झाबुआ (मध्यप्रदेश) की खबर 03 दिसंबर - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

मंगलवार, 3 दिसंबर 2019

झाबुआ (मध्यप्रदेश) की खबर 03 दिसंबर

जिला मुख्यालय के पत्रकारों ने महामहिम राज्यपाल के नाम कलेक्टर को सौपा ज्ञापन, प्रजातंत्र के चैथे स्तंभ पर हमला अत्यंत निंदनीय

jhabua news
झाबुआ। वर्तमान सरकार द्वारा पत्रकारों की सुरक्षा या फिर पत्रकार परिवार बीमा जैसी योजना लागू करना कहीं ना कहीं ढोंग नजर आ रहा है। मप्र के वरिष्ठ पत्रकार जीतू सोनी द्वारा उनके अखबार में लगातार हनीट्रेप मामले की परत दर परत सच्चाई दिखाने पर कहीं ना कहीं वर्तमान सरकार को रास ना आया। कुछ विघ्न संतोषी लोगों की शिकायत पर सरकार ने शनिवार देर रात जीतू सोनी के इंदौर स्थित प्रेस कार्यालय पर अचानक रेड कर दी। सूत्र बताते हैं कि कई पत्रकारों को धमकाने की भी कोशिश की गई।

स्वतंत्रता छीन कर पत्रकारों की आवाज दबाने की कोशिश ...
पूरे घटनाक्रम को देखते हुए लगता है कि कहीं ना कहीं पत्रकारिता का हनन वर्तमान सरकार कर रही है एवं पत्रकारों की स्वतंत्रता छीन कर पत्रकारों की आवाज दबाने की कोशिश की जा रही है। जिसको लेकर 2 दिसंबर, सोमवार को झाबुआ शहर के इलेक्ट्रानिक एवं प्रिंट मीडिया के पत्रकारों ने देश के महामहिम राज्यपाल के नाम से कलेक्टर प्रबल सिपाहा को ज्ञापन सौंपकर सरकार द्वारा की गई कार्रवाई का विरोध किया।

प्रेस पर हमला अत्यंत निंदनीय
ज्ञापन में कहा गया कि प्रदेश सरकार एवं सरकार के नुमाईन्दों द्वारा देश के चैथे स्तंभ प्रिंट एवं इलेक्ट्रानिक मीडिया पर सत्त हमला किया जा रहा है। इंदौर के एक प्रतिष्ठित दैनिक अखबार द्वारा हाई प्रोफाईल मामले में हनीट्रेप के बारे मे समाचार प्रकाशित होने के बाद अर्द्धरात्रि में समाचार पत्र के कार्यालय एवं अन्य प्रतिष्ठानों पर अचानक कार्रवाई की गई, जो कि मीडिया पर कुठाराघात है। सरकार द्वारा हाई्र प्रोफाईल मामले को लेकर मीडिया का गला घोटकर आवाज को दबाया जा रहा है। इस पत्र के संपादक एवं पत्रकार पर राजनैतिक द्वेषता के चलते जो कार्रवाई की गई, वह अनुचित है एवं संविधान के अनुरूप नहीं है। झाबुआ जिले के प्रिंट एवं इलेक्ट्रानिक मीडिया की ओर से समाचार पत्र के संपादक,पत्रकार पर की गई कार्रवई को वापस लेने की मांग महामहिम राज्यपाल से की गई है ।

यह रहे उपस्थित
ज्ञापन का वाचन वरिष्ठ पत्रकार ठा. नरेश प्रतापसिंह ने किया। इस अवसर पर पत्रकार संजय जैन, अहद खान, सचिन बैरीगी, आलोक द्विवेदी, निकलेश डामोर, बलराज राठौर, संदीप जैन, मुकेश परमार, राकेश पोतदार, दिनेश वर्मा, पियूष गादिया, दौलत गोलानी, आफताब कुरैशी, संदीप मेहता, विरेंद्रसिंह राठौर, अनिल श्रीवास्तव, शैलेन्द्र राठौर, राजेन्द्र सोनी, कमलेश सोनी सहित बडी संख्या में मीडियाकर्मी उपस्थित थे।

आज मुख्यमंत्री कमलनाथ विशाल आम सभा को करेंगे संबोधित झाबुआ को  मिलेगी विकास कार्यों की सौगात’ 
’इस अवसर पर बूथ प्रभारियों क्षेत्रीय कांग्रेस संयोजक ओ से भी होंगे रूबरू’

झाबुआ । ’विगत माह झाबुआ विधानसभा उपचुनाव मैं झाबुआ विधानसभा क्षेत्र की जनता ने  काग्रेस को प्रचंड बहुमत दे कर कांग्रेस प्रत्याशी श्री कांतिलाल भूरिया को  विजय ताज से नवाजा था इस उपरांत क्षेत्र की जनता के बीच सघन दो रे मध्यप्रदेश  के यशस्वी मुख्यमंत्री श्री कमलनाथ जी ने अपने दौरे उपरांत जनता से वादा किया था कि तुम मुझे मौका दो जो काम भाजपा 15 सालों में नहीं कर पाई मैं 2 वर्षों में ही आपके क्षेत्र में विकास की गंगा बहा दूंगा उस वचन को निभाने एवं ग्रामीण एवं शहरी क्षेत्र की जनता के प्रति धन्यवाद ज्ञापित करने एवं कार्यकर्ताओं में उत्साह का संचार के लिए 3 दिसंबर को प्रातः 11ः00 स्थानीय पॉलिटेक्निक कॉलेज मैदान में आयोजित विशाल आमसभा को संबोधित करेंगे  जिला कांग्रेस अध्यक्ष निर्मल मेहता एवं संभागीय प्रवक्ता साबिर फिटवेल ने बताया कि आयोजित विशाल आमसभा मैं मुख्यमंत्री जी के अलावा मध्य प्रदेश के नगरी निकाय मंत्री जयवर्धन सिंह ऊर्जा मंत्री प्रियव्रत सिंह स्वास्थ्य मंत्री तुलसी सिलावट ऊर्जा नवीनीकरण मंत्री हर्ष यादव उच्च शिक्षा मंत्री जीतू पटवारी  चिकित्सा शिक्षा मंत्री डॉक्टर विजय लक्ष्मी साधो गृहमंत्री बाला बच्चन आदिम जाति कल्याण मंत्री ओमकार सिंह मरकाम लोक निर्माण मंत्री सज्जन सिंह वर्मा विधि जनसंपर्क मंत्री पीसी शर्मा जी कृषि मंत्री सचिन यादव व अन्य मंत्री गणों एवं विधायक गण सचिन बिरला बड़वा ह ग्यारसी लाल रावत सेंधवा प्रताप ग्रेवाल सरदारपुर मनोज चावला आलोट गोवर्धन सिंह दांगी राजगढ़ बापू सिंह कवर ब्यावरा कलावती भूरिया जोबट वीर सिंह भूरिया थांदला मुकेश पटेल अलीराजपुर बाल सिंह मेड़ा पेटलावद पूर्व विधायक जेवियर मेडा विधायक प्रतिनिधि डॉ विक्रांत भूरिया व अन्य वरिष्ठ नेता गण विशाल आमसभा में भाग लेंगे विधानसभा झाबुआ के ग्रामीण एवं शहरी मतदाताओं को धन्यवाद ज्ञापित करने एवं क्षेत्र की समस्याओं के समाधान करने व पार्टी पदाधिकारियों कार्यकर्ताओं क्षेत्रीय संयोजक ओ बूथ प्रभारियों का सम्मान व जनकल्याणकारी योजनाओं की सौगात की घोषणा मुख्यमंत्री कमलनाथ जी द्वारा की जाएगी इस अवसर पर जिले भर के कांग्रेस पदाधिकारी कार्यकर्ता गण निर्वाचित जिला पंचायत जनपद पंचायत नगर पालिका परिषदों के निर्वाचित प्रतिनिधियों एवं जिला कांग्रेस ब्लॉक कांग्रेस युवा कांग्रेश महिला कांग्रेस भारतीय राष्ट्रीय छात्र संगठन सेवादल अनुसूचित जाति जनजाति विभाग अनुसूचित जाति विभाग अल्पसंख्यक कांग्रेस विभाग सरपंच गण वह अन्य मोर्चा संगठनों के पदाधिकारी आईटी सोशल सेल के समस्त पदाधिकारी विशाल आम सभा को सफल बनाने के लिए जुट गए हैं’ 

