ट्रंप के खिलाफ महाभियोग सुनवाई में बोल्टन गवाही की मांग - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

सोमवार, 27 जनवरी 2020

ट्रंप के खिलाफ महाभियोग सुनवाई में बोल्टन गवाही की मांग

demand-bolten-hearing-against-trump
वाशिंगटन, 27 जनवरी, अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के खिलाफ महाभियोग सुनवाई में गवाहों की गवाही को लेकर अब यह विषय जोर पकड़ रहा है कि पूर्व राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार (एनएसए) जॉन बोल्टन की एक पुस्तक का मसौदा बचाव पक्ष की एक अहम दलील को कमजोर करता हुआ प्रतीत हो रहा है। बोल्टन ने अपनी आगामी पुस्तक में लिखा है कि ट्रंप ने उनसे कहा था कि वह यूक्रेन से सुरक्षा सहायता के रूप में करोड़ों डॉलर तब तक रोकना चाहते हैं जब तक कि यह उन्हें डेमोक्रेटिक प्रतिद्वंद्वी जो बाइडेन सहित राजनीति से प्रेरित जांच में मदद नहीं करता। ट्रंप के खिलाफ महाभियोग सुनवाई एक अहम सप्ताह में प्रवेश कर गया है क्योंकि उनकी बचाव टीम ने अपना मामला फिर से शुरू किया है। वहीं, सीनेटर इस विषय पर एक अहम मतदान का सामना कर रहे हैं कि क्या गवाहों को सुना जाए या उस मतदान की ओर सीधे बढ़ा जाए जिससे ट्रंप की दोषमुक्ति समाप्त होने की उम्मीद है।  ट्रंप की कानूनी टीम ने बार-बार इस बात पर जोर दिया है कि रिपब्लिकन राष्ट्रपति ने यूक्रेन को कभी सैन्य सहायता निलंबित करने की कोशिश नहीं की।  पुस्तक के मसौदे ने डेमोक्रेट को बोल्टन और अन्य गवाहों से शपथ के साथ गवाही दिलाने के लिए प्रेरित किया है। हालांकि,इस सवाल को रिपलिब्कन पार्टी नीत सीनेट में इस हफ्ते के अंत में उठाये जाने की उम्मीद है। ट्रंप की बचाव टीम की दलीलों के साथ सुनवाई सोमवार दोपहर शुरू हुई।  बोल्टन के पुस्तक के मसौदे में कही गई बातों की सबसे पहले न्यूयार्क टाइम्स ने खबर दी थी।  ‘द रूम व्हेयर इट हैपंड, ए व्हाइट हाऊस मोमोयर’, पुस्तक का विमोचन 17 मार्च को होना है।  टाइम्स ने जब यह खबर रविवार रात ऑनलाइन प्रसारित की तब डेमोक्रेटिक पार्टी के सांसदों ने सभी सीनेटरों से यह अपील की कि वे इस बात पर जोर दें कि बोल्टन को गवाह के तौर पर बुलाया जाए और उनके नोट एवं अन्य संबद्ध दस्तावेज मुहैया किए जाएं।  हालांकि, ट्रंप ने सोमवार सुबह सिलसिलेवार ट्वीट कर इन दावों को खारिज करते हुए कहा, ‘‘मैंने जॉन बोल्टन को कभी नहीं कहा कि यूक्रेन को सहायता बाइडेन सहित डेमोक्रेट की जांच से संबद्ध थी। 

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...