बिहार : धोबी समाज के उत्थान के लिए श्याम रजक हर कुर्बानी देने को तैयार - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

सोमवार, 30 दिसंबर 2019

बिहार : धोबी समाज के उत्थान के लिए श्याम रजक हर कुर्बानी देने को तैयार

अखिल भारतीय धोबी महासंध द्वारा 26 अप्रैल को पटना के गांधी मैदान में सभा: राष्ट्रीय अध्यक्ष
shyam-razak-for-dhobi-samaj
सिवान (आर्यावर्त संवाददाता) । सिवान के टाउन हॉल में आयोजित अखिल भारतीय धोबी महासंध के जिला सम्मेलन का उद्घाटन राष्ट्रीय धोबी महासंघ के राष्ट्रीय अध्यक्ष श्याम रजक ने संयुक्त रूप से दीप जलाकर किया।इसके साथ मुख्य अतिथि सह बिहार सरकार के उद्योग मंत्री श्याम रजक श्रद्धेय बाबा साहेब डॉ. भीमराव अम्बेडकर जी तथा संत गाडगे महाराज जी की तस्वीर पर माल्यार्पण कर उन्हें नमन किया। शहर के टाउन हॉल में रविवार को अखिल भारतीय धोबी महासंघ सम्मेलन का आयोजन किया गया। कार्यक्रम का शुभारंभ मुख्य अतिथि सह बिहार सरकार के उद्योग मंत्री एवं राष्ट्रीय धोबी महासंघ के राष्ट्रीय अध्यक्ष श्याम रजक, प्रदेश अध्यक्ष प्रहलाद बैठा, प्रदेश महासचिव देवेंद्र रजक, जिला अध्यक्ष मदन बैठा व महासंघ के प्रमंडलीय प्रभारी ललन बैठा ने संयुक्त रूप से दीप प्रज्वलित कर किया। सभा को संबोधित करते हुए उद्योग मंत्री श्याम रजक ने धोबी समाज के उत्थान के लिए सभी को प्रयास करने की बात करते हुए कहा कि आज देश में धोबी समाज के लोग काफी पिछड़े है। धोबी समाज के बच्चे कैसे स्कूल जाए और बच्चे आगे बढे़ समाज आगे बढ़े हमे इसके लिए प्रयास करना चाहिए। श्याम रजक ने कहा कि देश के कुछ राज्यों में धोबी जाति को अनुसूचित जाति में शामिल नहीं किया गया है। यह धोबी समाज के साथ बड़ा अन्याय है। उनका महासंघ सालों से इसके खिलाफ लड़ाई लड़ रहा है। कहा कि धोबी समाज के उत्थान के लिए वे हर कुर्बानी देने को तैयार है। साथ हीं कहा कि हमारी लड़ाई तब तक जारी रहेगी, जब तक पूरे देश में धोबी समाज के लोगों को न्याय नहीं मिल जाता। कहाकि हमारा काम कपड़े धोना ही सिर्फ नहीं है, बल्कि हम गलत नीतियों को भी धोने का काम करते हैं। उन्होंने कार्यक्रम में उपस्थित लोगों से 26 अप्रैल को पटना के गांधी मैदान आयोजित सभा में एकत्रित होने की अपील की। कहा कि यदि हम सभी इकट्ठे हो जाएं तो सभी राजनीतिक पार्टियां हमें अपने सरकार में स्थान देगी। वहीं जिलाध्यक्ष मदन बैठा ने उद्योग मंत्री से धोबी समाज के लोगों के लिए श्रम मंत्रालय से अनुदान राशि प्रदान करवाने की मांग की। साथ हीं प्रदेश स्तर पर धोबी का काम कर रहे लोगों के लिए राज्य आयोग का गठन करने की भी मांग की, ताकि दबे कुचले इस समुदाय के लोगों को इंसाफ मिल सके। मौके पर कोषाध्यक्ष सुरेश कुमार, प्रदेश उपाध्यक्ष आशीष रजक समेत सैकड़ों लोग मौजूद थे।

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...