झाबुआ (मध्यप्रदेश) की खबर 10 नवंबर - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

रविवार, 10 नवंबर 2019

झाबुआ (मध्यप्रदेश) की खबर 10 नवंबर

राधा-कृष्ण बिहारी मंदिर पर मनाया तुलसी विवाह, बैंड-बाजों के साथ निकाली गई बारात

jhabua news
झाबुआ। शहर के छोटे तालाब स्थित श्री राधा-कृष्ण बिहारी मंदिर पर 8 नवंबर को देव उठनी ग्यारस के साथ तुलसी विवाह का आयोजन किया गया। शाम को मंदिर से बैंड-बाजों और ढोल के साथ बारात भी निकाली गई। जानकारी देते हुए आयोजक नागर ब्राम्हण समाज की श्रीमती पुष्पा कोठारी ने बताया कि मंदिर परिसर में तुलसी विवाह का आयोजन विधि-विधान से किया गया। जिसमें मंडप बनाकर विवाह रस्म की विधि पूर्ण की गई। विवाह रस्म पं. कमलेष व्यास ने सपंन्न करवाई। वहीं इसमें सहयोग मंदिर के सेवक गोपालदास बैरागी का भी रहा। बाद महाआरती कर भगवान की बारात निकाली गई।

बालिकाओं ने किया नृत्य
भगवान की बारात में बड़ी संख्या में भक्तजन शामिल हुए। आगे बैंड-बाजे बाद ढोल पर बालिकाएं नृत्य करते हुए चली। इसके पीछे तुलसीजी ओर बाल मुकुंद को सिर पर बैठाकर भक्तजन शामिल हुए। महिला एवं पुरूष भक्तजनों में भगवान की बारात निकालने को लेकर अपार उत्साह दिखाई दिया। यह बारात शहर के मुख्य बाजारों से होते हुए पुन मंदिर पर पहुंची।  माहेश्वरी समाज ने किया तुलसी विवाह पर दो दिवसीय आयोजन, भगवान की धूमधाम से  निकाली बारात शहर के लक्ष्मीनारायण मंदिर में माहेष्वरी समाज द्वारा तुलसी विवाह पर दो दिवसीय आयोजन किया गया। जिसमंे प्रथम दिन 7 नवंबर को हल्दी-मेहंदी एवं बन्ना-बन्नी प्रतियोगिता रखी गई एवं दूसरे दिन 8 नवंबर को देव उठनी ग्यारस पर तुलसी विवाह का आयोजन करते हुए भगवान की बारात बैंड-बाजों के साथ निकाली गई।  जानकारी देते हुए माहेष्वरी समाज की भूमिका माहेष्वरी ने बताया कि प्रथम दिन 7 नवंबर, गुरूवार को हल्दी-मेहंदी के आयोजन में समाजजनों ने एक-दूसरे को हल्दी-मेहंदी लगाई। कार्यक्रम में सभी महिलाएं हरे एवं पीले रंग की साड़ी पहननकर शामिल हुई एवं दूसरे दिन 8 नवंबर, शुक्रवार को मंदिर से शाम को भगवान की बारात निकाली गई। जिसमें सभी ने चुंदड़ी एवं लाल रंग के वस्त्र धारण कर प्रभु की बारात बड़े ही धूमधाम से नाचते-गाते हुए निकाली। बारात के आगे जमकर आतिष्बाजी की गई। इसके पीछे युवाजन बाद महिलाएं एवं युवतियां नृत्य करते हुए चली। भगवान का विवाह संपूर्ण रीति-रिवाज के अनुसार संपन्न हुआ।

