दो प्लस दो बैठक में नहीं उठा नागरिकता संशोधन कानून का मसला - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

शुक्रवार, 20 दिसंबर 2019

दो प्लस दो बैठक में नहीं उठा नागरिकता संशोधन कानून का मसला

citizenship-bill-internal-matter-in-two-plus-two-meeting
नयी दिल्ली 19 दिसंबर, सरकार ने आज स्पष्ट किया कि भारत एवं अमेरिका के बीच कल संपन्न रक्षा मंत्री एवं विदेश मंत्री स्तर की संयुक्त दो प्लस दो बैठक में भारत का आंतरिक विषय होेने के नाते नागरिकता संशोधन कानून के बारे में कोई चर्चा नहीं हुई, पर अमेरिकी सांसदों एवं वार्ताकारों को भारत के पक्ष से भलीभांति अवगत करा दिया गया है। विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने यहां नियमित ब्रीफिंग में सवालों के जवाब में कहा कि इस बैठक में भारत की ओर से रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह और विदेश मंत्री एस.जयशंकर ने भाग लिया और बैठक बहुत सकारात्मक एवं रचनात्मक रही। बैठक शुरु होने से पहले रक्षा मंत्री एवं विदेश मंत्री ने अपने अपने समकक्षों के साथ द्विपक्षीय बैठकें कीं। जबकि बैठक के बाद वे अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप से मिले। श्री कुमार ने कहा कि चारों मंत्रियों ने संकल्प लिया कि वे भारत अमेरिका रणनीतिक वैश्विक साझेदारी की पूर्ण क्षमता के दोहन के लिए मिलकर काम करेंगे। नागरिकता संशोधन कानून के मुद्दे के उठने के बारे में पूछे जाने पर प्रवक्ता ने कहा कि भारत का आंतरिक मुद्दा होने के कारण इस मुद्दे पर दो प्लस दो बैठक में कोई चर्चा नहीं हुई। विदेश मंत्री की अमेरिकी सीनेट की वैदेशिक संबंध समिति के नेतृत्व के साथ बैठक के बारे में पूछे जाने पर उन्होंने कहा कि उन्हें इस बैठक की बिन्दुवार जानकारी नहीं है लेकिन नागरिकता संशोधन कानून पर हमारे दृष्टिकोण से अमेरिकी वार्ताकारों खासकर सांसदों को अवगत करा दिया गया है। उन्होंने कहा कि हमने उन बिन्दुओं को रेखांकित किया है जिन्हें संसद में बतलाया गया है और बाद में प्रधानमंत्री एवं गृह मंत्री ने दोहराया है। अमेरिकी सांसदों के साथ बैठक में डॉ. जयशंकर ने इस मुद्दे पर हमारे दृष्टिकोण को साझा किया गया है। प्रवक्ता ने बताया कि दो प्लस दो बैठक में हिन्द प्रशांत क्षेत्र में सहयोग, भारत एवं अमेरिका के बीच रक्षा एवं विदेश संबंधी नीतियों के सहयोग, आतंकवाद से मुकाबले, व्यापार, विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी, जनता के बीच संपर्क आदि विषयों पर विचार विमर्श किया गया। दोनों पक्षों ने बहुपक्षीय मंचों पर परस्पर सहयोग बढ़ाने के बारे में भी बातचीत की। रक्षा मंत्री श्री सिंह ने नोरफोल्ड बेस का भी दौरा किया और प्रवासी भारतीयों से मुलाकात की।  

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...