर एसडीएम श्री प्रवीण प्रजापति, एसएटीआई के संचालक श्री डॉ जेएस चौहान के अलावा अन्य जनप्रतिनिधिगण, समाजसेवी, गणमान्य नागरिक, विभिन्न विभागों के अधिकारी, कर्मचारी, शैक्षणिक संस्थाओं के विद्यार्थी मौजूद थे। 

हितग्राही को सहायता राशि का चेक

विधायक श्री शशांक भार्गव ने एसएटीआई के स्मार्ट क्लासरूम में मुख्यमंत्री कृषक जीवन कल्याण योजना के तहत चार लाख चार हजार रूपए की आर्थिक सहायता का चेक हितग्राही को प्रदाय किया। ज्ञातव्य हो कि नटेरन तहसील के ग्राम बूधो के कृषक श्री शेरसिंह की मृत्यु कृषि कार्यो के दौरान करंट लगने से हो जाने पर मृतक की पत्नी श्रीमती रचना को सहायता राशि का चेक प्रदाय किया गया है। 

स्वच्छता का संदेश सद्भावना रैली से 

राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की जयंती दो अक्टूबर को फिट इंडिया मूवमेंन्ट के अंतर्गत जिला खेल परिसर से खिलाड़ियों ने स्वच्छता का संदेश सद्भावना रैली का आयोजन कर दिया। रास्ते में कचरा एकत्रित करने का कार्य रैली में सहभागिता निभाने वालो के द्वारा किया गया है। रैली विभिन्न मार्गो से होते हुए नीमताल पर सम्पन्न हुई। रैली में डिप्टी कलेक्टर श्री बृजेन्द्र यादव, केन्द्रीय विद्यालय की खेल आधिकरी श्रीमती रंजना वर्मा, जिला खेल अधिकारी श्रीमती पूजा कुरील के अलावा विभिन्न खेलों, संघो के पदाधिकारी, खिलाड़ी एवं केन्द्रीय विद्यालय के विद्यार्थियों ने सहभागिता निभाई है। 

सार्वजनिक क्षेत्र के बैकों ने चार एवं पांच अक्टूबर तक  राष्ट्रव्यापी ग्राहक उन्मुखी कदम की घोषणा चार एवं पांच को लेण्डमार्क गार्डन में आयोजन

सार्वजनिक क्षेत्र के बैंको ने आने वाले त्यौहारो के मद्देनजर ग्राहकों की प्रसन्नता हेतु राष्ट्रव्यापी ग्राहक उन्मुखीकदम की घोषणा की है। जिसका उद्वेश्यों की जानकारी देते हुए लीड़ बैंक आफीसर श्री दिलीप सिरवानी ने बताया कि ग्राहकों को एक ही छत के नीचे विभिन्न प्रकार के ऋण अविलम्ब सुगमता से मिल सकें। इस हेतु राष्ट्रव्यापी ग्राहक उन्मुखी कदम की ओर बैंकर्स अग्रसर हुए है। एक ही छत तले ग्राहकों के लिए विभिन्न प्रकार के ऋण, गृह, आटो, कृषि, शिक्षा, व्यक्तिगत, एमएसएमई ऋण सहित कई अन्य उत्पादकों पर ग्राहकों को ऋण सुविधा प्रदान करने का कार्य एक ही छत के नीचे मिल सकें कि व्यवस्था सुनिश्चित की गई है। कार्यक्रम में भोपाल के क्षेत्रीय प्रबंधक श्री कमलेश वर्मा भी मौजूद रहेंगे। जिला अग्रणी बैंक प्रबंधक श्री दिलीप सिरवानी ने बताया कि विदिशा जिले में आमजनों के लिए कन्ज्यूमर लोन एक ही छत के नीचे मिले की व्यवस्था हेतु चार एवं पांच अक्टूबर को लेण्डमार्क गार्डन विदिशा में ऋण मेला का आयोजन किया गया है।  भारतीय स्टेट बैंक के द्वारा आयोजित संवाददाता सम्मेलन में मीडियाकर्मियों को भी आमंत्रित किया गया है। दो दिवसीय ऋण मेला नियत तिथि की प्रातः दस बजे से पूर्व उल्लेखित स्थल पर शुरू होगा। ग्राहक उन्मुखी कदम अपने मूल्यवान ग्राहकों के साथ जुड़ने के लिए एक सक्रिय पहल है से अवगत कराते हुए लीड़ बैंक आफीसर श्री सिरवानी ने बताया कि एक मंच पर सभी ग्राहकों को मुनाफा हो और उनके लक्ष्यों की प्राप्ति में सहायता हो इसी पहल पर बैंक ग्राहकों को वित्तीय समावेशन योजना और डिजीटल भुगतान के बारे में भी जानकारी प्रदाय की जाएगी ताकि डिजीटल लेन-देन को बढावा दिया जा सकें। 

मुख्य सचिव की वीडियो कॉन्फ्रेंस आज

मुख्य सचिव श्री एसआर मोहन्ती द्वारा गुरूवार 3 अक्टूबर को दोपहर 12 बजे प्रदेश के समस्त संभागायुक्त, समस्त जिला कलेक्टर और समस्त सीईओ जिला पंचायत की वीडियो कॉन्फ्रेंस ली जायेगी। इसमें स्वास्थ्य संस्थाओं की अद्यतन स्थिति, मिलावटी अमानक खाद्य पदार्थों पर की गई कार्यवाही, मौसमी बीमारियों के सम्बन्ध में तैयारी, पीडीएस में सत्यापन की तैयारी, प्याज भण्डारण पर कंट्रोल ऑर्डर के तहत की गई कार्यवाही और समर्थन मूल्य पर खरीदी के पंजीयन की अद्यतन स्थिति की समीक्षा की जायेगी। 

