जेएनयू प्रशासन की परिसर में स्थिति सामान्य करने की अपील - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

मंगलवार, 14 जनवरी 2020

जेएनयू प्रशासन की परिसर में स्थिति सामान्य करने की अपील

jnu-administration-appeal-for-normal
नयी दिल्ली 13 जनवरी, नकाबपोश लोगों के हमले के बाद स्थिति को कुछ दिनों से और तनावपूर्ण होता देख जवाहर लाल नेहरू विक्षविद्यालय (जेएनयू) के प्रशासन ने शिक्षकों से परिसर में स्थिति सामान्य बनाने और अकादमिक गतिविधियों को शुरू करने की अपील की है। जेएनयू के रजिस्ट्रार प्रमोद कुमार ने सोमवार को कहा कि जवाहर लाल नेहरू विश्वविद्यालय शिक्षक संघ (जेएनयूटीए) के दो पदाधिकारियों ने विश्वविद्यालय में प्रशासन के साथ सहयोग नहीं करने का एलान किया है। जेएनयूटीए ने अपनी आम सभा में एक प्रस्ताव पारित कर इसका समर्थन किया है। प्रशासन ने 10 जनवरी को दो सर्कुलर जारी किए थे जिनमें शिक्षकों से छात्रों के पंजीकरण के समय कार्यालय में रहने और क्लास शुरू करने की अपील की गई थी ताकि परिसर में माहौल सामान्य हो और अकादमिक गतिविधियां फिर से शुरू हो सके। लेकिन शिक्षक संघ ने अपनी आम सभा में असहयोग करने का एलान किया। प्रशासन ने कहा है कि हजारों की संख्या में छात्रों ने शीतकालीन सेमेस्टर के लिए पंजीकरण किया है। उनका यह बुनियादी अधिकार है कि वे परिसर में पढ़ें लेकिन शिक्षक उनके अधिकारों का उल्लंघन कर रहे हैं जो उनकी सेवा शर्तों के खिलाफ है। प्रशासन ने शिक्षकों से अपील की है कि वे काम पर लौट और स्थिति को सामान्य बनाने में मदद करें। इस बीच जेएनयू प्रशासन ने सेमेस्टर के लिए पंजीकरण की तिथि को आगे बढ़ाकर 12 से 15 जनवरी कर दिया है।  

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...