संस्कार भारती ने मनाया दीपावली मिलन समारोह, विभिन्न प्रतियोगिताओं एवं गेम्स का किया आयोजन 

jhabua news
झाबुआ। संस्कार भारती आजाद इकाई झाबुआ द्वारा स्थानीय कृषि उपज मंडी के समीप निजी रेस्टोरेंट के सभा गृह में दीपावली मिलन समारोह का अनूठे तरीके से आयोजन किया गया। जिसमें विभिन्न प्रतियोगिताएं आयोजित किए जाने के साथ ही कई मनोरंजक गेम्स भी खेले गए। बाद विजेताआंे को पुरस्कार प्रदान किए गए। अंत में सभी के लिए सहभोज का आयोजन हुआ। जानकारी देते हुए संस्कार भारती आजाद इकाई झाबुआ की अध्यक्ष श्रीमती भारती सोनी ने बताया कि शाम 6 बजे से संस्कार भारती परिवार का दीपावली मिलन समारोह आरंभ हुआ। सर्वप्रथम संस्था का ध्येय गीत सामूहिक रूप से गाया गया। अध्यक्ष श्रीमती सोनी ने संस्कार भारती के स्वरूप से नवीन सदस्यों को अवगत करवाया। साहित्य प्रमुख आचार्य पं. गणेषप्रसाद उपाध्याय ने संस्कार भारती संस्था पर प्रकाष डाला।  समारोह का ध्येय बताया। पश्चात् महेन्द्रसिंह खुराना के संयोजन में 3 टीम बनाकर 5 चरणों में अंताक्षरी प्रतियोगिता का आयोजन रखा गया। जिसमें अक्षर पकड़ना, एक शब्द पकड़ना, अंतरे से गाने की पहचान करना, फिल्मी दृष्य के वर्णन पर गाना गाना, रागो पर आधारित गाना पहचानना आदि राउंड हुए। पश्चात् सुनिता बाबेल, कल्पना सकलेचा एवं ज्योति रांका द्वारा विभिन्न मनोरंजक खेल क्रियान्वित कर अपनी ओर से पुरस्कार वितरण किए गए।

सांस्कृतियांे प्रस्तुतियांे ने किया आनंदित
सांस्कृतिक कार्यक्रम में सियोनी कसावा की शास्त्रीय नृत्य की प्रस्तुति ने सभी का मन मोह लिया। पवेन्द्रसिंह चैहान एवं श्रीमती सीमा चैहान ने शानदार युगल नृत्य प्रस्तुत किया। प्रवीण सोनी ने एकल नृत्य की प्रस्तुति दी। बेजी प्रजापति एवं नन्हीं बालिका भट्ट की प्रस्तुति भी सराहनीय रहीं। सांस्कृतिक प्रस्तुतियों में पुरस्कार नीता उमेष मेहता की ओर से प्रदान किए गए। विभिन्न सांस्कृतिक कार्यक्रम पश्चात् पुरस्कार वितरण किया गया। जिसमें प्रथम दीपा सोनी, द्वितीय नेहा आचार्य, तृतीय ज्योति त्रिवेदी। साथ ही प्रोत्साहन पुरस्कार भी वितरित किए गए।

इनकी रहीं सहभागिता 
संपूर्ण कार्यक्रम में ओमप्रकाष देवल, साधना देवल, लीला त्रिवेदी, शारदा कुमावत, सुश्री रूक्मणी वर्मा, योगेन्द्र सोनी, मनीष सोनी, सविता प्रजापति, संध्या कुलकर्णी, रेणुका कछावा, ज्योति सोनी, रोहित सारोलकर, मिताली सारोलकर, अंकित कटकानी, मीडिया प्रभारी दौलत गोलानी, श्रीमती अरोड़ा, श्रीमती आचार्य आदि की विषेष सहभागिता रहीं। अंत में आभार संस्कार भारती की महामंत्री श्रद्धा जैन ने माना।

विश्व विकलांग दिवस के अवसर पर जिला विकलांग पुनर्वास कंेद्र पर स्वास्थ्य परीक्षण एवं काॅलेज मैदान पर खेलकूद का हुआ आयोजन, 3 दिसंबर को होंगे सांस्कृतिक कार्यक्रम और पुरस्कार वितरण

jhabua news
झाबुआ। विश्व विकलांग दिवस 3 दिसंबर के अवसर पर कलेक्टर प्रबल सिपाहा के मार्गदर्शन में जिला विकलांग पुर्नवास कंेद्र रंगपुरा (झाबुआ) पर इस वर्ष दो दिवसीय 2 एवं 3 दिसंबर को किया जा रहा है, जिसमें दिव्यांगता की सभी श्रेणीयों में जिसमें अस्थि बाधित, दृष्टि बाधित, श्रवण बाधित एवं मानसिक रूप से अविकसितों का स्वास्थ्य परीक्षण शिविर एवं आयु वर्गवार 6 से 14 वर्ष 16 से 18 वर्ष एवं 18 वर्ष से अधिक उम्र के बच्चों के लिए खेलकूद प्रतियोगिताएं, सामथ्र्य प्रदर्शन प्रतियोगिताएं एवं सांस्कृतिक प्रतियोगिताएं आयोजित की जा रही है।  उपसंचालक सामाजिक न्याय दिनेश वर्मा ने बताया कि दो दिवसीय आयोजन के प्रथम दिवस 2 दिसंबर सोमवार को सुबह 10 बजे से दोपहर 1.30 बजे तक जिला विकलांग पुनर्वास केंद्र पर दिव्यांगजनों को स्वास्थ्य परीक्षण एवं दिव्यांगता प्रमाण पत्र तैयार किए गए। जिसमें 113 दिव्यांगजनों का स्वास्थ्य परीक्षण जिला चिकित्यालय के विशेषज्ञ चिकित्सक डाॅ. व्हीएस निनामा, डाॅ जीएस अवासिया, डाॅ आरएस प्रभाकर, डाॅ आईएस चैहान द्वारा परीक्षण कर उनके दिव्यांगता प्रमाण पत्र तैयार किए गए। इसके साथ ही जिला होम्योपैथी चिकित्सालय के डाॅ. पाटीदार के नेतृत्व में उनकी टीम द्वारा जिला विकलांग पुनर्वास केंद्र में संचालित सीडब्ल्यू एसएन छात्रावास एवं प्राथमिक शाला रंगपुरा (केंद्र) के 67 दिव्यांग बालक7बालिकाओं का स्वास्थ्य परीक्षण कर उन्हें आवश्यकतानुसार दवाईयों का वितरण किया। उपस्थित डाॅक्टर्स ने बालक-बालिकाओं का स्वास्थ्य परीक्षण कर उन्हें आवष्यकतानुसार परामर्ष भी प्रदान किया और जिला चिकित्सालय से आवष्यक दवाएं प्राप्त करने हेतु उपस्थित स्टाफ एवं पालकों को निर्देषित किया।

