कोल्हान में गरजे प्रधानमंत्री और मुख्यमंत्री ने कहा- एक लाख से अधिक लोगों को मिला रोजगार - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

मंगलवार, 3 दिसंबर 2019

कोल्हान में गरजे प्रधानमंत्री और मुख्यमंत्री ने कहा- एक लाख से अधिक लोगों को मिला रोजगार

modi-in-kolhan
जमशेदपुर (प्रमोद कुमार झा) झारखंड में दूसरे चरण के चुनाव को लेकर पीएम नरेंद्र मोदी और सीएम रघुवर दास मंगलवार को खूंटी और जमशेदपुर में जनसभा को संबोधित किया. इस दौरान पीएम और सीएम ने बीजेपी के 5 साल के उपलब्धियों को गिनाया.  गोपाल मैदान में मंगलवार को पीएम नरेंद्र मोदी और सीएम रघुवर दास ने लोगों को संबोधित किया. खूंटी के बाद जमशेदपुर के गोपाल मैदान में उन्होंने लोगों को संबोधित किया. इस दौरान पीएम नरेंद्र मोदी ने कोल्हान की धरती को श्रम की धरती बताया. पीएम मोदी ने अपने संबोधन में कहा कि यह धरती लाखों लोगों के सपनों को साकार करने वाली धरती है. विपक्ष  पर वार करते हुए पीएम मोदी ने कहा कि कांग्रेस और जेएमएम के राज में यहां से सिर्फ और सिर्फ भ्रष्टाचार और लूट की खबरें आती थीं. अपने स्वार्थ और भ्रष्टाचार के लिए इन्होंने मुख्यमंत्री पद की कुर्सी तक का सौदा कर दिया था. उस दौरान यहां क्या-क्या खेल, खेले गए इसकी जानकारी आप सभी को है. पांच वर्ष पहले तक झारखंड राजनीतिक अस्थिरता के लिए चर्चा में रहता था. सिर्फ 15 साल में झारखंड ने 10 बार मुख्यमंत्रियों को बदलते देखा है. मैं गुजरात में 13 साल तक अकेला मुख्यमंत्री रहा. इस स्थिरता का परिणाम है कि आज गुजरात कहां से कहां पहुंच गया है. भाजपा ने अस्थिरता के इस दौर पर रोक भी लगाई और पहली बार 5 वर्ष तक एक ही मुख्यमंत्री झारखंड को दिया. इसी स्थिरता का परिणाम है कि नक्सलवाद पर प्रभावी कार्रवाई हो पा रही है. वहीं  आगामी विधानसभा 2019 को लेकर झारखंड के मुख्यमंत्री रघुवर दास ने अपनी उपलब्धियों को गिनाते हुए कहा कि आदित्यपुर में 15 सौ छोटी-बड़ी कंपनियों का संचालन किया जा रहा है. 2014 में भारतीय जनता पार्टी की सरकार आते ही सरकार ने औद्योगिक नीतियों में बदलाव किया है. औद्योगिक विकास को इससे नई गति मिली है. सीएम ने कहा कि 162 नए उद्योग के लिए सस्ते दर पर भूमि आवंटित की गई है. अठाईस सौ करोड़ की नई योजनाओं में एक लाख से अधिक लोगों को 5 वर्ष में रोजगार मिला है.

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...