जगह-जगह स्वागत के साथ फरियाली खिचड़ी का किया वितरण
विवाह का लाभ रितू-सर्वेष सोडानी एवं परिवार ने लिया। भगवान के मामा-मामी बनने का लाभ अर्चना-आषीष माहेष्वरी ने प्राप्त किया। वहीं मुख्य बाजार में बारात का स्वागत मनोज कटकानी एवं उनके परिवार द्वारा किया गया। बारात के मार्ग पर ही समाजसेवी प्रदीप सोनी एवं परिवार की ओर से फरियाली खिचड़ी का सभी को वितरण किया गया। आयोजन को सफल बनाने में सराहनीय सहयोग हरिष माहेष्वरी, मनोज माहेष्वरी, विनीता माहेष्वरी आदि का रहा। 

संकल्प से सफलता अवष्य प्राप्त होती है -ः अष्ट प्रभावक श्री नरेन्द्र सूरीजी, चातुर्मास समापन के उपलक्ष में बावन जिनालय में बहुमान कार्यक्रम का हुआ आयोजन
सहयोग देने वाले 50 से अधिक सदस्यों का किया बहुमान
jhabua news
झाबुआ। स्थानीय श्री ऋषभदेव बावन जिनालय में 9 नवंबर, शनिवार को सुबह राजस्थान केसरी अष्ट प्रभावक आचार्य श्री नरेन्द्र सूरीश्वरजी मसा ‘नवल’ एवं पंन्यास प्रवर जिनेन्द्र विजयजी मसा ‘जलज’ की निश्रा में पूर्णिमा पर हो रहे चातुर्मास समापन के उपलक्ष्य मंे कोर कमेटी एवं श्री नवल स्वर्ण जयंती चातुर्मास समिति की ओर से बहुमान कार्यक्रम का आयोजन किया गया। प्रारंभ में आचार्य श्री नरेन्द्र सूरीजी ने मंगलाचरण किया। पश्चात् अनेक वक्ताओं ने अपने विचार व्यक्त किए। श्रावक रत्न धर्मचंद्र मेहता ने कहा कि 4 माह तक आचार्य श्रीजी ने धर्म की गंगा बहाई है। हम उनके कृतज्ञकारी है। चातुर्मास समिति अध्यक्ष श्री कमलेश कोठारी ने आचार्य श्री के चातुर्मास को ऐतिहासिक बताया। श्वेतांबर जैन श्री सघ अध्यक्ष संजय मेहता ने आचार्य श्रीजी को श्रेष्ठ प्रवचनकार बताया। अक्षय लोढ़ा ने आचार्य श्रीजी से अगला चातुर्मास भी झाबुआ मे करने की विनती की। तेजप्रकाश कोठारी ने अष्ट प्रभावक एवं पंन्यास प्रवर को सरल स्वभावी बताया।

विदाई गीत प्रस्तुत किया
लवेश बागरेचा, श्रीमती मधुबाला कांठी, जीवनबेन पोरवाल, श्रीमती सकलेचा, शीला कटरिया आदि ने विदाई गीत प्रस्तुत किया। हंसा कोठारी, सरोज सेठिया सोनू कटकानी ने भी आचार्य श्रीजी के विदाई उपलक्ष मे विचार व्यक्त करते हुए कहा की आचार्य श्रीजी ने हमे धर्म करने का उपदेश दिया। तीर्थेन्द्र सूरी समिति के संजयकुमार काठी एवं वरिष्ठ मनोज मेहता ने चातुर्मास को सफल बताया।

सभी के संकल्प से सफल हुआ चातुर्मास
इसके पश्चात आचार्य श्री ने प्रवचन देते हुए कहा कि संकल्प लेने से सफलता निश्चित मिलती हे। इस चातुर्मास को सफल बनाने का आप सभी का संकल्प था, इसलिए यह चातुर्मास सफल एवं ऐतिहासिक हुआ। पश्चात चातुर्मास समिति अध्यक्ष कमलेश कोठारी, समाज रत्न सुभाषचन्द्र कोठारी, राजेंद्र रूनवाल, निलेश लोढ़ा, संतोष रूनवाल, हस्तीमल संघवी, जितेन्द्र्र जैन के साथ समिति के उपाध्यक्ष, सचिव, सह-सचिव सहित 50 से अधिक सदस्यों का बहुमान सिर पर साफा पहनाकर, गले में माला पहनाकर, शाल और श्रीफल भेंटकर कर किया गया। कार्यक्रम का संचालन श्री संघ प्रवक्ता डाॅ. प्रदीप संघवी ने किया एवं आभार चातुर्मास समिति अध्यक्ष कमलेश कोठारी ने माना।

