एमपी में एक लाख से ज्यादा लोगों ने हस्ताक्षर कर आंगनवाड़ी में अंडे देने का किया समर्थन - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

मंगलवार, 24 दिसंबर 2019

एमपी में एक लाख से ज्यादा लोगों ने हस्ताक्षर कर आंगनवाड़ी में अंडे देने का किया समर्थन

anganwadi-demand-egg-madhya-pradesh
मध्यप्रदेश में एक लाख बीस हजार लोगों ने आंगनवाड़ी में अंडे देने का हस्ताक्षर अभियान चलाकर समर्थन किया है। भोजन के अधिकार अभियान के कार्यकर्ताओं ने खादय सुरक्षा से जुड़ी अपनी मांगों का ज्ञापन सोमवार को महिला एवं बाल विकास के प्रमुख सचिव अनुपम राजन को सौंपा। इसके साथ ही उन्हें हस्ताक्षर सौंपकर मांग कि कि मध्यप्रदेश में बच्चों के स्वास्थ्य और पोषण मानकों को बेहतर बनाने के लिए इन पर एक्शन लिया जाना चाहिए। भोजन के अधिकार अभियान से जुड़े विभिन्न जन संगठनों एवं संस्थाओं द्वारा खाद्य असुरक्षा और कुपोषण से मुक्ति के लिए जनयात्रा 2 अक्टूबर से 20 नवम्बर 2019 निकाली गई। यह यात्रा रीवा, पन्ना, सतना, उमरिया, निवाड़, शिवपुरी, झाबुआ, शहडोल, विदिशा, खंडवा, बडवानी, खरगोन, मंडला, जबलपुर, बैतूल, शाजापुर,  छतरपुर एवं भोपाल जिले में इस जनयात्रा का आयोजन किया गया.  इस यात्रा के माध्यम से बच्चों में कुपोषण को पूरी तरह से खत्म करने के लिए समुदाय से साथ विभिन्न पहुलओं जिसमे सामाजिक, सांस्कृतिक एवं जेंडर जैसे मुद्दों पर चर्चा एवं संवाद किया गया. यात्रा के दौरान समुदाय ने कुपोषण को ख़त्म करने के लिए आंगनवाड़ी एवं मध्यान्ह भोजन में अंडा एवं फल के वितरण, मातृत्व हक़ को दो बच्चों तक लागू करने, आंगनवाडी को क्रेच के रूप में स्थापित करने का व्यापक समर्थन दिया है. भोजन का अधिकार अभियान की तरफ से राकेश मालवीय, रेखा श्रीधर, शिवराज कुशवाह, जावेद अनीस एवं अंजलि आचार्य ने यह ज्ञापन सौंपा।

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...