स्वास्थ्य परीक्षण कर आवष्यक परामर्ष भी दिया
स्वास्थ्य परीक्षण हेतु उपस्थित डाॅक्टरों में से डाॅ अवासिया ने बालक-बालिकाओं को आंखों की देखभाल के प्रति आवष्यक जानकारी उपलब्ध कराते हुए कहा कि हमें हरी सब्जियां अपने भोजन में आवष्यक शामिल करना चाहिए। डाॅ. निनामा ने बालकों को संबोधित करते हुए कहा कि, हमें प्रतिदिन दूध व उससे बने हुए पदार्थो का सेवन करना चाहिए, जिससे हमारी हड्डीया मजबूत हो। डाॅ. चैहान ने दाॅतो व शरीर की सफाई के लिए बालकों को प्रेरित करते हुए बताया कि हमें प्रतिदिन दिन में दो बार अपने दाॅतों को अच्छे मंजन से साफ करना चाहिए जिससे दाॅतों में सड़न नहीं हो और मजबूती बनी रहे और मुंह से दुर्गंध भी ना आए और शरीर को स्वच्छ रखने हेतु प्रतिदिन नहाना व समय-समय पर हाथ पैर व चेहरे की सफाई हेतु प्रेरित किया। डाॅ पाटीदार ने बच्चों को नाक-कान व गला के असंबंध में जानकारी देते हुए बताया कि शरीर के तीनों अंग एक दूसरे से मिले हुए है और इन पर शीघ्र ही इंन्फेषन होने की संभावना होती है उन्होने बच्चों को सर्दी से बचने के उपाय के बारे में बताया कि इन दिनों हमें अपने कान व शरीर उनी कपड़ो से ढॅंकना आवष्यक है जिससे शरीर व उक्त अंगों को संक्रमण से बचाया जा सके ।

इनका रहा सराहनीय सहयोग
इस अवसर पर केंद्र में दिव्यांगजनो का कर्ण परीक्षण, फिजियोथैरेपी एवं प्रात्र दिव्यांगजनो की आवश्यकतानुसार ही केन्द्र की प्रोस्थेटिक आॅर्थोटिक कार्यशाला में कृत्रिम अंग उपकरणों के लिए नाप लिए गए एवं विभिन्न सहायक उपकरणों के लिए सूची तैयार की गई जो स्वास्थ्य शिविर में केंद्र के तकनीकी विषेशज्ञ अरूण महाकुड़, भूपेन्द्र सिंह पंवार, प्रवीण भाबोर, मयूर वैंशंपायन, राम बहादुर पटेल, शहनाज़ खान, एलिजाबेथ रावत, संगीता परमार, सरिता डोडियार, हीना सक्सैना, पांगू सिंह, शंकरसिह, दलसिंह ढाॅंक महेश देवदा विजयसिंह सिसौदिया एवं अन्य स्टाफ का सहयोग प्राप्त हुआ ।

विभिन्न खेलकूद प्रतियोगिता का हुआ आयोजन
निर्धारित कार्यक्रम के तहत दोपहर 2. बजे से स्थानीय काॅलेज ग्राउंड पर दिव्यांगता की सभी श्रेणियों में (अस्थि बाधित, दृष्टि बाधित, श्रवण बाधित एवं मानसिक रूप से अविकसित) विभिन्न आयु वर्ग के दिव्यांगजनों के लिए खेलकूद का आयोजन रखा गया। जिसमें दिव्यांगजनों में उत्साह देखा गया प्रातः से ही विभिन्न विकासखंडों से दिव्यांगजनो ने शासकीय महाविद्यालय खेल प्रांगण में आयोजित दिव्यांगजनों के सामथ्र्य प्रदर्शन प्रतियोगिताओं में शामिल होकर आयोजित विभिन्न खेल प्रतियोगिताओं जलेबी दौड़, निंबू दौड़, थैला रेस, चेयर रेस, 50 मीटर, 100 मीटर 200 मीटर दौड़ लंबी एवं ऊंची कूद में मुक बधिर, अस्थिबाधित दृष्टिबाधित, एवं मानसिक रूप से दिव्यांगजन बड़ी संख्याॅं में महाविद्यालय प्रांगण में पहुंचेे और बढ़ चढ़ कर आयोजित विभिन्न प्रतियोगिताओं में भाग लिया। खेलकूद एवं सांस्कृतिक व सामथ्र्य प्रतियोगिता में जिला विकलांग पुनर्वास केन्द्र में संचालित अनुभूति सीडब्ल्यू एसएन छात्रावास के बालक-बालिका, समन्वय सामाजिक एवं शैक्षणिक संस्था झाबुआ, पेरेन्ट्स सोसायटी फाॅर वेल्फेयर आॅफ पर्सन्स विथ डिसएबिलिटीज़ शासकीय व अषासकीय विद्यालयों के 135 दिव्यांग छात्र-छात्राओं ने भाग लिया। समाचार लिखे जाने तक खेलकूद प्रतियोगिताए जारी थी।

इन्होंने संपन्न करवाई प्रतियोगिता
उक्त समस्त प्रतियोगिताएं संपन्न करवाने हेतु सहायक आयुक्त आदिवासी विकास केे खेल शिक्षकों की प्राथमिकता से व्यवस्था की थी। जिसमें कुलदीप धाबाई, योगेश गुप्ता, मनोज पाठक और नरेष राजपुरोहित व सर्व शिक्षा अभियान के एपीसी मानसिंह हटीला, संजय सिकरवार, महेश बामनिया बीआरसी झाबुआ भूपेन्द्रसिंह किराड़, मोबाईल स्त्रोत सलाहकार शिक्षा विभाग के रामसिंह मोहनिया, विकलांग पुनर्वास केंद्र व सीडब्ल्यू एसएन छात्रावास के समस्त स्टाॅफ ने पूरे मनोयोग से समस्त प्रतियोगिताओं के लिए से खेलकूद प्रतियोगिताएं संपन्न करवाई। 

सांस्कृति कार्यक्रम एवं पुरस्कार वितरण का होगा आयोजन
उपसंचालक सामाजिक न्याय दिनेश वर्मा ने बताया कि द्वितीय दिवस 3 दिसंबर को दोपहर 11.30 बजे से स्थानीय विकलांग पुनर्वास केंद्र पर सामथ्र्य प्रदर्शन एवं सांस्कृतिक प्रतियोगिताओं का आयोजन किया जाएगा तत्पष्चात् दोनो दिवस प्रतियोगिताओं में प्रथम एवं द्वितीय स्थान प्राप्त करने वाले बालक-बालिकाओं को पुरस्कृत किया जाएगा।