तीन दिवसीय एक्यूप्रेषर षिविर के समापन पर डाॅ. ममता जैन का आसरा पारमार्थिक ट्रस्ट ने किया सम्मान, पुनः षिविर आयोजन करने पर डाॅ. जैन ने पधारने की स्वीकृति प्रदान की 

jhabua news
झाबुआ। स्व. श्रीमती चंद्रकांताबेन नागर की स्मृति में लीना-राजेष नागर परिवार की ओर से तीन दिवसीय एक्यप्रेषर षिविर का आयोजन स्थानीय राजवाड़ा के समीप बापू सा टाॅवर में किया गया। जिसमें तीन दिनों तक झालोद जिला दाहोद (गुजरात) निवासी डाॅ. ममता जैन ने एक्यूप्रेषर पद्धति से 25 रोगियों का सफलतम उपचार किया। जिसके बाद कई मरीजों ने राहत मिलने की भी बात कहीं है।  समापन पर 9 नवंबर, शनिवार को स्थानीय पैलेस गार्डन पर आसरा पारमार्थिक ट्रस्ट की ओर डाॅ. जैन की तीन दिवसीय सेवाओं की सराहना करते हुए उनका पुष्पमाला पहनाकर एवं शाल ओढ़ाकर तथा प्रतीीक चिन्ह देकर सम्मान आसरा पारमार्थिक ट्रस्ट के संस्थापक अध्यक्ष राजेष नागर, मेनेजिंग ट्रस्टी यषवंत भंडारी, संस्थापक अध्यक्ष नीरजसिंह राठौर, सेवा प्रकल्प परामर्षदाता सुधीरसिंह कुषवाह, अध्यक्ष रविराजसिंह राठौर, षिविर संयोजक मुकेष संघवी, मीडिया प्रभारी दौलत गोलानी, श्री चैरसिया, महिलाओं में श्रीमती लीना नागर, आषा त्रिवेदी आदि द्वारा किया गया। साथ ही उन्हें सहयोग राषि भी भेंट की। इस अवसर पर डाॅ. जैन ने आगामी दिनों में भी अपनी सेवाएं देने के लिए बुलवाने पर आवष्यक रूप से आने की स्वीकृत प्रदान की। तीन दिवसीय षिविर का कुल 25 रोगियों ने लाभ लिया।

अभा क्षत्रिय महासंघ की प्रदेष अध्यक्ष प्रतिभासिंह 17 नवंबर को झाबुआ भ्रमण पर, क्षत्रिय महासंघ की जिला इकाई ने बैठक कर बनाई कार्य योजना 

