रघुवर लगा पायेंगे जीत का छक्का ? चतुष्कोण संघर्ष की संभावना ! - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

मंगलवार, 3 दिसंबर 2019

रघुवर लगा पायेंगे जीत का छक्का ? चतुष्कोण संघर्ष की संभावना !

fight-for-raghuvar
जमशेदपुर पूर्व विधानसभा क्षेत्र पूरे झारखंड का ही नहीं बल्कि पूरे देश का सबसे चर्चित विधानसभा चुनाव बन गया है l झारखंड में हो रहे विधानसभा चुनाव का सर्व विवादित सीट यह माना जा रहा है, इस सीट पर झारखंड सरकार के मुख्यमंत्री रघुवर दास अपनी किस्मत आजमा रहे हैं l वहीं कांग्रेस ने महागठबंधन प्रत्याशी के रूप में  एक्सएलआरआई के फाइनेंस डिपार्टमेंट में प्रोफेसर रहे गौरव बल्लभ को यहां से प्रत्याशी बनाया है l झारखंड विकास मोर्चा ने  अभय सिंह  को पुन: चुनावी मैदान में उतारा है , शिवसेना ने जमशेदपुर पूर्व विधानसभा से  युवा नेता  तारकेश्वर तिवारी उर्फ गोल्डी तिवारी को चुनाव मैदान में उतारा है, जमशेदपुर पश्चिम  से भाजपा का टिकट कटने के बाद  सरयू राय  निर्दलीय चुनाव लड़ रहे हैं l इसके अलावा कई अन्य प्रत्याशी भी मतदाताओं को अपने पक्ष में मतदान कराने के लिए प्रयासरत हैं एवं खुद को  रेस में आगे बता रहे हैंl            

जमशेदपुर पूर्व विधानसभा क्षेत्र से भाजपा प्रत्याशी रघुवर दास भाजपा के टिकट पर वर्ष 1995 से लगातार विधायक चुने जा रहे हैं l रघुवर दास इस चुनाव में जीत हासिल कर जीत का छक्का लगाना चाहते हैं lभाजपा प्रत्याशी की जीत सुनिश्चित करने के लिए भाजपा के राष्ट्रीय और प्रदेश स्तर के राजनेता लगातार कैंप किए हुए हैं lकार्यकर्ता भी उन्हें विजय बनाने के लिए पूरे दमखम से एकजुट हो ,चुनाव प्रक्रिया में भाग ले रहे हैं l. भाजपा के कार्यकर्ताओं का मानना है कि जमशेदपुर पूर्व विधानसभा सीट पूरे झारखंड में भाजपा के लिए सर्वाधिक सुरक्षित सीट है इस सीट पर भाजपा का वर्ष 1990 से लगातार कब्जा रहा हैl वर्ष 2014 के विधानसभा चुनाव में जमशेदपुर पूर्व विधानसभा के भाजपा प्रत्याशी रघुवर दास 103427 मत प्राप्त कर विजई हुए थे,वहीं कांग्रेस प्रत्याशी आनंद बिहारी दुबे 33270 ,झारखंड विकास मोर्चा प्रत्याशी अभय सिंह 20815, एवं झारखंड मुक्ति मोर्चा प्रत्याशी कमलजीत कौर गिल को 3987 मत प्राप्त किए थेl वर्ष 2009 के विधानसभा चुनाव में जमशेदपुर पूर्व विधानसभा के भाजपा प्रत्याशी रघुवर दास 56165 मत प्राप्त कर चुनाव जीते थे , तो वहीं झारखंड विकास मोर्चा के प्रत्याशी को 33202, निर्दलीय प्रत्याशी आनंद बिहारी दुबे को 10944 एवं झारखंड मुक्ति मोर्चा प्रत्याशी प्रमोद लाल को 4864 मत प्राप्त हुए थेl  वर्ष 2005 के विधानसभा चुनाव में जमशेदपुर पूर्व विधानसभा  के भाजपा प्रत्याशी रघुवर दास 65116 मत प्राप्त कर विजई हुए थे वहीं कांग्रेस प्रत्याशी रामाश्रय प्रसाद को 46718 , राष्ट्रीय जनता दल के प्रत्याशी  इंद्रजीत कालरा  2867, समाजवादी पार्टी के प्रत्याशी इं. शशि को 1547 मत प्राप्त हुए थेl कार्यकर्ताओं का कहना है कि स्थानीय विधायक एवं सूबे के मुख्यमंत्री रघुवर दास के कार्यकाल में सिर्फ जमशेदपुर पूर्व विधानसभा का ही नहीं बल्कि पूरे झारखंड का चौमुखी विकास हुआ हैl इनके कार्यकाल में कई ऐसी नीति तय की गई है जो किसी के लिए कर पाना आसान नहीं थाl इनके कार्यकाल में सरकार की योजनाएं बिना बिचौलिया के धरातल पर उतारी गई है जिसका लाभ समाज के अंतिम व्यक्ति को भी मिला हैl सड़क चौड़ीकरण, स्वच्छता, गरीबों को आवास, इत्यादि दर्जनों योजना धरातल पर उतारी गई है तो वही झारखंड सरकार में मंत्री रहे सरयू राय, कांग्रेश के प्रत्याशी गौरव बल्लभ, झाविमो प्रत्याशी अभय सिंह उनके चुनावी रथ को रोकने के लिए प्रयासरत है l कांग्रेस ने एक्स एल आर आई  के फाइनेंस डिपार्टमेंट में प्रोफेसर रहे गौरव बल्लभ को जमशेदपुर पूर्वी विधानसभा से अपना प्रत्याशी घोषित किया हैl कांग्रेस प्रत्याशी गौरव बल्लभ 20 वर्षों से जमशेदपुर में रहे हैं वह कांग्रेस के राष्ट्रीय प्रवक्ता भी हैं उनकी जीत सुनिश्चित कराने के लिए पार्टी के केंद्रीय एवं झारखंड प्रदेश के नेता एकजुट होकर काम कर रहे हैं कांग्रेसका मानना है कि महागठबंधन का लाभ हमारे प्रत्याशी को यहां मिल रहा है, जिससे कांग्रेस जमशेदपुर पूर्व विधानसभा में मजबूत हैl महागठबंधन के कार्यकर्ताओं का मानना है की 1985 की भांति कांग्रेश इस विधानसभा सीट पर जीत हासिल करेगीl उनका मानना है कि जमशेदपुर विधानसभा की जनता परिवर्तन चाहती है ऐसे में महागठबंधन के प्रत्याशी गौरव बल्लभ सबसे योग्य विकल्प के रूप में देखे जा रहे हैं l जनता उन पर भरोसा करें तो क्षेत्र में फैली समस्याओं का समाधान उनके द्वारा आसानी से निकाला जा सकता है l.     