जब तक हम अपनी सोच में परिवर्तन नहीं करेंगे, तब तक जीवन में परिवर्तन नहीं आएगा, हम बदलेंगे, युग बदलेगा -ः युग मनीषी डाॅ. चिन्मय पंड्या
डाॅ. चिन्मय पंड्या ने गायत्री शक्तिपीठ काॅलेज मार्ग पहुंचकर मां गायत्री के किए दर्षन, संक्षिप्त व्याख्यान में सोच एवं विचार में परिवर्तन लाने के लिए किया प्रेरित
jhabua news
झाबुआ। अखिल विष्व गायत्री परिवार के प्रमुख श्री प्रणव पंड्या के पुत्र, देव संस्कृति विष्व विद्यालय के प्रति कुलपति, प्रसिद्ध तेजस्वी युवा वक्ता डाॅ. चिन्मय पंड्या 2 दिसंबर, सोमवार को झाबुआ जिले के प्रवास पर रहे। इसी बीच सोमवार को दोपहर 12.30 वे झाबुआ के बसंत काॅलोनी स्थित गायत्री मंदिर से होते हुए काॅलेज मार्ग स्थित गायत्री शक्तिपीठ पर उनका आगमन हुआ। जहां उनका प्रवेष द्वार पर ही गायत्री परिवार द्वारा भावभरा स्वागत कर उन्होंने शक्तिपीठ पर प्रवेष कर मां गायत्री के दर्षन किए। समीप स्फटिक महांकाल का अभिषेक किया। बाद अपने संक्षिप्त व्याख्यान में उन्होंने विषेषकर मनुष्य को अपने जीवन में सोच ओर विचार में परिवर्तन लाने हेतु प्रेरित किया। उन्होंने कहा कि जब तक हम अपने आप में परिवर्तन नहीं लाएंगे, तब तक युग (दुनिया) में परिवर्तन लाना संभव नहीं है। डाॅ. चिन्मय पंडया गायत्री शक्तिपीठ पर दोपहर ठीक 12.30 बजे पहुंचे। जहां उनका प्रवेष द्वार पर स्वागत गायत्री परिवार के जिला समन्वयक पं. घनष्याम बैरागी एवं नारी जागरण अभियना की जिला संयोजिका श्रीमती नलिनी बैरागी ने किया। इस दौरान वरिष्ठ समाजसेवी अजय रामावत की ओर से डाॅ. पंडया को पुष्प गुच्छ प्रदान किया। बाद उनके स्वागत के लिए संपूर्ण गायत्री शक्तिपीठ काॅलेज मार्ग से जुड़े महिला-पुरूष आतुर नजर आए। गायत्री परिजनों ने कतार में खड़े रहकर उन पर पुष्प वर्षा की। सबसे पहले डाॅ. पंडया ने सजल श्रद्धा एवं प्रखर प्रज्ञा के सम्मुख अपना शीष नवाया। बाद मंदिर के अंदर वेद माता गायत्रीजी, महा दुर्गा एवं महा सरस्वीतीजी के प्रतिमा के सम्मुख भी शीष नवाकर मां गायत्रीजी की प्रतिमा पर पुष्पमाला अर्पण की। बाद समीप स्फटिक महांकाल मंदिर में स्थापित स्फटिक षिवलिंग का विधि-विधान से जल एवं दूध से अभिषेक किया।

आत्मीय स्वागत किया गया 
बाद डाॅ. पंडया ने मंदिर प्रांगण में बनाए गए मंच पर पहुंचकर वेद माता गायत्रीजी एवं पं. श्री राम शर्मा आचार्य तथा मां भगवती देवी शर्मा के चरणों में पुष्प अर्पण कर मंचासीन हुए। इस दोैरान उनके साथ मंच पर शांतिकुंज मप्र के जोन प्रभारी योगेन्द्र गिरी, मप्र के प्रभारी राकेष गुप्ता, युवा प्रकोष्ठ के प्रांतीय संयोजक विवेक चैधरी, भोपाल के उप झोन प्रभारी रामचन्द्र गायकवाड़, इंदोर जोन के प्रभारी श्री कृष्ण शर्मा, युवा प्रकोष्ठ के प्रांतीय सह-संयोजक अमर धाकड़ ने भी स्थान ग्रहण किया। डाॅ. चिन्मय पंडया एवं बाहर से पधारे गायत्री परिवार के वरिष्ठजनों का पुष्पामाला पहनाकर स्वागत जैन समाज से वरिष्ठ यषवंत भंडारी, हिन्दू संप्रदाय से डाॅ. केके त्रिवेदी, मुस्लिम संप्रदाय से जिला सदर मुर्तजा खान, पंजाबी समाज से बलीवरसिंह सोहेल आदि ने किया। वहीं आरआरएस संघ परिवार की ओर सुभाष गिधवानी ने डाॅ. प्रणव पंड्या को आदिवासी संस्कृति के अनुरूप गुंडिया भेंटकर उनका सम्मान किया।

जीवन में स्वार्थ छोड़कर त्याग की भावना जरूरी
बाद व्याख्यान में युग मनीषी डाॅ प्रणव पंड्या ने शुरूआत गायत्री महामंत्र के उच्चारण के साथ की। उन्होंने कहा कि जब तक मनुष्य अपनी सोच नहीं बदलेगा, तब तक उसके जीवन में परिवर्तन नहीं आएगा। हमे बदलने की शुरूआत अपने स्वयं से करना होगी, हम बदलेंगे युग (दुनिया) बदलेगी। मनुष्य के अंदर देवत्व भाव जागृत होना जरूरी है। स्वार्थ की भावना छोड़कर त्याग की भावना होना आवष्यक हे। हम कुछ लेने की प्रवृत्ति को बदलकर अपने अंदर देने की प्रवृत्ति को विद्यमान करे। हम यदि कोई काम निष्काम भाव एवं निस्वार्थ भाव से करते हे, तो हमे अपने अंदर आत्म शांति की असीम प्राप्ति होती है।

गायत्री परिवार से जुड़ना अर्थात अच्छे इंसान बनना
डाॅ. पंड्या ने आगे कहा कि गायत्री परिवार से जुड़ना और पीले वस्त्र धारण करना, अर्थात अच्छे इंसान बनने की ओर अग्रसर होना है। आज अच्छे इंसानों की पूरी सृष्टि को आवष्यकता है। हमे जीवन में भगवान के अलग-अलग रूपों में दर्षन होते है, कभी पशुओं में तो कभी भिखारी या निराश्रित के रूप में, इसलिए   जीवन में ध्यान रखना चाहिए कि इनकी सेवा करने से बड़ा पुण्य कार्य ओर कोई नहीं। आज का समय विषम परिस्थितियों वाला है। आने वाला समय ओर खतरनाक होगा, इसलिए अभी से अपनी सोच और विचारों में परिर्वतन लाए, धर्म मार्ग की ओर अग्रसर हो। इस ओर संकल्प लेकन आगे बढ़े।

मशाल प्रज्जवलन किया गया
व्याख्यान पश्चात् युग मनीषी डाॅ. चिन्मय पंडया के साथ उपस्थित शहर के अलग-अलग संप्रदाय के लोगों में जैन समाज से वरिष्ठ यषवंत भंडारी, हिन्दू संप्रदाय से डाॅ. केके त्रिवेदी, अजय रामावत, मुस्लिम संप्रदाय से जिला सदर मुर्तजा खान सा., शहर सदर अब्दुल गफूर सा., नायब सदर कुतुबुद्दीन शेख, हाजी सलीम बाबा कादरी, हाजी सलीम खान, पंजाबी समाज से बलीवरसिंह सोहेल, आसरा पारमार्थिक ट्रस्ट से राजेष नागर आदि ने सामूहिक रूप से मोमबत्ती से मषाल पज्जवलित की। बाद सर्व संप्रदाय के लोगों को युवा वक्ता डाॅ. पंड्या ने साहित्य भेंट किया। शांति पाठ के साथ कार्यक्रम संपन्न हुआ। इस अवसर पर गायत्री परिवार से श्रीमती अर्चना राठौर, हरिप्रिया निगम, मनोरमा डावर, हरिप्रिया निगम, राजकुमारी खंगोरत, प्रषांत डावर, मयंक शर्मा, हर्ष भट्ट आदि सहित बड़ी संख्या मंे अन्य गायत्री परिवार के महिला-पुरूष एवं श्रद्धालुजन उपस्थित रहे।