jhabua news
झाबुआ। अखिल भारतीय क्षत्रिय महासंघ की महिला इकाई प्रदेष अध्यक्ष प्रतिभासिंह आगामी 17 नवंबर को झाबुआ भ्रमण पर आ रहीं है, जिनका कार्यक्रम तय करने हेतु क्षत्रिय महासंघ की जिलाध्यक्ष डाॅ. अर्चना राठौर की अध्यक्षता में जिला इकाई की बैठक 9 नवंबर, शनिवार को दोपहर स्थानीय पैलेस गार्डन पर संपन्न हुई। इस अवसर पर जानकारी देते हुए जिलाध्यक्ष अर्चना राठोैर ने महासंघ की सभी पदाधिकारी एवं सदस्याओं को बताया कि आमामी 17 नवंबर को संगठन की प्रदेष अध्यक्ष प्रतिभासिंह ने झाबुआ आने की स्वीकृति प्रदान की है। इस अवसर पर उनका कार्यक्रम तय करने को लेकर यह बैठक आयोजित की गई है। बैठक में सभी की सहमति से तय किया गया कि इस दिन पैलेस गार्डन पर उनका भव्य स्वागत समारोह रखकर इस दौरान उनके द्वारा झाबुआ जिले की सभी नवनियुक्त पदाधिकारी-सदस्याओं को नियुक्ति पत्र प्रदान किए जाएंगे। राजपूत समाज की बालिकाओं द्वारा सांस्कृतिक कार्यक्रम प्रस्तुत करने के साथ ही इस दौरान समाज के प्रतिभाषाली बच्चों का सम्मान कार्यक्रम भी रखा जाएगा। अंत में सहभोज का आयोजन होगा। इसके अलावा अन्य किए जाने वाले कार्यक्रम भी आगामी दिनों में तय किए जाएंगे।

डेढ़ घंटे चली बैठक
यह बैठक करीब डेढ़ घंटे तक चली। इस अवसर पर अभा क्षत्रिय महासंघ की जिला सचिव सोनिका सिसौदिया, जिला सह-सचिव दीपिका चैहान, सांस्कृतिक सचिव रागिनी राठौर, जिला संयोजिका भारती राठौर, जिला प्रवक्ता शीतल जादौन, जिला कार्यकारिणी सदस्य अनिता पंवार, मनीष राठौर, पद्मा चोहान, वार्ड प्रभारी निषा राठौर, हंसा झाला, रेखा राठौर आदि उपस्थित थी।

पंजाबी एवं सिंधी समाज द्वारा मिलकर मनाई जाएगी गुरूनानक जयंती, प्रातः प्रभात फैरी निकालने के साथ ही रात्रि में भजन-किर्तन, लंगर एवं आतिष्बाजी का होगा आयोजन

jhabua news
झाबुआ। शहर में 12 नवंबर, मंगलवार को गुरूनानक जयंती पंजाबी एवं सिंधी समाज द्वारा मिलकर मनाई जाएगी। इस अवसर पर प्रातः प्रभात फैरी निकालने के साथ ही देर शाम से नेहरू मार्ग स्थित दक्षिणी मुखी महाकालिका माता मंदिर के समीप धर्मषाला में विभिन्न आयोजन किए जाएंगे। जानकारी देते हुए आयोजक पंजाबी समाज के वरिष्ठ सुभाष छाबड़ा ने बताया कि इस संबंध में पंजाबी एवं सिंधी समाजजनों की महत्वपूर्ण बैठक उनके सिद्धेष्वर काॅलोनी स्थित निवास पर आयोजित हुई। जिसमें निर्णय लिया गया कि 12 नवंबर, मंगलवार को प्रातः 5 बजे दोनो समाज के लोग सुभाष छाबड़ा के निवास पर एकत्रित हांेगे। बाद यहां से 6 बजे प्रभात फैरी निकाली जाएगी। प्रभात फैरी में वाहन पर गुरूनानक देव का चित्र विराजमान कर पीछे समाज के लोग भजन-किर्तन करते हुए चलेंगे। यह प्रभात फैरी शहर के मेन बाजार, थांदला गेट, बाबेल चैराहा, आजाद चैक, राजवाड़ा, राधाकृष्ण मार्ग, रूनवाल बाजार, मेन बाजार, बस स्टेंड फव्वारा चैक होते हुए सिद्धेष्वर काॅलोनी स्थित श्री छाबड़ा के निवास पर ही समापन होगा।

भजन-किर्तन एवं लंगर का होगा आयोजन
श्री छाबड़ा ने आगे बताया कि अलसुबह प्रभात फैरी के बाद देर शाम 7 बजे से पंजाबी एवं सिंधी समाज के लोग कालिका माता मंदिर के समीप स्थित धर्मषाला में एकत्रित होंगे। यहां रात्रि 8 से 12 बजे तक महिलाआंे द्वारा भजन-किर्तन के साथ रात करीब 9 बजे से लंगर का आयोजन होगा। इस अवसर पर मुख्य अतिथि के रूप में क्षेत्रीय विधायक कांतिलाल भूरिया एवं उनके पुत्र डाॅ. विक्रांत भूरिया के साथ अन्य अतिथियों में वरिष्ठ समाजसेवी जिला दहेज सलाहकार बोर्ड के अध्यक्ष यषवंत भंडारी, रोटरी क्लब के नवीन सहायक मंडलाध्यक्ष उमंग सकसेना, सकल व्यापारी संघ अध्यक्ष नीरजसिंह राठौर एवं आसरा पारमार्थिक ट्रस्ट के संस्थापक अध्यक्ष राजेष नागर उपस्थित रहेंगे। 

अरदास कर प्रसादी वितरण होगा  
रात ठीक 12 बजे गुरूनानकजी का जन्मोत्सव मनाते हुए समाजजनों द्वारा अरदास पढ़ाई जाएगी। बाद सभी को प्रसादी वितरण होगा। अंत में आतिष्बाजी कर पर्व की खुषियां मनाने के साथ समापन होगा। बैठक में दोनो समाज के वरिष्ठों में सुभाष छाबड़ा, सुरेष सावलानी, सुभाष गिधवानी, अषोक सावलानी, किषोर चावला, दौलत गोलानी, रोषन सावलानी, महिलाओं में श्रीमती आज्ञा छाबड़ा, श्रीमती गुरनानी आदि उपस्थित थे।

फोटो निर्वाचक नामावली के विशेष संक्षिप्त पुनरीक्षण 2020 का संशोधित कार्यक्रम
     
झाबुआ । कलेक्टर श्री प्रबल सिपाहा की अध्यक्षता में बैठक आयोजित की गई। जिसमें समस्त जिला अधिकारी एवं निर्वाचन संबधित अधिकारी/कर्मचारी उपस्थित थे। इस बैठक में भारत निर्वाचन आयोग के निर्देशानुसार कार्यवाही समय सीमा में किये जाने के निर्देष दिये गये। भारत निर्वाचन आयोग के निर्देशानुसार दिनांक एक जनवरी 2020 की अर्हता तिथि को 18 वर्ष की आयु पूर्ण करने वाले पात्र व्यक्तियों का नाम निर्वाचक नामावली में दर्ज किया जाएगा। पुनरीक्षण पूर्व गतिविधियों में मतदाता सत्यापन कार्यक्रम एवं मतदान केन्द्रों के युक्तियुक्तकरण का कार्य 18 नवम्बर 2019 तक किया जायेगा। एकजाई प्रारूप निर्वाचक नामावली के प्रारूप प्रकाशन 25 नवम्बर को किया जायेगा। दावे एवं आपत्तियां 25 नवम्बर से 24 दिसम्बर 2019 तक दर्ज की जाएँगी। दावे-आपत्तियों का निराकरण 10 जनवरी 2020 से पूर्व किया जायेगा। पूरक सूची की तैयारी 17 जनवरी, 2020 तक की जायेगी। निर्वाचक नामावली का अंतिम प्रकाशन 20 जनवरी 2020 किया जायेगा।

आपकी सरकार आपके द्वार य¨जना का दूसरा शिविर 13 नवम्बर को कल्याणपुरा में आयोजित होगा
      