मुख्यमंत्री योजनांतर्गत एम.पी. ऑनलाईन के माध्यम से आवेदन आमंत्रित

म.प्र. राज्य सहकारी अनुसूचित जाति वित्त एवं विकास निगम द्वारा संचालित मुख्यमंत्री युवा उद्यमी योजना, मुख्यमंत्री कृषक उद्यमी योजना, मुख्यमंत्री स्वरोजगार योजना एवं मुख्यमंत्री आर्थिक कल्याण योजनांतर्गत वित्तीय वर्ष 2019-20 का लक्ष्य निर्धारित किया गया है। अनुसूचित जाति वर्ग के हितग्राहियों से एम.पी.ऑनलाईन क्यिस्क के माध्यम से ऑनलाईन scwelfare.mponline.gov.in    आवेदन आमंत्रित किए गए हैं। 

कोई भी बुखार डेंगू हो सकता है, बुखार होने पर तुरंत कराएं इलाज

बुखार के साथ-साथ यदि तेज सिरदर्द, आंखों के आसपास व मांसपेशियों में दर्द तथा शरीर पर चकते बनना आदि लक्षणों में से दो या दो से अधिक लक्षण दिखाई देने पर कोई भी व्यक्ति डेंगू का मरीज हो सकता है। कभी-कभी रोगी को होने वाला सामान्य बुखार भी डेंगू हो सकता है। इसलिए डेंगू होने पर तुरंत चिकित्सक से परामर्श लें। इन लक्षणों के साथ-साथ मसूड़ों अथवा आंखों से रक्त स्त्राव अथवा रक्त में प्लेटलेट्स का कम होना आदि गंभीर प्रकार के डेंगू बुखार के सूचक हैं। ऐसी स्थिति में मरीज को अस्पताल में चिकित्सक की सलाह के अनुसार उपचार लेना चाहिए । इसके साथ-साथ डेंगू से बचाव के लिए कुछ सावधानियां बरतने को भी कहा है। उन्होंने कहा है कि घर में पानी के कंटेनर ढंककर रखें, सप्ताह में एक बार पानी के कंटेनर को अवश्य खाली करें, पैराथ्रम नामक दवा को कैरोसीन में मिलाकर आसपास छिड़काव किया जा सकता है । पूरी बांह के कपड़े पहनें तथा शरीर को ढंककर रखें । सोते समय मच्छरदानी का उपयोग करें । नीम के पत्तों का धुंआ करें तथा खिड़की दरवाजों पर जाली लगवाएं।

श्रमिकों के बच्चों से राष्ट्रीय छात्रवृत्ति के लिये आवेदन 15 अक्टूबर तक

प्रदेश के बीडी, चूना-पत्थर, डोलोमाइट, लौह मैग्नीज और क्रोम अयस्क खदान श्रमिकों के अध्ययनरत पुत्र-पुत्रियों से प्री-मेट्रिक और पोस्ट-मेट्रिक छात्रवृत्ति के लिये आवेदन आमंत्रित किये गये हैं। शिक्षा के लिये वित्तीय सहायता योजना में पात्र छात्र-छात्राएँ नेशनल स्कॉलरशिप पोर्टल https://scholarships.gov.in/helpdesk&nsp.gov.in पर आवेदन कर सकते हैं। प्री-मेट्रिक छात्रवृत्ति के लिये आवेदन की अंतिम तिथि 15 अक्टूबर और पोस्ट-मेट्रिक छात्रवृत्ति के लिये 31 अक्टूबर, है। नेशनल स्कॉलरशिप पोर्टल पर ऑनलाइन आवेदन करने की पात्रता, जानकारी, शर्तें आदि प्रदर्शित हैं।

अल्पसंख्यक प्री-मैट्रिक छात्रवृत्ति के लिये 15 अक्टूबर तक ऑनलाइन आवेदन आमंत्रित

मध्यप्रदेश के मूल निवासी अल्पसंख्यक समुदाय के कक्षा एक से 10 तक नवीन एवं नवीनीकरण विद्यार्थियों से शैक्षणिक सत्र 2019-20 की अल्पसंख्यक प्री-मेट्रिक छात्रवृत्ति के लिये 15 अक्टूबर तक ऑनलाइन आवेदन आमंत्रित किये गये हैं। आवेदन भारत सरकार के (एनएसपी) पोर्टल यूआरएलू www.scholarships.gov.in    पर ऑनलाइन किये जा सकेंगे। इसका लिंक भारत सरकार की वेबसाइटू  www.minorityaffairs.gov.in पर भी उपलब्ध है। भारत सरकार द्वारा अधिसूचित अल्पसंख्यक के तहत मुस्लिम, ईसाई, बौद्ध, सिख, पारसी एवं जैन समुदाय के छात्र-छात्राएँ पात्र हैं। योजना में अल्पसंख्यक वर्ग के निर्धन परिवारों के कक्षा पहली से 10वीं तक अध्ययनरत प्रति परिवार अधिकतम दो बच्चों को शैक्षणिक उत्थान के लिए आर्थिक सहायता के रूप में छात्रवृत्ति दी जाती है। विद्यार्थी द्वारा प्रस्तुत आय की मेरिट के आधार पर प्रदेश के लिये कोटा निर्धारित है। इसमें माता-पिता, अभिभावक की वार्षिक आय एक लाख से अधिक नहीं होने वाले विद्यार्थी पात्र होंगे।

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...