इनरव्हील क्लब आॅफ झाबुआ ‘शक्ति’ का शपथ ग्रहण समारोह हुआ संपन्न, वेस्ट प्लास्टिक एवं कचरे से विभिन्न सामग्रीयां बनाने वाली बालिका योगिता पाठक का किया गया सम्मान
मोबाईल मिस यूज पर सुंदर नाटक का किया प्रस्तुतिकरण
jhabua news
झाबुआ। इनरव्हील क्लब आॅफ झाबुआ ‘शक्ति’ के नए वर्ष की पदाधिकारी-सदस्यों का शपथ ग्रहण समारोह 2 दिसंबर को स्थानीय चेतन्य मार्ग स्थित निजी रेस्टोरेंट के सभा कक्ष में रखा गया। जिसमें मुख्य अतिथि के रूप में क्लब की डिस्ट्रीक्ट 304 की डिस्ट्रीक्ट चेयरमेन दीपा कचोलिया उपस्थित थी। इसके अलावा अन्य अतिथियों में भारतीय स्त्री संगठन की प्रदेष अध्यक्ष श्रीमती किरण शर्मा, पतंजलि योग समिति की जिला प्रभारी सुश्री रूक्मणी वर्मा, इनरव्हील क्लब ‘मेन’ की संस्थापक ज्योति रांका एवं क्लब की वर्तमान अध्यक्ष रेखा राठौर मौजूद रहीं। प्रारंभ में स्वागत गीत इनरव्हील क्लब आॅफ ‘ःशक्ति’ झाबुआ की रक्षा गादिया एवं परी गादिया ने प्रस्तुत किया। क्लब की प्र्रेयर श्वेता जैन ने करवाई। मुख्य अतिथि का परिचय पायल ललवानी ने दिया। स्वागत उद्बोधन क्लब की वर्तमान अध्यक्ष शीतलसिंह जादौन ने दिया। पश्चात् मोबाईल के दुरपयोग पर सुंदर नाटक का प्रस्तुतिकरण नेहा संघवी एवं सोनम जैन ने किया। बाद शपथ ग्रहण के तहत इनरव्हील क्लब शक्ति की ओर से मुख्य अतिथि डिस्टीक्ट चेयरमेन दीपा कचोलिया को कालर पहनाकर सभी पदाधिकारियों ने एक-दूसरे को क्लब के बेंच लगाएं। बाद सभी जारी वर्ष के पदाधिकारियो में अध्यक्ष शीतल जादौन, सचिव ऋतु सोडानी, कोषाध्यक्ष प्रीती चैधरी, आईएसओ श्वेता जैन, सीईओ हंसा कोठारी, क्लब एडीटर विधि धारीवाल एवं कार्यकारिणी सदस्य नेहा संघवी को डिस्ट्रीक्ट चेयरमेन दीपा कचोलिया ने सामूहिक रूप से शपथ दिलवाई। क्लब के विगत 2 वर्ष के कार्यो की जानकारी क्लब की वर्तमान सचिव ऋतु सोडानी ने दी।

योगिता पाठक का किया गया सम्मान
पिछले करीब 7-8 वर्ष में शहर के गायत्री गली, काॅलेज मार्ग में रहने वाली योगिता पाठक द्वारा वेस्ट प्लास्टिक एवं कूड़े-कचरे से विभिन्न आवष्यक वस्तुएं बनाने का प्रषिक्षण बच्चों को दिया जा रहा है। इसके साथ ही उक्त बालिका द्वारा पिछले दिनों कलेक्टोरेट में वेस्ट सामग्रीयों ने घरेलु वस्तुएं बनाकर इसकी प्रदर्षनी भी लगाई गई थी, जिसकी स्वयं कलेक्टर ने सराहना की थी, उक्त बालिका योगिता पाठक का सम्मान अतिथियों द्वारा मिलकर किया गया। 

आगामी कार्यों के बारे में दी जानकारी
मुख्य अतिथि डिस्ट्रीक्ट चेयरमेन दीपा कचोलिया ने अपने उद्बोधन में मुख्य रूप से क्लब की पिछले 2 वर्षों के कार्यों को जानकार प्रसन्नता व्यक्त करने के साथ ही इनरव्हील शक्ति द्वारा वित्तीय वर्ष में कौन-कौन से कार्य किए जा सकते है, इसके बारे में बताया। साथ ही मुख्य रूप से कहा कि देष के प्रधानमंत्री द्वारा विगत 2 अक्टूबर से सिंगल यूज प्लास्टिक पर पूर्णतः बेन किया है, इसलिए क्लब भी इस बात का विषेष ध्यान रखे, ऐसी प्लास्टिक का उपयोग अपने किसी भी कार्यक्रम या समारोह में ना करे। भारतीय स्त्री संगठन की प्रदेष अध्यक्ष श्रीमती किरण शर्मा ने कहा कि आज नारी शक्ति किसी भी कार्य में पीछे नहीं है। क्लब की युवा पदाधिकारी एवं सदस्य घरेलु कार्य से अपना अमूल्य समय निकालकर जो सेवा कार्य कर रहंी है, वह प्रसंषनीय है।

मैराथन दौड़ का भव्य स्तर पर किया आयोजन
अपने संक्षिप्त उदबोधन में वरिष्ठ रोटेरियन यषवंत भंडारी ने इन्हरव्हील क्लब ‘मेन’ और इन्हरव्हील क्लब ‘शक्ति’ की स्थापना से लेकर अब तक की जानकारी से मुख्य अतिथि डिस्ट्रीक्ट चेयरमेन दीपा कचोलिया को बताया। वहीं रोटरी क्लब आजाद के संजय कांठी ने क्लब के कार्यों की प्रसंषा करते हुए कहा कि पिछले वर्ष 2018 में इनरव्हील शक्ति ने शहर में भव्य स्तर पर मैराथन दौड़ का आयोजन किया। जिसमें सैकड़ों लोगों में हर वर्ग ने सहभागिता कर इसे भव्य और सफल बनाया। रोटरी मंडल के नवीन सहायक मंडलाध्यक्ष उमंग सक्सेना ने कहा कि क्लब समय-समय पर सामाजिक एवं स्वास्थ्य के क्षेत्र में सराहनीय कार्य करता रहता है। क्लब के पदाधिकारियों एवं सदस्यों के सराहनीय कार्यों के चलते ही इस संस्था ने शहर में अपनी एक अलग पहचान बनाई है।

यह रहे उपस्थित
समारोह का सफल संचालन इनरव्हील क्लब आॅफ शक्ति की संस्थापक डाॅ. शैलू बाबेल ने किया एवं अंत में आभार सचिव ऋतु सोडानी ने माना। इस अवसर पर क्लब की अन्य सदस्यों में प्रिया कटकानी, निक्की जैन, निकीता जैन, निषा भंडारी के साथ रोटरी क्लब अपना मेघनगर के भरत मिस्त्री, सहायक मंडलाध्यक्ष अजय रामावत, रोटरी क्लब ‘मेन’ झाबुआ के वर्तमान अध्यक्ष हिमांषु त्रिवेदी, पूर्व अध्यक्ष अमितसिंह जादोन (यादव), रोटरेक्ट क्लब सचिव दौलत गोलानी, सकल व्यापारी संघ सचिव पंकज जैन ‘मोगरा’, भारतीय पत्रकार संघ यूथ इकाई के नेषनल चेयरमेन संदीप जैन ‘राजरतन’, आसरा पारमार्थिक ट्रस्ट के संस्थापक अध्यक्ष राजेष नागर, सेवा प्रकल्प अध्यक्ष रविराजसिंह राठौर, पुष्पक संघवी, संचित बाबले, कमलेष सोनी, महिलाओं में  अखिल भारतीय क्षत्रिय महासंघ की जिलाध्यक्ष अर्चना राठोैर, श्री राजपूत करणी सेना की महिला जिलाध्यक्ष कल्पना सिसोदिया, इनरव्हील क्लब ‘मेन’ से सरिता बाबेल, कल्पना सकलेचा, सकल व्यापारी संघ महिला इकाई अध्यक्ष भूमिका माहेष्वरी, नवकार ग्रुप की अध्यक्ष सपना संघवी सहित शहर के गणमान्य नागरिक बड़ी संख्या में उपस्थित थे। समापन राष्ट्रगान के साथ हुआ।