झाबुआ । जिले के नागरिक¨ं विशेष रूप से ग्रामीण रहवासिय¨ं की समस्याअ¨ं के निराकरण अ©र विकास के सुझाव¨ं पर अमल के लिये शासन द्वारा प्रारंभ की गई आपकी सरकार आपके द्वार योजना का शिविर जिले में 13 नवम्बर को झाबुआ विकासखण्ड के ग्राम कल्याणपुरा में आयोजित किया जाएगा। कलेक्टर श्री प्रबल सिपाहा ने निर्देश दिये कि 13 नवम्बर को सभी अधिकारी प्रातः 9 बजे आपकी सरकार आपके द्वार में चयनित विकासखण्ड झाबुआ के आकस्मिक भ्रमण के लिए चयनित गाँव में पहुचकर आम जनता से सम्पर्क कर योजना में सम्मिलित कार्यक्रम/गतिविधियो के संबंध में चर्चा कर फिडबेक ले। आकस्मिक भ्रमण वाले गाँव का नाम ग¨पनीय रहेगा। भ्रमण में गाँव की सभी संस्थाअ¨ं का निरीक्षण किया जायेगा। इन संस्थाअ¨ं में स्कूल, आँगनवाड़ी केन्द्र, राशन की दुकान, अस्पताल, ग्राम पंचायत का दफ्तर शामिल हैं। भ्रमण सुबह 9 से द¨पहर एक बजे तक रहेगा। इसके बाद द¨पहर द¨ बजे से कल्याणपुरा में विकासखण्ड स्तरीय शिविर में उपस्थित रहे। शिविर में आने वाले आवेदको की समस्याअ¨ं का तत्काल निराकरण करेे। जिन आवेदन¨ं का तुरंत निराकरण संभव नहीं ह¨गा, उसके संबंध में आवेदक क¨ सूचित करे। एक समय-सीमा में निराकरण का कार्य किया जाना है। शिविर में प्राप्त आवेदनो की इन्ट्री भी शासन के पोर्टल पर उसी दिन की जाना है। इसलिए सभी आवश्यक व्यवस्थाये सुनिष्चित करे। कलेक्टर ने शिविर के संबंध में मुनादी एवं अन्य उपाय¨ं से भी ग्रामीण¨ं तक सूचना पहुँचाने का कार्य करने के लिए सभी एसडीएम, सीईओ जनपद को निर्देशित किया।

शासन के सभी कार्यालयों को सिंगल यूज प्लास्टिक मुक्त घोषित
    
झाबुआ । भारत सरकार द्वारा वर्ष 2022 तक सिंगल यूज प्लास्टिक के उपयोग को फेज आउट करने का संकल्प लिया गया है। भारत सरकार द्वारा लिये गये संकल्प के अनुरूप म.प्र. शासन के सभी कार्यालयों को सिंगल यूज प्लास्टिक मुक्त घोषित किया गया हैं। सभी कार्यालयों में होने वाले सार्वजनिक कार्यक्रमों के अन्तर्गत डिस्पोजेबिल प्लास्टिक वस्तुएँ, प्लास्टिक कैरी बैग्स, फूडपैकेजिंग, प्लास्टिक फ्लावर पार्ट, बैनर, झंडे, पैटबाटल्स, कटलरी, प्लेट्स, कप, ग्लास्ट्रा, फोर्कस, स्पून्स, पाउच, शेसे आदि तथा थर्मोकोल से निर्मित सजावट एवं अन्य सामान को प्रतिबंधित किया गया है।

अनुदान सहायता के लिये पंजीकृत हो सकेंगे लक्ष्य से 10 गुना अधिक किसान

झाबुआ । प्रदेश में किसानों को कृषि यंत्र सहित अन्य सिंचाई उपकरणों की खरीदी पर अनुदान सहायता देने की प्रक्रिया का सरलीकरण किया गया है। नवीन सरलीकृत प्रक्रिया वेबसाइट कइजण्उचकंहमण्वतह पर अपलोड है। इस पर हर जिले में लक्ष्य से 10 गुना अधिक संख्या तक किसान ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं। पंजीबद्ध किसानों को ऑनलाईन लॉटरी के माध्यम से वरिष्ठता के आधार पर यंत्रवार, वर्गवार, जिलावार तथा योजनावार वरीयता देते हुए अनुदान सहायता का लाभ दिया जाएगा।

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...