कोलकाता पोर्ट का नाम अब श्यामा प्रसाद मुखर्जी बंदरगाह : मोदी - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

रविवार, 12 जनवरी 2020

कोलकाता पोर्ट का नाम अब श्यामा प्रसाद मुखर्जी बंदरगाह : मोदी

kolkata-port-rename-shayama-prasad-mukherjee-port-modi
कोलकाता 12 जनवरी, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार को कोलकाता पोर्ट ट्रस्ट का नाम बदलकर डा. श्यामा प्रसाद मुखर्जी के नाम पर रखे जाने की घोषणा की। श्री मोदी ने यहां नेताजी इंडोर स्टेडियम में कोलकाता पोर्ट ट्रस्ट की 150वीं वर्षगांठ के उद्घाटन कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कहा,“इस पोर्ट ने बहुत कुछ बदलते हुए देखा है, लिहाजा केंद्र सरकार भारत के उद्योगीकरण के प्रणेता और एक देश एक विधान के लिए बलिदान देने वाले डॉ़ श्यामा प्रसाद मुखर्जी को इसे समर्पित करती है। अब से कोलकाता पोर्ट श्यामाप्रसाद मुखर्जी पोर्ट के नाम से जाना जाएगा।” प्रधानमंत्री ने कहा,“आज के इस अवसर पर मैं बाबा साहेब को भी याद करता हूं, उन्हें नमन करता हूं। डॉ. मुखर्जी और बाबा साहेब, दोनों ने स्वतंत्रता के बाद के भारत के लिए नई नीतियाें और नया विजन दिया था। डॉ. मुखर्जी की बनाई पहली औद्योगिक नीति में देश के जल संसाधनों के उचित उपयोग पर जोर दिया गया था।” इस समारोह में पहले से आमंत्रित पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री एवं तृणमूल कांग्रेस की प्रमुख ममता बनर्जी ने इसमें भाग नहीं लिया। सीएए और एनआरसी पर सुश्री बनर्जी की ओर से मोदी नीत सरकार की आलोचना इसकी वजह बताई जाती है।  

कोई टिप्पणी नहीं: