दिल्ली के ILBS अस्पताल में 22 वां अंतरराष्ट्रीय हेपेटाइटिस डे पर किया गया भव्य आयोजन - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

बुधवार, 4 दिसंबर 2019

दिल्ली के ILBS अस्पताल में 22 वां अंतरराष्ट्रीय हेपेटाइटिस डे पर किया गया भव्य आयोजन

इस कार्यक्रम के अवसर पर दिल्ली सरकार के स्वास्थ्य मंत्री, चीफ सेक्रेट्री और ब्रांड एंबेसडर मैरी कॉम हुई सामिलकार्यक्रम का मकसद इस बिमारी के बारें में लोगों में ज्यादा से ज्यादा जागरूक करना है
international-hepetitis-b-seminar
दिल्ली के ILBS अस्पताल में 22 वां अंतरराष्ट्रीय हेपेटाइटिस डे के अवसर पर एक भव्य कार्यक्रम का आयोजन की गया। इस कार्यक्रम में दिल्ली सरकार के स्वास्थ्य मंत्री, चीफ सेक्रेट्री और अस्प्ताल के सीनियर ऑफिसर्स समेट कई बड़े डॉक्टर सामिल हुए।अस्पताल के सीनियर डॉक्टरों के अनुसार हेपेटाइटिस जैसी जानलेवा बीमारी के लिए जरूरत है लोगों में ज्यादा से ज्यादा जागरूकता फैलाने की। वहीं दिल्ली सरकार के स्वास्थ्य मंत्री ने बड़े ही आसान लफ्जों में समझाया कि शराब सिगरेट और हाइजीनिक चीजों का सेवन अगर कम होने लगे तो ऐसी बीमारियों पर काफी काबू पाया जा सकता है। 4 दिसंबर यानी वर्ल्ड हेपेटाइटिस डे,,,,, हेपेटाइटिस बीमारी आज पूरी दुनिया में काफी तेजी से फैल रही है। बात करें अगर भारत की तो यहां भी हेपेटाइटिस का असर लगातार बढ़ रहा है। आईएलबीएस अस्पताल में इस कार्यक्रम के दौरान डॉक्टरों ने बताया हेपेटाइटिस जैसी जानलेवा बीमारी की पहचान वक्त से पहले अगर कर ली जाए तो इस पर काफी हद तक काबू पाया जा सकता है। साथ ही लिवर की बीमारी शरीर के सभी बड़े बीमारियों का मुख्य कारण माना जाता है लेकिन शुरुआत में लोग लीवर के बीमारी पर ध्यान नहीं देते जिसके कारण शरीर में कई बीमारियां फैल जाती है। डॉक्टरों के मुताबिक जरूरत है हेपेटाइटिस जैसे जानलेवा बीमारी को लेकर लोगों में जागरूकता फैलाने की इस बीमारी का मुख्य कारण लोगों का लाइफ स्टाइल है मेट्रो सिटीज में जहां लोगों का शारीरिक व्यायाम खत्म होता जा रहा है और हाइजेनिक खाने पीने की चीज है दिनचर्या में लगातार बढ़ती जा रही है।  यह मुख्य कारण है ऐसी बीमारियों का आईएलबीएस अस्पताल के डॉक्टर सरीन ने इस बीमारी के कारण और इससे बचने के कुछ मुख्य बातें बताएं।  ILBS Hospital में वर्ल्ड हेपिटाइटिस डे पर एक भव्य कार्यक्रम का आयोजन किया जिसमें सैकड़ों की संख्या में स्कूली बच्चों ने पेंटिंग के माध्यम से यह मैसेज देने की कोशिश किया की ये बिमारी कितना खतरनाक है। दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन, चीफ सेक्रेटरी विजय देव और हेपेटाइटिस जैसी बीमारी के लिए ब्रांड एंबेसडर मैरी कॉम भी इस कार्यक्रम मे सामिल हुई थी। इस बीमारी को अवनीश के लिए सभी लोगों ने प्लेज किया। कार्यक्रम में मौजूद स्वास्थ्य मंत्री ने बड़े ही आसान शब्दों में बताया कि जिन चीजों पर सरकार सबसे ज्यादा टैक्स लगाती है या जिन चीजों का सबसे ज्यादा विज्ञापन होता है उन चीजों के सेवन से बचें तो आप स्वस्थ रहेंगे यानी शराब सिगरेट खाने पीने की चीज है इसके साथ साथ अच्छा एक्सरसाइज आपको इन बीमारी से दूर रख सकता है।  इस कार्यक्रम का उद्देश्य बिल्कुल साफ है अगर आप शहर में रहते हैं या गांव में खुद को स्वस्थ रखना यह सबसे ज्यादा आपके हाथों में है सही खाना और वक्त से खाना इसके साथ शारीरिक व्यायाम ऐसी जानलेवा बीमारी से खुद को बचाने का एक मूल मंत्र है  जिस तरह से भारत में और खासतौर से शहरी इलाकों में इस बीमारी का प्रकोप बढ़ रहा है जरूरी है इसको लेकर सभी को जागरूक होने की लिहाजा हेपेटाइटिस जैसी बीमारी का टीका जरूर लगवाएं ताकि इस बीमारी को शुरू होने से पहले ही खत्म किया जा सके।

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...