बुनियादी हाईस्कूल में प्रदान की सेनेट्री नेपकीन मषीन
बाद इनरव्हील क्लब शक्ति की पदाधिकारी एवं सदस्यों द्वारा डिस्ट्रीक्ट चेयरमेन को शासकीय बुनियादी हाईस्कूल का विजीट करवाते हुए यहां क्लब की ओर से प्रदत्त सेनेट्री नेपकीन मषीन का इनोग्रेषन किया गया। इस दौरान चेयरमेन दीपा कचोलिया एवं क्लब की अध्यक्ष शीतल जादौन ने इस मषीन के सुरक्षित उपयोग के बारे में संस्था में अध्ययनरत छात्राओं को विस्तार से जानकारी दी।

आसरा पारमार्थिक ट्रस्ट ने श्रीमद् भागवत कथा के प्रचार पोस्टरों का ग्रामीणों के साथ मिलकर किया विमोचन, कालीदेवी के ग्राम छापरी में 4 दिसंबर से शुरू होगी आनंदमयी भागवत कथा

sehore news
झाबुआ। जिले के कालीदेवी के ग्राम छापरी में 4 दिसंबर, बुधवार से श्रीमद् भागवत कथा का आयोजन किया जा रहा है। जिसमें मालवा माटी के महान गौ-सेवक एवं मां सरस्वतीजी के वरद पुत्र परम् श्रद्धेय संत श्री कमल किषोरजी नागर के मुखारविन्द से भागवत कथा का वाचन होगा। आयोजन का प्रचार-प्रसार संपूर्ण जिले में किया जा रहा है। इसी क्रम में जिला मुख्यालय झाबुआ पर भी आसरा पारमार्थिक ट्रस्ट झाबुआ द्वारा भागवत कथा के प्रचार पोस्टरों का विमोचन कार्यक्रम 2 दिसंबर, सोमवार को दोपहर 2 बजे शहर के मध्य राजवाड़ा पर रखा गया। जिसमें आसरा पारमार्थिक ट्रस्ट के संस्थापक अध्यक्ष राजेष नागर, मेनेजिंग ट्रस्टी यषवंत भंडारी, सेवा प्रकल्प अध्यक्ष रवराजसिंह राठौर, मीडिया प्रभारी दौलत गोलानी ने आसपास के अंचलों के ग्रामीणजनों के साथ मिलकर कथा के पोस्टरों का श्री कृष्णजी के जयकारों के साथ विमोचन किया। बाद शहर सहित ग्रामीण अंचलों में कथा के व्यापक प्रचार-प्रसार हेतु, ताकि ग्रामीणजन इसका अधिकाधिक लाभ ले सके, उन्हें यह पोस्टर ग्रामीण क्षेत्रों में लगाए जाने हेतु प्रदान किए गए। साथ ही इस दौरान ट्रस्ट के पदाधिकारियों ने मौजूद ग्रामीणाजनों को भागवत कथा में सातों दिवस अधिक से अधिक संख्या में अपनी सहभागिता कर धर्म लाभ लेने हेतु उनसे अपील भी की। जिस पर उन्होंने संत श्री कमल किषोर नागर के मुखारविन्द से होने वाली इस रसमय एवं आनंदमय कथा के पूरे सातों दिन श्रवण करने हेतु सहमति भी प्रदान की।

10 दिसंबर तक चलेगी कथा
आसरा ट्रस्ट के संस्थापक अध्यक्ष राजेष नागर ने बताया कि यह कथा 4 दिसंबर से आरंभ होकर 10 दिसंबर तक जिले के कालीदेवी के ग्राम छापरी स्थित शबरी धाम पर आयोजित होगी। जिसका आयोजन ग्राम छापरी के समस्त रहवासियों द्वारा मिलकर किया जा रहा है। राजेष नागर ने इस कथा का झाबुआ शहर, ग्रामीण अंचलों सहित संपूर्ण जिलेवासियों से अधिक से अधिक संख्या में शामिल होकर लाभ लेने की अपील की है।

माननीय मुख्यमंत्री श्री कमलनाथ जी का आगमन जिले के मिलेगी कई सौगात
    
झाबुआ । प्रदेष के माननीय मुख्यमंत्री श्री कमलनाथ जी 3 दिसम्बर 2019 को झाबुआ जिले के भ्रमण पर रहेंगे। प्रस्तावित कार्यक्रम के अनुसार मुख्यमंत्री श्री कमलनाथ 3 दिसम्बर को 12ः30 बजे इंदौर से प्रस्थान कर 1ः00 बजे पोलीटेक्निक काॅलेज झाबुआ पहुचेगे। उसके बाद 1ः15 से 2.15 बजे तक झाबुआ में स्थानीय कार्यक्रम में सम्मिलित होगे। प्रथम कार्यक्रम पंच, सरपंच,सचिव, तडवी, पटेल, कोटवार सम्मेलन में संबोधित करेगे एवं द्वितीय कार्यक्रम पंचायत राज सम्मेलन में उपस्थित होकर अपना उदबोधन देगे। जिसमें जिले को कई सोगात मिलेगी। जिसमें माननीय मुख्यमंत्री जी द्वारा 10 सामुदायिक भवन जिसकी लागत 2 करोड 22 लाख है, का षिलान्यास करेगे एवं एक आजीविका भवन जिसकी लागत रू. 40 लाख है का लोकार्पण करेगे। इस केे अतिरिक्त 19 स्टापडेम मरमम्त कार्य जिस पर कुल व्यय रू. 158.96 के कार्यो का स्वीकृति जो भोपाल से स्वीकृती हुई है। उसकी षिलान्यास करेगे। इस के अतिरिक्त वन अधिकार अधिनियम के अंतर्गत 20 हितग्राहियो को वन अधिकार पत्र देगे एवं 5 लाडली लक्ष्मी योजना अंतर्गत प्रत्येक को रू. 1.18 लाख की राषि एवं प्रमाण पत्र का वितरण, बेटी बचाओ बेटी पढाओ योजना अंतर्गत जिले में वर्ष 2018-19 कक्षा 10 वी में प्रथम स्थान प्राप्त करने वाली 10 बालिकाओ को 5-5 हजार रू. देगे। इस योजना में 12 वी कक्षा में प्रथम स्थान प्राप्त करने वाली 10 बालिकाओ को 5-5 हजार रू. दिये जाएगे। महिला बाल विकास विभाग द्वारा संचालित वन स्टाप सेंटर के अंतर्गत उत्कृष्ट सेवाओ के लिये श्रीमती लीला परमार एवं 6 आंगवाडी केन्द्र की कार्यक्रताओ को सम्मान पत्र देगे। मत्स्योद्योग द्वारा 6 स्वयं सहायता समूहो को एवं 1 समिति को मछली पालन पट्टा दिया जाएगा। मुख्यमंत्री स्वरोजगार योजना के अंतर्गत 25 हितग्राहियो को रू. 40.90 लाख, मुख्यमंत्री आर्थिक कल्याण के 19 हितग्राहियो को रू. 9.50 लाख, नगद साख सीमा 26 स्वयं सहायता समूहो को रू. 26.28 लाख, सामुदायिक निवेष निधि के 102 हितग्राहियो को रू. 80.15 लाख राषि का वितरण किया जावेगा। माननीय मुख्यमंत्र जी के साथ माननीय प्रभारी मंत्री जी श्री सुरेन्द्रसिंह बघेल एवं इसके अतिरिक्त विभन्न विभागो के माननीय मंत्री जी भी कार्यक्रम में उपस्थित रहेगे। कलेक्टर श्री प्रबल सिपाहा द्वारा विभागो के अधिकारियो को आयाजन की जिमेदारी हेतु आदेष जारी किये गये है। तत्पष्चात 4.15 बजे माननीय मुख्यमंत्री जी झाबुआ से भोपाल के लिए हेलीकाॅप्टर से प्रस्थान करेगे।

