बिहार : पत्र लिखकर यातायात की सुगम व्यवस्था करने का आग्रह - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

बुधवार, 29 जनवरी 2020

बिहार : पत्र लिखकर यातायात की सुगम व्यवस्था करने का आग्रह

letter-to-improve-trafic-bihar
पटना,28 जनवरी। अल्पसंख्यक ईसाई कल्याण  संघ के महासचिव एस.के.लॉरेंस ने बताया कि वे मोकामा जाने वाले ईसाई समुदाय के जरुरतमंदों के लिये उनके आग्रह पर दस वर्षों से कुछ बसों की व्यवस्था कर तीस-चालीस रुपया की न्यूनतम राशि लेकर मोकामा जाने तथा वापस आने की व्यवस्था करते हैं। उन्होंने कहा कि भक्त जनों की सुविधा को ध्यान में रखते हुए फातिमा माता सुसमाचार केंद्र से बस को प्रात: लगभग साढ़े पाँच बजे प्रार्थना के जरिये रवाना करते हैं। वे बस में उतने ही लोगों की व्यवस्था करते हैं,जितनी सीट बस में होती है।ताकि भक्तजनों को परेशानी न हो।बस को उपलब्ध कराने के महान कार्य के लिये उन्होंने झारखण्ड के विधायक ग्लेन जोसेफ गॉलस्टेन साहब को हृदय से धन्यवाद दिया है। उन्होंने यह भी बताया कि  पटना से मोकामा जाने तथा वापस आने में रास्ते में असुविधा न हो ,इसके लिये हर साल एस.एस. पी.,ट्रैफिक पटना को पत्र लिखकर उस दिन उचित, सुगम यातायात की व्यवस्था करने के लिये आग्रह करते हैं।इस बार भी उन्होने एस.एस.पी.(ट्रैफिक),पटना तथा बिहार के मुख्य मंत्री जी को पत्र लिखकर यातायात की सुगम व्यवस्था करने का आग्रह किया है।साथ ही मोकामा यात्रा में ट्रेन से जाने वालों के लिये भी स्पेशल ट्रेन की व्यवस्था करने का पूर्व की तरह आग्रह किया है। मालूम हो कि ईसाइयों की जनसंख्या राजधानी में अधिक है। बहुतायत जनसंख्या मां मरियम की तीर्थ स्थान मोकामा जाने को बेताब हैं। पूर्व मुखिया भाई धर्मेंद्र ने 18 बस की व्यवस्था कर दी है। गत 20 वर्षों से भाई धर्मेंद्र मां मरियम के भक्तों को मरियम के द्वार पहुंचाने की सेवा में लगे हैं। स्वागतम स्टेशनरी दुकान के ऑनर जेरी हेनरी ने कहा कि हमलोग न्यूनतम राशि पचास रू.लेकर भक्तों को पटना से मोकामा और मोकामा से पटना लाने की व्यवस्था करते हैं।अभी तक 18 बसों में मरियम भक्तों को सुरक्षित सीट देने के लिए पंजीकृत कर लिए हैं।एक बस में चालीस सीट है।

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...