न्यू इंडिया’ के निर्माण के लिए उठायेंगे और कदम : मोदी - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

रविवार, 1 दिसंबर 2019

न्यू इंडिया’ के निर्माण के लिए उठायेंगे और कदम : मोदी

will-take-more-steps-to-build-new-india--modi
नयी दिल्ली 30 नवम्बर, लगातार गिरती विकास दर तथा औद्योगिक उत्पादन के कारण अर्थव्यवस्था में आयी सुस्ती के बीच प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने शनिवार को कहा कि उनकी सरकार ‘सबका साथ, सबका विकास और सबका विश्वास’ के मूल मंत्र के साथ नये जोश से देश के लोगों के सशक्तिकरण और प्रगति के लिए काम करती रहेगी।केंद्र में राष्ट्रीय जनतात्रिक गठबंधन सरकार के दूसरे कार्यकाल के छह महीने पूरे होने पर श्री मोदी ने आज टि्वट कर कहा, “पिछले छह महीने के दौरान हमने विकास, सामाजिक सशक्तिकरण और देश की एकता को मजबूत बनाने के लिए अनेक निर्णय किये हैं। आने वाले समय में भी हम समृद्ध तथा प्रगतिशील न्यू इंडिया के निर्माण के लिए और कदम उठायेंगे।”एक अन्य टि्वट में उन्होंने कहा, “सबका साथ, सबका विकास, सबका विश्वास के मूल मंत्र से प्रेरणा लेते हुये और 130 करोड़ देशवासियों के आर्शीवाद से राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन सरकार नये जोश के साथ भारत के विकास तथा 130 करोड़ देशवासियों के जीवन स्तर को ऊपर उठाने के कार्यों में जुटी है।”उल्लेखनीय है कि इस साल मई में लोकसभा चुनाव जीतकर राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन ने दोबारा केन्द्र की सत्ता हासिल की थी। श्री मोदी के नेतृत्व में राजग सरकार ने 30 मई को शपथ ली थी।वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने भी इस मौके पर ट्वीट कर लिखा “हम सरकार के दूसरे कार्यकाल के छह महीने पूरा कर रहे हैं। इस दौरान बुनियादी ढाँचों में सुधार के कई महत्त्वपूर्ण कदम उठाये गये हैं। अर्थव्यवस्था की जरूरत के हिसाब से जरूरी कदम उठाना जारी रखेंगे।”सूचना एवं प्रसारण मंत्री प्रकाश जावडेकर ने कहा कि सरकार ने अर्थव्यवस्था में सुधार को लेकर जो कदम उठाये हैं उसके परिणाम दिख रहे हैं तथा सकल घरेलू उत्पाद (जीडीपी) के आँकड़ों में दिख रही गिरावट वैश्विक कारणों से है।उन्होंने कहा कि इन छह महीनों में देश तरक्की की ओर तेजी से आगे बढ़ा है। तेजी से बुनियादी ढाँचों के विकास का काम हुआ है और सरकारी निवेश बढ़ गया है।श्री जावड़ेकर ने कहा कि सरकार ने कई बड़े निर्णय लिये हैं - बैंकों का विलय करना हो या बैंकों को 70 हजार करोड़ रुपये देने की बात हो, ढाई लाख करोड़ रुपये का कर्ज उद्योगों को देने का विशेष कार्यक्रम हो या एनसीएलटी में लंबित बहुत सारे मुद्दे सुलझाने की बात हो या फिर सरकारी उपक्रमों में विनिवेश की बात हो।केंद्रीय मंत्री ने कहा कि भारत सबसे कम कॉर्पोरेट कर वाला देश बन गया है जिससे निवेशकों का विश्वास बढ़ा है। देश तरक्की के रास्ते पर बढ़ चला है। एक प्रश्न के उत्तर में उन्होंने कहा, “सरकार के काम का परिणाम जमीन पर भी दिख रहा है। तेजी से बुनियादी ढाँचों का विकास हो रहा है।”श्री जावडेकर ने कहा कि सरकार के दूसरे कार्यकाल के पहले छह महीने में राफेल भारत में आया। सेना के लिए आधुनिक सामग्री की खरीद के फैसले लिये गये। सरकार ने जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 और अनुच्छेद 35 ए समाप्त किया जिससे कश्मीर में पहली बार आतंकवाद कम हुआ है।उन्होंने कहा कि तीन तलाक की प्रथा को अवैध घोषित करने तथा इसके लिए सजा के प्रावधान वाला विधेयक भी संसद में पारित किया गया। अयोध्या का फैसला भी इसी बीच आया और देश में स्थिति शांतिपूर्ण रही। केंद्रीय मंत्री ने कहा कि जिस प्रकार पहले कार्यकाल में स्वच्छ भारत अभियान पूरे जोर-शोर से चलाया गया था उसी प्रकार दूसरे कार्यकाल में एकल इस्तेमाल वाले प्लास्टिक के खिलाफ जन अभियान चलाया जायेगा।भारतीय जनता पार्टी के ट्विटर हैंडल पर भी सरकार के छह महीने के काम की तारीफ करते हुये कई उपलब्धियों का जिक्र किया गया है। पार्टी ने एक के बाद कई ट्वीटों के माध्यम से कहा है कि दूसरे कार्यकाल में जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाया गया और जम्मू-कश्मीर में आरक्षण से संबंधित विधेयक पारित किया गया। तीन तलाक और मोटर वाहन अधिनियम से संबंधित विधेयक भी इसी छह महीने के दौरान संसद से पारित कराये गये। प्रधानमंत्री आवास योजना, कारोबार की आसानी संबंधी वैश्विक रैंकिंग में भारत के प्रदर्शन में सुधार, कॉर्पोरेट कर में कटौती, आर्थिक रूप से पिछड़े परिवार के युवाओं के लिए शिक्षा और नौकरी में 10 प्रतिशत आरक्षण और जम्मू-कश्मीर राज्य को विभाजित कर दो केंद्र शासित प्रदेशों जम्मू-कश्मीर और लद्दाख के गठन का जिक्र भी पार्टी ने अपने ट्विटर हैंडल पर किया है। 

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...