श्रद्धा निधि का नाम परिवर्तित कर सम्मान निधि हुआ पूर्व में राषि 7 हजार थी अब बढाकर 10 हजार रू. प्रतिमाह की गई

झाबुआ । मध्यप्रदेश शासन जनसंपर्क विभाग वल्लभ भवन भोपाल द्वारा श्रद्धा निधि का नाम परिवर्तित कर सम्मान निधि किया गया है। साथ ही अधिमान्यता प्राप्त वरिष्ठ एवं बुजूर्ग पत्रकारों की सम्मान निधि 07 हजार रूपये से बढाकर 10 हजार रूपये प्रतिमाह की गई है।

विष्व विकलांग दिवस 3 दिसम्बर को दिव्यांग व्यक्तियों के सामथ्र्य कार्यक्रम का आयोजन

झाबुआ । षासन के निर्देष अनुसार प्रतिवर्ष की तरह इस वर्ष भी 3 दिसम्बर 2019 को विष्व विकलांक दिवस पर दिव्यांग व्यक्तियों के सामथ्र्य प्रदर्षन के लिये विभिन्न कार्यक्रमो का जिला स्तर पर आयोजन के संबंध में कलेक्टर श्री प्रबल सिपाहा द्वारा निर्देष जारी किये गये है जिसमें जिला षिक्षा अधिकारी, सहायक आयुक्त आदिवासी विकास विभाग, जिला खेल अधिकारी खेलकुद कल्याण विभाग, जिला समन्वयक सर्वषिक्षा अभियान, अध्यक्ष/सचिव(विभागीय मान्यता प्राप्त संस्थाए,) प्रषासनिक अधिकारी जिला विकलांग एवं पुनर्वास केन्द्र रंगपुरा झाबुआ, अधीक्षक सीडब्ल्यूएसएन हाॅस्टल झाबुआ द्वारा इन संस्थाओं एवं गैर संस्थाओं के दिव्यांग छात्र/छात्राओं के माध्यम से दिव्यांग खेलकूद प्रतियोगिताओं/सांस्कृतिक कार्यक्रम किया जाना है। कार्यक्रम स्थल पर स्थानीय निकाय एवं जनसमुदाय की सक्रिय सहभागिता सुनिष्चित करने हेतु प्रषासनिक अधिकारी जिला विकलांग एवं पुनर्वास केन्द्र रंगपुरा झाबुआ द्वारा की जावेगी। 3 दिसम्बर 2019 को सांस्कृतिक कार्यक्रम जिला विकलांग एवं पुनर्वास केन्द्र रंगपुरा झाबुआ में आयोजित किये जायेगे।

ऑनलाइन ठगी से बचने के सुझाव पोर्टल पर आमंत्रित
     
झाबुआ । ऑनलाइन ठगी से नागरिकों को बचाने के लिये उचण्उलहवअण्पद पोर्टल पर ऑनलाइन कैम्पेन चलाया जा रहा है । ऑनलाइन ठगी से बचने के लिये राज्य साइबर पुलिस द्वारा नागरिकों से जागरूक और सावधान रहने की अपील की गई है । राज्य साइबर पुलिस को ऑनलाइन एडवरटाइजिंग प्लेटफॉर्म के माध्यम से लोगों से अलग-अलग ठगी करने संबंधी कई शिकायतें प्राप्त हुई हैं । लगातार प्राप्त हो रही इन शिकायतों की वजह से राज्य साइबर पुलिस द्वारा विभिन्न प्रकार के कार्यक्रम और जागरूकता अभियान चलाये जा रहे हैं । नागरिक अब आम लोगों को ठगी का शिकार होने से बचाने के उपाय,  महत्वपूर्ण सुझाव और विचार पोर्टल पर लॉग इन कर साझा कर सकते हैं

शासकीय नौकरी में खिलाड़ियों को मिलेगा 5 प्रतिशत् आरक्षण

झाबुआ । प्रदेश में खिलाडियों को अब शासकीय नौकरी में 5 प्रतिशत आरक्षण का लाभ मिलेगा। स्कूली स्तर पर खेल प्रतिभाओं को निखारने के लिये अंडर 16 प्रांतीय ओलम्पिक शुरू किया जायेगा। खेल एवं युवा कल्याण मंत्री श्री जीतू पटवारी ने यह घोषणा की। उन्होंने कहा कि खेल सुविधाओं के विस्तार में जन-सहभागिता भी सुनिश्चित की जाएगी। उन्होंने बताया कि प्रदेश में खेल के लिये बेहतर वातावरण बनाया जा रहा है। मंत्री श्री पटवारी ने कहा कि अंतर्राष्ट्रीय और राष्ट्रीय स्तर पर खेलों में लगातार पदक हासिल करने के बाद भी खिलाडियों को नौकरी से वंचित रहना पड़ता है। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री की मंशा अनुसार नई खेल नीति में यह व्यवस्था की जा रही है कि शासकीय नौकरी में खिलाडियों को 5 प्रतिशत आरक्षण का लाभ मिल सकें। श्री पटवारी ने कहा कि अंडर 16 प्रांतीय ओलम्पिक में सभी सीबीएसई, सरकारी तथा प्राइवेट स्कूलों के बच्चे शामिल होंगे। अभी यह स्पर्धा केवल 16 वर्ष से अधिक आयु समूह के बच्चों में से प्रतिभा चयन के लिये आयोजित की जा रही है। उन्होंने बताया कि इसमें 10 खेल हॉकी, बास्केटबॉल, फुटबॉल, वॉलीबॉल, कबड्डी, खो-खो, एथलेटिक्स, कुश्ती, बेडमिंटन और टेबिल टेनिस शामिल हैं। प्रांतीय ओलम्पिक खेल का मुख्य उद्देश्य प्रदेश में खेलों के प्रति युवाओं में जागरूकता लाना, खेलों को सर्वसुलभ बनाना, प्रतिभावान खिलाडियों की पहचान करना तथा उन्हें आधुनिक सुविधा और प्रशिक्षण प्रदान करना है।

रोजगार की जानकारी के लिए श्रवइे पद डच् पोर्टल
     
झाबुआ । प्रदेश के युवाओं को एमएसएमई इकाईयों में रोजगार के अवसरों की जानकारी के लिये तथा अंबंदबल होनें पर आवेदन की सुविधा के लिये एमएसएमई विभाग द्वारा पोर्टल रवइेपदउचण्उचउेउमण्हवअण्पद  तैयार किया गया है। इस पोर्टल का उद्देश्य रोजगार के इच्छुक युवाओं एवं रोजगार प्रदान करनें वाली औद्योगिक इकाईयों के मध्य संवाद स्थापित करना है, ताकि युवाओं को रोजगार के अधिक से अधिक अवसर प्राप्त हो सके। पोर्टल पर शिक्षित बेरोजगार युवा निर्धारित प्रपत्र अनुसार स्वयं का विवरण दर्ज करते हुए पंजीकरण कर सकते है, ताकि पोर्टल के माध्यम से उनके विवरण का अवलोकन जॉब प्रदाता औद्योगिक इकाईयॉ कर सकें। पोर्टल में एमएसएमई इकाईयॉ स्वंय को जॉब प्रदाता के रूप में पंजीकृत कर सकती है। जॉब प्रदाता औद्योगिक इकाईयों के लिये यह सुविधा होगी, कि वे अपनी आवश्यकता के अनुरूप रोजगार के इच्छुक युवाओं के बायोडाटा का अवलोकन कर, उन्हें अपनी प्रक्रिया अनुसार रोजगार के अवसर प्रदान कर सकते है। ऐसे शिक्षित बेरोजगार युवा, जो रोजगार के इच्छुक है,वे इस पोर्टल पर स्वयं का विवरण दर्ज करते हुए पंजीकरण करावें। साथ ही औद्योगिक इकाईयों से भी यह अपेक्षा है, कि वे अपनी आवश्यकता के अनुरूप रोजगार प्रदान करनें बाबत अपना पंजीयन करावें ताकि पोर्टल के माध्यम से शिक्षित बेरोजगारों को रोजगार प्राप्त हो सकें।