झारखंड विकास मोर्चा के प्रत्याशी अभय सिंह बीते चुनाव से ही क्षेत्र की जनता के साथ हर सुख दुख में देखे जाते हैंl विधानसभा क्षेत्र की उन्नति एवं विकास के लिए वह तन मन धन से सतत प्रयासरत रहते हैंl झाविमो नेता कि राजनीतिक जीवन की शुरुआत भाजपा से ही हुई है l वे 2005 में भाजपा के जिला अध्यक्ष भी रह चुके हैंl उनकी पारिवारिक पृष्ठभूमि राजनैतिक एवं सामाजिक रही हैl जिसका लाभ भी उन्हें इस चुनाव में मिलता दिख रहा है l झाविमो सुप्रीमो बाबूलाल मरांडी समेत अन्य झाविमो नेता उनकी जीत सुनिश्चित कराने के लिए जमशेदपुर पूर्व विधानसभा के मतदाताओं के संपर्क में बराबर बने हुए हैं l ज्ञात हो कि झाविमो प्रत्याशी अभय सिंह वर्ष 2009 के चुनाव में 33202 मत प्राप्त कर दूसरे स्थान पर रहे थे ,वहीं वर्ष 2014 के चुनाव में जमशेदपुर पूर्व विधानसभा सीट के झाविमो प्रत्याशी अभय सिंह 20815 मत प्राप्त किए थेl. शिवसेना ने जमशेदपुर पूर्व विधानसभा क्षेत्र से तारकेश्वर तिवारी उर्फ गोल्डी तिवारी को उम्मीदवार बनाया है शिवसैनिक गोल्ड तिवारी की जीत सुनिश्चित कराने के लिए टोली बनाकर चुनावी मैदान में मतदाताओं को अपने पक्ष में मतदान करने के लिए अपील कर रहे हैं, ज्ञात हो कि शिवसेना प्रत्याशी तारकेश्वर तिवारी उर्फ गोल्डी तिवारी वर्ष 2005 के विधानसभा चुनाव में जमशेदपुर पूर्व विधानसभा क्षेत्र से लोक जनशक्ति पार्टी के उम्मीदवार थेl शिवसेना प्रत्याशी  तारकेश्वर तिवारी उर्फ गोल्डी तिवारी का कहना है कि  क्षेत्र की जनता  स्थानीय एवं युवा  प्रत्याशी  का अगर साथ दें तो क्षेत्र का सर्वांगीण विकास आपस में मिल बैठकर किया जा सकता हैl. जमशेदपुर पश्चिम के विधायक सरयू राय टिकट कटने पर जमशेदपुर पश्चिम के बजाय जमशेदपुर पूर्वी विधानसभा से चुनाव लड़ रहे हैं l रघुवर सरकार में सरयू राय 2014 से मंत्री भी रहे थेl टिकट ना मिलने पर नाराज होकर विधानसभा के सदस्य एवं मंत्रालय से उन्होंने इस्तीफा देकर जमशेदपुर पूर्व से अपना नामांकन किया l सूत्रों की माने तो उनके द्वारा सरकार में रहकर सरकार के खिलाफ टिप्पणी करने के कारण संभवत उनका टिकट काटा गया ,जिसके कारण वे जमशेदपुर पश्चिम के बजाय जमशेदपुर पूर्व विधानसभा से ही चुनाव लड़ रहे हैं l उनके करीबियों का मानना है कि जमशेदपुर पूर्व विधानसभा की जनता परिवर्तन चाहती है एवं यहां की जनता सरयू राय को सहयोग कर रही हैl उन लोगों का मानना है कि सहानुभूति वोट भी सरयू राय को मिलता दिख रहा हैl रघुवर से नाराज कुछ कार्यकर्ता सरयू राय की जीत सुनिश्चित कराने के लिए लगे हुए हैं l. अब देखना है कि जमशेदपुर पूर्व विधानसभा की जनता 7 दिसंबर को किसके पक्ष में मतदान कर झारखंड विधानसभा में अपना विधायक चुनकर भेजती हैl

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...