आज तक प्रदेश में उपलब्ध कराया गया 9 लाख मीट्रिक टन यूरिया
आगामी 10 दिन में अ©र मिलेगा 2 लाख मीट्रिक टन यूरिया
झाबुआ । प्रदेश में इस वर्ष 30 नवम्बर तक 9 लाख मीट्रिक टन यूरिया उपलब्ध कराया गया है, ज¨ गत वर्ष की तुलना में एक लाख 20 हजार मीट्रिक टन अधिक है। आगामी 10 दिन¨ं में लगभग 2 लाख मीट्रिक टन यूरिया अ©र मुहैया कराया जाएगा। किसान कल्याण तथा कृषि विकास मंत्री श्री सचिन यादव की अध्यक्षता में मंत्रालय में प्रदेश में यूरिया की उपलब्धता अ©र वितरण की समीक्षा के लिये आय¨जित बैठक में यह जानकारी दी गई। बैठक में बताया गया कि अग्रिम भण्डारण य¨जनान्तर्गत बीते वषर्¨ं की तुलना में इस वर्ष सर्वाधिक यूरिया का अग्रिम भण्डारण कराया गया है। पिछले द¨ वषर्¨ं से लगभग ढाई लाख मीट्रिक टन यूरिया का अग्रिम भण्डारण किया गया था जबकि इस वर्ष 4 लाख 12 हजार मीट्रिक टन यूरिया भण्डारित किया गया है। इस वर्ष सहकारिता क्षेत्र में पूर्व वर्ष की तुलना में 77 हजार मीट्रिक टन अधिक यूरिया का विक्रय किया गया है, ज¨ गत वर्ष में आज दिनांक तक के विक्रय की तुलना में 22 प्रतिशत अधिक है। बैठक में जानकारी दी गई कि आगामी 10 दिन¨ं में उपलब्ध कराए जाने वाले 2 लाख मीट्रिक टन यूरिया के लिये 10 दिसम्बर तक 60 रेक मूवमेंट नियमित किया गया है। उल्लेखनीय है कि प्रदेश में अधिक वर्षा ह¨ने से गेहूँ के क्षेत्रफल में वृद्धि के मद्देनजर रबी 2019-20 के लिये 18 लाख मीट्रिक टन यूरिया की माँग की गई थी, किन्तु केन्द्र सरकार ने 15 लाख 40 हजार मीट्रिकटन (40 हजार मीट्रिक टन रिजर्व) प्रदाय करने की भी स्वीकृति दी। पिछले वर्ष दिसम्बर, 2018 में एक लाख 14 मीट्रिक टन यूरिया सप्लाई हुआ था, जबकि इस वर्ष दिसम्बर  में 4 लाख 35 हजार मीट्रिक टन यूरिया की उपलब्धता सुनिश्चित की गई है। पूर्व वषर्¨ं में सहकारिता एवं निजी क्षेत्र में यूरिया के व्यवसाय का अनुपात 50 रू 50 था, ज¨ कि इस वर्ष किसान हित में यह अनुपात 80 रू 20 किया गया है। इस निर्णय से प्रदेश के अधिकाधिक किसान¨ं क¨ ट्रांसपेरेंसी ऋण पर सफलता से खाद उपलब्ध ह¨ सकेगा। प्रदेश में खाद की उपलब्धता एवं वितरण की माॅनीटरिंग राज्य एवं संभाग स्तर से किया जा रहा है अ©र कालाबाजारी से संबंधित किसी भी प्रकार की शिकायत मिलने पर त्वरित व कठ¨र कार्यवाही किये जाने के निर्देश कलेक्टर्स क¨ दिये गये हैं। निजी क्षेत्र के व्यापारिय¨ं के यूरिया के प्रतिदिन के स्टाॅक अ©र विक्रय की निगरानी नियमित रूप से जिला प्रशासन द्वारा की जा रही है। यूरिया खाद के विक्रेताअ¨ं द्वारा किसान¨ं क¨ पीअ¨एस मशीन से विक्रय किया जाना अनिवार्य है।

सभी जिलों में लागू करें ष्आयुष्मान मध्यप्रदेशष् योजना - मुख्यमंत्री श्री कमलनाथ
  
झाबुआ । मुख्यमंत्री श्री कमल नाथ ने ष्आयुष्मान मध्यप्रदेशष् योजना का प्रदेश के सभी जिलों में विस्तार करने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने कहा है कि सबको समय पर निकटतम स्वास्थ्य केन्द्रों में बेहतर स्वास्थ्य सुविधाएँ उपलब्ध कराना सुनिश्चित किया जाए। श्री कमल नाथ मंत्रालय में ष्आयुष्मान मध्यप्रदेशष् योजना की समीक्षा कर रहे थे। मुख्यमंत्री श्री कमल नाथ ने कहा कि आयुष्मान योजना का लाभ अधिक से अधिक लोगों तक पहुँचे, इस बात का विशेष ध्यान रखा जाए। उन्होंने कहा कि योजना में प्रत्येक जिले के निजी अस्पतालों को संबंद्ध करने के लिए राज्य स्वास्थ्य एजेंसी के जरिए उत्कृष्ट गुणवत्ता वाले अस्पतालों को प्राथमिकता दी जाए। इसके लिए मार्गदर्शिका बनाई जाए। उन्होंने कहा कि जिन चिकित्सालयों को इस योजना में शामिल किया गया है, उन पर सतत् निगरानी रखी जाए, जिससे कोई गडबडी न हो। मुख्यमंत्री ने कहा कि गडबडी करने वाले चिकित्सा संस्थानों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाए। मुख्यमंत्री ने सभी योग्य हितग्राहियों को अगले 6 माह में गोल्डन कार्ड दिए जाने के निर्देश दिए। मुख्यमंत्री श्री कमल नाथ ने सेवानिवृत्त एवं सेवारत शासकीय कर्मचारियों के लिए स्वास्थ्य सुरक्षा का प्रारूप शीघ्र प्रस्तुत करने के निर्देश दिये। मुख्यमंत्री ने आयुष्मान भारत ष्निरामयमष् योजना में हितग्राहियों के उपचार में आ रही कठिनाईयों को ध्यान में रखते हुए शासकीय अस्पतालों के लिए आरक्षित पैकेजेस पर पुनर्विचार करने को कहा। प्रमुख सचिव लोक स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण डॉ. पल्लवी जैन गोविल ने बताया कि ष्आयुष्मान भारत मध्यप्रदेशष् योजना में 1 करोड 31 लाख कार्ड बनाए गए हैं। इस योजना में अब तक 1 लाख 75 हजार लोगों के दावे प्राप्त हुए हैं, जिनमें से 1 लाख 18 हजार लोगों को इलाज के लिये 157.11 करोड रुपए भुगतान किया गया है। योजना में 257 स्वास्थ्य शिविर लगाए गए। इलाज के लिए 98 निजी एवं 339 शासकीय अस्पतालों का पंजीयन किया गया है।

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...